जागरण हिन्दुस्तान दैनिक भास्कर नईदुनिया नवभारत टाइम्स

सोम डिस्टलरीज के डायरेक्टर जगदीश को कोर्ट में आया अस्थमा का अटैक, उसके भाई को चक्कर आए

25 करोड़ के सैनिटाइजर को बिना टैक्स बेचने के मामले में 28 घंटे की लंबी पूछताछ के बाद आखिरकार गुरुवार को जगदीश अरोरा उनके भाई अजय अरोरा और कंपनी के विनय सिंह को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया गया। मजिस्ट्रेट पुष्पक पाठक की अदालत में अरोरा बंधुओं के वकील अजय गुप्ता ने बताया कि उनकी ओर से कोविड-19 शुरू होने के बाद से ही सैनिटाइजर का निर्माण किया जा रहा था और सोम ग्रुप में दो करोड़ो रुपए जीएसटी में जमा कराए गए थे और आज भी 6 करोड रुपए जीएसटी के खाते में जमा कराए गए हैं। सोम ग्रुप अब तक 8 करोड़ जीएसटी जमा कर चुका हैं। जीएसटी विभाग की ओर से कुल कितना टैक्स सोम ग्रुप को जमा कराना है इस संबंध में कोई भी जानकारी नहीं दी जा रही है।अदालत पहुंचते ही जगदीश अरोरा को अस्थमा का अटैकएडीपीओ गुंजन गुप्ता ने बताया कि अरोरा बंधुओं को अदालत में अस्थमा का अटैक और चक्कर आने की शिकायत मजिस्ट्रेट के सामने आई थी। इसके बाद मजिस्ट्रेट पुष्पक पाठक ने दोनों आरोपियों के मेडिकल दस्तावेज जेपी अस्पताल से तलब किए और अस्पताल के दस्तावेजों को देखने के बाद मजिस्ट्रेट ने माना कि आरोपियों को कोई भी गंभीर बीमारी नहीं है। मजिस्ट..
                 

शिवराज के सवालों पर कमलनाथ का जवाब- किसानों की कर्जमाफी के नाम पर झूठ पराेस रहे हैं

दो दिन से वर्चुअल रैली में किसान कर्जमाफी को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लगातार पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को निशाने पर ले रहे हैं।अब पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इसका जवाब देते हुए कहा किकिसानों की कर्जमाफी को लेकर झूठ परोसकर जनता को गुमराह किया जा रहा है। कमलनाथ ने कहा कि कांग्रेस ने जो अपना वचन-पत्र बनाया था, वह पांच वर्ष के लिए था। हम अपने एक-एक वचन को पूरा करने के लिए संकल्पित थे। शपथ ग्रहण के 2 घंटे में ही हमने वचन-पत्र के अनुसार किसानों की कर्जमाफी की फाइल पर हस्ताक्षर कर ऋणमाफी का फैसला किया था। अपने इस वचन को पूरा करने के लिए हमने ‘जय किसान फसल ऋण माफी योजना’ बनाई।असल में, कमलनाथ शिवराज के उन सवालों का जवाब दे रहे थे, जिसमें गुरुवार को वर्चुअल रैली ने शिवराज नेकांग्रेस बताए कि दो लाख से अधिक कर्ज वाले किसानों का दो लाख भी माफ क्यों नहीं किया गया?20 लाख 23 हजार किसानों के ऋण माफ किए गए: कमलनाथउन्होंने कहा कि इसके पहले चरण में 2 लाख रुपए तक के कालातीत ऋण और 50 हजार तक के चालू खातों के ऋण को माफ किया, जिससे प्रदेश के 20 लाख 23 हजार किसानों के ऋण माफ किए..
                 

फोन-पे कैश बैक का ऑफर देकर 3 लोगों से हजारों की ठगी, लिंक भेजकर रुपए ट्रांसफर कर एटीएम से निकाल लेता था

मध्यप्रदेश की राजधानी में 26 साल के एक ड्राइवर ने सायबर फ्रॉड कर तीन लोगों से हजारों रुपए की ठगी की है। वहफोन-पे पर कैश बैक का ऑफर देता था। इसके लिए वहमोबाइल पर एकलिंक भेजता था। उस पर क्लिक करने के बाद यूपीआई पिन डालते ही पीडित के खाते से रुपएजालसाज के फोन-पे एकाउंट में चला जाता था। भोपाल सायबर क्राइम ब्रांच की टीम ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।अतिरिक्तपुलिस महानिदेशक भोपाल जोन उपेंद्रजैन ने बताया कि कोलार निवासी पंकज राय, नेहरू नगर निवासी संध्या अहिरवार और अंबेडकर नगर निवासी अभिषेक झा ने फोन-पे पर कैश बैक ऑफर के नाम पर ठगी की शिकायत की थी।जालसाज ने पंकज और संध्या के खाते से 14-14 हजार रुपए और अभिषेक के खाते से 3 हजार रुपयों का सायबर फ्रॉड किया। उसने उन्हें एक लिंक की रिक्वेस्ट भेजी थी। उस पर क्लिक करने के बाद पिन कोड डालते ही फरियादियों के खाते से रुपए निकल गए।भोपाल पुलिस के हत्थे चढ़ने के बाद सानू ने फ्रॉड के तरीकों के बारे में बताया। अब पुलिस उसके साथी कनेक्शन को भी तलाश रही है।इस तरह फंसाता था लोगों कोसाइबर क्राइम ब्रांच भोपाल की टीम ने इस मामले में बालाघाट के 26 वर्षीय आरोपी सानू..
                 

भोपाल में नगर निगम टीम के हाथठेला उठाने पर व्यापारी टावर पर चढ़ा, बोला- अगर वापस नहीं किया तो जान दे दूंगा

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में गुरुवार दोपहर एक युवक मोबाइल फोन के टावर पर चढ़ गया। उसका हाथठेला नगर निगम का अतिक्रमण अमला उठा ले गया था। इससे नाराज होकर युवक जान देने के इरादे से ऊंचाई पर चढ़ गया। वह काफी देर तक ऊपर चढ़कर नगर निगम और पुलिसकर्मियों पर मिलीभगत के आरोप लगाता रहा। वह बार-बार ऊपर से कूदकर जान देने की बात कहता रहा।विकास ने नगर निगम और पुलिस पर मिलीभगत के आरोप लगाए।जानकारी के अनुसार,विकास मालवीय और उसका परिवार कमला पार्क के पास फलोंका हाथठेल लगाता है। गुरुवार दोपहर नगर निगम का अतिक्रमण अमला उसका ठेला और माल अपने साथ जब्त कर ले गया। पहले तो उसने अधिकारियों से ठेला छोड़ने को कहा, लेकिन जब वे नहीं माने तो वह पास के मोबाइल फोन के टावर पर चढ़ गया। ऊपर चढ़ने के बाद वह जोर-जोर से चिल्लाना लगे। उसने नगर निगम के अधिकारियों पर परेशान करने के आरोप लगाए। विकास ने कहा कि निगम की टीम पुलिस के साथ मिलकर उसे परेशान करती है। जब चाहे ठेला उठाकर ले जाते हैं। उसे ले जाकर तोड़ देते हैं। जुर्माना भरने पर भी जब्त माल वापस नहीं देते हैं। हर दिन की रसीद भी काटते हैं। उसके बाद भी यह कार्रवाई करते हैं। ..
                 

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने गैंगस्टर विकास दुबे की गिरफ्तारी पर उठाए सवाल, कहा- किसी बड़ी सियासी साज़िश की बू आ रही है

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने उत्तरप्रदेश के कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे की उज्जैन में गिरफ्तारी पर सवाल उठाते हुए गुरुवार को कहा कि इस मामले की उच्च स्तरीय जांच होना चाहिए।कमलनाथ ने ट्वीट के जरिए कहा 'यूपी के कानपुर के कुख्यात गैंगस्टर, 8 पुलिसकर्मियों की हत्या के आरोपी विकास दुबे के उज्जैन में महाकाल मंदिर में ख़ुद ''सरेंडर'' करने की घटना की उच्चस्तरीय जांच होना चाहिये। इसमें किसी बड़ी सियासीसाज़िश की बू आ रही है। इतने बड़े इनामी अपराधी के, जिसको पुलिस रात- दिन खोज रही है, उसका कानपुर से सुरक्षित मध्यप्रदेश के उज्जैन तक आना और महाकाल मंदिर में प्रवेश करना और ख़ुद चिल्ला- चिल्लाकर ख़ुद को गिरफ़्तार करवाना, कई संदेह को जन्म दे रहा है। किसी संरक्षण की ओर इशारा कर रहा है। इसकी जांच होना चाहिये।'पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ये ट्वीट भी किया-कमलनाथ ने लिखा है 'हमने हमारी सरकार में माफ़ियाओं के ख़िलाफ़ सतत बड़ा अभियान चलाया, जिसके कारण माफिया प्रदेश छोड़कर चले गये और अब भाजपा सरकार आते ही माफिया वापस प्रदेश लौटने लगे हैं। प्रदेश माफियाओं की सुरक्षित शर..
                 

पहले चरण में 100 जिलों में खुलेंगे खेलो इंडिया सेंटर, पूर्व चैंपियन खिलाड़ी ट्रेनिंग देंगे; साई चार साल में 10 लाख रुपए देगा

जमीनी स्तर से खेल प्रतिभाएं तलाशने और पूर्व चैंपियन खिलाड़ियों की आय का स्त्रोत निश्चित करने के लिए भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) चार साल में एक हजार छोटे खेलो इंडिया सेंटर बनाने जा रहा है। पहले साल में 100 जिलों में सेंटर बनाने की योजना है। इसके बाद हर साल 300 सेंटर खोले जाएंगे। इन सेंटर का संचालन पूर्व चैंपियन खिलाड़ी या एनआईएस कोच करेंगे।वे अपने जिले में एक सेंटर का प्रस्ताव भेज सकते हैं। इस योजना के पहले चरण के तहत साई ने सेंटर चुनने के लिए राज्यों से प्रस्ताव मंगाए हैं। फिर खेल विभाग के अधिकारी उन प्रस्तावों से सर्वश्रेष्ठ का चयन कर साई के क्षेत्रीय कार्यालय को भेजेंगे। वहां साई की टीम देशभर से सेंटर का चयन करेगी। मप्र के खेल संचालनालय ने जिलों से 20 जुलाई तक प्रस्ताव मांगे हैं।तीन लाख रुपए की सैलरी पर कोच की नियुक्ति हो सकती हैसाई पूर्व चैंपियन खिलाड़ी या कोच को दस लाख रुपए देगी। इसमें पांच लाख रुपए एकमुश्त सेंटर खोलने के लिए दिए जाएंगे जबकि दूसरे पांच लाख रुपए अगले चार सालों के लिए दिए जाएंगे। इनमें से खिलाड़ी/कोच अपने सेंटर में जरूरत पड़ने पर तीन लाख रुपए सैलरी तक के असिस्टेंट कोच निय..
                 

विकास की गिरफ्तारी पर शिवराज ने योगी से बात की, अखिलेश ने कहा सरकार साफ करे कि ये आत्मसमर्पण है या गिरफ्तारी, दिग्विजय बोले- भाजपा नेताओं की मिलीभगत

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कुख्यात अपराधी विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बात की। उन्होंने उसके उज्जैन से गिरफ्तार किए जाने की जानकारी फोन पर उन्हेंदी। चौहान ने योगीको गिरफ्तारी के संबंध में बताया और कहा कि राज्य पुलिस विकास दुबे को उत्तरप्रदेश पुलिस को सौंप देगी। गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि इंटेलिजेंस की सक्रिता के कारण विकास पकड़ा गया।इधर, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंहने ट्वीट करते हुए कहा- उत्तरप्रदेश पुलिस के एनकाउंटर से बचने के लिए यह एक प्रायोजित सरेंडर लग रहा है। यह भाजपा नेताओं की मिलीभगत लग रही है। विकास दुबे ने तीन जुलाई को कानपुर जिले में अपने साथियों के साथ पुलिस पर हमला कर आठ अधिकारियों कर्मचारियों की हत्या कर दी थी। इसके बाद से ही उत्तरप्रदेश पुलिस उसकी और उसके साथियों की तलाश कर रही है। इस बीच राज्य पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने उज्जैन से आज सुबह विकास दुबे की गिरफ्तारी की पुष्टि की है। उसके एक दो साथियों के भी हिरासत में लिए जाने की पुष्टि हो गई है। मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा- विकास दुबे को गिरफ्तार..
                 

गैंगस्टर ने कानपुर में 20 साल पहले दोस्त की बहन के साथ भागकर की थी शादी; सास-ससुर की कनपटी पर पिस्टल तान दी थी

कानपुर के बिकरुमें हुए शूटआउट का मुख्य आरोपी विकास दुबे उज्जैन के महाकाल मंदिर परिसर सेगिरफ्तार कर लिया गया है। उत्तर प्रदेश की टीम उसे छह दिन से खोज रही थी। विकास कामध्य प्रदेशकनेक्शनसामने आने के बाद कुछ नई कहानियां सामने आई हैं। मध्य प्रदेश के शहडोल जिले केबुढ़ार कस्बे कीरिचा निगम उर्फ सोनू से विकास ने करीब 20 साल पहले कानपुर में लव मैरिज की थी। इस शादी केरिचा के पिता और घरवाले खिलाफ थे। उनके विरोध करने पर विकास ने गन पॉइंट पर ले लिया था। इन दिनों विकास के काम रिचा खुद देख रही थी। 2 जुलाई को 8 पुलिसवालोंको हत्या के बाद से रिचा भी फरार है। विकास की तलाश में 5 राज्यों में अलर्ट जारी किया गया है। बुधवार को यूपी एसटीएफ की एक टीम विकास की ससुराल पहुंची। यहां से विकास के साले ज्ञानेंद्र निगम उर्फ राजू और भतीजे आदर्श को उठाकर ले गई है।25 साल पहले दोस्तथा विकास, 20 साल पहले बहन से लवमैरिज कीमंगलवार शाम ज्ञानेंद्र ने पुलिस कोबताया था कि वे और विकास 25 साल पहले अच्छे दोस्त थे। दो आपराधिक केसोंमें उसका विकास के साथ आने के बाद वहकानपुर से बुढ़ार आ गया। यहीं पर अपना कारोबार कर रहा है। करीब 20 साल..
                 

