जागरण हिन्दुस्तान दैनिक भास्कर नईदुनिया नवभारत टाइम्स

पांच हजार के लिए दी जान केस दर्ज होने में लगे 5 साल, आरोपी अभी भी फरार

ट्रेन से कटकर जान देने वाले युवक को खुदकुशी के लिए उकसाने वाले तीन आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज करने में छोला मंदिर पुलिस को पांच साल लग गए। उसे महज पांच हजार रुपए के लिए तीनों युवक प्रताड़ित कर रहे थे। पैसे देने के बाद भी उससे मारपीट की जाती थी। युवक की जेब से मिला सुसाइड नोट पुलिस ने खुदकुशी के एक साल बाद हैंड राइटिंग एक्सपर्ट को जांच के लिए भेजा। चार साल बाद हैंडराइटिंग एक्सपर्ट ने पुलिस को अपनी रिपोर्ट भेजी, तब जाकर ये एफआईआर हो सकी है। अभी भी आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। टीआई अनिल मौर्य के मुताबिक मार्च 2015 में शिव नगर फेस-टू निवासी 20 वर्षीय गोलू विश्वकर्मा ने ट्रेन से कटकर खुदकुशी कर ली थी। गोलू का शव पुलिस को भानपुर स्थित रेलवे ट्रैक पर मिला था। उसकी जेब से पुलिस को एक सुसाइड नोट मिला। इसमें गोलू ने महेश मेहरा, राजू मेहरा और सूरज अहिरवार से पांच हजार रुपए उधार लेने की बात लिखी थी। लिखा था कि पूरी रकम चुका देने के बाद भी तीनों और रकम मांगते हैं और न देने पर उसके साथ मारपीट करते हैं। इसके बाद भी पुलिस ने उसका सुसाइड नोट हैंडराइटिंग एक्सपर्ट को भेजने में एक साल लगा दिए। चार..
                 

एनुअल मेंटेनेंस कॉन्ट्रैक्ट न होने से अटका कैमरों का रखरखाव, पुलिस का इन्वेस्टिगेशन ‘ब्लैंक’

बीमाकुंज से डेढ़ महीने पहले चोरी हुई कार का रूट ट्रैक करने में कोलार पुलिस को काफी मशक्कत उठानी पड़ी क्योंकि सर्वधर्म और इसके आगे के चौराहों पर लगे सीसीटीवी कैमरे बंद थे। अंदाजा लगाकर पुलिस ने फंदा और देवास टोल नाके पर स्टाफ भेजा, तब कहीं जाकर कार का ट्रैक तलाश पाई। इसमें आठ दिन लग गए। यदि कैमरे ठीक रहते तो कार की तलाश में पुलिस को महज कुछ घंटे ही लगते। संपत्ति संबंधी अपराधों और ट्रैफिक मैनेमेंट में पुलिस के मददगार माने जाने वाले 710 कैमरे बंद पड़े हैं। भोपाल के 105 चौराहों और तिराहों पर 1495 कैमरे लगाए गए हैं। करोड़ों के बजट से लगे 48 फीसदी कैमरे एनुअल मेंटेनेंस कॉन्ट्रैक्ट (एएमसी) न हो पाने के कारण खराब हैं। इससे संपत्ति संबंधी या अन्य अपराधों का इन्वेस्टिगेशन ‘ब्लैंक’ रह जा रहा है। वर्ष 2013 में शुरुआत...आउटडेटेड हैं 275 कैमरे, इनका नाइट विजन भी खराब वर्ष 2012-13 में पुलिस मुख्यालय की इंटेलीजेंस शाखा ने शहर के चौराहों पर कैमरे लगाने का काम शुरू किया था। करीब सवा दो करोड़ रुपए की लागत से 275 कैमरे लगाए गए थे। बंद पड़े कैमरों में ये भी शामिल हैं। इन आउटडेटेड कैमरों का नाइट विजन..
                 

परी पार्क के रहवासियों को दीपावली तक की मोहलत, इसके बाद बेदखली

पुराने शहर में 98 करोड़ की बीडीए की रीडेंसीफिकेशन स्कीम को अमल में लाने के लिए संपदा संचालनालय ने कमर कस ली है। शनिवार को यहां पहुंचे रहवासियों से उसने कह दिया कि दीपावली तक ही यहां पर रहने की इजाजत है। इसके बाद मकान खाली नहीं किए तो जबरिया खाली कराएंगे। रहवासियों की दलीलों को अफसरों ने अनसुना कर दिया। शाहजहांनाबाद क्षेत्र के रहवासी मकान खाली करने का नोटिस मिलने पर संपदा पहुंचे थे। बेदखली अधिकारी एलएल अहिरवार ने कोरोना संक्रमण के चलते सभी से मुलाकात करने के बदले सिर्फ दो व्यक्तियों को बुलाया। परी पार्क में लगा है पुरातत्व विभाग का बोर्ड रहवासियों ने अहिरवार से कहा कि वे शासकीय सेवक हैं, इस आधार पर उन्हें सरकारी मकान आवंटित हैं। यहां बने मकान पुरातत्व महत्व के है। अहिरवार ने कहा कि दीपावली तक उन्हें यहां रहने के अधिकार है। उन्होंने मकानों के पुरातत्व महत्व की बात को उन्होंने स्वीकार नहीं किया। रहवासियों का कहना है कि वे इस विषय पर विधायक आरिफ अकील से हस्तक्षेप करने को कहेंगे। अपर मुख्य सचिव (गृह) से भी मिलेंगे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today ..
                 

सड़क पर खड़े रहते हैं 3 हजार वाहन, पार्क को भी नहीं छोड़ा

पुराने शहर में संकरी सड़कों और गलियों के कारण ट्रैफिक जाम एक स्थायी समस्या है। उस पर सड़क पर निजी व कंडम वाहनों के कब्जे ने समस्या को और बढ़ा दिया है। शहर में कम से कम 3000 चार पहिया वाहन सड़क पर ही खड़े रहते हैं। इसमें से आधे तो कंडम हैं और बाकी लोगों के निजी वाहन हैं। यदि दोपहिया वाहनों की संख्या को जोड़ लिया जाए तो कुल मिलाकर 5000 वाहन सड़क पर हैं। इन वाहनों के कारण ट्रैफिक जाम के साथ दूसरी समस्या सुरक्षा व्यवस्था को लेकर भी है। यदि किसी वीआईपी को इन क्षेत्रों में जाना हो तो पुलिस को अतिरिक्त सतर्कता बरतना होती है। इतने सारे कंडम वाहन सड़क पर लगने से शहर की सुंदरता और स्वच्छता पर भी असर पड़ता है। प्रियदर्शिनी पार्क बना कंडम वाहनों का अड्‌डा स्मार्ट रोड के निर्माण के दौरान प्रियदर्शिनी पार्क का गेट तोड़ दिया था। इसके बाद से इस पार्क को स्थानीय रहवासियों और मैकेनिकों ने अपने कंडम वाहन रखने का स्थान बना दिया है। पार्क में बड़ी संख्या में गाड़ियां खड़ी हुईं हैं। इससे लोगों को परेशानी होती है। कहां-क्या स्थिति मोती मस्जिद से रेतघाट सड़क पर बरसात से पहले डामरीकरण के लिए आई मशीन आज भी यहीं खड़ी है। ..
                 

6 माह में कोरोना के 50 मरीजों को ब्रेन हेमरेज-पैरालिसिस, कोरोना को हराने के बाद भी इलाज की जरूरत

राजधानी में अब तक 24 हजार से ज्यादा कोविड मरीज मिल चुके हैं। इनमें से 50 मरीज ऐसे हैं, जिन्हें कोरोना के कारण इलाज के दौरान पैरालिसिस और ब्रेन हेमब्रेज (ब्रेन इंफार्क्ट) हुआ। इनमें से कुछ स्वस्थ हो चुके हैं, तो कुछ मरीज अब भी अस्पतालों में इलाज ले रहे हैं। यह खुलासा कोरोना संक्रमित और स्वस्थ हुए मरीजों में कोविड कांप्लीकेशन की पड़ताल में हुआ है। इसकी वजह यह है कि संबंधित मरीज का खून कोरोना संक्रमित होने के बाद गाढ़ा हो जाता है और उसमें थक्के बनने लगते हैं। व्यक्ति में कोविड वायरस के ट्रांसमिशन होने से शुरुआत में फेफड़ों और गले में सूजन आती है। संक्रमित होने के 3 से 5 दिन बाद मरीज का ब्लड गाढ़ा होने लगता है। ऐसा वायरस की प्रवृत्ति के कारण होता है। मरीज को ब्लड गाढ़ा होने की जानकारी नहीं मिलती। शरीर में वायरस डेवलप होने के साथ ही डिससेमिनेटिड इंट्रावेस्कुलर को-एगुलेशन (रक्त वाहिकाओं में खून का थक्का जमना) की प्रक्रिया शुरू हो जाती है। कोविड संक्रमण के दौरान ब्रेन को जाने वाली रक्त वाहिकाओं में खून का थक्का जमने से दिमाग के उस हिस्से को खून की सप्लाई नहीं होती। इससे दिमाग का वह हिस्सा काम करना..
                 

पहली बार दिव्यांग और बुजुर्गों के घर आया बूथ

लोकतंत्र के इतिहास में भारत निर्वाचन आयोग द्वारा पहली बार दिव्यांग एवं बुजुर्ग मतदाताओं के घर पहुंचकर वोटिंग कराई है। इसके लिए जिले में 23 और 24 अक्टूबर का समय निर्धारित किया गया था। इन दो दिनों में ब्यावरा उपचुनाव के दौरान 1417 मतदाताओं ने अपने मत का उपयोग घर पर आए मतदान कर्मी के सामने किया। इसके बाद इस मत को बॉक्स में बंद दिया है। घर –घर जाकर मतदान कराने सौ टीमें गठित की गई थी। इन टीमों को 1433 मतदाताओं को मतदान कराने का लक्ष्य दिया था, यानि प्रत्येक टीम को 14 मतदाता का मतदान कराने की जिम्मेदारी सौंपी थी। दो दिनों तक चली इस प्रक्रिया में जिले के 1417 मतदाताओं ने अपने मत का उपयोग किया है। इसमें 1030 बुजुर्ग मतदाता है। वहीं 379 दिव्यांग मतदाता है। जबकि 4 मतदाता कोरोना संक्रमित थे। वहीं 6 मतदाताओं की इस बीच मौत हो गई है। इन सभी मतदान दलों द्वारा शनिवार को अपने मत बॉक्स रिटर्निंग अधिकारी के सामने जमा कर दिए है। 10 मतदाताओं ने बाहर होने के चलते अपने मतदान का उपयोग नहीं किया है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Booth came..
                 

नहीं निकलेगा चल समारोह, पंडालों से सीधे विसर्जन घाट जाएंगी दुर्गा प्रतिमाएं ताकि संक्रमण फैलने की आशंका कम हो

कोरोना के चलते राजधानी में इस बार चल समारोह आयोजित नहीं होगा। इस बार दुर्गा प्रतिमाएं पंडालों से सीधे विसर्जन घाट पर ले जाई जाएंगी। जिले के 7 घाटों पर विसर्जन की व्यवस्था कर दी गई है। घाटों पर बैरिकेड्स लगा दिए गए हैं, ताकि भीड़ घाटों तक न पहुंचे। संयुक्त कलेक्टर संजय श्रीवास्तव (9425470737) को कानून व्यवस्था पर नजर रखने के लिए कंट्रोल रूम का नोडल अधिकारी बनाया गया है। जिला प्रशासन के अधिकारियों ने बताया कि एक प्रतिमा के साथ में 10 से अधिक लोग नहीं जाएंगे। इसके लिए बाहर तैनात पुलिसकर्मी नजर रखेंगे और अधिक लोग होने पर उन्हें रोक लिया जाएगा। झांकियों के बीच भी उचित दूरी बनाई जाएगी, ताकि भीड़ जैसी स्थिित न बने। गौरतलब है कि शहर में इस बार करीब 1500 दुर्गा प्रतिमाओं स्थापित की गई हैं। नाव से प्रतिमा विसर्जन प्रतिबंधित... शहर में सबसे ज्यादा प्रतिमाएं प्रेमपुरा घाट पर ही जाती हैं झांकियां भी पुरस्कृत नहीं होंगी हर साल पुराने शहर में नादरा बस स्टैंड से चल समारोह निकाला जाता था। इसमें डीजे, बैंड-बाजे, चलित झांकियां निकलती हैं। इस बार यह सबकुछ नहीं होगा। इस बार झांकियां भी पुरस्कृत नहीं होंगी। स..
                 

कोरोना से बचाव की महाआरती, काली मां को लगाया 56 भोग

नवरात्र पर मैया की आस्था के साथ ही कोरोना से बचाव के उपाय करना भी जरूरी है। कृषि उपज मंडी रोड स्थित मां काली मंदिर पर आस्था के साथ ही कोरोना से जंग जीतने का उदाहरण देखने को मिला। जहां महिलाएं मैया की महाआरती करने पहुंची, जिनके मुंह पर मास्क था। मातरम सेवा संगठन 3 साल से महाकाली मंदिर पर 56 भोग एवं महाआरती का आयोजन कर रहा है। इस बार कोरोना को देखते हुए 300 मास्क उन्होंने बांटे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Maharati rescued from Corona, Kali's mother used 56 pleasures..
                 

भोपाल में पिता की हत्या करके बेटी को कोई पछतावा नहीं; उसने कहा- पता नहीं था मोगरी मारने से पिता की मौत हो जाएगी

राजधानी के बैरसिया क्षेत्र में मां के साथ मारपीट और बेरहमी करने वाले पिता को मोगरी से मौत के घाट उतारने वाली बेटी को काउंसलिंग के बाद बाल कल्याण बोर्ड के समक्ष पेश किया गया। वहां से उसे विदिशा के बालिका संप्रेक्षण गृह भेजने का आदेश दिया गया है। इससे पहले चाइल्ड लाइन में की गई काउंसलिंग के दौरान उसने इतना कहा कि पिता की हरकतें बर्दाश्त के बाहर हो गई थीं, लेकिन उसे लगा नहीं था कि मारपीट से उनकी मौत हो जाएगी। बता दें कि बेटी ने मोगरी और लोहांगी से पिता की हत्या करने के बाद पुलिस को फोन करके खुद ही बुलाया था। चाइल्ड लाइन की संचालक अर्चना सहाय ने बताया कि बुधवार शाम को बैरसिया के गांव खजूरिया रामदास में 16 वर्षीय किशोरी ने अपने पिता की हत्या कर दी थी। गुरुवार को उसे पुलिस के माध्यम से काउंसलिंग के लिए चाइल्ड लाइन भेजा गया था। उस समय वह काफी तनाव में थी। इस वजह से वह खाना भी नहीं खा रही थी। शुक्रवार को सुबह वह कुछ सामान्य हुई। इसके बाद जब उसकी काउंसलिंग की गई तो उसे अपने किए पर पछतावा नहीं था। हालांकि उसने ये कहा कि पिता की हरकतें बर्दाश्त के बाहर हो चुकी थीं, लेकिन मारपीट से उनकी मौत हो जाए..
                 