मां ने चैटिंग न करने की समझाइश दी तो 11वीं की छात्रा ने छठवीं मंजिल से कूदकर दे दी जान

कटारा हिल्स स्थित नर्मदा अपार्टमेंट में रहने वाली 11वीं कक्षा की छात्रा ने मंगलवार रात छठवीं मंजिल से कूदकर जान दे दी। मोबाइल फोन पर चैटिंग करते देख मां ने उसे ऐसा न करने की समझाइश दी थी।नर्मदा अपार्टमेंट, अमलतास निवासी योगेंद्र श्रीवास्तव एक कंस्ट्रक्शन कंपनी में सुपरवाइजर हैं। वे यहां दो बेटियों और पत्नी के साथ रहते हैं। टीआई पूर्णेंद्र सिंह के मुताबिक योगेंद्र की 16 वर्षीय छोटी बेटी प्रियंका एक स्कूल में कक्षा 11वीं की छात्रा थी। मंगलवार रात साढ़े आठ बजे वह मोबाइल फोन पर दोस्त से चैटिंग कर रही थी। ये देख मां और बड़ी बहन ने उसे समझाइश देते हुए फोन ले लिया।इससे नाराज होकर वह कमरे से निकल गई। कुछ देर बाद पता चला कि छात्रा घर से बाहर निकल गई थी और दरवाजे की कुंडी बाहर से लगाई थी। मां ने ये बात कॉल कर पिता को बताई। कहा कि घर लौटते वक्त रास्ते में उसे देखते हुए आएं।घर से 200 मीटर दूर मिला शवबुधवार सुबह दस बजे पुलिस ने कॉल कर योगेंद्र को छात्रा का शव मिलने की सूचना दी। शव नर्मदा अपार्टमेंट से 200 मीटर दूर इंपीरियल हारमनी कॉलोनी में मिला। इस छह मंजिला कॉलोनी में चार परिवार रहते हैं। छात्रा के..
                 

जाटखेड़ी और मंगलवारा में 4-4 नए पॉजिटिव मिले, मई अंत और जून के शुरुआती सप्ताह में यहां मिले थे मरीज

शहर में अब तक कुल संक्रमिताें की संख्या बढ़कर 3514 पर पहुंच गई है। चिंता की बात यह है कि लंबे अंतराल के बाद नए शहर के जाटखेड़ी और पुराने शहर के मंगलवारा में काेराेना के 4-4 मरीज मिले हैं। इन दाेनाें इलाकाें में मई के अंत में और जून के शुरुआती हफ्ते में बड़ी संख्या में मरीज मिले थे। तब यहां बड़ी संख्या में टीम लगाकर सर्वे और स्क्रीनिंग कराई गई थी। बुधवार काे नए मरीज आने के बाद जाटखेड़ी में 70 और मंगलवारा में 142 मरीज हाे गए हैं।मैनिट के प्राेफेसर और पत्नी संक्रमित मैनिट के प्राेफेसर और उनकी पत्नी की रिपाेर्ट पाॅजिटिव आई है। इनमें कोई लक्षण नहीं हैं। ऐसे में इन लाेगाें काे घर पर ही आइसाेलेट किया गया है। प्राेफेसर ने बताया कि वे एक जुलाई काे हैदराबाद से लाैटे थे। हैदराबाद में जिनके संपर्क में आए थे उनमें काेराेना के लक्षण थे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today..
                 

मंडप में अचानक पहुंची प्रेमिका ताे दूल्हे ने दाेनाें से रचाई शादी

बगडोना में मंगलवार काे एक दूल्हे ने दाे दुल्हनों के साथ फेरे ले लिए। दरअसल, गांव के संदीप उइके की शादी होशंगाबाद की लड़की से हो रही थी। इस दाैरान कतिया काेयलारी गांव में रहने वाली उसकी प्रेमिका भी माैके पर पहुंच गई। हंगामे के बाद आदिवासी समाज की पंचायत बैठी और सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया। घाेड़ाडोंगरी जनपद उपाध्यक्ष मिश्रीलाल परते ने इसकी पुष्टि की है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Suddenly, girlfriend Tae Groom marries Daina in Pavilion..
                 

नपा में पैसों की तंगहाली: 2019 की तिमाही में डेढ़ करोड़ वसूला था टैक्स, इस बार 24 लाख ही आए

लॉकडाउन के बाद से जहां लोगों आर्थिक तंगहाली से गुजर रहे हैं, वहीं सरकारी विभागों की हालत भी खस्ता है। हालात ये हैं कि नपा ने पिछले साल इस तिमाही में जहां विभिन्न करों की डेढ़ करोड़ की राशि वसूल की थी तो वहीं इस बार केवल 24 लाख रुपए ही आए हैं। आंकड़ों के मुताबिक नपा को 10 करोड़ से अधिक संपत्ति कर ही वसूलना है जबकि 8 करोड़ के करीब दुकानों का किराया, जलकर और अन्य टैक्स की राशि है पर यह पैसा जमा नहीं हो पा रहा है।हालांकि इसमें पुराना बकाया भी है जो लगातार कुछ लोगों पर चला आ रहा है। इस बकाया टैक्स को लोग जमा कर दें तो नपा की आर्थिक स्थिति में काफी सुधार हो सकता है। यही स्थिति रही तो इसका सीधा असर शहर के विकास कार्यों पर भी पड़ेगा। इसी तरह संपत्तियों की गणना का काम भी किया जा रहा है। इस साल करीब 500 संपत्तियों के बढ़ने की उम्मीद है। इसी तरह मूल्यांकन का काम भी होना है। इससे नपा की आय में करीब 10 लाख रुपए की बढ़ोतरी होगी लेकिन सबसे अहम तो यह है कि अभी वसूली होना जरूरी है।समय पर वसूली से ये काम हो सकते हैं प्रभावित टैक्स जमा नहीं होने से शहर में बनने वाली नालियों, पुलियाओं के काम प्रभावित हो सकते हैं।..
                 

बिना मास्क लगाकर दुकान चला रहे 18 लोगों पर लगाया जुर्माना

कोरोना पॉजिटिव मरीजों की लगातार बढ़ती संख्या के बाद भी बिना मास्क पहने घर से निकलने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। बिना मास्क के बाजार में दिखाई देने वाले लोगों पर जुर्माना लगाया जा रहा है। एक बार जुर्माना लगाने के बाद अगर फिर बिना मास्क नहीं लगाने वालों पर अब कानूनी कार्रवाई भी की जाएगी। कस्बे में जनपद पंचायत राघौगढ़ सीईओ जितेंद्र धाकरे ने मधुसूदनगढ़ बाजार में घूम कर बिना मास्क दुकान संचालन कर रहे दुकानदारों पर 100 का जुर्माना लगाया गया इस दौरान 18 लोगों पर कार्रवाई की गई।बिना मास्क के डेढ़ दर्जन से अधिक दुकानदारों पर कार्रवाई की एवं कोरोना से बचाव जैसे सोशल डिस्टेंस, सैनिटाइजर प्रत्येक ग्राहक एवं दुकानदारों को मास्क लगाने की हिदायत दी। इससे पूर्व जनपद सीईओ ने ग्राम जामनेर में सेक्टर बैठक के दौरान प्रधानमंत्री आवासों को भी मौके पर जाकर देखा। पंचायतों की मतदाता सूची का पुनरीक्षण कार्य समय पर पूर्ण करने के पंचायत सचिवों को निर्देश दिए। इस मौके पर सहायक विकास विस्तार अधिकारी मोहर सिंह भील, पंचायत सचिव कैलाश सेलर, ब्लॉक कोऑर्डिनेटर नेमीचंद भी मौजूद रहे। Download Dainik Bhaska..
                 

1 जुलाई से लगी है रोक, फिर भी नर्मदा नदी में पोकलेन मशीनों से हो रहा रेत का खनन

जिले में नर्मदा की रेत खदानों में अवैध खनन नहीं रूका है। इससे प्रशासनिक निर्देशों पर भी सवाल उठ रहे हैं। निर्देशों के मुताबिक 1 जुलाई से जिले में सभी रेत खदानों से रेत निकालने पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया है, लेकिन इसके बावजूद रोजाना नर्मदा की खदानों से रेत निकालने का काम चल रहा है। 8 जून को सुबह से ही केतूघान खदान में ठेकेदार द्वारा 5 पोकलेन मशीन उतार दी गईं। इसके बाद रेत खनन चालू हो गया। फिर रेत निकालकर डंपर भरे जाने लगे।ठेकेदार को कार्रवाई न होनेे का इतना अधिक भरोसा है कि उसने बुधवार को केतूघान से गुजरी नर्मदा में जिस स्थान पर मेला लगता है और लोग वहां से नाव में बैठकर होशंगाबाद जाने के लिए खेरा घाट पर पहुंचते हैं। वहीं पोकलेन मशीन लगाकर रेत खनन किया जाता रहा। क्षेत्रीय लोगों के मुताबिक रेत ठेकेदार राजेंद्र रघुवंशी का कनेक्शन बड़े नेताओं और अधिकारियों से है, इसके चलते उस बड़ी कार्रवाई नहीं होती। 1 जुलाई से पहले जब रेत खदानों में मजदूरों से रेत खनन की अनुमति थी। उस समय भी ठेकेदार ने मशीनों से रेत निकलवाई।6 महीने पहले हुई जांच, ठेकेदार पर नहीं लगा जुर्माना जिले की बाड़ी तहसील में ..
                 

सड़क पर बैठे आवारा मवेशियों को हटाने की कोई नहीं कर रहा पहल, बारिश में होते हैं हादसे

बारिश आते ही आवारा मवेशियों के अलावा पालतू मवेशी भी इन दिनों नगर की सड़कों पर डेरा जमाए हुए हैं जो लोगों के लिए जानलेवा साबित हो रहा है। आवारा मवेशियों के लिए सुरक्षित जगह न मिलने के कारण सड़क पर आना उनकी मजबूरी है तो वहीं पशु पालक भी लापरवाही के साथ पशुओं को बाहर छोड़ रहे हैं। इसके चलते आए दिन सड़कों पर दुर्घटनाएं हो रही हैं।नगर के समाजसेवी, गोप्रेमी, जनप्रतिनिधि और अफसर इस मूलभूत समस्या को लेकर न तो कोई पहल कर रहे हैं न ही अभी तक कोई कार्य योजना तैयार की है। जिसका खामियाजा नगर के लोगों को भुगतना पड़ रहा है। हालत यह है कि नगर के लोग असुविधा से बचने के लिए इन मवेशियों को एकत्रित कर ग्रामीण अंचलों तरफ छोड़कर आ रहे हैं तो वहीं ग्रामीण मवेशियों को शहरों की तरफ भगा रहे हैं,जिससे इन मवेशियों की भी फजीहत हो रही है।मवेशियों के स्थाई समाधान को लेकर कोई प्रयास नहीं किया जा रहा है। पूर्व में तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने हर पंचायत में गोशाला बनाने की पहल की थी और अफसरों को इस दिशा में कार्ययोजना बनाकर गोशाला निर्माण के निर्देश भी दिए थे लेकिन अफसरों की अनदेखी के कारण अभी तक गोशाला का निर्माण नहीं ह..
                 

मध्य प्रदेश में रविवार को टोटल लॉकडाउन होगा, गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा- सीमावर्ती जिलों में बाहर से आने वालों की होगी जांच

मध्य प्रदेश में बढ़ रहे कोरोना केस को देखते हुए गृह मंत्री एवं स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बुधवार कोकहा है कि अबरविवार को पूरे मध्यप्रदेश में टोटललॉकडाउन रहेगा।दूसरे प्रदेशों से आ रहे लोगों से प्रदेश की परिस्थितिबदल रही हैं। प्रदेश में आने-जाने वाले लोगों की बॉर्डर पर जांच होगी। किल कोरोना अभियान के दौरान भीलॉकडाउन रहेगा। प्रदेश में 15 जुलाई तक किल कोरोना अभियान चल रहा है।स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि किल कोरोना अभियान के तहत प्रदेशभर में अब तक 42 फीसदी लोगों की स्क्रीनिंग की गई।मध्य प्रदेश में जून के आखिर में केस काफी कम हो गए थे। हर रोज 150-175 तक कोरोना के नए मामले आ रहे थे, लेकिन अब मध्य प्रदेश में हर रोज 350-400 लोग नए संक्रमित मिल रहे हैं। इसमें सबसे ज्यादा संख्या ग्वालियर-चंबल क्षेत्र में आ रही है।शिवराज ने कहा- सीमावर्ती जिलों में एडवायजरी जारी करेंमुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पिछले एक सप्ताह में प्रदेश के कुछ जिलों, विशेषकर सीमावर्ती जिलों से कोरोना के अधिक मामले आने से प्रदेश की कोरोना ग्रोथ रेट बढ़ी है। पहले कोरोना ग्रोथ रेट 1.72 थी, जो बढ़कर 2.01 हो गई है।..
                 

ऑस्कर के लिए पहली बार भोपाल से चुनी गईं फिल्म मेकर शर्ली अब्राहम, बोलीं- मुझे लगा दोस्त मजाक कर रहे हैं

एकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर आर्ट्स एंड साइंसेज (एएमपास) अमेरिका ने खुद को व्यापक और अधिक विविधता पूर्ण प्रतिनिधित्व देने के लिए 68 देशों में 800 से अधिक फिल्म प्रोफेशनल्स को सदस्यता ऑफर की है। अकादमी को अपने वार्षिक पुरस्कारों के लिए दुनिया भर में जाना जाता है। ये 'द ऑस्कर' के नाम से पूरी दुनिया में लोकप्रिय है।नए आमंत्रितों सदस्यों में हॉलीवुड और बॉलीवुड की कई हस्तियां शामिल हैं, जिनमें कई भारतीय फिल्म पेशेवर भी शामिल हैं। इसमें भोपाल की डॉक्युमेंट्री फिल्ममेकर शर्ली अब्राहम के साथ अमित महादेसिया और निष्ठा जैन शामिल हैं। इसी सूची में आलिया भट्ट और ऋतिक रोशन को भी नामांकित किया जा चुका है। ऑस्कर तक पहुंचने वाली शर्ली अब्राहम ने दैनिक भास्कर से अपने सफर पर बातचीत की...मजाक लगी थी सिलेक्शन की बातशर्ली बताती हैं कि, 1 जुलाई की रात 3 बजे मेरी एक जर्नलिस्ट फ्रेंड ने मुझे ऑस्कर ज्यूरी की लिस्ट फॉरवर्ड की, जिसमें मेरा नाम था। साथ में, उसने बधाई संदेश लिखा था। मुझे लगा, लॉकडाउन में सबके पास समय अधिक है, दोस्त ने मेरे साथ कोई मजाक किया है। सच्चाई का अहसास तब हुआ जब सचमुच मुझे ऑस्कर से फोन आया..
                 

लोकसभा चुनाव के ढाई साल बाद आमने-सामने हुए सिंधिया और केपी यादव, दोनों ने एक-दूसरे की प्रशंसा की

राज्यसभा सांसद ज्याेतिरादित्य सिंधिया और 2019 के लोकसभा चुनाव में गुना-शिवपुरी सीट से उन्हें करीब सवा लाख मतों से पराजित करने वाले सांसद डाॅ. केपी यादव करीब ढाई साल बाद मंगलवार को आमने-सामने हुए। दोनों ने इस मौके पर एक-दूसरे की प्रशंसा की।दरअसल, मंगलवार को भाजपा ने वर्चुअल रैली आयोजित की। इसमें राज्यसभा सांसद ज्याेतिरादित्य सिंधिया, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा, सांसद केपी यादव, स्थानीय प्रत्याशी जजपाल सिंह जज्जी और अन्य नेता शामिल हुए। सभी ने जजपाल सिंह जज्जी को जिताने के लिए कार्यकर्ताओं से एड़ी चोटी का जोर लगाने की अपील की।गौरतलब है कि वर्ष 2018 में हुए मुंगावली विधानसभा उपचुनाव के लिए टिकट न मिलने के बाद डाॅ. केपी यादव ने सिंधिया का हाथ छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया था। तब से दोनों आमने-सामने नहीं आए थे।केपी को अच्छा अनुभव है मेरे साथ काम करने काकेपी भी मुस्कुरा रहे हैं। इनको बहुत अच्छा अनुभव है, मेरे साथ काम करने का। हम पहले भी एक थे और आज भी हैं। बीच में भले कुछ हुआ हो। साथ में लड़ेंगे और हर संकट का सामना करेंगे। -ज्याेतिरादित्य सिंधिया, राज्य सभा सांसदक्षेत्र के विकास के लिए हम म..
                 

आज हो सकता है विभागों का वितरण, सीएम ने कल बुलाई कैबिनेट की बैठक

मंत्रियों को विभागों का वितरण बुधवार को होने की संभावना है। गुरुवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सुबह 10:30 बजे कैबिनेट की बैठक बुलाई है, जिसमें बजट के साथ रेवेन्यू से जुड़े कुछ विधेयकों खास तौर पर साहूकारी अधिनियम आदि को मंजूरी दी जाएगी।माना जा रहा है कि इससे पहले ही मंत्रियों को विभाग मिल जाएंगे। दिल्ली में दो दिन केंद्रीय नेतृत्व के साथ चर्चा के बाद तकरीबन सहमति बन गई है। मंगलवार को दिल्ली से लौटे मुख्यमंत्री ने मीडिया से कहा कि अभी थोड़ा और वर्कआउट करना है। थोड़ा समय लगेगा। इसके बाद ही विभाग बांटे जाएंगे। उन्होंने कहा कि सोच-समझकर ही सब निर्णय करना पड़ता है। कांग्रेस की लेटलतीफी के आरोपों पर उन्होंने कहा कि काम हमें करना है तो उन्हें चिंता क्यों हो रही है। इससे पहले मुख्यमंत्री ने प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और संगठन महामंत्री सुहास भगत से दिल्ली में हुई चर्चाओं पर बात की। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today फाइल फोटो।..
                 

वार्ड ऑफिस में न तो स्टाफ मिला न रिकॉर्ड, कटेगा वेतन; नामांतरण रजिस्टर नहीं था अपडेट, पीओएस मशीन भी खराब मिली

नगर निगम कमिश्नर वीएस चौधरी कोलसानी मंगलवार सुबह वार्ड 36 के कार्यालय पहुंचे। कार्यालय तो खुला था लेकिन कर्मचारी नदारद थे। कमिश्नर वहां सुबह 10:35 पर पहुंच गए थे। जबकि वार्ड प्रभारी दीपक मुंशी 11:15 पर दफ्तर पहुंचे। उनसे पहले 11 बजे सहायक राजस्व निरीक्षक वीरेंद्र अहिरवार बिना मास्क लगाए दफ्तर पहुंच गए। कमिश्नर ने अहिरवार को लताड़ लगाई। कमिश्नर ने मुंशी और अहिरवार का दो दिन का और शेष कर्मचारियों का एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए।कमिश्नर सुबह 8:30 बजे पार्कों में चल रहे विकास कार्यों का मुआयना कर रहे थे। अपर आयुक्त पवन सिंह उनके साथ थे। 10 बजे उन्होंने कहा कि वे वार्ड कार्यालय का भी मुआयना करेंगे। तय हुआ कि चांदबड़ स्थित वार्ड 36 का कामकाज देखा जाए। अधिकारियों ने जोनल अधिकारी बलवीर मलिक को सूचना दे दी तो वे मौके पर पहुंच गए। कमिश्नर 10:35 पर वार्ड कार्यालय पहुंचे तो कार्यालय खुला था लेकिन वहां एक भी कर्मचारी नहीं था। आधे घंटे बाद अहिरवार और उनके पीछे- पीछे क्लर्क लईक खान दफ्तर पहुंचे। कमिश्नर ने नामांतरण का रजिस्टर मांगा। काफी खोजबीन के बाद एक रजिस्टर मिला लेकिन उसमें भी आधी- अधूरी एं..
                 

मानसूनी सिस्टम बने, लेकिन शहर को नहीं कर पाए तर, सात दिन में आधा इंच बारिश भी नहीं

यह तस्वीर कलियासोत की है। रोजाना की तरह मंगलवार को राजधानी में बादल छाए, लेकिन बरसे नहीं। जुलाई के पहले हफ्ते में सिर्फ 0.39 इंच बारिश ही हुई है। जबकि जून में तय कोटे से ज्यादा बारिश हुई थी।इसलिए नहीं हो पा रही बारिशमाैसम वैज्ञानिक पीके साहा के मुताबिक प्रदेश में मानसूनी सिस्टम ताे बने, लेकिन भाेपाल में इनका असर नहीं हुआ। वहीं मानसून ट्रफ लाइन की जद में भाेपाल नहीं अाया। अन्य सिस्टमाें की तीव्रता भी इतनी नहीं थी कि वे यहां के माैसम काे प्रभावित कर पाते। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Monsoon system was created, but the city could not level up, not even half an inch of rain in seven days..
                 

अस्पताल का आरोप- कोरोना पेशेंट को दो घंटे आठ मिनट बाद लेकर लौटी एंबुलेंस, ड्राइवर बोला-आधे घंटे में पहुंच गया था

पीपुल्स हॉस्पिटल में 13 दिनों से भर्ती बिजली कंपनी के लाइन इंस्पेक्टर वाजिद अली (59) की कोरोना से मौत को लेकर दोनों ही अस्पताल आमने-सामने हैं। पीपुल्स अस्पताल प्रबंधन का आरोप है कि एंबुलेेंस का ड्राइवर मनोज मेवाड़ा अस्पताल से वाजिद अली पेशेंट को लेकर निकलने के दो घंटे आठ मिनट बाद वापस लौटा था। जबकि ड्राइवर का दावा है कि एंबुलेंस में मौजूद नर्सिंग स्टाफ ने जब तबीयत बिगड़ने के बारे में बताया तो उसने पहले चिरायु अस्पताल के डॉक्टर से बात की और उन्हीं की सलाह पर वाजिद अली को लेकर वापस पीपुल्स के लिए चल पड़ा।इसके पहले उसने पीपुल्स के डॉक्टर को भी इसकी सूचना दे दी थी। इसके बाद भी उन्होंने वाजिद अली को भर्ती करने से मना कर दिया। कोरोना मरीज को समय पर कोविड हॉस्पिटल में भर्ती नहीं करा पाने के मामले में प्रशासन की भूमिका भी सवालों के घेरे में है। उधर, इस मामले में चिरायु अस्पताल के डायरेक्टर डाॅ. अजय गाेयनका ने बात करने से इनकार कर दिया।सवाल यह भी... प्रशासन वक्त पर मरीज को कोविड सेंटर क्यों नहीं पहुंचा पायाबेटे का दर्द-हमें बताया गया शाम तक गाड़ी आएगी तो अब्बू को भेज देंगेदाेपहर में एक बजे 1250 से ..
                 

शहर की अधिकतर सड़कों की हालत खराब वाहन चालक और राहगीर हो रहे हैं परेशान

बारिश का मौसम शुरू होते ही शहर की सड़कें उखड़ने लगी हैं। शहर की अधिकतर सड़कों पर हुए गहरे गड्‌ढों के कारण स्थानीय रहवासियों को निकलने में परेशानी का सामना करना पड़ता है। बारिश के दौरान गड्‌ढों में पानी भरने कारण दोपहिया वाहन चालकों को गड्‌ढों की गहराई का अंदाजा नहीं हो पाता। ऐसे में वाहन चालक अचानक गहरे गड्‌ढे के कारण गिरकर घायल हो जाते हैं।बारिश के पहल नगर परिषद ने सड़कों पर गड्‌ढों को भरवाने के लिए कोपरा मिली मिट्‌टी को डलवा दिया था। सड़क पर पड़ी मिट्‌टी के कारण फिसलन हो जाती है। इससे वाहन चालक फिसल कर गिर जाते हैं। लोगों का कहना है कि सड़क का टैंडर भी हो चुका है लेकिन इसका निर्माण कार्य शुरू नहीं किया जा रहा है। इससे रहवासियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सड़क का निर्माण कार्य शुरू नहीं होने से लोगों में भारी रोष है।पाइप लाइन बिछाने के बाद भी नहीं की मरम्मतइसी मार्ग पर इमली चौराहे के पास पाइप लाइन ठेकेदार ने सड़क से पाइप लाइन क्रास करके पाइप लाइन डाल दी थी। सड़क खोदने के बाद सड़क से निकले हुए मलबे को ही गड्ढे में डाल दिया था। ठेकेदार ने सड़क की ..
                 

स्टेडियम पर 10 हजार की जगह 35 हजार वर्ग फीट पर निर्माण

संजय स्टेडियम परिसर में 102 फीट ऊंचा झंडा लगाने के लिए कलेक्टर ने चैंबर ऑफ कॉमर्स को 10 हजार वर्ग फीट जमीन दी थी। पर मौके पर 35 हजार वर्ग फीट पर काम चल रहा है। यह आरोप स्टेडियम के उन दुकानदारों ने लगाया है, जिन्हें नपा ने दुकान दी थीं। इन दुकानदारों ने कलेक्टर को दोबारा ज्ञापन देकर अनुरोध किया है कि चैंबर द्वारा अवैध रूप से कराए जा रहे काम को रुकवाया जाए। मौके पर बाउंड्रीवॉल भी उठाई जा रही है, जिससे दुकानदारों के काम के लिए जगह ही नहीं बचेगी।नियमों पर भी सवालइस मामले जमीन जिस तरह दी गई है, उसे लेकर भी सवाल उठ रहे हैं। जानकारों का कहना है कि यह जमीन नपा और शिक्षा विभाग की है। ऐसे में एक निजी संस्था को जमीन का हस्तांतरण किन आधार पर किया गया, इसकी जांच होना चाहिए। इसके अलावा वहां नपा द्वारा बनवाया गया बस स्टेंड भी बंद किया जा रहा है।ट्रक व बसें सड़क पर पहुंची, खतरा बढ़ासंजय स्टेडियम के बस स्टैंड को बंद करने से अब बसें सड़क पर खड़ी हो रही हैं। वहीं मैकेनिकों के यहां आने वाले ट्रक भी एबी रोड पर ही खड़े होते हैं। इससे यहां हादसों की आशंका बढ़ने लगी है।लैंड यूज बार-बार बदलास्टेडियम परिसर की जमीन का..
                 

तीन शहरों में एक दिन में नए संक्रमिताें के सबसे बड़े आंकड़े; मुरैना में 115, भोपाल में 86 और ग्वालियर में 68 कोरोना पॉजिटिव मिले

प्रदेश में एक बार फिर कोरोना संक्रमण रफ्तार पकड़ चुका है। मंगलवार को भोपाल में जहां 86 तो मुरैना में 115, ग्वालियर में 68 नए संक्रमित मिले। तीनों शहरों में यह बीते 115 दिन में अब तक का एक दिन का सबसे बड़ा आंकड़ा है। वहीं, इंदौर में 44 नए केस, जबकि तीन मरीजों की मौत हो गई। इन 44 में से 27 हातोद इलाके में मिले। खंडवा में 14, बड़वानी में 14, खरगोन में 10 नए संक्रमित मिलने के बाद निमाड़ में संक्रमण फिर तेजी पकड़ने लगा है। ग्वालियर में एक जुलाई से अब तक 325 केस मिल चुके हैं। जबकि 115 नए मरीजों में मुरैना शहर के 81 केस शामिल हैं। यहां 496 एक्टिव केस हैं, 332 डिस्चार्ज हो चुके हैं। प्रदेश में बीते दो दिन में 697 संक्रमित सामने आए हैं। नई कॉलोनियों में बढ़े केस राजधानी में अब होशंगाबाद और कोलार रोड की कॉलोनियों में संक्रमण बढ़ रहा है। शहर के पॉश इलाके अरेरा कॉलोनी में 9 मरीज मिलने से हड़कंप मच गया है। मामले बढ़ने की मुख्य वजह अनलॉक के बाद लाेगाें का मूवमेंट बढ़ना, सोशल डिस्टेंसिंग की अनदेखी और व्यावसायिक गतिविधियों के दौरान नियमों का उल्लंघन है।13 जुलाई से बंद हो सकता है मंत्रालयराज्य सरकार के प्रशासनिक..
                 

प्रोटेम स्पीकर की भाजपा-कांग्रेस विधायक दल के सचेतकों से चर्चा; मानसून सत्र में कैसे होगा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन, मंथन जारी

कोरोना का असर 20 जुलाई से शुरू हो रहे विधानसभा के मानसून सत्र पर भी पड़ेगा। सत्र के दौरान अन्य सावधानियों के साथ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किस तरह किया जाए, इस पर मंथन चल रहा है। मंगलवार को प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा, गृहमंत्री व भाजपा विधायक दल के सचेतक नरोत्तम मिश्रा, कांग्रेस विधायक दल के सचेतक डॉ. गोविंद सिंह व विधानसभा के प्रमुख सचिव एपी सिंह ने इस पर चर्चा की। उन्होंने सदन के अंदर जाकर भी देखा कि किस तरह सदस्यों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग कायम रखी जा सकती है।विधायकों के लिए जो सीट लगी हैं, उनमें पर्याप्त जगह है, यदि वे चाहें तो एक-दूसरे से दो-ढाई फीट की दूरी मेंटेन कर सकते हैं। उन सीटों पर दो-तीन लोगों को बैठाकर भी देखा गया। इस बात पर विचार किया कि यदि बीच में मार्किंग कर दी जाए, तो कोई परेशानी नहीं होगी। वर्तमान बैठक व्यवस्था में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा सकता है।21 को होगा अध्यक्ष का चुनावविधानसभा के नए अध्यक्ष का चुनाव 21 जुलाई को होगा। 20 जुलाई को इसके लिए नामांकन की प्रक्रिया होगी। नए अध्यक्ष ही तय करेंगे कि उपाध्यक्ष का चुनाव कब हो। वर्तमान में ये दोनों पद रिक्त हैं और..
                 