भोपाल में स्पेशल ट्रैफिक स्क्वाड बना; बुलेट पर चलेंगे जवान, ट्रैफिक जाम हटाने तत्काल पहुंचेंगे

भोपाल में ट्रैफिक व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए स्पेशल ट्रैफिक स्क्वाड (STS) का गठन किया गया है। इसमें बुलेट पर सवार ट्रैफिक जवान शहर के व्यस्ततम मार्गों, नियमित VIP मूवमेंट और सकरे मार्ग पर ट्रैफिक को क्लियर करने के लिए तैनात किए जाएंगे। शुरुआत में अभी सिर्फ 8 गाड़ियां ही चलाई जा रही है। एक बुलेट पर दो जवान तैनात रहेंगे। यह शहर के आठ अलग-अलग सबसे व्यस्ततम पॉइंट पर पीक ऑवर्स में रहेंगी। यह ट्रैफिक जाम या अन्य तरह के ट्रैफिक से संबंधित मामलों को तत्काल मौके पर जाकर क्लियर करेंगे। इन्हें कंट्रोल रूम से निर्देशित किया जाएगा, ताकि समस्या की जगह पर समय पर पहुंचा जा सके। ट्रैफिक के लिए यह व्यवस्था है शहर में ट्रैफिक को व्यवस्थित और सुचारू रूप से संचालित किए जाने के लिए ITMS कार्य कर रहा है। यह करीब 15 करोड़ खर्च कर तैयार किया गया। इसे कंट्रोल करने के लिए एक कंप्यूटरीकृत अत्याधुनिक कंट्रोल रूम है। शहर के 24 से अधिक प्रमुख चौराहों और तिराहों पर विशेष कैमरे लगाए गए हैं। इन्हीं कैमरे की मदद से ऑटोमेटिक E-चालान बनाया जाता है। कैमरे ट्रैफिक नियम का उल्लंघन करने वाले वाहन चालक की गाड़ी नंबर के आधार ..
                 

दिग्विजय सिंह ने चुनाव आयोग से कहा- शिवराज अपने बेईमान अफसरों के बल पर चुनाव जीतना चाह रहे

मध्यप्रदेश में जैसे-जैसे चुनाव की तारीख पास आ रही है, वैसे-वैसे भाजपा और कांग्रेस में आरोप और जुबानी हमले तेज होते जा रहे हैं। अब पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने चुनाव आयोग से शिकायत करते हुए कहा- कर्मचारियों और अधिकारियों के सहारे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान चुनाव जीतना चाहती है। उन्होंने कहा- हमें कर्मचारियों पर भरोसा है, लेकिन बेईमान अधिकारियों और कर्मचारियों पर नहीं है। यह आरोप उन्होंने आज चुनाव आयोग के दफ्तर पहुंचकर लगाए। उन्होंने 8 से अधिक जिलों के अधिकारियों और भाजपा नेताओं के बयान को लेकर शिकायत की है। हालांकि, दिग्विजय सिंह महबूबा के बयान पर कन्नी काट गए। उन्होंने कहा कि वे खाद को लेकर सीएम को फिर पत्र लिखेंगे। नियम से कुछ नहीं हो रहा उन्होंने कहा कि उम्मीदवारों को नाम वापसी के ही दिन वोटर लिस्ट मिल जाना चाहिए, लेकिन इसमें देरी की गई। कोविड का ध्यान रखते हुए 80 साल से ज्यादा उम्र के लोग, दिव्यांग और संदिग्ध कोविड लोगों के पोस्टल बैलेट लिए गए। सूची तय हो गई, लेकिन कांग्रेस के उम्मीदवारों को जानकारी आज तक नहीं मिली। पोस्टल बैलेट डालना शुरू हो गया। यह तो निर्धारित प्रक्रिया ..
                 

शिवराज का कमलनाथ पर तंज- 'आपकी सरकार तो आनी नहीं है, कुछ भी कह दो; पहले वचनपत्र का कोई वचन पूरा किया नहीं, अब नए वचन दे रहे हैं'

शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ के बयान पर पलटवार करते हुए उन पर तंज कसा है। मुख्यमंत्री ने कहा- "कमलनाथ ने मुझे झूठा कहा कि मैं उनको उद्योगपति कह रहा हूं। मैं उनसे कहना चाहता हूं कि ये सवाल पहले अपनी पार्टी से पूछें, आपकी पार्टी के नेताओं ने मुझे नंगा और भूखा कहा और आपको देश का नंबर दो का उद्योगपति कहा। अगर सवाल उठाने हैं तो पहले अपनी पार्टी में अपने नेताओं से कहिए। क्या वो झूठ बोल रहे हैं। मेरी ओर से उंगली उठाने से पहले, अपनी पार्टी को देखें।" शिवराज ने कहा- "सच तो ये है कि झूठ कमलनाथ बोल रहे हैं। पहली बात तो ये है कि उनकी सरकार आनी नहीं है। पहले जो वचनपत्र था, उसमें कोई वचन पूरा नहीं किया। अब नए वचन देने लगे। न नौ मन तेल होगा और न राधा नाचेगी। सरकार तो आनी नहीं है, कुछ भी कह दो। लेकिन झूठ ये बोल रहे हैं। मंडियां बंद हो जाएंगी, एमएसपी खत्म हो जाएगा।" शिवराज ने कहा था- कमलनाथ उद्योगपति इससे पहले शिवराज ने कहा था कि- कमलनाथ बात मध्य प्रदेश की करते हैं लेकिन मध्य प्रदेश को अच्छे से जानते भी नहीं है। मध्यप्रदेश की जनता और यहां की परंपरा से कमलनाथ अनभिज्ञ हैं। 40 साल के स..
                 

मप्र के प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने कहा- क्या तिरंगे का अपमान करने वाला देश में रह पाएगा, महबूबा मुफ्ती का असली चेहरा सामने आ गया

जम्मू और कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के तिरंगा झंडा नहीं उठाने के बयान पर अब सियासत शुरू हो गई है। मध्यप्रदेश विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने उन पर हमला किया है। उन्होंने महबूबा के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए पूछा है कि क्या तिरंगे का अपमान करने वाला देश में रह पाएगा। उन्होंने कहा कि महबूबा मुफ्ती का असली चेहरा और असली चरित्र सामने आ गया है। जो व्यक्ति देश का तिरंगा हाथ में लेगा। वही जम्मू-कश्मीर में राजनीति कर पाएगा। जो देश के तिरंगे झंडे का अपमान करेगा। वह हिंदुस्तान की जमीन पर रह भी नहीं पाएगा। हिंदुस्तान के झंडे का जो अपमान करेगा। उसे जेल की सलाखों के पीछे डाला जाएगा। अगर उन्हें हिंदुस्तान में रहना है, तो तिरंगा हाथ में लेना ही पड़ेगा। आज देश में मोदी सरकार हैं। ऐसे लोगों पर देशद्रोह का केस दर्ज कर जेलों में डाला जाएगा और यह सभी लोग पाकिस्तान के एजेंट बनकर काम कर रहे हैं। उन्हें बिल्कुल स्वीकार नहीं किया जाएगा। महबूबा ने यह कहा था जम्मू और कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने एक दिन पहले शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कई मुद्दों पर खुलकर बा..
                 

महाअष्टमी पर मैहर में मां शारदा का अद्भुत श्रृंगार, सुबह से 50 हजार भक्तों ने दर्शन किए, माथे पर मां की चुनरी, लेकिन मास्क नहीं; सलकनपुर में 20 फीट से देवी दर्शन

शारदीय नवरात्रि का शनिवार को आठवां दिन यानि महाअष्टमी है। आज मां देवी की विशेष पूजा-अर्चना विशेष श्रृंगार किया जाता है। सतना जिले में त्रिकूट पर्वत पर विराजमान मैहर वाली मां शारदा और सलकनपुर की बिजासन माता का दरबार सज गया है। कोरोना पर भक्ति भारी है। भक्त सुबह 4 बजे से ही दर्शन के लिए कतार में हैं। मैहर वाली माता और सलकनपुर में बिजासन मां के दरबार में लोग रोप-वे से भी पहुंच रहे हैं। सलकनपुर में सुबह 3 बजे से ही भक्तों की कतार लग गई। यहां पर सुबह 9 बजे तक करीब 30 हजार लोगों ने दर्शन किए। वहीं मैहर में सुबह से 50 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने माता के दरबार में हाजिरी लगाई। मैहर वाली माता का महाअष्टमी पर विशेष श्रृंगार। मैहर वाली माता में सुबह से लगी भक्तों की कतार कम नहीं हो रही है। मां शारदा के धाम मैहर में कोरोना पर भक्ति भारी नवरात्र की महाष्टमी में मैहर की मां शारदा का विशेष श्रृंगार हुआ और आरती की गई। त्रिकूट पर्वत पर विराजमान मैहर की मां शारदा का महाष्टमी पर विशेष श्रृंगार और आरती हुई। शासन से दिशा-निर्देश मिलने के बाद इस बार मां शारदा के धाम मैहर में खास इंतजाम किए गए हैं। श्रद्ध..
                 

शिवराज ने कहा- भाजपा हार गई तो मैं सीएम नहीं रहूंगा, झोला टांगकर जाना पड़ेगा, इसलिए सरकार को स्थायित्व दें

उपचुनाव में चुनाव प्रत्याशियों की जीत-हार का नहीं बल्कि सरकार को स्थायित्व देने का है। इसलिए 3 तारीख को आप मुरैना विधानसभा से भाजपा को जिताएं। भाजपा नहीं जीती तो मैं भी सीएम नहीं रहूंगा और मुझे झोला टांगना पड़ेगा। यह बात प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुकवार को मुरैनाविस के खरगपुर भर्राड़ में आयोजित चुनावी सभा में कही। सीएम शाम 4.45 बजे हेलीकॉप्टर से खरगपुर भर्राड़ में पहुंचे। इस दौरान उनके साथ भाजपा प्रत्याशी रघुराज सिंह कंषाना के अलावा पूर्व मंत्री रुस्तम सिंह, मुंशीलाल, कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा, भाजपा जिलाध्यक्ष योगेशपाल गुप्ता, रामनरेश शर्मा सहित अनेक लोग मौजूद थे। इस मौके पर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आप लोग जानते हैं मुरैना में जितना भी विकास हुआ है, वह भाजपा के 15 वर्ष के कार्यकाल में हुआ है। पूर्वमंत्री रुस्तम सिंह ने अपने कार्यकाल में जितनी सड़कें, बिजली सब स्टेशान सहित अन्य निर्माण कार्य कराए, शायद उतने कहीं किसी अन्य क्षेत्र में हुए होंगे। उन्होंने कहा कि कमलनाथ ने 15 महीने की सरकार में गरीबों की योजनाएं बंद कर दीं, लेकिन हमने 6 महीने के कार्यकाल में कोरो..
                 

'आइटम' वाले बयान पर मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम बोले- मेरे बयान का गलत मतलब निकाला गया

कमलनाथ ने आइटम वाले बयान पर मिले चुनाव आयोग के नोटिस का जवाब दिया है। उन्होंने कहा है कि उनके बयान का गलत मतलब निकाला गया। राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने ट्वीट करके नोटिस के जवाब को शेयर किया है। इसमें उन्होंने कहा कि 'कमलनाथ जी ने निर्धारित समय सीमा के अंदर चुनाव आयोग के समक्ष अपना जवाब पेश किया। उन्होंने अपने जवाब में कहा कि भाजपा पर हार की डर से मुद्दा बदलने का प्रयास बताया। 40 साल के निष्कलंक लोक सेवा के इतिहास का भी जिक्र किया। निश्चित रूप से कमलनाथ देश के चुनिंदा और वरिष्ठ लीडर्स में से एक है।' कमलनाथ ने इमरती को आइटम कहा था रविवार को कमलनाथ ने डबरा की सभा में इमरती देवी को आइटम कह दिया था। विवाद बढ़ा तो उन्होंने सफाई दी, ‘आइटम अपमानजनक शब्द नहीं है। विधायक का नाम नहीं याद आ रहा था, इसलिए ऐसा बोल दिया।’ इस विवाद के 45 घंटे बाद राहुल ने कहा था, ‘कमलनाथ भले ही मेरी पार्टी के हैं, वे चाहे जो भी हों, लेकिन जिस भाषा का उन्होंने इस्तेमाल किया है, मैं निजी तौर पर उसे पसंद नहीं करता।’राहुल की फटकार के बावजूद कमलनाथ ने माफी मांगने से इनकार कर दिया था। हालां..
                 

नहीं मिल रहे पर्याप्त यात्री, इंडिगो की कोलकाता फ्लाइट 25 से होगी बंद

इंडिगो की कोलकाता-भोपाल-कोलकाता फ्लाइट 25 अक्टूबर से बंद होने जा रही है। कंपनी ने इस बात की जानकारी राजा भोज एयरपोर्ट प्रबंधन को दे दी है। एयरपोर्ट डायरेक्टर अनिल विक्रम का कहना है कि 186 सीटर एयर बस से इस फ्लाइट को कंपनी संचालित कर रही थी, लेकिन पर्याप्त संख्या में यात्री नहीं मिलने के कारण कंपनी ने उसे बंद करने का निर्णय लिया है। गौरतलब है कि भोपाल से लखनऊ व भोपाल से कोलकाता के बीच इंडिगो ने गत 16 सितंबर को एक साथ फ्लाइट शुरू की थीं। अब कंपनी ने लखनऊ फ्लाइट को भी 25 अक्टूबर से ही औपचारिक रूप से बंद करने की घोषणा कर दी है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today राजा भोज एयरपोर्ट (फाइल फोटो)..
                 

फिर बढ़ी रात में ठंडक, शाम ढलने के बाद 3 घंटे में 7.2 डिग्री लुढ़का पारा

शहर में दिन में भले ही तपिश से लाेग परेशान हाें, लेकिन शुक्रवार रात में ठंडक फिर बढ़ गई। शाम ढलने के बाद तीन घंटे में पारा 7.2 डिग्री लुढ़क गया। शाम 5:30 बजे पारा 30.2 डिग्री पर था, जाे रात 8:30 बजे लुढ़ककर 23 डिग्री पर पहुंच गया। दिन में पारे की चाल तेज थी। सुबह 11:30 बजे ही पारा 32 डिग्री पर पहुंच गया था। शुक्रवार काे दिन का तापमान सामान्य से 2 डिग्री ज्यादा 33.8 डिग्री दर्ज किया गया, लेकिन गुरुवार के मुकाबले इसमें सिर्फ 0.1 डिग्री का ही इजाफा हुआ। माैमस वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि नमी कम हाे गई है। आसमान से बादल भी छंट गए हैं। रात के वक्त हवा का रुख भी बदल गया था। इस वजह से तापमान तेजी से लुढ़का। शनिवार काे भी दिन का तापमान 34 डिग्री के आसपास रह सकता है। 14 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा भी चल सकती है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today फाइल फोटो..
                 