पड़ोसी ने डंडा मारा, युवक बचने के लिए झुका तो बेटी के सिर पर लगी चोट; आरोपी ही अस्पताल लेकर भागे, रास्ते में मौत

मध्यप्रदेश की राजधानी के गुनगा थाना क्षेत्र में बागड़ को लेकर हुए विवाद में डंडे के हमले से 7 महीने की मासूम मिस्टी की मौत हो गई। झगड़े के दौरान मिस्टी अपने 25 साल के पितामनीष जाट की गोद में थी। हमलेसे बचने के लिए मनीष ने अपनी गर्दन को झुकाईतो डंडेका प्रहार बेटी के सिर पर आ गया।खून बहता देखमासूम को आरोपी खुद ही अपनी बाइक पर अस्पताल लेकर गए, लेकिन नन्हीजान जिंदगी की जंग हार गई। पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों को हत्या का आरोपी बनाया है।गुनगा पुलिस ने तीनों आरोपियों को सूचना मिलने के करीब 8 घंटे बाद ही गिरफ्तार कर लिया।गुनगा थाने के रतुआ में रहने वाले 25 साल के मनीष जाट का बीते कुछ समय से घर के बाहर बागड़ बनाने को लेकर पड़ोसी मुकेश यादव से विवाद चल रहा था। एएसपी जोन-4 दिनेश कौशल ने बताया कि जानवरों से बचने के लिए दोनों ने घर के बाहर बागड़ लगाने से रास्ता छोटा हो गया था। सोमवार सुबह मुकेश अपने साथियों समंदर यादव और शिवनारायण कुशवाह के साथ बागड़ में लकड़ी लगा रहा था। इसी दौरान मनीष की पत्नी संतोषी ने घर से निकलकर उन्हें रोकना चाहा। इस पर मुकेश ने उसे थप्पड़ जड़ दिया। पत्नी को पिटता देख मनीष अपनी 7 ..
                 

मरीज को सड़क पर छोड़कर जाने के बाद में उसकी मौत के मामले की न्यायिक जांच के आदेश

कोरोना रोगी को सड़क पर छोड़कर जाने और उसके बाद उसकी मौत के मामले की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश भोपाल कलेक्टर अविनाश लवानिया ने दिए हैं। जांच अपर जिला मजिस्ट्रेट (एडीएम) सतीश कुमार द्वारा की जाएगी। मजिस्ट्रियल जांच में देखा जाएगा कि रोगी 23 जून, 2020 से पीपुल्स जनरल हॉस्पिटल, मालवीय नगर, भोपाल में भर्ती था, तो ऐसी कौन-सी परिस्थिति उत्पन्न हुई कि उसे अन्य अस्पताल में रैफर करने का निर्णय लिया गया। दूसरे अस्पताल में रेफर करने से पहले कोरोना रोगी के परिवार को मौजूदा स्थिति के बारे में पूरी जानकारी दी गई थी। इसके साथ ही मरीज की शिफ्टिंग के लिए सहमति हासिल की गई थी।जांच में ये भी देखा जाएगा कि कोरोना मरीज को दूसरे अस्पताल में शिफ्ट करते समय ऐसे रेफर एवं ट्रांसफर करने के लिए समय-समय पर जारी नियमों एवं प्रोटोकॉल का पालन किया गया था। किन कारणों से मरीज को एंबुलेंस से वापस लाने की स्थिति निर्मित हुई थी। किन परिस्थितियों में रोगी की मृत्यु हुई। क्या इसके लिए कोई जिम्मेदार है। इसके अतिरिक्त जांच के दौरान अन्य बिन्दु जो दृष्टिगत होंगे, उनको भी जांच में लिया जाएगा।एंबुलेंस चालक मरीज को रोड पर छोड़कर भागा..
                 

पार्वती नदी के रपटे पर तेज बहाव में बहा किशोर, दूसरे दिन शव मिला; बुआ के घर से भंडारे का प्रसाद लेकर लौट रहा था

राजगढ़ में घोघरा घाट स्थित पार्वती नदी के रपटे पर सोमवार को एककिशोर तेज बहाव में बह गया। वहबुआ के घर कथा के भंडारे में भोजन करके लौट रहा था,तभी शाम करीब 4 बजेहादसा हो गया। सूचना पर गोताखोरों के साथ पहुंची पुलिस औरप्रशासन की टीम किशोर को तलाश करने की कोशिश करती रही। दूसरे दिन मंगलवार दोपहरकिशोर का शव बरामद किया गया।लड़के के बहते ही चीख-पुकार मच गई। बहाव इतना तेजथा कि किसी ने उसे बचाने की हिम्मत नहीं की। तमाम लोग नदी किनारे खड़े होकर उसका वीडियो बनाते रहे। किशोर काफी देर तक जान बचाने के लिए संघर्ष करता रहा।कल शाम से ही नदी में बहे किशोरों को खोताखोर खोजबीन कर रहे थे।जानकारी के मुताबिक, सुठालिया थाना प्रभारी रजनीश सिरोठिया ने बताया कि टोड़ी गांव निवासी 15 वर्षीय किशोर रामस्वरूप पुत्र नन्नूलाल लोधी सोमवार सुबह गुना जिले के महुआखेड़ा गांव में बुआ के यहां गुरुपूर्णिमा परभंडारे में खाना खाने अंकल औरछोटी बहन के साथ गया था। तीनोंवहां से बाइक से लौट रहे थे, तभी शाम 4 बजे घोघरा घाट पर निर्माणाधीन पुल के पास बने रपटे पर अचानक से पानी ऊपर से जाने लगा था। इसके बाद किशोर का चाचा उसकी बहन को रपटा पार कर..
                 

मध्य प्रदेश में हमारा घर, हमारा विद्यालय अभियान शुरू, घर के आंगन और पेड़ों के नीचे थाली पीटकर बांटा जा रहा ज्ञान

एक तरफ पूरे प्रदेश में गुरु पूजन किया जा रहा है तो दूसरी ओर शिक्षकों को घरों में जाकर स्कूल शुरू करने का फरमान सुना दिया गया है। वह भी तब जबकि सरकार ने ही 31 जुलाई तक स्कूलों को शुरू करने पर रोक लगा रखी है। इस आदेश को शिक्षाविद और शैक्षिक संगठनों ने अपमानजनक बताया है।राज्य शासन ने पूरे प्रदेश में 31 जुलाई 2020 तक विद्यालय शुरू नहीं करने का आदेश जारी किया है, लेकिन राज्य शिक्षा केंद्र अपने ही तरीके से आदेश का पालन कर रहा है। राज्य शिक्षा केंद्र (आरएसके) सोमवार से “हमारा घर, हमारा विद्यालय” अभियान शुरू करने जा रहा है। तर्क दिया गया है कि विद्यार्थियों की पढ़ाई का नुकसान न हो, इसलिए 6 जुलाई 2020 से विद्यार्थियों के घर में ही विद्यालय शुरू करने का आदेश दिया है। उसमें कहा गया है कि जिन विद्यार्थियों के पास स्मार्ट फोन नहीं है, शिक्षक ऐसे विद्यार्थियों के घर जाकर उनके बड़े भाई-बहन को बतौर वालंटियर्स तैयार करेंगे कि वे विद्यार्थियों को घर में ही पढ़ाएं। इस काम में घर के बड़े-बुजुर्गों की मदद लेने को भी कहा गया है।शिक्षक घर-घर जा रहे हैं और बच्चों को पढ़ाते हैं।पांच परिवार से शिक्षक कर..
                 

कोरोना मरीज को अस्पताल के बाहर पटककर भाग गया एंबुलेंस ड्राइवर, मौत

दो अस्पतालों के बीच उलझकर सोमवार को एक कोरोना पेशेंट की जान चली गई। बिजली कंपनी के लाइन इंस्पेक्टर 59 वर्षीय वाजिद अली पीपुल्स हाईटेक हॉस्पिटल मालवीय नगर में 13 दिन पहले किडनी के इलाज के लिए भर्ती हुए थे। सोमवार सुबह उनकी कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो शाम को उन्हें लेने चिरायु अस्पताल से एंबुलेंस आई। तबीयत बिगड़ती लगी तो ड्राइवर उन्हें रास्ते से वापस ले आया, लेकिन पीपुल्स हॉस्पिटल ने दोबारा भर्ती करने से मना कर दिया। स्ट्रेचर भी नहीं दिया। इस पर ड्राइवर पेशेंट को पार्किंग एरिया में उन्हें जमीन पर ही पटककर चला गया। बाद में पीपुल्स हॉस्पिटल के पीपीई किट में दो कर्मचारी ऑक्सीजन लेकर आए, उन्हें स्ट्रेचर पर लेटाया। सीपीआर देने की कोशिश की, लेकिन तब तक उनकी सांसें टूट चुकी थीं। सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी ने कमेटी गठित कर मामले की जांच कराने का कहा है। अस्पतालों में भटकते रहे कोई बताने को तैयार नहीं था उन्हें कहांले गएमैं पीपुल्स में बिल का भुगतान कर अम्मी के साथ घर चला गया था। एम्बुलेंस में साथ जाना चाहते थे, लेकिन हमें नहीं जाने दिया गया। जब उन्हें वापस लाने की खबर मिली तो फिर पीपुल्स ह..
                 

वन्य प्राणियों की ट्राॅफी के लिए अश्विन शर्मा ने जो दस्तावेज प्रस्तुत किए, वे निकले फर्जी; जमानत खारिज

वन विभाग में बयान देने के लिए उपस्थित न होने के बाद अश्विन शर्माद्वारा प्रस्तुत दस्तावेज को फर्जी मानते हुए उनके खिलाफ केसदर्ज किया गया है। गिरफ्तारी की डर से शर्मा ने भोपाल सत्र न्यायालय में अग्रिम जमानत का आवेदन लगाया। अपर सत्र एवं विशेष न्यायाधीश एसबी साहू के न्यायालय में दो दिन चली सुनवाई के बादकोर्ट ने सोमवार कोआरोपी कीअग्रिम जमानतयाचिका कोनिरस्त कर दिया। वन विभाग की ओर से राज्य समन्वयक (वन, वन्यप्राणी) लोक अभियोजन मप्र सुधा विजय सिंह भदौरिया ने पक्ष रखा।इधर, अश्विन शर्मा के यहां आईटी की रेड में घर से बरामद हुई ट्राॅफियाेंके जांच में प्रस्तुत किए गए दस्तावेज फर्जी पाए गए। दरअसल, शर्मा ने अपने पिता स्व.सीएच शर्मा के नाम से 12 मार्च 1973 को ट्राॅफियों के पंजीयन के लिए दिया गया घोषणा पत्र सौंपा था। जिसमें जागीरदार का पता कुम्भराज जिला गुना का लिखा था। और यह घोषणा पत्र मुख्य वन्य प्राणी अभिरक्षक भोपाल को पेश करना बताया गया था। वन विभाग ने जब इन दस्तावेजों की जांच की तो न तो इनका पंजीयन विभाग में होना पाया गया और न ही उसके स्थानांतरण से जुड़े कोई दस्तावेज मिले थे।अश्विन शर्मा के फ्लैट ..
                 

वन विहार से बाघ पन्ना को लिया गया गोद, अब तक 73 वन्य प्राणियों को अपनाया लोगों नेवन्य प्राणियों को गोद लेने से इनकम टैक्स में मिलती है छूट

वन विहार में इस साल केवल एक बाघ को गोद लिया गया है। यह बाघ पन्ना है। इसे एसबीआई बैंक ने गोद लिया है। इसके लिए बैंक ने 2 लाख रुपए का चेक वन विहार प्रबंधन को दिया है। यह तीसरा मौका है जब पन्ना को गोद लिया गया है। इसके पहले एसबीआई के अलावा देना बैंक ने इसे गोद लिया था। कोरोना संक्रमण और लॉक डाउन के चलते पहली बार ऐसा हुआ है कि वन विहार से केवल एक ही वन्यप्राणी गोद लिया गया। इसके इसके पहले आमजन भी अपनों के बर्थडे और मैरिज एनिवर्सरी के मौके पर लोग अजगर, भालू सहित अन्य वन्य प्राणी गोद लेते थे। बाघ के बाद सबसे ज्यादा लिया जाने वाला वन्य प्राणी अजगर है। अब तक 24 बार लोग मेल और फीमेल अजगर को गोद ले चुके हैं। वहीं पहले नंबर पर बाघ है इसे 29 बार गोद लिया गया है।वन विहार के डिप्टी डायरेक्टर एके जैन ने बताया कि तीन साल बाद किसी संस्था ने टाइगर को गोद लिया है। इसके पहले व्यक्तिगत तौर पर 2019 में दो बार अजगर और 2018 मेें तीन बार व्यक्तिगत तौर पर अजगर ही गोद लिया गया। इसके तहत अब तक 73 वन्य प्राणी गोद दिए जा चुके हैं। जैन ने बताया कि वन्य प्राणियों के संरक्षण के लिए वर्ष 2009 से उन्हें गोद देने की योजन..
                 

जंगल में बारिश से अचानक चला केदारनाथ का झरना, बचा एक परिवार

जिला मुख्यालय से 40 किमी दूर स्थित दर्शनीय स्थल केदारनाथ पर रविवार को एक परिवार झरनों से अचानक बहने वाले पानी की वजह से काफी देर तक फंस गया। मुश्किल से मौजूद उनके साथियों ने ही इन्हें सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया। यह घटना रविवार की है, सुबह हाट रोड पर रहने वाला परिवार केदारनाथ पहुंचा था। यहां उन्होंने दर्शन किए।दोपहर 3 से 4 बजे तक झरने सूखे थे। इसके बाद अचानक ही पानी बहने लगा। इसी झरनों के नीचे गुना का एक परिवार और ग्वालियर से आए 3 लोग घूम रहे थे। जब पानी बहने लगा तो लोग भागने लगे। लेकिन कुछ ही क्षण में जो जगह पहले बिल्कुल सूखी थी, वहां लबालब पानी हो गया। हाट रोड निवासी मौलिक सूद ने बताया कि उनके परिवार के 8 लोग दर्शन करने गए थे। इन सभी को मुश्किल से सुरक्षित स्थान पर लेकर आए। क्योंकि कुछ लोग नदी के दूसरी तरफ थे और झरने से पानी बहने से वह फंस गए। मंदिर स्थल बारिश भी नहीं हुई, फिर भी कैसे पानी आ गया? इससे सभी हैरान थे।जंगल में हुई थी बारिशकेदारनाथ गांव के लोगों का कहना है कि केदारनाथ का जंगल विस्तृत फैलाव वाला है। यह पहाड़ अधिक हैं। जब भी थोड़ी भी बारिश होती है तो पानी का बहाव सीधा मंदिर की..
                 

कलेक्टर का आदेश- कोविड-19 के प्रोटोकाॅल का पालन नहीं करने पर वॉलिंटियर्स बनना होगा

मध्यप्रदेश की राजधानी में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए अब सख्ती करने की तैयारी कर ली गई है। यहां पर सार्वजनिक स्थानों पर थूकने, बिना मास्क और लॉकडाउन के प्रोटोकॉल का पालन नहीं करने पर जुर्माना के साथ अब कोरोना वॉलिंटियर्स बनना होगा। कलेक्टर अविनाश लवानिया ने कहा कि प्रोटोकाॅल का पालन नहीं करने वालों को अब कोरोना वॉलिंटियर्स के रूप में ड्यूटी करना होगा। इसके बाद सजा के दौरान लोगों को कोरोना को लेकर जागरूक करने से लेकर सर्वे तक के कार्य करना होगा। यह निर्णय सोमवार को मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए बुलाई गईआपात बैठक में लिया गया।भोपाल में गैस प्रभावित क्षेत्रों में 1 लाख 84 हजार लोगों का सर्वे हुआ।भोपाल में बीते एक सप्ताह से लगातार कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ रही है। बीते दिनों में लगातार 50 से ज्यादा मरीज मिल रहे हैं। रविवार को तो 74 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। दो दिन से लगातार 4 लोगों की कोरोना के कारण मौत हो चुकी हैं। ऐसे में अब प्रशासन इसको लेकर सख्ती के साथ ही कुछ नया करने की कोशिश में लग गया है, ताकि लोगों को उनकी जिम्मेदारी का एहसास दिलाया जा सके।1 लाख 84 हजार से अध..
                 

मुंह पर रुमाल बांधे युवक को स्पॉट फाइन के लिए कॉलर पकड़कर खींचा, बदसलूकी भी की

रॉयल मार्केट चौराहे की यह तस्वीर नगर निगम की गुंडागर्दी का सबूत है। मास्क न लगाने और सार्वजनिक स्थानों पर थूकने वालों के खिलाफ निगम अमला कार्रवाई कर रहा है, लेकिन कार्रवाई के नाम पर ऐसी बदसलूकी गलत है। सोमवार सुबह 11 बजे राॅयल मार्केट चाैराहा से एक बाइक सवार युवक गुजरता है। निगम के सुपरवाइजर शिवा घेंघट उसे रोकते हैं। जबकि युवक के चेहरे पर रुमाल बंधा था। जैसे ही युवक ने गाड़ी राेकी, उसे कॉलर पकड़कर उतारा और गाड़ी की चाबी निकाल ली। घेंघट और एक अन्य कर्मचारी उसे धक्का देते हुए पीछे ले गए। उप स्वास्थ्य पर्यवेक्षक सोहेल ने तेज आवाज में अपशब्द कहते हुए कहा-‘बैठाओ, इसको उधर।’ इसके बाद एएचओ मृणाल खरे ने उसे धमकाया।इस बीच युवक घबरा गया और चुपचाप खड़ा हो गया। इसके बाद घेंघट मास्क न पहनने पर 100 रुपए का स्पॉट फाइन करने लगे, लेकिन युवक के पास पैसे नहीं थे। मिन्नतें करने के बाद युवक को बिना फाइन लिए छोड़ दिया गया। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी मास्क न लगाने की स्थिति में मुंह पर रुमाल या गमछा बांधने की सलाह दी है। ऐसे में निगम की यह कार्यप्रणाली कई सवाल खड़े करती है।कचरा कलेक्श..
                 

जंगल में बारिश से अचानक चला केदारनाथ झरना, बचा एक परिवार

जिला मुख्यालय से 40 किमी दूर स्थित दर्शनीय स्थल केदारनाथ पर रविवार को एक परिवार झरनों से अचानक बहने वाले पानी की वजह से काफी देर तक फंस गया। मुश्किल से मौजूद उनके साथियों ने ही इन्हें सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया।यह घटना रविवार की है, सुबह हाट रोड पर रहने वाला परिवार केदारनाथ पहुंचा था। यहां उन्होंने दर्शन किए। दोपहर 3 से 4 बजे तक झरने सूखे थे। इसके बाद अचानक ही पानी बहने लगा। इसी झरनों के नीचे गुना का एक परिवार और ग्वालियर से आए 3 लोग घूम रहे थे। जब पानी बहने लगा तो लोग भागने लगे। लेकिन कुछ ही क्षण में जो जगह पहले बिल्कुल सूखी थी, वहां लबालब पानी हो गया।हाट रोड निवासी मौलिक सूद ने बताया कि उनके परिवार के 8 लोग दर्शन करने गए थे। इन सभी को मुश्किल से सुरक्षित स्थान पर लेकर आए। क्योंकि कुछ लोग नदी के दूसरी तरफ थे और झरने से पानी बहने से वह फंस गए। मंदिर स्थल बारिश भी नहीं हुई, फिर भी कैसे पानी आ गया? इससे सभी हैरान थे।जंगल में हुई थी बारिशकेदारनाथ गांव के लोगों का कहना है कि केदारनाथ का जंगल विस्तृत फैलाव वाला है। यह पहाड़ अधिक हैं। जब भी थोड़ी भी बारिश होती है तो पानी का बहाव सीधा मंदिर की ..
                 

15 माह दिखे नहीं, अब छोटे-बड़े भाई को बमोरी की याद आई: सिंधिया

बमोरी उपचुनाव को लेकर राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सोमवार को वर्चुअल रैली की। इसमें वे पूर्व सीएम कमलनाथ और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह पर जमकर बरसे।उन्होंने दोनों को बड़े भाई-छोटे भाई की संज्ञा देते हुए कहा कि अचानक दोनों को बमोरी की याद आ गई है। बीते 15 माह के दौरान दोनों में से किसी ने भी कभी इस इलाके की सुध नहीं ली। उन्होंने पूर्व मंत्री जयवर्धन सिंह पर भी बिना नाम लिए हमला बोला। उन्होंने कहा कि पूर्व मंत्री आज बमोरी के चक्कर लगा रहे हैं। वे पहले कभी लोगों के बीच क्यों नहीं आए।फेसबुक लाइव पर हुई इस रैली को सांसद सिंधिया ने दिल्ली स्थित अपने निवास से संबोधित किया। जबकि भोपाल से भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा और कैबिनेट मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया ने अपनी बात रखी। वहीं गुना में हाट रोड स्थित कार्यालय परजिलाध्यक्ष गजेंद्र सिकरवार ने स्वागत भाषण दिया और आभार बमोरी चुनाव के संचालक हरिसिंह यादव ने माना।सेवाभाव भाजपा से सीखें : सिसौदियाकेबिनेट मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया ने कहा कि सेवा भाव सीखना है तो भाजपा से सीखे। कांग्रेस के 15 माह के कार्यकाल के दौरान मंत्री ..
                 

पहले दिन 90 पर्यटकों ने देखे स्तूप, बोले- यहां अच्छा लगा

कोरोना संक्रमण को लेकर सभी पर्यटक स्थल बंद कर दिए गए थे। इसके चलते वहां लोगों की आवाजाही पूरी तरह से बंद थी। अब सोमवार से तय शर्तों के तहत पर्यटन स्थल लोगों के लिए खोल दिए गए हैं। लेकिन इस दौराना तय गाइड लाइन का पूरी तरह से पालन कराया जा रहा है। 90 पर्यटक यहां पहुंचे। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण द्वारा संरक्षित सभी स्मारक आज से पर्यटकों के लिए खोल दिए गए है।लेकिन यहां अब केवल ई-टिकट से ही प्रवेश मिल रहा है। सांची आने वाले पर्यटकों की प्रवेश द्वारा पर ही थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है। इसके साथ ही सभी के साथ सैनिटाइज भी करवाए जा रहे हैं। इससे कोरोना संक्रमण की संभावना न रहे। इतना ही नहीं स्तूप परिसर के अंदर मास्क पहनना अनिवार्य किया गया है। इसके साथ ही स्टाफ, गाइड और पर्यटक भी सोशल डिस्टेंस का खास ध्यान रख रहे हैं। प्रवेश द्वारा पर टिकट लेने की जगह पर भी सोशल डिस्टेंस का पालन कराने के लिए दो गज की दूरी पर गोल घेरे बनवाए गए हैं। कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते तीन महीने 20 दिन से सांची के स्तूप पर्यटकों के लिए बंद कर दिए गए थे।पर्यटक बोले अच्छा लगा : भोपाल से आए पर्यटक हर्ष आयुष सेन और जबल..
                 

मनुआभान का फिल्टर प्लांट इस माह हो जाएगा तैयार, चार लाख आबादी को होगा पानी सप्लाई

मनुआभान टेकरी पर निर्माणाधीन वाटर फिल्टर प्लांट इस महीने के अंत तक तैयार हो जाएगा।12 एमजीडी क्षमता के इस प्लांट से द्रोणाचल, आरजीपीवी और सेंट्रल इंस्टीट्यूट आफ एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग(सीआईएई) सहित गांधी नगर, सेंट्रल जेल, करोंद और बीएमएचआरसी के आसपास के क्षेत्रों में करीब चार लाख की आबादी को पानी सप्लाई होगा । 263.71 करोड़ रुपए की लागत से फिल्टर प्लांट और 517 किलोमीटर लम्बी पाइप लाइन बिछाने का काम अंतिम चरण में है । प्रोजेक्ट अमृत के तहत हो रहे इस काम में टंकियों को इस प्लांट से जोड़ा जा रहा है। नए प्लांट से जुड़ने पर पानी के कम दबाव की समस्या समाप्त हो जाएगी। पांच नई टंकियां बनाई गईं हैं।कोरोना के कारण हुई थी देरीमार्च 2018 में इस प्लांट का काम शुरू हुआ था और इसे मार्च 2020 में पूरा होना था। पिछले साल दिसंबर तक 80 फीसदी काम पूरा हो चुका था। माना जा रहा था कि मार्च में यह पूरा हो जाएगा।मुख्यमंत्री कर सकते हैं उद्घाटननिगम के अपर आयुक्त मयंक वर्मा ने बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से प्लांट के उद् घाटन का अनुरोध किया गया है। इस माह के तीसरी सप्ताह में उद् घाटन की उम्मीद है। Do..
                 

सिग्नल पर ट्रेन पहुंचते ही प्लेटफॉर्म पर रोशन होंगी 100% लाइट, रवाना होते ही आधी बुझ जाएंगी

होम सिग्नल पर ट्रेन के पहुंचते ही भोपाल स्टेशन के प्लेटफॉर्म पर 100% लाइट रोशन हो जाएगी। वहीं ट्रेन के रवाना होते ही आधी लाइटें बंद हो जाएंगी। फिलहाल इस व्यवस्था को प्लेटफॉर्म नंबर-1 पर शुरू कर दिया गया है। जल्द ही अन्य प्लेटफॉर्म पर इसकी शुरुआत कर दी जाएगी।डीआरएम उदय बोरवणकर का कहना है कि ऊर्जा संरक्षण के लिए यह व्यवस्था शुरू की गई है। हरदा स्टेशन पर व्यवस्था को प्रयोगात्मक तरीके से लागू किया गया था, जिसकी सफलता को देखते हुए भोपाल सहित अन्य स्टेशनों पर भी उसे कायम किया जाएगा। रेलवे स्टेशनों के विभिन्न प्लेटफॉर्म पर ट्रेनें न होने के बाद भी अक्सर पूरी लाइट जलती रहती हैं। इससे बिजली की खपत भी लगातार होती है। इसी को देखते हुए रेलवे ने नई व्यवस्था कायम करने का निर्णय लिया है।स्पेशल सर्किट बनाकर होम व स्टार्टर सिग्नल से जोड़ा, इससे लाइटें स्वत: बंद-चालू होंगीइस व्यवस्था के लिए रेल प्रशासन ने लाइटों का एक स्पेशल सर्किट बनाकर उसे होम और स्टार्टर सिग्नल से जोड़ दिया है। इसके चलते जब ट्रेन होम सिग्नल पर आएगी तो प्लेटफॉर्म पर पूरी लाइटें जल जाएंगी। वहीं ट्रेन के स्टार्टर सिग्नल पर पहुंचते ही आधी ..
                 

बैतूल से चोरी करके लाए ट्रैक्टर को भोपाल में बेचने की कोशिश कर रहे चोरों को पुलिस ने पकड़ा, दो ट्रैक्टर समेत 3 आरोपी गिरफ्तार

भोपाल की बिलखिरिया थाना पुलिस ने चोरी के ट्रैक्टर के साथ तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपी बैतूल से ट्रैक्टर चोरी कर भोपाल के ट्रांसपोर्ट नगर में खपाने की नियत से घूम रहे थे। पकड़े गए तीन आरोपियों से पुलिस ने 2 ट्रैक्टर जब्त किए हैं। बिलखिरिया पुलिस ने ट्रांसपोर्ट नगर सेदो संदिग्धों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया। उन्होंने अपना नाम होशंगाबाद निवासीनीलेश चोरे और गोविंदपुरा निवासी सुनील चोरे बताया। वह बिना नंबर का ट्रैक्टर लेकर खड़े हुए थे। ट्रैक्टर के कागजात मांगने पर आरोपी बहाने बनाने लगे। पुलिस उन्हें पूछताछ के लिए बायपास पुलिस चौकी ले आई। सख्ती से पूछताछ में उन्होंने बैतूल जिले के थाना चिचोली इलाके से 9 जून को ट्रैक्टर चोरी करना कबूल कर लिया। पूछताछ के बाद पुलिस ने उनके बताए पते बागसेवनिया से एक और चोरी किया गया ट्रैक्टर जब्त किया। पुलिस ने यहां से चिक्की उर्फ विनोद उर्फ दीपक सेन को भी गिरफ्तार किया। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today भोपाल पुलिस ने ट्रैक्टर चोर गिरोह के तीन लोगों को पकड़ा।..
                 

बासमती को जीआई टैग दिलाने के लिए सीएम शिवराज कृषि मंत्री तोमर से मिले, किसान हर साल 3 हजार करोड़ का चावल निर्यात करते हैं

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नई दिल्ली में केंद्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर से मुलाकात कर मध्यप्रदेश के बासमती चावल को जीआई (ज्याॅग्रफिकल इंडिकेशन) टैग दिलवाने का आग्रह किया। सोमवार को नई दिल्ली में मुख्यमंत्री शिवराज ने बताया कि प्रदेश में बासमती चावल का उत्पादन 13 जिलों में किया जाता है और इससे प्रदेश के लगभग 80 हजार किसान जुड़े हुए हैं। किसानों के हित और चावल की गुणवत्ता को देखते हुए मध्यप्रदेश के बासमती चावल को जीआई टैग देना उचित होगा।केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि 'कृषि भवन में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जी चौहान से मुलाकात की। मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री जी ने प्रदेश के बासमती चावल को GI दर्जा देने तथा प्रदेश में कृषि को और अधिक बढ़ावा देने आदि अनेक विषय रखे।' केंद्रीय मंत्री ने मुख्यमंत्री के आग्रह पर केंद्र सरकार द्वारा उक्त संदर्भ में हर संभव सहायता देने का आश्वासन दिया।13 जिलों के किसानों को फायदा होगासीएम शिवराज ने बताया कि मध्यप्रदेश का चावल यहां के किसानों द्वारा विदेशों में भी निर्यात किया जाता ..
                 