विंध्याचल, प्रतापगढ़, हावड़ा और जोधपुर एक्सप्रेस बनेंगी मेल; छोटे स्थानों का किराया होगा दोगुना रेलवे ने 380 ट्रेनों में किया बदलाव

भोपाल से बीना होकर इटारसी जाने वाली विंध्याचल एक्सप्रेस, भोपाल-प्रतापगढ़, भोपाल-हावड़ा और भोपाल-जोधपुर एक्सप्रेस को मेल में बदला जा रहा है। वहीं, भोपाल-बीना, झांसी-इटारसी वाया भोपाल पैसेंजर सहित इस श्रेणी की सभी पांच गाड़ियां अब एक्सप्रेस होंगी। इसका असर यात्रियों की जेब पर पड़ेगा और छोटे स्थानों का किराया दोगुना से ज्यादा हो जाएगा। रेल मंत्रालय द्वारा 380 एक्सप्रेस व पैसेंजर श्रेणी की गाड़ियों को पहले चरण में मेल व एक्सप्रेस में बदला जा रहा है। रेलवे वर्तमान में अपने जीरो बेस्ड टाइम-टेबल पर काम कर रहा है। इसके तहत ट्रेनों की स्पीड बढ़ाकर टाइम मेंटेन किया जाएगा। विभिन्न रेल मंडलों से चलाई जाने वाली एक्सप्रेस ट्रेनों को मेल में और पैसेंजर को एक्सप्रेस गाड़ियों में बदला जा रहा है। अधिकारियों का कहना है कि वर्ष-2022 तक सभी ट्रेनों को अधिकतम स्पीड में चलाने के साथ ही उनकी लेटलतीफी को पूरी तरह से खत्म करना है। इसकी शुरुआत रेलवे ने कर दी है। बिना रिजर्वेशन अभी नहीं चल सकेंगे रेल सूत्रों का कहना है कि जब तक कोविड-19 संक्रमण के चलते ट्रेनों को स्पेशल के रूप में चलाया जाता रहेगा, तब तक उनमें बिना रिजर..
                 

194 नए पॉजिटिव मिले; राहत की बात- 202 मरीज ठीक भी हुए

राजधानी में शुक्रवार को 194 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले। इसके साथ ही शहर में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ते हुए 24,522 पर पहुंच गई। वहीं अच्छी बात यह है कि 202 मरीज ठीक भी हुए। अब कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या 21,055 हो गई है। अक्टूबर में लगभग रोज जितने मरीज नए मिल रहे हैं, उससे ज्यादा ठीक हो रहे हैं। यही वजह है कि पिछले 10 दिनों में शहर में कारोना के एक्टिव मरीजों की संख्या में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। शुक्रवार को एक्टिव मरीजों की संख्या घटकर 1781 रह गई, जबकि 13 अक्टूबर को शहर में 1967 एक्टिव मरीज थे। वर्तमान में जो एक्टिव मरीज हैं, उनमें से 912 मरीज होम आइसोलेशन में हैं। ऐसे में महज 869 मरीज ही शहर के सरकारी व निजी अस्पतालों में इलाज के लिए भर्ती हैं। रिकवरी रेट भी 85.86 प्रतिशत पर पहुंच गया है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today प्रतीकात्मक फोटो..
                 

4 साल से जीर्णोद्धार रुका, क्योंकि बजट खत्म; सन् 1644 में भदौरिया शासक ने प्रारंभ कराया था निर्माण कार्य

चंबल नदी से 2 किलोमीटर दूर अटेर किले को पुराने स्वरूप में लाने के लिए भारतीय पुरातत्व विभाग ने सात साल पहले जीर्णोद्धार शुरू कराया था। इस दौरान किले के जीर्णोद्धार के काम में उड़द की दाल, गोंद, सफेद सीमेंट, बजरी के पेस्ट से एक-एक ईंट को जोड़ा गया था। दो साल काम करने के बाद बजट नहीं हाेने से ठेकेदार ने काम बंद कर दिया। जिला पुरातत्व अधिकारी वीरेंद्र पांडे ने कहा कि बजट आने पर काम फिर से शुरू कर दिया जाएगा। किले में 17 बुर्ज और 4 प्रवेश द्वार हैं किले का निर्माण कार्य सन् 1644 में भदौरिया शासक राजा बदन सिंह ने प्रारंभ कराया था। सन् 1668 में महासिंह भदौरिया के कार्यकाल में इसका निर्माण पूरा हुआ। इसमें 17बुर्ज और चार प्रवेश द्वार हैं। महाभारत में जिस देवगिरी पहाड़ी का उल्लेख आता है। यह किला उसी पहाड़ी पर बना हुआ है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Restoration halted for 4 years, as the budget runs out; Bhadoria ruler started construction work in 1644..
                 

मिसरोद के पास काॅम्प्लेक्स में आग फर्नीचर व बिजली का सामान खाक

मिसरोद के पास बगली रोड पर आशियाना काॅम्प्लेक्स की पार्किंग में लिफ्ट के पास बने स्टोर रूम में शुक्रवार दोपहर दो बजे आग लग गई। आग की लपटें पहली मंजिल के फ्लैट तक पहुंच रहीं थीं। आग की सूचना पर पहुंची फायर ब्रिगेड ने रहवासियों की मदद से कुछ खाली फ्लैटों का ताला तोड़कर आग पर काबू पाया। इस स्टोर रूम में बिल्डर के फर्नीचर के साथ जनरेटर व इनवर्टर का सामान रखा था। पुलिस ने सुपरवाइजर बाबर अली जाफरी की शिकायत पर प्रकरण दर्ज कर लिया है। आग संभवतः शार्ट सर्किट से लगी थी। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Fire furniture and electrical items at the complex near Misrod..
                 

शिवराज ने कहा- मध्य प्रदेश को चारागाह मानते हैं कमलनाथ, तभी 40 साल में उन्होंने एक भी उद्योग नहीं लगाया

मध्य प्रदेश में उपचुनावों को लेकर आरोप-प्रत्यारोपों का दौर जारी है। आइटम से शुरू हुआ विवाद अब प्रदेश का और बाहरी होने तक पहुंच गया है। शुक्रवार को शिवराज ने कमलनाथ पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि कमलनाथ मध्य प्रदेश को चारागाह मानते हैं। उन्होंने उद्योगपति रहते हुए मध्य प्रदेश में कहीं पर कोई उद्योग नहीं लगवाया। वे उद्योग कहीं और लगाते हैं, टैक्स कहीं और पटाते हैं। बता दें कि इमरती देवी भी कमलनाथ को बाहरी यानि बंगाल का बता चुकी हैं। शिवराज ने कहा- "कमलनाथ बात मध्य प्रदेश की करते हैं लेकिन मध्य प्रदेश को अच्छे से जानते भी नहीं हैं। मध्यप्रदेश की जनता और यहां की परम्परा से कमलनाथ अनभिज्ञ हैं। कमलनाथ बताएं कि उन्होंने 40 साल के संसदीय जीवन में मध्यप्रदेश के लिए क्या किया है। वह मध्य प्रदेश को केवल चारागाह मानते हैं। उद्योगपति रहते हुए उन्होंने मध्यप्रदेश में एक भी उद्योग नहीं लगाया, वे उद्योग कहीं और लगाते हैं, टैक्स कहीं और पटाते हैं। केवल राजनीति यहां करते हैं। कमलनाथ को मध्य प्रदेश की जनता और मध्य प्रदेश से कभी लगाव नहीं रहा और ना आज है।" उपचुनाव में अब वोटरों को लुभाने की बारी ..
                 

भाजपा के बाद अब चुनाव आयोग भी सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने की तैयारी में; आयोग का मानना कि हाई कोर्ट का आदेश चुनाव प्रक्रिया में हस्तक्षेप

भाजपा के बाद अब चुनाव आयोग भी मध्यप्रदेश के 9 जिलों में राजनीतिक रैलियों को प्रतिबंधित करने के हाई कोर्ट के आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने जा रहा है। हालांकि अभी इसको लेकर स्थिति साफ नहीं है। चुनाव आयोग के अधिकारियों के बीच इसको लेकर चर्चा चल रही है। चुनाव आयोग के सूत्रों के मुताबिक, दोपहर तक इस मामले में कोई फैसला लिया जा सकता है। चुनाव आयोग का मानना है कि उच्च न्यायालय का आदेश चुनाव प्रक्रिया में हस्तक्षेप करता है। चुनाव कराना उसका काम है। इस आदेश से मतदान प्रक्रिया बाधित होगी। भाजपा की ओर से उपचुनाव लड़ने वाले दो उम्मीदवार पहले ही रैलियों पर रोक को लेकर कोर्ट जा चुके हैं। क्या कहा था हाई कोर्ट ने दो दिन पहले जबलपुर उच्च न्यायालय की ग्वालियर खंडपीठ ने अपने आदेश में कहा था कि राजनीतिक दलों को वर्चुअल माध्यमों का इस्तेमाल करना चाहिए। वर्चुअल माध्यम से सभा न हो पाने की स्थिति में रैली की अनुमति दी जाएगी। इसके लिए भी पहले हाईकोर्ट की अनुमति जरूरी होगी। कोर्ट ने यह भी कहा था कि रैली की अनुमति तभी मिलेगी जब जब पार्टी या उम्मीदवार जिला मजिस्ट्रेट के पास निर्धारित धनराशि जमा ..
                 

विधानसभा उपचुनाव में एक लाख 51 हजार से अधिक नए मतदाता जुड़े; हर सीट पर तीन हजार से ज्यादा लोग पहली वार करेंगे वोटिंग

मध्यप्रदेश की 28 विधान सीटों पर होने वाले चुनावों के लिए इस बार एक लाख 51 हजार से अधिक नए मतदाता जुड़ गए हैं। यह सभी पहली बार मतदान करेंगे। अपर मुख्‍य निर्वाचन पदाधिकारी अरूण कुमार तोमर ने बताया कि विधानसभा उप निर्वाचन 2020 में 18 से 19 आयु वर्ग के 1 लाख 51 हजार 681 नए मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग कर सकेंगे। सबसे ज्यादा मुरैना जिले की जौरा विधानसभा क्षेत्र में 7 हजार 884 नए वोटर जुड़े हैं। भिंड की गोहद विधानसभा क्षेत्र में सबसे कम 3 हजार 521 में पहली बार वोट करेंगे। मुरैना मुरैना की जौरा विधानसभा क्षेत्र में 7 हजार 884, सुमावली विधानसभा क्षेत्र में कुल 5 हजार 452, मुरैना विधानसभा क्षेत्र में 4 हजार 864, दिमनी विधानसभा क्षेत्र में 5 हजार 216 और अम्‍बाह विधानसभा क्षेत्र में 5 हजार 310 नये मतदाता हैं। भिंड जिले की मेहगांव विधानसभा क्षेत्र में 4 हजार 375, गोहद विधानसभा क्षेत्र में 3 हजार 521 हैं। ग्‍वालियर जिले की ग्‍वालियर विधानसभा क्षेत्र में 4 हजार 673, ग्‍वालियर पूर्व विधानसभा क्षेत्र में 5 हजार 438, डबरा विधानसभा क्षेत्र में 5 हजार 745 नए वोटर। दतिया जिले की भांडे..
                 

रैली के लिए मंजूरी जरूरी होने के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाएगी भाजपा; शिवराज बोले- बिहार में तो सभाएं हो रही हैं

मध्यप्रदेश के उपचुनाव में ग्वालियर-चंबल संभाग में सभाओं और रैलियों के लिए चुनाव आयोग से इजाजत लेने के हाईकोर्ट के आदेश से राजनैतिक दल मुश्किल में पड़ गए हैं। हाईकोर्ट के आदेश के खिलाफ भाजपा ने सुप्रीम कोर्ट जाने की तैयारी कर ली है। एमपी के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा- ‘हम माननीय न्यायालय का सम्मान करते हैं, लेकिन इस फैसले के संबंध में सुप्रीम कोर्ट जा रहे हैं।’ कोर्ट के आदेश के बाद शिवराज ने गुरुवार को अशोकनगर के शाडोरा और भांडेर में बराच की सभाएं निरस्त कर दीं और वहां के लोगों से माफी मांगी। शिवराज ने कहा कि ‘मध्यप्रदेश के एक हिस्से में रैली और सभा हो सकती है और दूसरे हिस्से में नहीं हो सकती। बिहार में सभाएं हों रही हैं, रैलियां हो रही हैं, लेकिन मध्यप्रदेश के एक हिस्से में सभाएं नहीं हो सकती। हमें विश्वास है कि सुप्रीम कोर्ट में न्याय मिलेगा।’ तोमर बोले- हमें अदालत पर भरोसा इधर, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने चुनाव आयोग के नियमों को लेकर कहा कि भाजपा चुनाव आयोग और न्यायालय में भरोसा करने वाली पार्टी है। कोविड-19 को देखते हुए चुनाव आयोग ने जो आदेश किया ..
                 

मंत्री कमल पटेल ने दिग्विजय सिंह पर निशाना साधा; बोले- बंटाधार का नाम सुनते से आंखों के सामने सड़क के गड्‌ढे, बिना सिंचाई की खेती और अंधेरा घूमने लगता है

दिग्विजय सिंह के खाद को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को एक पत्र लिखे जाने पर अब सियासत शुरू हो गई। कृषि मंत्री कमल पटेल ने पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के पत्र को हास्यास्पद बताते हुए कड़ी प्रतिक्रिया दी है। जब कमलनाथ ने कोई वादा पूरा नहीं किया और किसान परेशान हो रहे थे, तब उन्होंने पत्र क्यों नहीं लिखा? कांग्रेस ने जनता को धोखा दिया है, अब उन्हें जनता धक्का देगी। दिग्विजय सिंह ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर रबी फसल में यूरिया के संकट का हवाला देते हुए ध्यान देने का आग्रह किया है। दिग्विजय ने प्रदेश का बंटाधार कर दिया था। आज भी प्रदेश की जनता के लिए वह एक ऐसे व्यक्ति हैं, जिनका नाम सुनते से आंखों के सामने गड्ढों वाली सड़कें, बिना सिंचाई की खेती, बिना बिजली की अंधेरी रातों की यादें ताजा हो जाती हैं। दिग्विजय को पत्र लिखने का नैतिक अधिकार नहीं दिग्विजय सिंह का मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को खाद के संबंध में पत्र लिखना हास्यास्पद है। दिग्विजय को पत्र लिखने का नैतिक अधिकार नहीं है। वो पहले इस बात का जवाब दें कि अपने कहे अनुसार प्रदेश के सभी किसानों का 2 लाख कर्ज म..
                 