नगर निगम की टीम ने बाइक सवार की कॉलर पकड़ी और खींचकर उतारा, बोले- हम तुम्हारी भलाई के लिए बैठे हैं और तुम हमें गाली देते हो

राजधानी मेंमास्क चेकिंग के नाम पर बाइक सवार एक युवक से नगर निगम की टीम ने बदसलूकी की। युवक को कॉलर से पकड़कर बाइक से खींचते हुए उतार दिया। टीम ने युवक पर अभद्रता का भी आरोप लगाया। इसका वीडियो भीवायरल हो गया है। अधिकारी बोले- हम तुम्हारी भलाई के लिए बैठे हैं और तुम लोग हमें ही गाली देते हो।बाइक रोककर युवक को कुछ इस तरह कॉलर पकड़कर खींचा। पकड़े जाने के दौरान वह रूमाल बांधे हुए था, जबकि कर्मचारियों का कहना था कि उसने मास्क नहीं पहने था।राजधानी भोपाल में नगर निगम की टीम ने मास्क चेकिंग के नाम पर जगह-जगह चेकिंग पांइट लगाए हैं। सोमवार सुबहवार्ड क्रमांक 8 रॉयल मार्केट मेंनगर निगम की टीम चेकिंग कर रही थी। इसी दौरान एक बाइक सवार को टीम ने रोक लिया। टीम ने युवक परगाली-गलौज का आरोप लगाकर कॉलर पकड़ ली। एक कर्मचारी ने बाइक से खींचकर उतार दिया। आरोप है कियुवक से अपशब्द बोले गए औरसड़क के किनारे ले गए। इससे पहले भी नगर निगम की टीम मनीषा मार्केट, शाहपुरा में इसी तरह बेरीकेड्स लगाकर चेकिंग कर चुके हैं।एएचओ ने युवक पर लगाए पहले गाली-गलौज करने के आरोपजोन-2 के एएचओ ने सोमवार सुबहटीम के साथ रॉयल मार्केट के यहां ..
                 

भोपाल में 300 नई बसें चलना तय, 22 रूट पर 11 नए रूट बनाए गए; सलैया तक जाएगी

भोपाल शहर के दूरस्थ क्षेत्रों में रहने वालों की सुविधा के लिए भोपाल सिटी लिंक लिमिटेड (बीसीएलएल) 11 नए रूट पर 300 बसें शुरू करने जा रहा है। इसके लिए अमृत योजना के तहत सलैया जैसे इलाकों तक इन बसों का संचालन किया जाएगा। संभागायुक्त कवींद्र कियावत ने भोपाल बीसीएलएलके अधिकारियों को शहर के दूरस्थ क्षेत्रों के रहवासियों को इसका अधिकतम लाभ पहुंचाने के निर्देश दिए।पूरे भोपाल में 22 रूट पर 300 नई बसें चलाई जाएगी। इनमें शहर के दूरस्थ क्षेत्रों को जोड़ते हुए 11 नए रूट शामिल है। कियावत ने निर्देश दिए कि शहर के वे दूरस्थ क्षेत्र और कॉलोनी जिनमें सार्वजनिक परिवहन के साधन उपलब्ध नहीं हैं, उनके रहवासियों को इसका लाभ पहुंचाया जाना चाहिए। कोलार, होशंगाबाद रोड, रायसेन रोड, बैरसिया जैसे क्षेत्रों, कलोनी में बस का शुरुआती केंद्र रखा जाए।इस योजना से जाट खेड़ी, भौरी, संस्कार उपवन कोलार, सेमर, बरनाला, दानिश कुंज, टीबी अस्पताल, जागरण लेकसिटी, गांधी नगर, बैरसिया, एलएनसीटी, कृष्णा हाइट बैरागढ़ चीचली और सलैया जैसे क्षेत्र लाभान्वित होंगे। बीसीसीएल के पीआरओ संजय सोन ने बताया कि अमृत योजना में शहरी परिवहन को उच्चस्..
                 

60% माता-पिता बच्चोंं को तभी स्कूल भेजना चाहेंगे, जब कोरोना वैक्सीन तैयार हो, 56% ने कहा- स्कूल खुले तो बच्चों को खुद ही स्कूल छोड़ेंगे

कोरोना के चलते स्कूल/कॉलेज और कोचिंग संस्थान बंद हैं। ऐसे में पैरेंट्स की मंशा क्या है? वे बच्चों को कब स्कूल भेजना चाहते हैं? स्कूल खुलता है तो बच्चे जाएंगे कैसे? ऐसे तमाम सवालाें के जवाब जानने के लिए दैनिक भास्कर ने 21 जून से 28 जून तक एक राष्ट्रव्यापी सर्वे किया।इसमें मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, गुजरात, महाराष्ट्र, पंजाब, हिमाचल, हरियाणा, बिहार, झारखंड व दिल्ली के 73 हजार से ज्यादा पाठकों ने हिस्सा लिया। इनमें 55 हजार से ज्यादा पुरुष व 17 हजार से अधिक महिलाएं शामिल थीं। इनमें सर्वाधिक 24,352 लोग 36-45 वर्ष की आयुवर्ग के थे। जबकि 25-36 वर्ष के 16,909 और 46-55 वर्ष के 15,414 लोगों ने सर्वे में भाग लिया।सर्वे के नतीजों के मुताबिक 60% लोगों ने कहा कि वे बच्चों को स्कूल तभी भेजना चाहेंगे जब कोरोना पूरी तरह खत्म हो जाएगा या इसकी वैक्सीन आ जाएगी। जबकि 71% लोगों का मानना है कि कोचिंग संस्थान, कॉलेज, यूनिवर्सिटी तभी खुलने चाहिए जब कोरोना महामारी पर नियंत्रण हो जाए।वहीं, 44% लोगों का मानना है कि जब भी स्कूल खुलें तो केवल 9वीं से 12वीं तक की क्लास लगे, जबकि केजी से 8वीं तक की क्लास ऑनलाइन ..
                 

मध्यप्रदेश में 2 करोड़ से अधिक लोगों का स्वास्थ्य सर्वे हुआ

प्रदेश में किल कोरोना अभियान के दौरान डोर टू डोर सर्वे में दो करोड़ से अधिक लोगों का स्वस्थ्य सर्वे हुआ है। अभियान में चिन्हित हो रहे रोगियों के उपचार की व्यवस्थायें भी सुनिश्चित की जा रही है। सर्वे अभियान के दौरान शहरी क्षेत्र में 1776 और ग्रामीण क्षेत्र में 8975 सर्वे दलों द्वारा कार्य किया। इस अभियान में कोरोना लक्षण वाले मरीजों के साथ अन्य मौसमी बीमारियों के लक्षण वाले रोगी भी चिन्हित हो रहे है, जिनका उपचार किया जा रहा है।अभियान में अब तक करीब 11 हजार से अधिक सैंपल लिए लिए गए। प्रदेश में 2 करोड़ से अधिक लोगों का स्वास्थ्य सर्वे अभियान के तहत किया जा चुका है। किल कोरोना अभियान 15 जुलाई तक चलेगा। मुख्यमंत्री ने सर्वे के दौरान चिन्हित हो रहे संभावित कोरोना रोगियों की जांच के साथ उचित उपचार की व्यवस्था के निर्देश दिये है। उन्होंने कहा है कि इस कार्य में किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। सभी जिलों मे अधिकाधिक सेंपलिंग का कार्य किया जाए। किल कोरोना अभियान में संचालित गतिविधियों से प्रदेश को कोरोना से मुक्ति मिलेगी।प्रदेश में 'किल कोरोना अभियान' में डोर-टू-डोर सर्वे ..
                 

विभाग बंटवारे की खींचतान जारी, शाह-नड्डा से मिले शिवराज, संतोष से भी चर्चा; सिंधिया खेमे के मंत्रियों को चाहिए कुछ अहम विभाग

मंत्रियों को विभागों के वितरण की खींचतान केंद्रीय नेतृत्व तक पहुंच गई है। दिल्ली में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने देर शाम केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात कर इस बारे में बात की। देर रात को भाजपा के केंद्रीय संगठन के साथ भी उनकी चर्चा हुई। बताया जा रहा है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे से सात कैबिनेट मंत्री बने नेताओं को कुछ अहम विभाग चाहिए। सिंधिया ने अपनी बात भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीए संतोष के समक्ष रखी, इसी के बाद मुख्यमंत्री की उक्त दोनों नेताओं के साथ बात हुई। शिवराज सिंह के सोमवार को भोपाल लौटने का कार्यक्रम है। ऐसा घटनाक्रम पहली बार है, जब विभागों की मशक्कत चलते चार दिन हो गए और मंत्री बिना विभाग के हैं।पार्टी से जुड़े वरिष्ठ नेताओं का कहना है कि सोमवार की शाम तक विभागों का आवंटन हो जाएगा। भाजपा के सामने यह मुश्किल भी है कि सिंधिया खेमे के साथ कांग्रेस से भाजपा में लौटे हरदीप डंग, बिसाहूलाल सिंह और एंदल सिंह कंसाना को भी विभाग देने हैं। ये तीनों कैबिनेट मंत्री बने हैं। बहरहाल, मुख्यमंत्री सोमवार को र..
                 

सदियों के गवाह बुजुर्ग पेड़ों को देंगे हेरिटेज ट्री का दर्जा, नगर निगम और उद्यानिकी विभाग मिलकर करेंगे काम 

भोपाल की हरियाली भी हेरिटेज है। सदर मंजिल के पास जिस मैदान को हम इकबाल मैदान के नाम से जानते हैं, वह खिरनी वाला मैदान था। यहां खिरनी के पेड़ थे। 1819-1837 तक भोपाल में शासन करने वाली पहली महिला शासक कुदसिया बेगम यहां जनता दरबार लगाती थीं। मैदान में कुछ पेड़ अभी भी शेष हैं जो इस इतिहास के गवाह हैं।ऐसे तमाम ऐतिहासिक पेड़ों को बचाने की पहल शुरू हो रही है। पिछले महीने कमला पार्क में बरगद के पुराने पेड़ के धराशाई होने पर उसे बचाने के लिए उद्यानिकी विभाग की प्रमुख सचिव कल्पना श्रीवास्तव की पहल पर प्रयास शुरू हुए। इसके साथ ही उन्होंने शहर के हेरिटेज ट्री के संरक्षण के लिए योजना तैयार करने को कहा। निगम और उद्यानिकी विभाग मिलकर यह काम कर रहे हैं। निगम के अपर आयुक्त पवन सिंह ने कहा कि पार्कों में हैरिटेज ट्री की पहचान करने का काम शुरू करेंगे।सालों पुराने हैं भोपाल के पेड़, कई बगीचे भी तब ही विकसित हुए1723 में फतेहगढ़ किला का निर्माण शुरू करने से पहले नवाब दोस्त मोहम्मद खां ने यहां बड़ी संख्या में पौधरोपण किया। इसके साथ ही यहां खिरनी वाला मैदान जैसे स्थान विकसित हुए। उनके बाद नवाब शाहजहां बेगम ने शहर मे..
                 

पानी मांगते हुए घर में घुसे 63 साल के बुजुर्ग ने तीसरी की छात्रा से की अश्लील हरकत

टीला जमालपुरा थाना क्षेत्र में 63 साल के बुजुर्ग पर तीसरी कक्षा की छात्रा के साथ घर में घुसकर अश्लील हरकत का आरोप लगा है। एमपी एग्रो से रिटायर बुजुर्ग पानी मांगने के बहाने घर में घुसा और मौका पाकर वारदात कर दी। टीला जमालपुरा पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया है। बुजुर्ग ने पुलिस से खुद पर लगे आरोप को झूठा बताया है। टीआई आरएस रैगर के मुताबिक इलाके में रहने वाली 10 वर्षीय छात्रा शनिवार दोपहर करीब साढ़े तीन बजे घर में अकेली थी। उसकी मां छत पर थी और पिता काम पर गए थे। तभी मोहल्ले में रहने वाला रमेश चंद्र राठौर पानी मांगने के बहाने उसके घर में दाखिल हो गया। छात्रा पानी लेकर आई तो आरोपी ने उसके साथ अश्लील हरकत शुरू कर दी।उसका शोर सुनकर मां छत से नीचे उतरी, तब तक आरोपी घर से बाहर निकल चुका था। छात्रा ने पूरा वाकया मां को बताया, फिर टीला जमालपुरा थाने पहुंचकर केस दर्ज करवाया। पुलिस ने रमेशचंद्र के खिलाफ नाबालिग से छेड़छाड़ का केस दर्ज कर हिरासत में ले लिया है। वहीं, टीटी नगर थाने में 21 वर्षीय महिला ने अज्ञात के खिलाफ अश्लील इशारे करने का केस दर्ज करवाया है। आरोपी छत पर टहलने के दौरान दो दिन स..
                 

पुराने शहर के साथ अब नए शहर में भी बढ़ रहे केस

शहर में कोराेना का संक्रमण का दायरा अब पुराने शहर से नए शहर की ओर शिफ्ट होता दिख रहा है। रविवार को मिले 74 पॉजिटिव मरीजों में से 52 मरीज नए शहर के हैं, जबकि 22 पुराने शहर के। दो और तीन जुलाई को भी नए शहर के मरीजों की संख्या ज्यादा रही थी। इतना ही नहीं शहर में अब पाॅजिटिव मरीज मिलने की रफ्तार भी बढ़ गई है।जून के अंतिम सप्ताह में मरीजाें की रफ्तार कुछ कम हा़े गई थी। इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि 28, 29 और 30 जून काे शहर में काेराेना पाॅजिटिव मरीजाें की संख्या क्रमश: 30, 27 और 44 थी। एक जुलाई काे 58 मरीज मिले। अगले दाे दिन 53-53 मरीज मिले और 4 जुलाई काे 67 तथा रविवार 5 जुलाई काे 74 मरीज मिले हैं। इससे पहले 10 और 11 जून काे लगातार दाे दिन सर्वाधिक 78-78 पाॅजिटिव मरीज मिले थे।काेलार में 7 मरीज और मिले, आंकड़ा 24 पर पहुंचारविवार काे काेलार में 7 और कोरोना पाॅजिटिव मरीज मिले हैं। इनमें 4 दानिश कुंज के रहने वाले हैं, जबकि तीन मरीज ललिता नगर और राजवेद कॉलोनी के हैं। काेलार में अब तक 24 मरीज मिल चुके हैं। अनलॉक के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न करने से यह स्थिति बनी है। Download D..
                 

भोपाल में बारिश ने गर्मी-उमस से दी राहत 4.70 लुढ़का पारा; पर्यटक वीआईपी रोड समेत शहर के अन्य पर्यटन स्थलों पर पहुंचे

जुलाई का पहला रविवार। बारिश के बीच कई पर्यटक केरवा, कलियासोत, वीआईपी रोड समेत शहर के अन्य पर्यटन स्थलों पर पहुंचे, क्योंकि इस मौसम में झीलों की नगरी की खूबसूरती अपने चरम पर होती है। लेकिन एक हकीकत यह भी है कि अनलॉक में कोरोना के मरीज लगातार बढ़ते जा रहे हैं। रविवार को ही 74 मरीज मिले हैं। ऐसे में जरूरी है कि भीड़ का हिस्सा बने बिना मौसम का लुत्फ उठाइए, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करिए।वीआईपी रोड... याद न रहा डिस्टेंसिंग का सबक5 दिन बाद उमस-गर्मी से राहत मिली तो वीआईपी रोड पर काफी संख्या में पर्यटक पहुंच गए। बारिश के कारण दिन का तापमान 4.7 डिग्री लुढ़ककर 28.3 डिग्री पर आ गया और मौसम खुशनुमा हो गया।बेपरवाह... यहां नहाना मना है, लेकिन सब बेफिक्रशहर के जलाशयों में नहाने पर प्रतिबंध है। बारिश के दौरान इनके आसपास न जाने की हिदायत भी प्रशासन द्वारा दी जाती है। लेकिन इन सबके बावजूद केरवा डैम के पास लोग बेफिक्र नहा रहे हैं। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today केरवा डैम..
                 