आइटम विवाद में अब इमरती बोलीं- कमलनाथ की मां और बहन होंगी बंगाल की आइटम

मध्य प्रदेश के उपचुनाव में बयानों की मर्यादा टूट रही है। बीते रविवार पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शिवराज सरकार में मंत्री इमरती देवी को ‘आइटम’ कह दिया था। इस पर भाजपा हमलावर हुई थी। राहुल गांधी ने भी कमलनाथ को फटकार लगाई थी। चार दिन बाद अब इमरती ने भी उसी शब्द का इस्तेमाल किया है। वे कमलनाथ की मां और बहन को आइटम कह रही हैं। मध्य प्रदेश की राजनीति में शायद अब यही बाकी रह गया था। कांग्रेस प्रवक्ता आचार्य प्रमोद ने वीडियो शेयर किया मध्य प्रदेश में कांग्रेस के स्टार प्रचारकों में शामिल आचार्य प्रमोद ने इमरती देवी का वीडियो शेयर किया है। इसमें इमरती मीडिया से बातचीत कर रही हैं। इमरती कह रही हैं, ‘वो बंगाल का आदमी है, वो मध्य प्रदेश में आया सिर्फ मुख्यमंत्री बनने के लिए। उसे बोलने की सभ्यता नहीं है तो उस व्यक्ति को क्या कहा जाए? वो मुख्यमंत्री पद से हट गया तो पागल हो गया। अब पागल बनकर पूरे प्रदेश में घूम रहा है तो उसका हम क्या कर सकते हैं। वह कुछ भी कह सकता है। मेरे प्रदेश का आदमी नहीं है, उसकी मां और बहन बंगाल की आइटम होंगी, तो हमें ये पता थोड़ी है।’ इमरती ने पहले भी..
                 

भोपाल की 140 करोड़ की बेशकीमती जमीन पर सालों से चल रहे थे फर्नीचर बनाने के कारखाने, कबाड़ की दुकानें; विरोध-हंगामे के बीच हटाया

राजधानी भोपाल की 140 करोड़ की बेशकीमती जमीन पर सालों से चल रहे थे फर्नीचर बनाने के कारखाने, टीन-बांस बल्लियों का अतिक्रमण भारी विरोध के बाद हटाया जा रहा है। कुछ लोगों ने इसका विरोध किया और जेसीबी मशीनों के सामने खड़े हो गए तो पुलिस ने इनमें से दो लोगों को हिरासत में ले लिया और उन्हें अशोका गार्डन थाने में बिठा लिया। कब्जे हटाने के लिए तीन जेसीबी मशीनें लगाई गईं और दो थानों की पुलिस बल को लगाया गया। अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के दौरान भारी संख्या में लोग वहां पर जुट गए। जानकारी के मुताबिक अशोका गार्डन थाने के पास से लगी सरकारी जमीन पर कई वर्षों से लोगों ने अवैध कब्जा कर रखा था। इसकी शिकायत प्रशासन से की गई थी, जिसकी जांच की गई। इसमें मामला सही पाए जाने पर गुरुवार को जिला प्रशासन और नगर निगम की संयुक्त टीम ने दोपहर में 12 बजे से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू की। कार्रवाई अब भी जारी है। सरकारी जमीन पर पक्के घर बनाकर अतिक्रमण किया गया था। लोगों ने यहां की सरकारी ज़मीन पर टीन, बांस-बल्ली के सहारे बनाए बड़े-बड़े फर्नीचर के गोदाम बिना परमिशन चल रहे थे। अवैध तरीके से गोदामों के जरिए व्यवसाय किय..
                 

6 साल की बच्ची से पड़ोसियों ने घर बुलाकर दुष्कर्म किया; लड़की उन्हें मामू कहती थी, अब उन्हें देखकर डर जाती है

भोपाल में 6 साल की बच्ची से दुष्कर्म किए जाने की घटना सामने आई है। मामले में आरोपी पड़ोसी ही हैं, जिन्हें मासूम मामू कहकर बुलाती थी। अब वह उनको देखकर डर जाती है। उनसे दूर रहती है। बच्ची के ठीक से नहीं चल पाने के कारण पिता ने उससे बात की थी। मामले का पता चलने पर वह चाइल्डलाइन पहुंचे। उनकी सूचना पर ही पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों में एक की उम्र 32 साल और दूसरे की 65 साल है। कमला नगर में रहने वाली 6 साल की बच्ची पहली कक्षा में पढ़ती है। उसके पिता प्राइवेट जॉब करते हैं। टीआई कमला नगर विजय सिंह ने बताया कि उन्हें बुधवार को चाइल्डलाइन से एक बच्ची के साथ दुष्कर्म किए जाने की जानकारी मिली थी। पुलिस ने चाइल्डलाइन की जानकारी के आधार पर बच्ची से बात की। उसने बताया कि उसके पड़ोस में रहने वाले रहमत और मुमताज मामू उसे अपने कमरे में ले गए थे। उन्होंने उसके साथ गलत काम किया है। बच्ची की हालत ठीक है। उसे कोई गंभीर चोट नहीं है। पुलिस ने बच्ची के बयान लेने के बाद उसका मेडिकल टेस्ट कराया। इसमें भी इसकी पुष्टि हुई है। पुलिस ने बच्ची के बताए अनुसार दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया..
                 

दीवाली से पहले मध्य प्रदेश के 4.37 लाख कर्मचारियों को तोहफा; सातवें वेतनमान के एरियर की तीसरी किस्त की 25% राशि खातों में भेजेगी सरकार

मध्य प्रदेश में 28 सीटों पर होने वाले विधानसभा उपचुनाव और त्योहारों के ठीक पहले शिवराज सरकार ने कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दिया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को इसका ऐलान कर दिया। उन्होंने प्रदेश के 4.37 लाख कर्मचारियों को सातवें वेतनमान की एरियर की तीसरी किस्त की 25% राशि दीवाली से पहले देने की घोषणा कर दी। इसे कर्मचारियों के खाते में डाल दिया जाएगा। साथ ही इसी वित्तीय वर्ष में पूरे एरियर का भुगतान कर दिया जाएगा। इससे सरकार के खजाने में करीब 800 करोड़ का अतिरिक्त भार आएगा। सीएम चौहान ने कहा कि हमने ये भी फैसला किया है कि जिन कर्मचारियों का वेतन 40 हजार रुपए महीने से कम है। उनको 10 हजार रुपए त्योहार का एडवांस में दिया जाएगा। ये एडवांस वह 31 मार्च तक कभी भी ले सकते हैं। शिवराज ने कहा कि कर्मचारियों का त्योहार अच्छा मने और दीवाली और बाकी त्योहारों पर कर्मचारी भाई-बहनों के पास कमी न रहे। इसलिए ये फैसले किए गए हैं। चौहान ने कहा- मैंने पहले ही कहा था अस्थाई रूप से एरियर और इंक्रीमेंट रोके गए हैं, लेकिन इसकी एक-एक पाई सभी कर्मचारी भाई-बहनों की दी जाएगी। मेरे कर्मचारी भाई-बहनों,..
                 

ज्योतिरादित्य बोले- क्या सोचकर मेरी इमरती को डबरा में आकर आइटम कहने की हिम्मत की? इमरती रोने लगीं तो गले लगाया, राहुल गांधी की नकल भी उतारी

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने डबरा विधानसभा के छीमक में मंगलवार को कहा कि कोई परदेशी बाबू मेरी धरती पर आकर आपकी बेटी को बेइज्जत करता है। क्या सोचकर मेरी इमरती को डबरा में आकर आइटम कहने की हिम्मत की... इतना सुनते ही मंच पर खड़ीं भाजपा प्रत्याशी इमरती देवी रोने लगीं तो सिंधिया ने उन्हें गले लगा लिया। वहीं, छतरपुर के मलहरा में सिंधिया ने राहुल गांधी की स्टाइल में हाथ हिलाते हुए उनकी मिमिक्री भी की। सिंधिया ने कहा, 'आज मैं कहना चाहता हूं कि इमरती देवी ये चुनाव नहीं लड़ रही हैं। इमरती देवी के परिवार का मुखिया ज्योतिरादित्य सिंधिया चुनाव लड़ रहा है। कमलनाथ, अहंकारी अजय सिंह और दिग्विजय सिंह के खिलाफ चुनाव लड़ने ज्योतिरादित्य सिंधिया और शिवराज सिंह मैदान में उतरे हैं। इसके बाद सिंधिया जनता से पूछते हैं- आशीर्वाद दोगे, झंडा बुलंद रखोगे, अपना मान-सम्मान और घर की रक्षा करोगे। इस महिला इज्जत और लज्जा को पूरी तरह से वापस करोगे, तो हाथ उठाकर मुझे आश्वासन दो कि इस महिला को जिन्होंने बेइज्जत किया है, जिसने इसकी अस्मिता पर सवाल उठाया है। सिंधिया इस महिला के साथ खड़ा है। सिंधिया हर महिला का रक्षक है।'..
                 

हाईकोर्ट ने कहा- उम्मीदवार के अधिकार से बड़ा लोगों के जीने का हक; नाथ-तोमर पर होगी FIR

चुनावी रैलियों में मास्क-सोशल डिस्टेंसिंग जैसे नियमों की अनदेखी और भीड़ पर अदालत और चुनाव आयोग, दोनों ने सख्ती दिखाई है। मध्य प्रदेश हाईकोर्ट ने बेलगाम रैलियों के मद्देनजर कांग्रेस नेता कमलनाथ और भाजपा नेता व केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के खिलाफ FIR दर्ज करने के आदेश दिए हैं। हाईकोर्ट ने ऐसी रैलियों पर सख्त टिप्पणी की है। कोर्ट ने कहा- संविधान ने उम्मीदवार और मतदाता दोनों को अधिकार दिए हैं। उम्मीदवार को चुनाव प्रचार का अधिकार है, तो लोगों को जीने और स्वस्थ रहने का हक है। उम्मीदवार के अधिकार से बड़ा लोगों के स्वस्थ रहने का अधिकार है। मध्य प्रदेश हाईकोर्ट ने आदेश में क्या कहा? मध्यप्रदेश की ग्वालियर हाईकोर्ट की डबल बेंच ने दतिया के भांडेर में कमलनाथ और ग्वालियर में नरेंद्र तोमर की रैली को अपने आदेश का आधार बनाया। इन रैलियों में कोरोना-19 की गाइडलाइन के उल्लंघन को लेकर एडवोकेट आशीष प्रताप सिंह ने याचिका दाखिल की थी। ग्वालियर और दतिया कलेक्टर से दो दिन में रिपोर्ट भी मांगी है। जस्टिस शील नागू और जस्टिस राजीव कुमार श्रीवास्तव की बेंच ने आदेश में कहा- राजनीतिक दलों की वर्चुअल मीटिंग अगर..
                 

40% उम्मीदवारों पर क्रिमिनल केस, भाजपा से ज्यादा दागी कांग्रेस में

उपचुनाव की 28 सीटों पर उतरे भाजपा-कांग्रेस के 56 उम्मीदवारों में से 22 के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। इनमें भाजपा के 10 तो कांग्रेस के 12 प्रत्याशी शामिल हैं। कांग्रेस के उम्मीदवार विपिन वानखेड़े पर सबसे ज्यादा 11 मुकदमे दर्ज है। भाजपा के दो उम्मीदवार मुन्नालाल गोयल और प्रद्युम्नसिंह तोमर पर 7-7 केस दर्ज हैं। सबसे ज्यादा वाहन हाटपिपल्या के कांग्रेस उम्मीदवार राजवीरसिंह बघेल के पास हैं, उनके पास कार के अलावा पोकलेन, डंपर, जेसीबी है। भाजपा-कांग्रेस के इन 56 में से 30 प्रत्याशी ऐसे हैं जिन्हें राइफल, माउजर से लेकर महंगी बंदूकें रखने का शौक है। इनमें कुछ महिला प्रत्याशी भी हैं। इस मामले में भाजपा आगे है, उसके 18 प्रत्याशियों के पास शस्त्र हैं, जबकि कांग्रेस के 12 प्रत्याशियों के पास। विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी गोविंदसिंह राजपूत, फूलसिंह बरैया, सूबेदार सिंह, सतीश सिंह कांग्रेस, राकेश सिंह, सत्यप्रकाश के पास सर्वाधिक तीन-तीन लाइसेंसी हथियार हैं। कांग्रेस ने एक एमबीए, एक पीएचडी के अलावा तीन ऐसे प्रत्याशी उतारे हैं, जो कि इंजीनियर हैं। भाजपा ने एक डॉक्टर, एक एमबीए के अलावा एक इंजीनियर को टि..
                 

प्रदेश से विदा हुआ मानसून; दशहरे बाद से रात में बढ़ेगी सर्दी, दीपावली तक रहेगी गुलाबी ठंड

आखिरकार अक्टूबर के 21वें दिन भाेपाल, इंदाैर संभागाें समेत प्रदेश के ज्यादातर इलाकाें से मानसून की विदाई हाे गई। पिछले साल की तुलना में इस बार मानसून 12 दिन पहले 16 जून काे आया था, लेकिन विदाई 10 दिन बाद हुई। माैसम केंद्र ने बुधवार काे मानसून की विदाई की आधिकारिक घाेषणा कर दी। माैसम विशेषज्ञ एके शुक्ला ने बताया कि इस देरी का मुख्य कारण है- बंगाल की खाड़ी में लगातार कम दबाव के क्षेत्र बनना। इससे प्रदेश के ज्यादातर हिस्साें में बारिश हाेती रही। माैसम वैज्ञानिक जेपी विश्वकर्मा के मुताबिक मानसून वापसी यानी निर्गमन लाइन कूच बिहार, श्री निकेतन, रांची, मंडला, नरसिंहपुर, इंदाैर, वल्लभ नगर, विद्यानगर, पाेरबंदर से हाेकर गुजर रही है। दीपावली तक रहेगी गुलाबी ठंड माैसम वैज्ञानिक एचएस पांडे ने बताया- दशहरे के बाद से रात के तापमान में 4 डिग्री तक कमी संभव है। नवंबर के दूसरे पखवाड़े में दीपावली तक रात के वक्त गुलाबी ठंड बनी रहेगी। ऐसे तय हाेती है मानसून की विदाई मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक नमी कम हाे, हवा का रुख दक्षिण पश्चिमी से उत्तर पूर्वी, उत्तर पश्चिमी हाे, प्रति चक्रवात बने तो मानसून की विदाई तय ..
                 

शाहपुरा थाने से महज 100 मीटर दूर पेट्स शॉप में चोरी, डीवीआर भी ले गए बदमाश

शाहपुरा थाने से महज 100 मीटर दूर स्थित पेट्स शॉप में घुसकर बदमाशों ने करीब डेढ़ लाख का माल चुरा लिया। बदमाश यहां से डॉग फूड, डॉग टॉयज, कॉलर बेल्ट आदि चुराकर ले गए। बदमाशों की करतूत शॉप में लगे कैमरे में कैद भी हुई, लेकिन लौटते वक्त वे डीवीआर भी उठा ले गए। पास के मकानों में लगे सीसीटीवी कैमरे में तीन बदमाश रात ढाई बजे दुकान में दाखिल होते नजर आ रहे हैं। एक अन्य कैमरे में उसी समय पर एक एसयूवी भी नजर आ रही है। वहीं, मिसरोद थाना क्षेत्र में एक व्यापारी के सूने घर से बदमाशों ने एक लाख का माल चुरा लिया। कर्मचारी दुकान खोलने के लिए पहुंचा तो टूटे थे ताले गोमती अपार्टमेंट, गुलमोहर निवासी 26 वर्षीय मयंक गाड़े की रघुनाथ प्लाजा मार्केट में पेट्स शॉप है। ये दुकान शाहपुरा थाने से 100 मीटर दूर है। मयंक ने बताया कि बुधवार सुबह करीब साढ़े दस बजे उनका कर्मचारी अमन दुकान खोलने पहुंचा तो शटर के दोनों ताले टूटे थे। कवर्ड कैंपस में व्यापारी के घर वारदात कवर्ड कैंपस में शुमार सागर रॉयल विला निवासी राजेश कुमार सिंह के सूने मकान से भी बदमाशों ने एक लाख का माल चुरा लिया। राजेश टूर एंड ट्रैवल्स का कारोबार करते हैं..
                 

मां के दरबार में 751 दीप और फूलों से शृंगार; पांचवें दिन लोगों ने मां दुर्गा के स्कंदमाता स्वरूप की पूजा की

नवरात्र में इस बार झांकी पंडाल छोटे हैं, पर उनमें विराजमान मां दुर्गा की कलात्मक प्रतिमाएं श्रद्धालुओं को भा रही हैं। पांचवें दिन लोगों ने मां दुर्गा के स्कंदमाता स्वरूप की पूजा की। कहीं शेरावाली अष्टभुजाधारी माता तो कहीं मां शीतला के दिव्य दर्शन हो रहे हैं। इस दौरान लोग सोशल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान रख रहे हैं। {फतेहगढ़ में 751 दीप प्रज्ज्वलित... फतेहगढ़ स्थित मंदिर में माता शीतला का शृंगार कर 751 दीपों से महाआरती की गई। पं. जितेंद्र शर्मा ने बताया कि माता के दरबार में हर वर्ष नवरात्र की पंचमी पर दीप जलाकर आगामी दीपावली पर्व के शुभ आगमन की सूचना दी जाती है। वहीं, शीतला माता मंदिर टीला जमालपुरा में भी कन्याओं का पूजन किया गया। घोड़ा नक्कास- दुर्गा उत्सव समिति की झांकी में मां अंबे बैठे हुए सिंह पर सवार हैं। झांकी में पुष्पों व पत्तियों से नियमित सजावट की जाती है। माता की प्रतिमा का भी रोज आकर्षक शृंगार किया जाता है। यहां प्रतिमा स्थापना का 55वां वर्ष है। समिति के अध्यक्ष अवनि शर्मा व सचिव ईशान अग्रवाल ने बताया कि अनुमानित खर्च डेढ़ से दो लाख रुपए तक होगा। दुर्गा चौक तलैया... यहां झांकी म..
                 

शिक्षक पात्रता परीक्षा वालों को 7 साल की बाध्यता खत्म; 50वीं जनरल बॉडी मीटिंग में यह फैसला लिया

नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजुकेशन (एनसीटीई) ने सेंट्रल टीचर्स एलिजिबिलिटी टेस्ट (सीटीईटी) और अन्य शिक्षक पात्रता परीक्षाओं (टीईटी) के संबंध में अहम फैसला लिया है। यह फैसला लाखों अभ्यर्थियों को बड़ी राहत देने वाला है। एनसीटीई ने अब सीटीईटी या देश के किसी भी अन्य स्टेट लेवल टीईटी से 7 साल की बाध्यता खत्म कर दी है। हाल में हुई एनसीटीई की 50वीं जनरल बॉडी मीटिंग में यह फैसला लिया गया है। पहले किसी भी टीईटी सर्टिफिकेट की वैधता 7 साल की होती थी यानी जब अभ्यर्थी ने वह परीक्षा पास की, तब से लेकर 7 साल तक ही वह किसी सरकारी स्कूल में शिक्षक की नौकरी के लिए योग्य होते थे। लेकिन, अब एनसीटीई ने फैसला लिया है कि सभी शिक्षक पात्रता परीक्षाओं के प्रमाण पत्र उम्र भर के लिए वैध होंगे यानी अब जो अभ्यर्थी किसी टीईटी में सफल होंगे, वह हमेशा सरकारी शिक्षक बनने के योग्य रहेंगे। एनसीटीई ने अभी इस संबंध में कोई औपचारिक नोटिस या सर्कुलर जारी नहीं किया है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Teacher eligibility exams end 7-year obligation; Took this decisio..
                 

फील्ड से सफाईकर्मी नदारद, 70% से भी कम आ रहे ; सड़क पर पड़ा रहता है कचरा

शहर में सड़क पर जगह-जगह कचरा नजर आने लगा है। सार्वजनिक स्थानों पर लगे लिटर बिन्स टूटे-फूटे और भरे रहते हैं। इसकी सबसे बड़ी वजह है सफाईकर्मियों का गायब रहना। सुबह 8 बजे तक शहर के कई इलाकों में सफाईकर्मी नजर नहीं आते। कोटरा सुल्तानाबाद, जवाहर चौक, रंगमहल चौराहा, एमपी नगर, शाहपुरा, गुलमोहर कॉलोनी, तलैया, कमला पार्क, मंगलवारा और आसपास के कई इलाकों में सफाईकर्मियों की उपस्थिति की जांच में यह बात सामने आई कि सुबह 8 बजे 70 फीसदी से भी कम कामगारों ने एप पर उपस्थिति दर्ज कराई थी। सफाई कार्य से जुड़े लोग स्वीकार करते हैं कि मिलीभगत से ऐसे कामगार सुबह उपस्थिति दर्ज कराकर निजी कार्य के लिए चले जाते हैं। शहर में करीब 6 हजार कामगार हैं, लेकिन फील्ड में आधे ही नजर आते हैं। अपर आयुक्त (स्वास्थ्य) शाश्वत मीणा के अनुसार इसके चलते जोन 5, 6 व 7 के एएचओ राजेश घेंघट, जगदीश टांक व योगेश दुबे का 3-3 दिन का वेतन काटने के आदेश दिए गए हैं। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today इंद्रविहार और पंचवटी कॉलोनी में कचरे का ढेर..
                 

देश भर में शहीद हुए 264 जवानों को याद किया

देशभर में एक साल के दौरान शहीद हुए 264 जवानों को शहीद दिवस पर याद कर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए गए। इन शहीदों में मप्र के 7 जवान भी शामिल हैं, जिन्होंने देश की सेवा करते हुए अपने प्राण न्याेछावर कर दिए। पुलिस लाइन में आयोजित हुए कार्यक्रम में कलेक्टर उमाशंकर भार्गव और पुलिस अधीक्षक मोनिका शुक्ला ने शहीद स्तंभ पर पुष्प चक्र चढ़ाकर इन शहीदों को याद किया। एसपी श्रीमती शुक्ला ने बताया कि 21 अक्टूबर को भारत वर्ष में शहीद दिवस मनाया जाता है। देश भर में 264 जवान शहीद हुए है, उनमें मप्र के 7 जवान भी शामिल है । Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today 264 soldiers killed across the country remembered..
                 

धन-बल की दम पर भाजपा ने प्रदेश की जनता पर यह चुनाव थोपा है

एक ओर भाजपा बड़ी सभाओं पर ध्यान केंद्रित कर रही है तो कांग्रेस की रणनीति है हर गांव तक अपनी पहुंच बनाना। खासकर उन इलाकों में जहां कांग्रेस पहले से मजबूत है। बुधवार को एक ओर कांग्रेस प्रत्याशी केएल अग्रवाल झागर इलाके में घूमे तो वहीं राघौगढ़ विधायक व पूर्व मंत्री जयवर्धन सिंह सेनवोट से लेकर हमीरपुर तक 13 गांव में गए। इस दौरान उन्होंने छोटी-छोटी सभाएं संबोधित कीं। उन्होंने कहा कि भाजपा और कांग्रेस के कुछ विधायकों ने जनमत के साथ धोखा किया है। जनता ऐसे लोगों को सबक सिखाने के मूड में है। सेनवोट, चक, रामनगर, टकोदिया, किशनपुर, भूमडाखेड़ी, चक पारसीखेड़ा, अजरोड़ा, कोहन, बनियानी, अनाजपुरा, पाठी, हमीरपुर आदि गांवों में पूर्व मंत्री ने दौरा किया। उनके साथ पूर्व मंत्री हुकुम सिंह कराड़ा भी थे। दोनों नेताओं ने सभाओं में कहा कि धन-बल की दम पर भाजपा और कांग्रेस के कुछ विधायकों ने प्रदेश की जनता पर यह चुनाव थोपा है। जनता ने अपना जनमत दे दिया था। इसके बावजूद ऐसे समय में जब देश एक गंभीरतम बीमारी से जूझ रहा है तब चुनाव कराए जा रहे हैं। कांग्रेस प्रत्याशी का खामोश प्रचार उधर कांग्रेस प्रत्याशी श्री अग्रवाल का प..
                 

रावण की नाभि में नजर आएगा कोरोना का सिंबल, नाभि पर तीर लगते ही कोरोना भी होगा खत्म

कोरोना महामारी के बीच इस बार मनाए जाने वाले दशहरा पर्व पर रावण के पुतले में भी कोरोना का असर दिखाई देगा। इस बार रावण की नाभि पर कोरोना का सिंबल होगा। नाभि में तीर लगने के साथ ही जिस तरह रावण का अंत होगा उसी के साथ ही कोरोना का खात्मा हो यही कामना की जाएगी। सीएमओ संजय श्रीवास्तव ने बताया कि बताया कि मेला ग्राउंड स्थित वाटर बॉक्स पर 51 फीट ऊंचे रावण के पुतले का निर्माण नगरपालिका द्वारा कराया जा रहा है। नरेश कुमार वंशकार व उनकी टीम द्वारा पुतला निर्माण किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि, कोरोना महामारी का खात्मा जल्द हो इस कामना के साथ रावण के पुतले में नाभि वाली जगह पर कोरोना का सिंबल होगा। रावण दहन के साथ ही कोरोना महामारी का भी अंत होगा। रावण के पुतले को साकार रुप दिया जा रहा है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Corona's symbol will be seen in Ravana's navel, corona will also be finished as soon as arrows hit the navel...
                 

शहीद दिवस पर 268 शहीदों को किया नमन, शहीद के परिजनों के छलके आंसू

शहीद दिवस पर बुधवार को पुलिस परेड ग्राउंड पर शाेक परेड और सलामी का आयोजन किया गया। इसके बाद शहीदों की याद में स्मारक पर पुष्प चक्र अर्पित कर उनके बलिदान को याद किया गया। वहीं जिले के शहीद पुलिसकर्मियों के परिजनों को शाल श्रीफल देकर सम्मानित किया गया। इस दौरान शहीद के परिजनों के आंसू झलक पड़े। हर साल 21 अक्टूबर को शहीद दिवस मनाया जाता है। इस मौके पर बुधवार सुबह 9 बजे पुलिस परेड ग्राउंड पर 268 शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई। इसके बाद बारी-बारी से शहीदों का नाम लिया गया। वहीं शहीद स्मारक पर पुष्पचक्र अर्पित शहीदों को नमन किया। इस दौरान राजगढ़ जिले के शहीद पुलिसकर्मी अमृतलाल भिलाला, रवि चौधरी, टींकू रावत के चित्र पर पुष्प अर्पित किए। इसके बाद उपस्थित परिजनों को शाल श्रीफल देकर सम्मानित किया गया। इस मौके पर एसपी प्रदीप शर्मा, कलेक्अर नीरज कुमार सिंह, एएसपी आरएस दंडोतिया, स्नेहा चंदेल, योगेंद्र मरावी सहित अन्य लोग उपस्थित थे। जहां शहीद अमृत भिलाला और रवि चौधरी के परिजनों के सम्मानित किया गया। वहीं आईटीबीपी के दीपक रावत के ब्यावरा स्थित घर जाकर एसपी श्री शर्मा ने परिजनों को सम्मानित किया। D..
                 

हाईकोर्ट ने कहा- आप किस हैसियत से कहते हैं कि पूछता है भारत; न्यूज चैनल समेत 9 को नोटिस

मध्य प्रदेश हाईकोर्ट की डिविजन बेंच ने रिपब्लिक न्यूज चैनल के एंकर अर्नब गोस्वामी को नोटिस जारी किया है। एक जनहित याचिका में कहा गया था कि गोस्वामी अपने निजी सवाल, एजेंडे चैनल के जरिए संबंधितों से पूछते हैं और कहते हैं कि सवाल पूछता है भारत या भारत पूछता है सवाल...। जबकि संविधान में इस तरह की कोई आजादी नहीं दी गई है कि देश की ओर से कोई व्यक्ति किसी संस्था, सेलिब्रिटी, नेता, मंत्री से इस तरह सवाल कर सके। जस्टिस एससी शर्मा, जस्टिस शैलेंद्र शुक्ला की बेंच के सामने वकील रोहन व्यास ने यह जनहित याचिका दायर की थी। पिछली सुनवाई में और भी लोगों को पक्षकार बनाने की बात कोर्ट में कही गई थी। मंगलवार को कोर्ट ने सुनवाई करते हुए गोस्वामी, सूचना प्रसारण मंत्रालय, न्यूज चैनल समेत 9 को नोटिस जारी किए हैं। अगली सुनवाई से पहले इन्हें अपना जवाब पेश करना होगा। याचिका में यह भी कहा गया है कि कई मुद्दों पर मीडिया ट्रायल भी किया जाता है। इससे भी मामले प्रभावित होते हैं। गोस्वामी गलत भाषा का भी इस्तेमाल करते हैं। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today न्..
                 

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा- मैंने मंत्री बिसाहूलाल का बयान नहीं सुना, अगर उन्होंने कुछ आपत्तिजनक कहा है तो मैं संसदीय कार्य मंत्री माफी मांगता हूं

मध्य प्रदेश में नेता शब्दों की मर्यादा भूलकर निजी हमले करने में लगे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर हमलावर होने वाले भाजपा नेता अब मंत्री बिसाहूलाल सिंह के आपत्तिजनक बयान से बैकफुट पर नजर आ रहे हैं। मंगलवार को गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि मुझे उनके बयान की जानकारी नहीं है। लेकिन संसदीय कार्य मंत्री होने के नाते मैं माफी मांगता हूं। मिश्रा ने यह भी कहा कि क्या कमलनाथ अपने बयान के लिए माफी मांगेंगे या दिग्विजय सिंह कमलनाथ के बयान के लिए माफी मांगेंगे? चुनाव में कांग्रेस के पास कोई मुद्दा नहीं है, इसलिए ऐसी बयानबाजी कर रहे हैं, ताकि कोई 15 महीनों के हिसाब ना मांग लें। यह कह गए थे बिसाहूलाल पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने रविवार को शिवराज कैबिनेट की मंत्री इमरती देवी को ‘आइटम’ कहा था। सीएम शिवराज और ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इस बयान के विरोध में सोमवार को मौन धरना दिया। हंगामा जारी था। इसी बीच, मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने कांग्रेस प्रत्याशी की पत्नी के लिए बेहद अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया। साहू ने अनूपपुर से कांग्रेस प्रत्याशी विश्वनाथ सिंह कुंजाम की पत्नी को लेकर टिप्पणी की थ..
                 