मुंगावली बन रहा कोरोना हब, 6 दिन में मिले 7 संक्रमित, सैंपलिंग सिर्फ 106 की

जिले में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। रविवार को फिर मुंगावली में एक युवक संक्रमित निकला। जिले में फिलहाल 8 एक्टिव केस हैं इनमें मुंगावली के 7 लोग संक्रमित हैं। जिले में मुंगावली कोरोना हब बनता जा रहा है लेकिन वहां पर सैंपलिंग की संख्या बढ़ रहे मामलों की तुलना में बहुत कम है। पिछले 6 दिनों में जिले में कुल 106 लोगों के सैम्पल लिए गए हैं जो लगातार संक्रमण के मिल रहे केसों की तुलना में बहुत कम है।मुंगावली में रविवार को फिर एक व्यक्ति की पॉजिटिव रिपोर्ट आई। तहसील में अब तक 7 पॉजिटिव मिल चुके हैं पर सैंपलिंग की संख्या बहुत कम हो रही है। नए संक्रमित के सैम्पल दो दिन पहले 3 जुलाई को लिए थे। इस बीच वह कई लोगों के संपर्क में आया होगा।रोज 17 सैंपल लिए, रविवार को जरूर 26 नमूने लिएजिले में जो ट्रूनेट मशीन लगी है उसमें 1 दिन में 48 टेस्ट करने का दावा किया गया था। इस हिसाब से सैंपलिंग की संख्या बढ़ाई भी जा सकती है। लेकिन पिछले 6 दिन में औसतन 17 सैम्पल हर दिन लिए हैं। रविवार को जरूर 22 सैम्पल लिए गए। इनमें अशोकनगर में संक्रमित मिले व्यक्ति के पहले संपर्क में आए लोगों के अलावा मुंगावली के ..
                 

संक्रमित होने के तीन दिन बाद भोपाल में तोड़ा दम, कोतवाली में दूसरा पॉजिटिव मिला

कोरोना के दंश से जिले में दूसरी मौत हो गई। मधुसूदनगढ़ के दुर्गपुर निवासी युवक ने रविवार को भोपाल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। इससे पहले शहर के चौधरी मोहल्ला निवासी एक बुजुर्ग की मौत हो चुकी है। चिंता की बात ये है कि अनलॉक होने के बाद से ही संक्रमित मामलों की संख्या भी बढ़ती जा रही है। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि पॉजिटिव केस 25 हो चुके हैं, जबकि जून में इनकी संख्या 15 थी।इन बढ़ते आंकड़ों से प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ गई है। अब सिर्फ सावधानी पर ही जोर दिया जा रहा है। इसके अलावा कोतवाली में पदस्थ प्रधान आरक्षक संक्रमित निकला। थाने में यह दूसरा केस सामने आया है। इसे देखते हुए सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किए जा रहे हैं। अब सुबह-शाम थाने को सैनिटाइज किया जाएगा। इसके अलावा स्टाफ से भी कहा है कि पूरी सावधानी के साथ ऑफिस आएं, आपस में संपर्क में आने से बचे और दूरी बनाकर ही काम करें। इससे पहले भी थाने में पदस्थ एक आरक्षक पॉजिटिव निकला था। हालांकि उसकी संपर्क हिस्ट्री नहीं बताई थी।कुल 5 जगह कंटेनमेंट जोनबढ़ते कोरोना पॉजिटिव मामले को देखते हुए कंटेनमेंट जोन का भी कुछ दायरा बढ़ाया ..
                 

6 दिन के बाद जिले में बारिश, 4.4 डिग्री गिरकर 30.8 पर आया दिन का पारा

दक्षिण पश्चिमी दिशा से हवा चलने के कारण रविवार को बारिश शुरू हुई। गैरतगंज, बरेली, दीवानगंज, सलामतपुर, दीवानगंज, बाड़ी, रायसेन सहित अधिकतर स्थानों पर बारिश हुई। बाड़ी में सुबह से तो दीवानगंज, सलामतपुर में दोपहर और रायसेन में शाम को बारिश हुई। बीते 6 दिन से अच्छी बारिश का इंतजार किया जा रहा था। लोग गर्मी और उमस के कारण परेशान थे। बारिश से उन्हें राहत मिली। जिले में बीते दिनों से पड़ रही तेज गर्मी और उमस से शाम को हुई बारिश के बाद राहत मिली। एक दिन पहले ही जिले में 35.2 डिग्री तापमान दर्ज किया गया था। जो 4.4 डिग्री गिरकर 30.8 डिग्री पर आ गया। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Rainfall in the district after 6 days, the day's temperature fell 4.4 degrees to 30.8..
                 

गोदी में लिए बच्चे की उम्र नादानी की है, आपकी नहीं

लापरवाही...से कई बार जान पर बन आती है पर लोग जान भी जोखिम में डालने से नहीं डरते। ऐसा ही एक मामला रविवार सुबह तिलावद में देखने को मिला। इस गांव के आसपास के नाले उफान पर थे जिससे तिलावद जाने के रास्ते पर पड़ने वाली नाले की पुलिया उफान पर थी। इस बीच तीन युवकों की ऐसी नादानी देखने को मिली कि लोग हैरत में रह गए। इनमें से एक व्यक्ति अपने तीन साल के बच्चे और दो परिजनों के साथ बहाव के बीच से निकले। पुलिया उफान पर थी, लोग बेरोकटोक निकल रहे थे पर यहां पर पुलिस की कोई व्यवस्था नहीं थी। जबकि यहां पर पुलिस चौकी पुलिया के पास ही स्थित है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today The child's age in the dock is silly, not yours..
                 

लॉकडाउन 2 में एक भी मरीज नहीं निकला संक्रमित

जिले में दोनों अनलॉक के दौरान कोरोना संक्रमण अब खतरनाक स्तर पर फैलता जा रहा है। रविवार को विदिशा शहर में कोरोना के एक साथ पांच पॉजिटिव केस मिले हैं। इनमें से एक जिला अस्पताल में पदस्थ जहां जिला छय अधिकारी की भी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, वहीं पूर्व में कोरोना पॉजिटिव मिले जिला अस्पताल के प्यून की पत्नी भी कोरोना से संक्रमित पाई गई है। ये सभी पांचों नए मरीज पूर्व में कोरोना पॉजिटिव मिले व्यक्तियों के संपर्क में आने से संक्रमित हुए हैं। पिछले 6 दिनों के दौरान में जिले में 19 मरीज मिल चुके हैं। चौंकाने वाली बात यह है कि 1 जून से शुरू हुए अनलॉक से अभी तक 34 मरीज मिल चुके हैं। जबकि पूरे लॉकडाउन के दौरान कोरोना के कुल 29 केस मिले थे।विदिशा शहर में भी कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। शहर में पूर्व में कोरोना से संक्रमित मिले मरीजों के संपर्क में आए उनके परिजन व अन्य लोग भी कोरोना संक्रमण का शिकार हो रहे हैं। रविवार को पॉजिटिव मिले पांच मरीजों में तीन को जहां मेडिकल कॉलेज के कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया गया है, वहीं एक व्यक्ति को घर में ही आइसोलेट किया गया। इसके अलावा ..
                 

बदमाश ने खुद को ब्लैड मारकर किया लहूलुहान, बोला पुलिस असली आरोपी को नहीं पकड़ती, मंत्री का हाथ है उन पर

भोपाल की छोला मंदिर पुलिस के जुए की फड़ पर दबिश देकर 4 लोगों को जुआ खेलते हुए पकड़ लिया। पुलिस को मौके से एक कार, 10 दो पहिया वाहन और 6 फोन भी मिले। मौके से जब्त एक गाड़ी के संबंध में पुलिस ने बदमाश लल्लू रईस की तलाश शुरू कर दी। इसका पता चलते ही रईस ने खुद को ब्लैड मारकर घायल कर लिया। आरोपी ने दोनों हाथों, सीने और पेट पर रेजर से कई जख्म बना लिए। आरोपी ने एक वीडियो जारी करते हुए पुलिस पर असली आरोपी के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने के भी आरोप लगाए हैं। इधर पुलिस ने चार आरोपियों से करीब डेढ़ लाख रुपए नकद जब्त किए हैं।पुलिस ने मौक से 1 कार, 10 दो पहिया वाहन और 6 मोबाईल फोन भी जब्त किए।छोलामंदिर पुलिस को शनिवार रात ग्राम भानपुर में रोहित पंडित के घर पर जुआ की फड़ लगने की सूचना मिली थी। पुलिस की टीम ने दबिश देकर मौके से 4 लोगों को जुआ खेलते पकड़ लिया। उनके पास से कुल 1,41,100 रुपए भी जब्त किए गए। पकड़े गए आरोपियों की पहचान 50 वर्षीय भगवानदास, 62 साल के सुबोध शर्मा, 45 साल के रमेश दांगी और 31 वर्षीय पिंटू यादव के रूप में हुई। पुलिस ने मौक से 1 कार, 10 दो पहिया वाहन और 6 मोबाईल फोन भी जब्त किए। इसक आधार प..
                 

शराबियों ने पत्रकार पर जानलेवा हमला किया; केस दर्ज करने में पुलिस टाल-मटोल करती रही, एक घंटे थाने में बैठाए रखा

राजधानीमें शराबियों ने शनिवार रातवरिष्ठ पत्रकार धनंजय प्रताप सिंह पर जानलेवा हमला कर दिया। उन्होंने हमलावरोंको घर के पास बैठकर शराब पीने से रोका था। पत्रकार अयोध्या बायपास के अभिनव होम्स में रहते हैं।धनंजय सिंह ने बताया किरात करीब साढ़े 10 बजे वे ऑफिस से घर पहुंचे। यहांपड़ोसी ने उन्हें घर के पास कुछ लोगों के शराब पीकर हंगामाकरने की जानकारी दी। उन्होंने देखा किकॉलोनी में बनी टंकी पर बैठकर तीन युवक शराब पीकर अभी भीहंगामा कर रहे हैं। धनंजय ने वहां से जाने को कहा। इससे गुस्साए आरोपियों ने उन पर हमला कर दिया। आरोपियों ने लोहे की रॉड उनके सिर पर मारनाचाही, जिसे उन्होंनेहाथ से रोक लिया। हाथ में 8 टांके आए।पुलिस पहले इलाज कराने के लिए कहती रहीपत्रकार के पैर में भी रॉड मारने के जख्म हैं। हंगामा होने पर कॉलोनी के लोग भी पहुंच गए। इसके बाद आरोपी वहां से फरार हो गए। घटना के बाद सूचना मिलते ही अयोध्या नगर थानापुलिस भी मौके पर पहुंची। यहां जानकारी लेने के बाद पुलिस के साथ घायल धनंजय भी थाने आ गए। वे पुलिस से पहले एफआईआर करने के लिए कहने लगे, लेकिन पुलिसकर्मी उन्हें अस्पताल जाकर इलाज कराने काे कहती रही..
                 

पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा की भाभी की कोराना संक्रमण से मौत; कुल मरीज 14,604 हुए, भोपाल में एक दिन में 74 केस मिले

मध्यप्रदेश के इंदौर मेंपूर्व मंत्री सज्जनसिंह वर्मा की भाभी की कोराना संक्रमण से मौत हो गई। इसके साथइंदौर में मौतों का आंकड़ा 241 तक पहुंच गया है, जबकि प्रदेश में यह 600 के करीब आ गया है। इधर,राजधानी भोपालमें तीसरी बार एक दिन में सबसे ज्यादा 74 कोरोना संदिग्धों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इससे पहले शनिवार को 185 लोगों कीरिपोर्ट पॉजिटिव आई। प्रदेश में कुल संक्रमितों की संख्या में 14 हजार 604 हो गई है। अब तक 598 लोग कोरोना के कारण जान गंवा चुके हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना की समीक्षा बैठक ली। इसमें उन्होंने बताया कि एक समय प्रदेश देश में कोरोना रोगी के मामले में दूसरे नंबर पर था। अब वह 15वें नबर पर पहुंच गया है।मुख्यमंत्री शिवाराज बोले- पॉजिटिव रोगी में 15वें नंबर परइंदौर:पूर्व मंत्री के परिवार में 4 सदस्य और पॉजिटिवपूर्व मंत्री सज्जनसिंह वर्मा की भाभी की कोराना संक्रमण से मौत हो गई। चार दिन पहले उन्हें अरबिंदो अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इनके परिवार से कई सदस्यों के सैंपल लिए गए थे, इनमें से चार और सदस्य पॉजिटिव आए हैं। बाकी सदस्यों की रिपोर्ट आनी बाकी है। पूर्व मंत्री ..
                 

एमसीयू के कुलपति प्रो. संजय द्विवेदी ने कहा- मीडिया की अवधारणा पश्चिमी हैं और नकारात्मकता पर खड़ी हुई है

माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. संजय द्विवेदी ने कहा कि मीडिया की अवधारणा पश्चिमी हैं और नकारात्मकता पर खड़ी हुई है। इसे सकारात्मक भी होना चाहिए। मीडिया सिर्फ ख़बरों के लिए नहीं है, यह समाज और राष्ट्र के लिए भी है। आज मीडिया के भारतीयकरण किये जाने की आवश्यकता है, जिसमें देश की समस्यों पर सवालों के साथ समाधान हों, बौद्धिक विमर्श हो और देश की चिंता भी हो।प्रो. द्विवेदी आज गुरु पूर्णिमा प्रसंग पर फेसबुक लाइव के माध्यम से विद्यार्थियों से संवाद कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जहां हर विधा में मूल्यों की आवश्यकता है। मीडिया भी मूल्यानुगत होना चाहिए। उन्होंने विद्यार्थियों से आह्वान किया कि वे पढ़ाई के साथ किसी की क्षेत्र में विशेषज्ञता हासिल करें। सूचना की व्याख्या, विश्लेषण करना खबरों के बीच की तलाश करना। मीडिया की पढाई सिर्फ डिग्री लेने के लिए नहीं है, सिर्फ नौकरी करने की यात्रा नहीं है। समाज के दुःख दर्द, आर्तनाद में समाज को संबल देने का काम भी पत्रकारिता का हैं। यह पत्रकारों का काम सिर्फ खबरें देना नहीं है। सत्यान्वेषण करना भी है। उन्होंने कहा कि ..
                 