भोपाल के यात्रियों को पटना, अगरतला और रीवा के लिए विशेष ट्रेन की सुविधा; दीपावली के लिए खासतौर पर दो ट्रेन मैहर स्टेशन पर भी रुकेंगी

पश्चिम मध्य रेल भोपाल मंडल के हबीबगंज रेलवे स्टेशन से तीन विशेष गाड़ियां चलाई जाएंगी, जबकि इतनी ही गाड़ियां यहां तक आएंगी। भोपाल के यात्रियों के लिए विशेष रूप से दीपावली के लिए पूजा स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया गया है। इसमें हबीबगंज-पटना-हबीबगंज, हबीबगंज-अगरतला-हबीबगंज, हबीबगंज-रीवा-हबीबगंज, जबलपुर-पुणे-जबलपुर के मध्य यह ट्रेन चलेंगी। इससे एक दिन पहले छपरा-छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस-छपरा, झांसी-पुणे-झांसी, गोरखपुर-पुणे-गोरखपुर, मैसूर-वाराणसी-मैसूर, वास्कोडिगामा-पटना-वास्कोडिगामा एवं हुबली-वाराणसी-हुबली, हबीबगंज-रीवा-हबीबगंज के भोपाल स्टेशन और भोपाल मंडल में स्टाॅप दिए गए हैं। 1. गाड़ी संख्या : 02145 ट्रेन : हबीबगंज-पटना सुपरफास्ट दिन : 11, 13, 15, 17, 19, 21, एवं 23 नवंबर को प्रारंभिक स्टेशन : हबीबगंज स्टेशन से शाम 4.25 बजे 2. गाड़ी संख्या : 02146 ट्रेन : पटना- हबीबगंज सुपरफास्ट दिन : 12, 14, 16, 18, 20, 22 एवं 24 नवंबर प्रारंभिक स्टेशन : पटना स्टेशन से दोपहर 12.30 बजे स्टाॅप : होशंगाबाद, इटारसी, पिपरिया, जबलपुर, कटनी, सतना, मानिकपुर, प्रयागराज छिवकी, मिर्जापुर, पंडित दीन दयाल उपाध..
                 

मंत्री भदौरिया की सीट मेहगांव में सबसे ज्यादा 38 उम्मीदवार मैदान में; मंत्री राजपूत के खिलाफ सुरखी से 15 प्रत्याशी भाग्य आजमाएंगे

मध्य प्रदेश में 28 सीटों पर 3 नवंबर को होने वाले उपचुनाव की तस्वीर साफ हो गई है। सोमवार को नाम वापसी का आखिरी दिन था। प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर 355 प्रत्याशी मैदान में हैं। इसमें 35 ने सोमवार को अपना नॉमिनेशन वापस ले लिया है। सबसे ज्यादा सुरखी से 7 लोगों ने नाम वापस लिए हैं। निर्वाचन आयोग ने सोमवार को देर रात प्रत्याशियों के नामों की फाइनल लिस्ट जारी कर दी। अब सबसे ज्यादा 38 प्रत्याशी मेहगांव विधानसभा सीट पर हैं। यहां पर मुख्य मुकाबला कांग्रेस के हेमंत कटारे और बागी ओपीएस भदौरिया के बीच है। भदौरिया भाजपा सरकार में मंत्री हैं। यहां से दो प्रत्याशियों ने अपना नाम वापस लिया है। मंत्री गोविंद सिंह राजपूत की सीट सुरखी से उनके समेत कुल 15 उम्मीदवार भाग्य आजमा रहे हैं। यहां पर 7 प्रत्याशियों ने अपना वापस लिया है। वहीं, सबसे कम 3 प्रत्याशी बदनावर सीट किस्मत आजमा रहे हैं। यहां पर राजवर्धन सिंह दत्तीगांव भाजपा सरकार में मंत्री हैं और उनका मुकाबला कांग्रेस के कमल पटेल से है। सभी 28 सीटों पर मुख्य मुकाबला कांग्रेस और भाजपा के बीच है। बसपा ने सभी 28 सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारे हैं। इसमें ब..
                 

भोपाल के भेल दशहरा मैदान में नहीं होगा रावण दहन; समिति ने कहा- सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराना मुश्किल है

विजया दशमी 26 अक्टूबर को है। शहर में करीब 13 प्रमुख स्थानों पर रावण दहन होता है, लेकिन भेल (गोविंदपुरा) दशहरा मैदान में इस बार रावण दहन नहीं होगा। गोविंदपुरा दशहरा महोत्सव समिति का कहना है कि ऐसे हालात में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराना मुश्किल है। वहीं बिट्‌टन मार्केट में दशहरा उत्सव को लेकर बैठक में निर्णय होना बाकी है। इसके अलावा शहर में दशहरा उत्सव मनाया जाएगा, लेकिन छोटे रूप में। शहर में सबसे बड़ा रावण कलियासोत में बनाया जाएगा, जिसकी ऊंचाई 50 फीट रहेगी। इसके साथ मेघनाद और कुंभकर्ण के 30-30 फीट के पुतले बनाए जाएंगे। समितियाें का कहना है कि एक-दो अतिथियोंं को छोड़कर हमने किसी आमजन को आमंत्रित नहीं किया है, सिर्फ समितियों के सदस्य ही उत्सव में शामिल रहेंगे। इधर, बागमुगालिया, नयापुरा कोलार रोड, कोहेफिजा, गांधी नगर, विजय नगर लालघाटी, करोंद, अयोध्या बायपास व नेवरी दशहरा मैदान में भी सादगी के साथ दशहरा मनाया जाएगा। शहर में इन प्रमुख स्थानाें पर होता है रावण दहन... समितियों ने कहा- सावधानी के साथ निभाएंगे परंपरा बिट्टन मार्केट...अरेरा उत्सव समिति के अध्यक्ष राजेश व्यास ने बताया कि जल्द..
                 

शिवराज ने सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी; सवाल पूछा- आप इस निर्लज्ज नेता को अट्टहास करते और महिलाओं के सम्मान की धज्जियां उड़ाते देख सकेंगी?

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इमरती देवी पर अपमानजनक टिप्पणी को लेकर सोमवार को पूर्व सीएम कमलनाथ पर हमला बोला। यहां भोपाल में मिंटो हाॅल में गांधी प्रतिमा पर दो घंटे मौन धरना दिया गया। इसके बाद शिवराज ने सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी। उन्होंने सवाल पूछा- 'क्या निर्लज्ज नेता कमलनाथ को अट्टहास करते हुए महिलाओं के मान-सम्मान की धज्जियां उड़ाते हुए आप देख सकेंगी?' इस मामले में मंत्री इमरती देवी ने कहा कि मैं कमलनाथ को भाई मानती थीं, अब राक्षस के रूप में देख रही हूं। इन्हें प्रदेश में रहने का कोई हक नहीं है। शिवराज ने कहा कि 'आदरणीय कमलनाथजी महिलाओं का ऐसा अपमान भारत की माटी में, उसकी सोच में शामिल नहीं है। मैंने सोचा था कि आप अफसोस जताएंगे, खेद प्रकट करेंगे। लेकिन यहां पर इतनी बेशर्मी देखने को मिल रही है। मध्य प्रदेश की जनता इतनी भोली नहीं है, वो आपकी इस कुटिलता को पहचान न सके। मुझे लग रहा था कि वह माफी मांगेंगे, लेकिन निर्लज्जता की पराकाष्ठा को पार कर दिया।' शिवराज के अनशन पर कमलनाथ का तंज कमलनाथ मांधाता में कांग्रेस प्रत्याशी के पक्ष में सभा में मंत्री इमरती देवी को आयटम..
                 

राजधानी में दिनभर की तपिश से बने लोकल सिस्टम ने कराई तेज हवा के साथ बारिश; उमस से बेहाल लोगों को मिली राहत

सोमवार को शाम अचानक मौसम बदला और तेज हवाओं के साथ बारिश की फुहारें पड़ीं। इससे दिन भर से तपिश और उमस से बेहाल लोगों को थोड़ी राहत मिली। दिन भर की तपिश के बाद बने लोकल सिस्टम ने बारिश कराई। मानसून की विदाई वाली बारिश से मौसम में ठंडक घुल गई। अक्टूबर का सोमवार को 19वां दिन था, जब दिन का तापमान 34-35 डिग्री के आसपास रहा। ये सामान्य से 4-5 डिग्री ज्यादा रिकॉर्ड किया गया। हालांकि रविवार को भी इसी समय हवा के साथ छींटे पड़ने से रात के तापमान में गिरावट आई थी, लेकिन सोमवार को दिन में फिर से तेज धूप के साथ उमस रही। राजधानी में दिनभर की तपन के बाद बारिश ने पहुंचाई राहत। पिछले साल की तुलना में इस बार अक्टूबर ज्यादा तप रहा है। दिन का तापमान 2-3 डिग्री ज्यादा है। पिछले साल इन 19 दिनों में से एक भी दिन पारा 33 डिग्री तक नहीं पहुंचा था, जबकि इस बार यह 34-35 डिग्री के आसपास ही बना हुआ है। मौसम विभाग ने रविवार को बारिश होने का अनुमान जताया था और देर रात तक बारिश हुई। हालांकि ये बारिश उमस के कारण बने लोकल सिस्टम की वजह से हुई। हालांकि सोमवार को दिन का तापमान 34.3 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य से 2 डि..
                 

छात्र ऑनलाइन कक्षाएं ज्वाइन नहीं कर पाए, तब भी मानी जाएगी उपस्थिति

उच्च शिक्षा की ऑनलाइन कक्षाएं छात्रों के साथ ही प्रोफेसर्स के लिए भी परेशानी का सबब बन गई हैं। ऑडियो और वीडियो बीच-बीच में ब्रेक होने के साथ ही छात्रों की कम उपस्थिति भी प्रोफेसर्स के लिए दिक्कत खड़ी कर रही है। इधर, पूर्व में छात्रों का ऑनलाइन क्लास में शामिल होने की अनिवार्यता को समाप्त कर दिया गया है। उच्च शिक्षा विभाग के विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी डॉ. धीरेंद्र शुक्ल के मुताबिक ऐसा इसलिए किया गया था कि छात्र कक्षाओं में शामिल हों, लेकिन अगर किसी दिक्कत की वजह से शामिल नहीं भी होते हैं ताे उपस्थिति और परिणाम पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा। विभाग ने स्नातक और स्नातकोत्तर कक्षाओं के छात्रों के लिए कोरेाना के चलते ऑनलाइन कक्षाएं शुरू की हैं। लेकिन, अभी एडमिशन प्रक्रिया चल रही है इस वजह से पर्याप्त संख्या में छात्र भी कक्षाओं में हिस्सा नहीं ले पा रहे हैं। विभाग को मिले फीडबैक में यह तथ्य सामने आया है कि कक्षाओं के दौरान ऑडियो-वीडियो बहुत ज्यादा ब्रेक हाेता है। कई बार दूर-दराज के छात्र नेटवर्क की वजह से कक्षाओं में शामिल नहीं होते। 15 दिन में तीन फाॅर्मेट से प्रोफेसर्स हो रहे परेशान विभाग ने स..
                 

नाराज व्यापारी सड़क पर उतरे, बोले- पहले हमारी दुकानें बनाओ फिर यहां डामरीकरण करना

जवाहर चौक के पास बुलेवर्ड स्ट्रीट पर डामरीकरण की शुरुआत होने पर विस्थापित दुकानदार बिफर गए। जिस जगह डामरीकरण शुरू किया गया था वहां से 200 दुकानदार हटाए गए थे, लेकिन दस महीने बाद भी उन्हें नई जगह पर दुकानें नहीं दी जा सकी हैं। डामरीकरण की सूचना मिलते ही जवाहर चौक व्यापारी संघ के अध्यक्ष राकेश गुप्ता, दशहरा मैदान व्यापारी संघ के अध्यक्ष त्रिभुवन मिश्रा, पूर्व विधायक सुरेंद्रनाथ सिंह मौके पर पहुंचे। उन्होंने स्मार्ट सिटी कंपनी के चीफ इंजीनियर ओपी भारद्वाज से कहा कि यहां डामरीकरण शुरू कर दिया, हमारी दुकानें कब बनेंगी? पहले दुकानों का निर्माण शुरू कराइए, फिर डामरीकरण होगा। व्यापारियों के विरोध को देखते हुए दुकानों के लिए तय स्थान पर लेवलिंग शुरू की गई। अभी तय नहीं हुई अलॉटमेंट की पॉलिसी स्मार्ट सिटी कंपनी ने जनवरी में जवाहर चौक से दुकानें तो हटा दीं लेकिन अलॉटमेंट की पॉलिसी तय नहीं हुई है। इस वजह से कंपनी इनको अभी दुकान आवंटित नहीं कर सकती। पॉलिसी तय नहीं होने की वजह से ही कंपनी ने एमपी नगर और न्यू मार्केट मल्टीलेवल पार्किंग की दुकानेें निगम को लौटाई हैं। कंपनी के एक्जीक्युटिव डायरेक्टर ए..
                 

दुर्गा प्रतिमा में कहीं शिव के दर्शन तो कहीं झांकी में कोरोना का वध

नवरात्र के तीसरे दिन भी देवी मंदिरों व पंडालों में दर्शन के लिए श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। यहां कार्यकर्ता सोशल डिस्टेंसिंग की अपील करते नजर आ रहे थे। पीपल चौक, इतवारा व गीतांजलि काॅम्प्लेक्स में कलात्मक देवी प्रतिमा विराजीं हैं। गीतांजलि काॅम्प्लेक्स... सार्वजनिक नवदुर्गा उत्सव समिति की ओर से एक निजी अस्पताल के पास झांकी में माता दुर्गा की अनूठी प्रतिमा स्थापना की गई है। इसमें मां दुर्गा को राक्षस रूपी कोरोना वायरस का वध करते दिखाया गया है। झांकी स्थल पर कोरोना से बचाव के संदेश लिए पोस्टर बैनर भी लगाए गए हैं। झांकी पर अनुमानित खर्च तीन लाख रुपए। इतवारा... ट्रांसपोर्ट एरिया की झांकी में मां दुर्गा की कलात्मक प्रतिमा में शिव की झलक दिखाई दे रही है। झांकी मंदिराकार बनाकर घंटियां लगाई गई हैं। प्रतिमा बंगाली कलाशैली में बनाई है। फूल-पत्तियों से सजाया माता का दरबार पीपल चौक... समिति द्वारा झांकी में साढ़े पांच फीट ऊंची मां दुर्गा की अष्टभुजाधारी प्रतिमा विराजित की गई है, जिनका शृंगार भी फूलों से होता है। पुष्पों से बने गहने पहनाए जाते हैं। सजावट भी फूल-पत्तियों से की गई है। अनुमानित खर्च..
                 

पढ़ाई के बहाने बच्चे मोबाइल पर देख रहे एडल्ट कंटेंट; चाइल्ड लाइन, माशिमं और उमंग हेल्पलाइन पर फोन करके माता-पिता कर रहे शिकायत, पूछ रहे बचाव के उपाय

कोरोना काल में अपने बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाई के लिए मोबाइल फोन देना कुछ माता-पिता के लिए परेशानी का सबब बन गया है। कई बच्चे पैरेंट से पढ़ाई करने के बहाने मोबाइल लेकर इंटरनेट पर न सिर्फ एडल्ट कंटेंट देख रहे हैं, बल्कि ऑनलाइन गेम खेलकर बुलिंग के शिकार भी हो रहे हैं। दरअसल, कई पैरेंट्स ने फोन करके चाइल्ड लाइन, माशिमं हेल्पलाइन व उमंग हेल्पलाइन में बच्चों द्वारा मोबाइल पर गलत साइट देखने की शिकायत की है। साथ ही पूछा है कि बच्चों को कैसे रोकें। कुछ पैरेंट ने यह शिकायत भी की है कि उनके बच्चे अनजान लोगों के संपर्क में आ गए हैं, जो उनका गलत फायदा उठा रहे हैं। वे पुलिस के चक्कर में नहीं पड़ना चाहते। चाइल्ड लाइन में ऐसे 16 मामलों में काउंसलिंग चल रही है। वहीं यहां सायबर बुलिंग सहित एडल्ट कंटेंट को लेकर 226 शिकायत पहुंची हैं, जबकि उमंग व माशिमं की हेल्पलाइन पर औसतन 4 केस रोज ऐसे पहुंच रहे हैं। बेटा देख रहा था पोर्न साइट अरेरा कॉलानी निवासी एक महिला ने अपने 13 वर्षीय बेटे को पढ़ाई के लिए मोबाइल दिया, लेकिन बच्चा ऑनलाइन गेम खेलने लगा। इस पर उसे डांटा भी। एक दिन क्लास के बहाने उसने हॉटस्पॉट चालू कराया। वह ..
                 

कॉलोनियों में तीन-तीन दिन नहीं उठ रहा कचरा; डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन के लिए फिर रिक्शा युग की वापसी

राजधानी में डोर टू डोर कचरा कलेक्शन में साइकिल रिक्शा युग की वापसी हो गई है। त्रिलंगा, बावड़ियाकलां और कोलार रोड की कुछ काॅलोनियों में इन दिनों मैजिक गाड़ियों के बजाय रिक्शा से कचरा कलेक्शन हो रहा है। इनकी संख्या करीब 70 है। अब ऐसे में शहर में सफाई को लेकर नगर निगम की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े हो रहे हैं। क्योंकि ये रिक्शे भी दो से तीन दिन में कचरा कलेक्शन के लिए जा पा रहे हैं। एक साइकिल रिक्शा दिनभर में 350 से 400 घरों से कचरा कलेक्शन कर पाता है, जबकि मैजिक इससे दोगुने घरों का कचरा ले जा सकता है। इसके अलावा रिक्शे में सेग्रीगेशन के लिए तीसरा कंटेनर नहीं है। स्वच्छ सर्वे के नए मापदण्डों के अनुसार तो चार कंटेनर की जरूरत है। दरअसल, 2011 में भेल के कुछ वार्डों से डोर टू डोर कचरा कलेक्शन की शुरुआत हुई थी। उस समय 950 साइकिल रिक्शा थे। 2016 में नगर निगम ने साइकिल रिक्शा के स्थान पर मैजिक वाहनों से कचरा कलेक्शन शुरू किया। अब फिर निगम पुराने ढर्रे की ओर चल पड़ा है। त्रिलंगा कॉलोनी वेलफेयर सोसायटी के अध्यक्ष एमके विशंभर बताते हैं कि कॉलोनी में सप्ताह में तीन-तीन दिन तक कचरा नहीं उठता। जगह-जगह कचरे..
                 

11वीं-12वीं में एग्रीकल्चर बिजनेस मैनेजमेंट, पाेल्ट्री- डेयरी फार्मिंग ट्रेड लेकर नहीं पढ़ सकेंगे विद्यार्थी

माशिमं से जुड़े स्कूलाें में व्यावसायिक पाठ्यक्रम के तहत अगले दाे सत्राें में 11वीं-12वीं के विद्यार्थी एग्रीकल्चर बिजनेस मैनेजमेंट, पाेल्ट्री फार्मिंग, ऑफिस मैनेजमेंट, डेयरी फार्मिंग जैसे ट्रेड लेकर पढ़ाई नहीं कर सकेंगे। इसकी वजह यह है कि मंडल ने ऐसे 21 ट्रेड बंद करने का निर्णय लिया है। इस बारे में मंडल के सचिव द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि सत्र 2020-21 से कक्षा 11वीं एवं 2021-22 से कक्षा 12वीं में इन ट्रेड्स की परीक्षाओं का आयाेजन बंद किया जाता है। छात्रों की कमी से ये ट्रेड किए बंद एगग्रीकल्चर बिजनेस मैनेजमेंट, पाेल्ट्री फार्मिंग, ऑफिस मैनेजमेंट, डेयरी फार्मिंग, फाेटाेग्राफी, वेल्डिंग टेक्नाेलाॅजी एंड फेब्रिकेशन, हाॅस्पिटल हाउस कीपिंग, लेदर टेक्नाेलाॅजी, टेक्सटाइल डिजाइनिंग, वुड गुड्स मेकिंग एंड कार्विंग, एक्स रे टेक्नीशियन, फैशन डिजाइनिंग, मार्केटिंग- सेल्समैनशिप, काे ऑपरेटिव मैनेजमेंट, प्रिंटिंग- वाइंडिंग एंड पेपी कन्वर्टिंग, फ्रूट्स एवं वेजीटेबल प्रिजर्वेशन, बेकरी एवं कन्फेक्शनरी। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today ..
                 

भाजपा की निगाहें ग्रामीण मतदाताओं पर, कांग्रेस शहरी वोटर को रिझा रही

प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर हो रहे सरकार बचाने और सरकार बनाने वाले उपचुनाव में भाजपा और कांग्रेस दोनों ही प्रमुख पार्टियां अलग-अलग रणनीति बनाकर काम कर रही हैं। भाजपा को विश्वास है कि शहरी मतदाता का झुकाव उसकी ओर रहता है, इसलिए पार्टी की निगाहें ग्रामीण मतदाताओं पर हैं। इसी हिसाब से बड़े नेताओं की सभाएं तय की जा रही हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह ताेमर ने अब तक ज्यादातर सभाएं या बैठकें विधानसभा क्षेत्रों के अंतर्गत आने वाले ग्रामीण अंचल में ली हैं। इसके विपरीत कांग्रेस की नजर शहरी और नगरीय वोटर पर है। पार्टी का मानना है कि ग्रामीण अंचल से उसे अच्छा खासा वोट मिलता है लेकिन शहर में वह पीछे रह जाती है। यही कारण है कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की ज्यादातर सभाएं विधानसभा मुख्यालयों पर आयोजित की जा रही हैं। रविवार को भी वे गोहद और डबरा में सभाएं लेंगे। यह दोनों ही सभाएं नगरीय इलाकों में आयोजित की जा रही हैं। जहां पहले सभाएं हो चुकी, उन्हीं क्षेत्रों में फिर से जा रहे ये नेता भांडेर विस क्षेत्र| इस विधानसभा क्षेत्र में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने उनाव और साल..
                 

मिट्‌टी के ढेर में दबी मिली 47 साल के ड्राइवर की लाश; निर्माणाधीन कमिश्नर कार्यालय में डंपर से मिट्‌टी डालते वक्त दिखा शव

होशंगाबाद के निर्माणाधीन कमिश्नर कार्यालय के पास मिट्टी के ढेर में एक युवक की लाश दबी मिली है। रविवार को यहां डंपर से मिट्टी डालते समय शव दिखाई दिया। मरने वाले की पहचान कपड़ों के आधार पर 47 वर्षीय दीप सिंह भल्लावी के रूप में हुई है। वह हरदा का रहने वाला था। दीप करीब 10 दिन से गायब था। पोस्टमार्टम के लिए शव को भोपाल भेजा जाएगा। व्यक्ति की पहचान उसकी बेटी ने कपड़ों से की। होशंगाबाद की कोतवाली पुलिस के अनुसार, जनपद पंचायत के पास कमिश्नर भवन का निर्माण कार्य चल रहा है। यहां पर डंपर से मिट्टी डाली जा रही है। सुबह करीब 5 बजे मिट्टी डालते समय ढेर में एक लाश नजर आई, जिसके बाद पुलिस को मौके पर बुलाया गया। पीएसआई रवि यादव के अनुसार शख्स हरदा का रहने वाला है। लड़की पूजा ने उसकी पहचान 47 साल के दीप सिंह उर्फ दीपक पिता रंगलाल के रूप में की। बेटी ने बताया कि पिता ड्राइवर थे और होशंगाबाद में ग्वाल टोली में अकेले रहते थे। परिवार हरदा में ही रहता है। वह यहां कैसे पहुंचे, अभी इसका पता नहीं चल पाया है। शव की हालत देखकर लगता है कि घटना को करीब 10 दिन हो गए हैं। मौत के कारणों का पता लगाने के लिए शव को भोपाल ..
                 

ट्रेनों की रफ्तार 110 से बढ़कर होगी 130 किमी/ घंटे; जन शताब्दी, हमसफर और भोपाल एक्सप्रेस में लगेंगे 20 नए एलएचबी कोच

जन शताब्दी, हमसफर व भोपाल एक्सप्रेस को जर्मनी की लिंक हॉफमैन बोश (एलएचबी) टेक्नोलॉजी के कोच के रैक से चलाया जाएगा। इससे ट्रेनों की औसत स्पीड 110 से बढ़कर 130 किमी प्रति घंटे हो जाएगी। हबीबगंज में खड़े किए 73 एसी चेयर कार में कुल सीटें78 नए एलएचबी एसी चेयरकार में सीट अभी ...106 नॉन एसी चेयरकार में सीटें, नए नॉन एसी चेयर कार में सीट संख्या 102 खासियत- यह कोच दुर्घटना के समय एक-दूसरे पर नहीं चढ़ते, जिससे यात्रियों को बहुत कम नुकसान होता है। इस वजह से यह आईसीएफ के मुकाबले सुरक्षित माने जाते हैं। रविवार को भोपाल एक्सप्रेस के लिए 20 एलएचबी कोच मिल गए हैं। कपूरथला फैक्ट्री से यह कोच भेजे गए हैं। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today The speed of trains will increase from 110 to 130 km / h; 20 new LHB coaches to be installed in Jan Shatabdi, Humsafar and Bhopal Express..
                 

दतिया में पीतांबरा पीठ में माता के दर्शन के लिए 3 घंटे का समय बढ़ाया गया; शाम को समय पर ही बंद होंगे पट

दतिया के पीतांबरा पीठ में माता के दर्शनों का समय 3 घंटे बढ़ा दिया गया है। यह सुबह साढ़े 8 बजे की जगह अब सुबह साढ़े 5 बजे ही खुल जाएंगे। हालांकि पट अब भी शाम साढ़े 7 बजे ही बंद होंगे। इसके आदेश जारी हो गए हैं। इधर, रतनगढ़ माता मंदिर को भी खोलने का आदेश सेंवढ़ा एसडीएम ने ही जारी कर दिया था, लेकिन सुबह यह देर से ही खुला। हालांकि पूरे दिन सैकड़ों दर्शनार्थियों ने दर्शन लाभ लिया। पीतांबरा पीठ अब भी शाम को पहले की तरह साढ़े 7 बजे बंद हो जाएगा। इससे पहले शनिवार की वजह से पीतांबरा पीठ पर देश के कोने-कोने से हजारों श्रद्धालु 6 बजे ही मंदिर पर दर्शन करने पहुंच गए, लेकिन माता का दरवाजे साढ़े 8 बजे खुला और श्रद्धालुओं को ढाई घंटे तक मैन गेट पर ही लाइन में लगकर इंतजार करना पड़ा। जिले के बांकी देवी मंदिरों के ताले नहीं खुले। विजय काली बड़ी माता मंदिर पर नवरात्र के पहले दिन ही 10 हजार से अधिक महिलाओं ने मंदिर के बाहर से ही जल चढ़ाया। अधिकारी नहीं ले पा रहे थे निर्णय कोविड-19 की वजह से मंदिरों को बंद किया गया था, लेकिन भारत सरकार के अनलॉक-5 में सभी मंदिरों को खोलने की अनुमति दे दी गई। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौह..
                 

एसिड पीने से भोपाल के अस्पताल में 3 महीने इलाज चला, कई ऑपरेशन भी हुए, मगर 17 साल की लड़की की जान नहीं बच सकी

भोपाल में 17 साल की एक लड़की ने एसिड पीकर खुदकुशी कर ली। उसका करीब 3 महीने तक अस्पताल में इलाज चला। इस दौरान उसके पेट के कई ऑपरेशन भी हुए, लेकिन डॉक्टर उसकी जान नहीं बचा पाए। बताया जाता है कि उसके पिता की एक साल पहले ही मौत हुई है। इसके कारण वह मानसिक तनाव में थी। प्रारंभिक तौर पर पुलिस इसे ही खुदकुशी की एक वजह मान रही है। हालांकि कोई सुसाइड नोट नहीं मिलने के कारण पुलिस साफतौर पर खुदकुशी के कारण नहीं बता पा रही है। मामले की जांच कर रहे कोलार थाने के एसआई रमन शर्मा ने बताया कि ग्राम सुहागपुर कोलार रोड निवासी विधि मीणा पिता ओमप्रकाश मीणा 17 साल की थी। उसने 20 जुलाई 2020 में घर पर एसिड पी लिया था। उसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती किया गया था। पांच दिन बाद डॉक्टरों ने उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी। परिजन उसे घर ले आए। इसी दौरान उसकी दोबारा से तबीयत खराब हुई। परिजन ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया। उसके पेट का ऑपरेशन हुआ। उसके बाद वह अस्पताल में ही रही और करीब 3 बार उसके ऑपरेशन किए गए। शनिवार को उसकी एक बार फिर अचानक तबीयत बिगड़ी और उसने दम तोड़ दिया। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने पोस्टमार्टम क..
                 