लोकशिक्षण संचालनालय का आदेश; सार्वजनिक परिवहन नहीं चलने के कारण माध्यमिक शिक्षक चयनित अभ्यर्थियों के दस्तावेज सत्यापन कार्य स्थगित

कोरोना के कारण लोकशिक्षण संचालनालय ने उच्च माध्यमिक शिक्षक और माध्यमिक शिक्षक के अभ्यर्थियों के दस्तावेज सत्यापन की प्रक्रिया स्थगित कर दी है। इसके पीछे हवाला सार्वजनिक परिवहन का नहीं चलना दिया गया है। ऐसे में एक बार फिर शिक्षकों की भर्ती का मामला अटक गया है।लोकशिक्षण संचालक गौतम सिंह ने इसके आदेश भी जारी कर दिए हैं। इसके बाद एक बार फिर शिक्षकों की भर्ती की प्रक्रिया अटक गई है। अब उम्मीदवारों को अगले आदेश का इंतजार करना होगा।कोरोना संक्रमण के कारण कई शहरों में सार्वजनिक वाहन नहीं मिलने से उम्मीदवारों को परेशानी हो रही है। ऐसे में वेअपने दस्तावेजों का सत्यापन नहीं करा पाएंगे। इसलिए अब इसे स्थागित करने का निर्णय लिया गया है। आगे के कार्यक्रम की जानकारी बाद में दी जाएगी। मध्यप्रदेश शासन के लोकशिक्षण संचालनालय ने 15 हजार पदों पर भर्ती के लिए 29 जून से शुरू होने वाली उम्मीदवारों के सत्यापन की प्रक्रिया 1 जुलाई से शुरू करने के आदेश दिए थे। इससे पहले 14 अप्रैल से उम्मीदवारों के दस्तावेजों का सत्यापन शुरू होना था, लेकिन कोरोना के कारण इसे आगे बढ़ा दिया गया।कई उम्मीदवारों के अनुपस्थित होने के का..
                 

एमपी बोर्ड की 10वीं का ऐसा रिजल्ट पहली बार: 62.84 % पास; पहली पोजीशन पर 100% अंक वाले 15 बच्चे

मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल ने शनिवार काे 10वीं कक्षा का रिजल्ट घाेषित किया। इस बार इंग्लिश मीडियम बच्चों का रिजल्ट बेस्ट ऑफ थ्री, जबकि हिंदी मीडियम का रिजल्ट बेस्ट ऑफ फोर के आधार पर तैयार किया गया है।कोरोना के कारण जिन विषयों के पेपर नहीं हो पाए थे, रिजल्ट में उनके अंकों की जगह सिर्फ उत्तीर्ण लिखा गया है। रिजल्ट शेष विषयों की परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर ही बनाया गया है। इस बार 893336 लाख परीक्षार्थियों में से 62.84% पास हुए हैं। जबकि प्राइवेट के 2.04 लाख से ज्यादा उत्तीर्ण हुए हैं। यह पिछले साल के रिजल्ट 61.32% से 1.52% ज्यादा है। 65.97% छात्राएं और 60.09% छात्र सफल हुए हैं। पहली बार 360 विद्यार्थी टॉप-10 में हैं। इनमें भी पहली पोजीशन पर 15 बच्चे है। इनमें भोपाल की कर्णिका मिश्रा समेत 14 बच्चों को 300 में से 300, जबकि पन्ना के चतुर त्रिपाठी को 400 में से 400 अंक मिले हैं।टॉपर्स में भोपाल संभाग के 5, जबकि टॉप-10 मैरिट में 360 बच्चेएक साथ 15 टाॅपर कैसे... 220 दिन, मिशन-1000, शिक्षक 600 पहली पोजिशन पर 15 बच्चे टॉपर बने। इसके लिए योजनाबद्ध काम हुआ। हाई व हायर सेकंडरी स्कूलाें में श..
                 

भोपाल में जिंदा खरगोश को थैले में छिपाकर बेचने निकले पारदी, वन विभाग ने एक को पकड़ा, एक भाग गया

भोपाल की विदिशा रोड पर शनिवार को जिंदा खरगोश के साथ पारदियों को वन विभाग की टीम ने पकड़ लिया। आरोपी खरगोशको थैली में छिपाकर बेचने की फिराक में थे। टीम उनके खिलाफ जंगली जानवरों के शिकार और अवैध व्यापार करने की कार्रवाई कर रही है। एक आरोपी भागने में कामयाब हो गया, जबकि दूसरा पकड़ागया।थैली के अंदर खरगोश के पैर बांध रखा गया था।विदिशा-बैरसिया रोड किनारे स्थित एक बस्ती में कुछ पारदी जंगली जानवरों को पकड़ कर मांस खाने के शौकीन लोगों को बेचने का काम करते हैं। इनके खरगोश बेचने की सूचना मिलने पर वन्य प्राणी अभिरक्षक आसिफ हसन ने इसकी जानकारी भोपाल सीसीफ रविन्द्र सक्सेना को दी। उसके बाद टीम को सक्रियकिया गया। उड़नदस्ता ने विदिशा रोड के आसपास घेराबंदी कर दी। शनिवार शाम करीब 4 बजे रोड किनारे खड़े थे। टीम को देखकर एक तो भाग निकला, जबकि दूसरे को टीम ने पकड़ लिया। उसके पास से थैले में जिंदा खरगोश मिला। दूसरे आरोपी की तलाश की जा रही है।खरगोश के पैर बांधकररख गया थाआरोपियों ने थैली के अंदर खरगोश को उसके पैर बांधकर रखा था। टीम को उम्मीद है कि काफी देर होने के कारण वह बेसुदजैसा हो गया था। यह उसे काफी देर से थैले ..
                 

अब घटना हुई तो बड़े अफसर भी जिम्मेदार, हर हफ्ते सीएस और डीजीपी के साथ बैठक करूंगा

राजधानी में थाने से महज 200 मीटर दूर हुई इंजीनियरिंग छात्र और उसके दोस्त की हत्या की घटना ने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए हैं। शुक्रवार को इसी सिलसिले में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उच्च स्तरीय बैठक की। उन्होंने अफसरों को स्पष्ट कहा कि यहां पोस्टिंग पैसे लेकर नहीं हुई है। मेरिट के आधार पर पदस्थापना मिली है। इसलिए बिना किसी दवा के काम करें। बदमाशों की सूची बनाकर उनके खिलाफ अभियान चलाओ। उन्होंने यह भी कहा कि घटना हुई तो थानेदार नहीं आप भी जिम्मेदार होंगे। हर सोमवार को मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक के साथ कानून व्यवस्था की समीक्षा बैठक होगी।अब सीएसपी को भी हटायानवजीवन कॉलोनी में हुए दोहरे हत्याकांड में तुरंत मौके पर न पहुंचने वाले टीआई के बाद सीएसपी लोकेश सिन्हा को भी हटा दिया गया है। शनिवार शाम राज्य शासन ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today फाइल फोटो।..
                 

पुलिस अफसरों की तबादला सूची जारी, धाकड़ एएसपी क्राइम तो झारिया पीएचक्यू गए

राज्य शासन ने शनिवार को तबादला आदेश जारी कर एआईजी विशेष शाखा, पुलिस मुख्यालय गोपाल धाकड़ को अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक क्राइम ब्रांच भोपाल पदस्थ किया है। जबकि एएसपी क्राइम ब्रांच निश्चल झारिया का तबादला एआईजी पुलिस मुख्यालय किया गया है। साथ ही सीएसपी निशातपुरा लोकेश सिन्हा को डीएसपी पुलिस मुख्यालय और डीएसपी ईओडब्ल्यू अमित कुमार मिश्रा को एसडीओपी मिसरोद पदस्थ किया गया है। जबकि एसडीओपी मिसरोद अनिल त्रिपाठी को सीएसपी भोपाल पदस्थ किया गया है। इसके अलावा दो जिलों में एसपी पदस्थ करते हुए डीआईजी स्तर के दो अफसरों और एक कमाडेंट को अतिरिक्त प्रभार दिया गया है।किस अधिकारी को कहां किया गया पदस्थ Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today..
                 

60 फीसदी काम हुआ, बाकी अक्टूबर तक हो जाएगा पूरा; गर्डर लॉन्चिंग की तैयारी, दिवाली तक होगा शुरू

लालघाटी पर निर्माणाधीन ग्रेड सेपरेटर के गर्डर लॉन्चिंग की तैयारी है। दीपावली तक यहां ट्रैफिक चालू हो सकता है। इसका 60 फीसदी काम पूरा हो चुका है। ग्रेड सेपरेटर के तैयार हो जाने पर लालघाटी चौराहे पर लगने वाले जाम से राहत मिल सकती है। यदि पहले से स्वीकृत डिजाइन के अनुसार इस ग्रेड सेपरेटर की दूसरी आर्म के निर्माण की अनुमति भी मिल जाती है तो यहां ट्रैफिक काफी बेहतर हो सकता था। इन दिनों कलेक्टोरेट पर एप्रोच रोड का निर्माण हो रहा है। एनएचएआई के रीजनल डायरेक्टर विवेक जायसवाल ने बताया कि तीन महीने पहले ही गर्डर लॉन्चिंग की तैयारी थी, लेकिन लॉकडाउन में काम रुक गया। अब ट्रैफिक डायवर्जन के लिए कुछ निर्माण हटाए जा रहे हैं।लॉकडाउन में काम बंद होने से प्रभावित हुआ प्रोजेक्ट 6000 पीसीयू है वाहनों का दबाव इस चौराहे पर 700मीटर है इस ग्रेड सेपरेटर की लंबाई 6.2किमी का काम मुबारकपुर से यहां तक साल के अंत तक होगा पूरा Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today 60 percent work done, the rest will be completed by October; Preparations for girder launching, ..
                 

शिवराज सिंह चौहान ने कहा- हमारी सरकार में पैसे लेकर पोस्टिंग नहीं होती है, अपराधियों को क्रश कर दें

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ सरकार पर हमला करते हुए कहा कि हमारी सरकार में पैसे लेकर पोस्टिंग नहीं की जाती है। लॉ एंड आर्डर की हाई लेवल मीटिंग में उन्होंनेअपराधियों को क्रश कर देने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा किसभी को मेरिट पर जिले मिले हैं। अब सभी निडर होकरकाम करें। अपराधियों में पुलिस का खौफ होना चाहिए। इसके उनकी लिए हिट लिस्ट तैयार करें।सीएम शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को लॉ एंड आर्डर की हाई लेवल मीटिंग में अपराधियों को क्रश कर देने के निर्देश दिए।अपराधियों पर सख्त रहे और आम लोगोंको कोई तकलीफ न होने दें। शिवराज शाम को दिल्ली चले जाएंगे। वहां केंद्रीय मंत्रियों से मुलाकात के बाद कल दोपहर भोपाल वापस लौटेंगे। यहां पर मंत्रियों के विभागों को लेकर चर्चा की जाएगी। ज्योतिरादित्या सिंधिया से भी मिलने का कार्यक्रम है। मुलाकात के पीछे मंत्रियों के विभागों को तय करना बताया जा रहा है।अपराधियों पर पुलिस काखौप होना चाहिएअपराधियो में पुलिस का खौफ होना चाहिए।बदमाशों की सूची बनाएं। ये समाज के दुश्मन है। इन पर कार्रवाई करने में कोई संकोच न करें।पुलिस का कोई भी व्यक्त..
                 

कोरोना संकट के कारण बिना शोर-शराबे के जारी हो गए परीक्षा परिणाम, 19 मार्च तक जिन विषयों की परीक्षा हुई, उसी आधार पर तैयार हुआ रिजल्ट

माध्यमिक शिक्षा मंडल की 10वीं की बोर्ड परीक्षाओं का रिजल्ट शुक्रवार को दोपहर 12 बजे ऑनलाइन जारी कर दिया गया। कोरोना संकट की वजह से ऐसापहली बार हुआ, जब 10वीं बोर्ड का परीक्षा परिणामबगैर किसीढोल-धमाके के जारी हो गया। माध्यमिक शिक्षा मंडल ने ऑनलाइन ही परीक्षा का रिजल्ट जारी कर दिया है। इसके पहले तक परीक्षा परिणाम मंत्री और मुख्यमंत्री ही जारी करते रहे हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह तो सीएम हाउस में प्रदेश के टॉपर्स को बुलाकर उनके सामने परीक्षा परिणाम जारी करते थे। कहीं भी कोई भीड़ देखने को नहीं मिली, स्कूलों में जरूर चहल-पहल रही।इस बार फिर से छात्राओं ने बाजी मारी औरछात्रों से ज्यादा सफलता हासिल की है। कुल 62.84 फीसदी छात्र-छात्राएं सफल हुए हैं।ये पिछले साल के 61.32% से 1.52% ज्यादा हैं। इस बार 15 छात्रों ने 10वीं में पहला स्थान हासिल किया है। इनमें सबसे ज्यादा 3 छात्र गुना के हैं। एक छात्रा कर्णिका मनोज मिश्राभोपाल की निवासी हैं। वहीं, 23 विद्यार्थी केवल एक नंबर से पूरेअंक पाने से चूक गए। इस बार 19 मार्च तक हिन्दी और अंग्रेजी माध्यम में जितनी परीक्षाएं हुई हैं, उसी आधार पर रिजल्ट तैयार किय..
                 

भोपाल में 67 नए मरीज मिले, ग्वालियर-चंबल संभाग में भी 123 नए मरीज; इनमें मुरैना में 78 और ग्वालियर में 31 पॉजिटिव

मध्य प्रदेश में कोरोनावायरस का संक्रमण थमने का नाम नहीं ले रहा है। राजधानी भोपाल में शनिवार सुबह 67 नए मामले सामने आए।नए मरीजों के साथ भोपाल में संक्रमितोंकी संख्या 3259 हो गई है। यहां अभी तक 105 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, इंदौर में 4810 संक्रमित और 241 की मौत हो चुकी है। राज्य में 14 हजार 357 केस हो गएहैं।इस समय 2715 एक्टिव केस हैं। इनमें इंदौर के 874, भोपाल 462, मुरैना 341 और ग्वालियर के 143 मरीज हैं।ग्वालियर-चंबल अंचल में शुक्रवार को कुल1951 सैंपलों की रिपोर्ट आई, इनमें 123 पॉजिटिव निकले। सबसे ज्यादा 78 मरीज मुरैना में सामने आए। ग्वालियर में 31, शिवपुरी में 5, भिंड में 4, दतिया में 3 और श्योपुर में दो नए मरीज मिले।मुरैना में डीआरडीई से आई 89 सैंपल की रिपोर्ट में से 22 पॉजिटिव आए। वहीं, जीआरएमसी से आई 265 सैंपल की रिपोर्ट में से 56 पॉजिटिव आए। इस तरह 354 सैंपल में से कुल 78 नए कोरोना पॉजिटिव मिले। इनमें बुधवार-गुरुवार को सैंपल देने वाले 20 से ज्यादा व्यापारी, सबलगढ़ थाने में पदस्थ पुलिस आरक्षक, अंबाह बिजलीघर में पदस्थ मीटर रीडर औरनगर निगम में पदस्थ हेल्थ ऑफिसर शामिल हैं। गंभीर बात..
                 

शिवराज और सिंधिया में मशक्कत जारी, मंत्रिमंडल में विभागों का बंटवारा एक-दो दिन में होने की संभावना