राहगीरों की सुविधा के लिए सड़क किनारे लगे लिटर बिन्स बने गंदगी के नए स्पॉट

घर और बाजार से डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन शुरू होने व शहर को डस्टबिन फ्री करने के बाद बाजारों और मुख्य मार्गों पर लगाए गए लिटर बिन्स गंदगी के नए स्पॉट बन गए हैं। ज्यादातर लिटर बिन्स के ढक्कन टूटे हुए हैं। कई जगहों पर तो नीले और हरे में से एक गायब ही है। आवारा जानवर इनका कचरा बिखेर देते हैं। कई जगहों पर तो जानवरों ने इन बिन को तोड़ भी दिया है। शहर में लगे लिटर बिन्स के रखरखाव का कोई सिस्टम ही नहीं है, यानी बिन का ढक्कन या स्टैंड टूटा है तो उसे कौन ठीक कराएगा? यदि कोई एक बिन पूरी तरह खराब हो गई है तो उसे कौन बदलवाएगा? नगर निगम का सफाई अमला भी आते-जाते इन लिटर बिन्स की स्थिति को देख कर अपने वरिष्ठ अफसरों को जानकारी नहीं देता, क्योंकि सीधे तौर पर यह किसी की जिम्मेदारी नहीं है। हालात ऐसे कि...कई जगह बिन तो कई जगह पर ढक्कन हो गए गायब सुरक्षा के इंतजाम ही नहीं शहर में बाजारों और मुख्य मार्गों पर कुल 750 लिटर बिन्स लगे हुए हैं। देखरेख के अभाव में इनमें से ज्यादातर खराब हो गईं हैं। इन लीटर बिन को जानवरों से बचाने के लिए या सुरक्षा के लिए कोई इंतजाम नहीं किया गया है। सेग्रीेगेशन भी नहीं... कहने के ..
                 

शो बंद रखते हुए भी फाउंटेन चलाते, तो रोज पानी में घुलती 20 लाख लीटर ऑक्सीजन

बड़ा तालाब लबालब है। लेकिन इसमें लगा फ्लोटिंग फाउंटेन बंद है। भारत के सबसे बड़े इस फाउंटेन को लगाने से पहले दावा था कि इससे रोज 20 लाख लीटर ऑक्सीजन पानी में घुलेगी, जिससे पानी शुद्ध होगा। लेकिन लॉकडाउन के दो महीने पहले बंद हुआ यह फाउंटेन न तो आज तक चालू हो पाया है और इसके चालू होने की संभावना नजर आ रही है। पिछले दिसंबर में तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इसका उद्घाटन किया था। इसकी वाटर स्क्रीन पर महात्मा गांधी के जीवन पर फिल्म दिखाई जा रही थी। जनवरी के अंतिम सप्ताह तक यह सिलसिला चला। नगर निगम कमिश्नर वीएस चौधरी कोलसानी का कहना है कि हमारी प्राथमिकता शहर की बेसिक जरूरतें पूरी करना है। इसके बाद अन्य विषयों पर ध्यान देंगे। पानी की शुद्धता के लिए ऑक्सीजन का घुलना जरूरी तालाब के पानी को शुद्ध रखने के लिए लगाए गए इस फाउंटेन को चालू रख कर शो बंद रखा जा सकता था। फाउंटेन प्रोजेक्ट की लॉन्चिंग के समय नगर निगम ने दावा किया था कि फाउंटेन से 70 हजार वर्गफीट एरिया में ऑक्सीजन घुलने से पानी में घुलने वाली ऑक्सीजन का लेवल 7 से बढ़कर 12 तक हो जाएगा। बड़ा तालाब एक बांध का रुका हुआ पानी है। इसके पानी की शुद्ध..
                 

नियमों की गलत व्याख्या कर प्रोफेसर्स को किया ज्यादा भुगतान, शासन को 300 करोड़ का नुकसान

उच्च शिक्षा विभाग में कॉलेजों के प्रोफेसर्स को दिए जा रहे पांचवें यूजीसी वेतनमान के प्लेसमेंट (स्थानन) में बड़ी अनियमितता सामने आई है। मप्र शासन ने 1999 में 5वां यूजीसी वेतनमान लागू किया। इसमें 1996 की स्कीम में पात्र फैकल्टी को सीनियर स्केल में 5 वर्ष की सर्विस की अनिवार्यता की शर्त में छूट देकर नियमविरुद्ध तरीके से लाखों का फायदा वर्तमान में पहुंचाया जा रहा है। इसमें विभागीय मंत्रालय व संचालनालय में ओएसडी बन कार्य कर रही फैकल्टी ने अपने फायदे के लिए प्रशासनिक अधिकारियों के साथ मिल नियमों को तोड़ मरोड़ कर फायदा लिया । साथ ही अपने जैसे करीब 300 प्रोफेसर्स को भी गलत लाभ पहुंचाया। इससे राज्य सरकार को 300 करोड़ से अधिक का नुकसान इस कोराना के संक्रमण काल में हुआ है। इससे एक प्रोफेसर्स को 8 से 10 लाख रुपए एरियर मिल रहा है। साथ ही 10 से 15 हजार प्रतिमाह अतिरिक्त फायदा मिल रहा है। खास बात यह है कि इसके लिए यूजीसी 7वें वेतानमान के लिए वित्त विभाग द्वारा दी गई सहमति का नियमविरूद्ध तरीके से वेतन प्लेसमेंट आदेशों में इस्तेमाल किया जा रहा है। ओएसडी स्तर के अफसरों ने फैकल्टी को दिया लाभ 1 यूजीसी ने पां..
                 

इंटरनेशनल बास्केटबाॅल खिलाड़ी रहे कोरोना मरीज की 3 दिन में 3 अस्पतालाें से 3 रिपाेर्ट... एक पॉजिटिव, दो निगेटिव

(रोहित श्रीवास्तव) खजूरीकलां में रहने वाले कोरोना संक्रमित 52 वर्षीय मरीज की तीन दिन में कोरोना की तीन जांच रिपोर्ट आई हैं। तीनों बार आरटीपीसीआर टेस्ट हुए। इनमें दो रिपोर्ट निगेटिव, जबकि एक पॉजिटिव है। डॉक्टर अब असमंजस में हैं। वे मरीज की ट्रीटमेंट लाइन तय नहीं कर पा रहे हैं। शुक्रवार को मरीज की जांच रिपोर्ट कोविड निगेटिव आई थी। इसके बाद परिजनों की सहमति से पॉजिटिव रिपोर्ट देने वाले अस्पताल के डॉक्टरों ने शनिवार को नया सैंपल जांच के लिए भेजा। मरीज की पहली कोविड रिपोर्ट 1 अक्टूबर को फीवर क्लीनिक से पाॅजिटिव आई थी। जेके हाॅस्पिटल में बेड से गिरने से लगी सिर में चाेट मरीज के परिजनाें ने बताया कि जेके हाॅस्पिटल में भर्ती रहने के दाैरान एक दिन उदय पलंग से बेहाेश हाेकर फर्श पर गिर गए थे। इससे उनके सिर में चाेट लगी थी। इसके बाद अस्पताल के डाॅक्टर्स ने मरीज काे आईसीयू में शिफ्ट किया था। साथ ही 14 अक्टूबर काे एलएन मेडिकल काॅलेज की लैब से काेराेना जांच रिपाेर्ट काेविड निगेटिव आने के बाद 15 अक्टूबर काे डिस्चार्ज कर दिया था। लेकिन, तब सिर में लगी चाेट के कारण उदय काे परिजनाें काे पहचानने में परेशा..
                 

जयंती पर महाराजा अग्रसेन के आदर्शों पर चलने का संकल्प

महाराजा अग्रसेन की जयंती शनिवार को विभिन्न स्थानों पर मनाई गई। मुख्य आयोजन कमला पार्क स्थित अग्रसेन वाटिका में हुआ। यहां अग्रवाल समाज लोगों ने महाराजा अग्रसेन की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। सभी ने अग्रसेन महाराज के आदर्शों को आत्मसात करने का संकल्प लिया। कई अन्य स्थानों पर भी जयंती कार्यक्रम हुए। कई संगठनों ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों के ऑनलाइन आयोजन किए। सिरोंजिया अग्रवाल पंचायत कमेटी व अग्रवाल राईजिंग क्लब के तत्वावधान में कमला पार्क स्थित अग्रसेन वाटिका में जयंती कार्यक्रम आयोजित किया गया। मारवाड़ी अग्रवाल समाज द्वारा समाज के भूखंड पर जयंती मनाई गई। इधर, लालघाटी अग्रवाल समाज द्वारा विजयनगर स्थित मृत्युंजय महादेव मंदिर में जयंती पर कार्यक्रम आयाेजित किए गए। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Resolve to follow Maharaja Agrasen's ideals on Jayanti..
                 

नवरात्रि के पहले दिन सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर भक्तों ने पूजा-अर्चना की; मैहर में करीब 40 हजार भक्त पहुंचे

कोरोना महामारी के बीच शनिवार से प्रारंभ हुईं नवरात्रि के पहले ही दिन मैहर में भक्तों की भीड़ लग गई। शाम तक 40 हजार भक्तों ने दर्शन किए, हालांकि पिछले साल यह भीड़ एक लाख से कहीं अधिक थी। प्रदेश के आगर मालवा जिले के नलखेड़ा स्थित विश्व प्रसिद्ध पीतांबरा सिद्ध पीठ मां बगलामुखी मंदिर से लेकर देवास में देवी के 52 शक्तिपीठ में से मां चामुंडा, तुलजा दरबार और भोपाल से करीब 70 किमी दूर स्थित सलकनपुर दरबार में भक्त मां के दर्शन करने पहुंचे। मैहर में अगले एक-दो दिनों अच्छी खासी भीड़ होने की संभावना है। यहां पंचमी एवं अष्टमी को विशेष दिन माना जाता है। श्रद्धालुओं को सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लाउड स्पीकर एवं सीसीटीवी कैमरों से निगरानी कर मॉनिटरिंग की जा रही है। इसके काफी संख्या में पुलिस बल भी तैनात किये गए हैं, ताकि कोविड गाइडलाइन का पालन कराया जा सके। भोपाल से करीब 70 किमी दूर स्थित सलकनपुर दरबार में पहले दिन करीब 5 हजार भक्त दर्शन करने पहुंचे। हालांकि पिछले साल की तुलना में यह काफी कम रही। सलकनपुर माता के दरबार में इस बार सिर्फ 5 हजार भक्त ही पहुंचे। शक्तिपीठ नगरी उज्जैन शक्तिपीठ नगरी उज्जैन के..
                 

राहुल और प्रियंका के फोटो के साथ दोबारा वचन पत्र जारी करना पड़ा, कमलनाथ बोले- अब जनता शिवराज को तमाचा मारेगी; शिवराज का तंज- लिखा और भूल गए

मध्य प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर उपचुनावों को लेकर कांग्रेस ने शनिवार को राहुल और प्रियंका गांधी वाड्रा​​​ की फोटो के साथ दोबारा अपने वचन पत्र का विमोचन किया। हालांकि, अब इस वचन पत्र से पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह गायब हैं। शनिवार को पीसीसी चीफ और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने सरकारी आवास पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी, प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी और पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा की उपस्थिति में इसे जारी किया। इसको लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने तंज कसा है। उन्होंने कहा कि पुराने वचन पत्र के न तो वचन निभाए और न ही वादे पूरे किए। लिखा और भूल गए। लिखा और कहा भी था कि 10 दिन में पूरा कर देंगे। वो पूरे हुए नहीं। नए करने कहा गया। वादे हैं, वादों का क्या? और दूसरा वो जानते हैं कि करना तो कुछ है नहीं। केवल लिखना है। जनता इनके वादे और वचन इनकी असलियत सब जानती हैं। भाजपा नेता और गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी तंज कसा है। उन्होंने कहा कि यह कमलनाथ का वचन नहीं, कपट पत्र है। जनता सब जानती है। पहले जारी वचनपत्र में कमलनाथ के..
                 

शिवराज ने जिन्हें भ्रष्ट कहा, इस उपचुनाव में वही उनके उम्मीदवार; अब उन्हें डर है कि कहीं पार्टी कार्यकर्ता इन दलबदलुओं को लेकर कोई राय न बना लें

दिग्विजय सिंह ने कांग्रेस से भाजपा में गए पूर्व विधायकों पर तंज कसा है। उन्होंने कहा- उपचुनाव में ऐसे भी उम्मीदवार बन गए जो कांग्रेस से भाजपा में शामिल हो गए। कभी भाजपा ने ही इनके खिलाफ बैनर-पोस्टर लगाए थे। इन्हें बेईमान और भ्रष्ट तक कहा था। अब इन उम्मीदवारों और खुद शिवराज को यह डर है कि कहीं भाजपा कार्यकर्ता इन दलबदलुओं को लेकर कोई राय न बना लें। दिग्विजय ने कहा कि यही वजह है कि भाजपा ने चुनाव का जिम्मा सरकारी अधिकारी-कर्मचारी और पुलिस को सौंप दिया है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र के इतिहास में पहली बार ऐसे उपचुनाव हो रहे हैं, जिससे मौजूदा सरकार रहेगी या नहीं रहेगी? यह तय होगा। खुद शिवराज सिंह चौहान कह चुके हैं कि वे अभी टेंपरेरी मुख्यमंत्री हैं। चुनाव आयोग में शिकायत की सुमावली क्षेत्र में कांग्रेस के कार्यकर्ता के घर में घुसकर तोड़फोड़ की गई थी। इसका ऑडियो क्लिप भी सामने आया है। इसमें उम्मीदवार गालियां दे रहा है। इसी तरह से कुछ और लोग भाजपा के पक्ष में वोट डालने को कह रहे है। इसी तरह की अन्य शिकायतें दिग्विजय ने चुनाव आयोग से की हैं। दिग्विजय ने कहा- हमें उम्मीद है कि चुनाव आयोग इस पर ..
                 

28 सीटों के लिए जारी वचनपत्र में राहुल गांधी की तस्वीर न होने पर सियासत; कांग्रेस बैकफुट पर आई, कहा- मुख्यपत्र में सभी नेताओं की फोटो होगी

कांग्रेस मध्य प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर होने जा रहे उपचुनावों को लेकर 28 वचनपत्र जारी कर चुकी है, लेकिन इनमें राहुल गांधी की तस्वीर न होने की वजह से सियासत गर्मा गई है। अब कांग्रेस वचनपत्र को रीलांच कर रही है। शारदीय नवरात्रि के मौके पर शनिवार को कांग्रेस मुख्य वचनपत्र रीलांच किया जाएगा। इसे कांग्रेस उपचुनावों के लिए मुख्य वचनपत्र बता रही है। कांग्रेस का कहना है कि इसमें सभी प्रमुख नेताओं की तस्वीरें हैं और राहुल गांधी की तस्वीर क्यों नहीं होगी। दरअसल, पहले जो वचनपत्र जारी किए गए थे, वो विधानसभाओं के लिए थे, उनमें राहुल गांधी की तस्वीर होना जरूरी नहीं था। बता दें कि विधानसभाओं के लिए जारी मिनी वचनपत्र में राहुल गांधी की तस्वीर नहीं होने पर भाजपा ने कांग्रेस को निशाने पर ले लिया था। भाजपा का कहना था कि कमलनाथ राहुल गांधी को अपना नेता नहीं मानते हैं। इसीलिए वचनपत्र में उनकी तस्वीर नहीं लगाई थी। वचनपत्र में कमलनाथ के साथ सोनिया और इंदिरा गांधी की तस्वीरें ही दिखाई गई हैं। कांग्रेस मीडिया विभाग के प्रदेश उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने कहा कि पहले के वचनपत्र में राहुल गांधी की तस्वीर की ..