जागरण हिन्दुस्तान दैनिक भास्कर नईदुनिया नवभारत टाइम्स

शब-ए-बारात कल, मप्र के सभी कब्रिस्तान बंद रहेंगे, काजियों ने कहा- घर से बाहर नहीं निकलें, जो जहां हैं वहीं इबादत करें

मुस्लिम समाज का एक खास त्योहार शब-ए-बारात बुधवार को है। इस दिन समाज के लोग रातभर कब्रिस्तानों में जाकर अपने पूर्वजों की कब्रों पर फातेहा पढ़कर उसका सबाब बख्शते हैं। लेकिन, कोरोनावायरस के चलते इस बारमुस्लिम धर्मगुरूओं और बुद्धजीवियों ने अपील की है कि शब-ए-बारातके मौके पर कब्रिस्तान, दरगाह अथवा मजारों पर जाने से बचें। घर पर ही सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए इबादत करें।राजधानी भोपाल के शहर काजी सैयद मुश्ताक अली नदवी समेत प्रदेश के सभी जिले के काजियों और मस्जिदों के इमामों ने समुदाय के लोगों से कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाव करने की अपील की। कहा- प्रदेश सरकार और डॉक्टर के मशवरों पर अमल करें। इस बार कब्रिस्तानों में इबादत करने नहीं जाएं। घर पर ही रहकर इबादत करें और अल्लाह से अपने गुनाहों के लिए माफी मांगें,जिससे इस महामारी से बचा जा सके। काजियों ने अपील की है किसभी लोग अपने घर के अंदर ही रहें और खांसी आने पर रूमाल रखें। बुखार होने पर डॉक्टर से जांच कराएं। सफाई का ध्यान रखें। दिन में कई बार हाथ धोयें। नमाज घर पर ही पढ़ें।बीमारी के खात्मे के लिए दुआ करें।बुधवार की रात होगी इबादतशब-ए-बारात 8 अ..
                 

जेल में बंद महिला कैदी नहाने का बोलकर बाथरूम में गई, अपने ही ब्लाउस से फंदे पर लटकी मिली

दहेज ऐक्टके केस में करीब 10 महीने से जेल में बंद महिला कैदी नेफांसी लगाकर जान दे दी। मंगलवार सुबह चाय-नाश्ते के बाद वह अन्य महिला कैदी से नहाने जाने की कहकरबाथरूम में गई थी। यहां काफी देर तक बाहर नहीं आने पर जेल पहरी ने जाकर देखा तो वह फंदे पर लटकी मिली। जेल प्रशासन के अनुसार महिला ने अपने ही ब्लाउस से फंदा बनाकर जान दी है।जेल अधीक्षक अदिति चतुर्वेदी बताया कि मंगलवार को एक विचाराधीन कैदी ने फांसी लगाकर जान दी है। 50 वर्षीय अंजू पति राजेंद्र सेन निवासी मेढ़क गांव की रहने वाली थी। महिलादहेज ऐक्टमें जुलाई 2019 से जेल में बंद थी। इसी मामले में उसका बेटा और पति भी बंद है। दो से तीन दिन पहले जेल मुलाकात में उसने पति और बेटे से बात की थी। इस दौरान वह किसी भी प्रकार से तनाव में नहीं लग रही थी। सुबह भी उठने के बाद आमदिनों की तरह ही उसने सबके साथ चाय-नाश्ता किया। इसके बाद नहाने का कहकर बाथरूम में गई। काफी देर तक बाहर नहीं आई तो जेल पहरियों ने गेट से देखा इस पर वह फंदे पर लटकी मिली। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today महिला के पति और बेटे..
                 

टाेटल लाॅकडाउन में भी सैलून खाेल बना रहा था दाड़ी कटिंग, पुलिस ने कर्फ्यू की धारा में केस दर्ज किया

शहर में कर्फ्यू का पालन न करने वाले लोगों के खिलाफ पुलिस ने सख्ती करना शुरूकर दिया है। सोमवार को पूरे शहर में 115 से ज्यादा लोगों के खिलाफ केस दर्ज किए गए थे। वहीं, मंगलवार सुबह से ही पूरे शहर में सड़कों पर निकलने वालों पर पुलिस ने लाठियां बरसाई। इसके अलावा बड़ी काॅलोनियों और सघन बस्तियों में टीआई व थाने के जवानों ने गश्त की और घरों से बाहर खड़े यहां घरों से किराना दुकान संचालित कर रहे व्यापारियों पर सख्ती की।तिलक नगर पुलिस ने विनोभा नगर में एक बिल्डिंग में संचालित मुन्ना हेयर ड्रेसर की दुकान पर दबिश दी तो यहां दुकान संचालक बंटी परमार बेखौफ धंधा संचालित करते मिला। पुलिस दुकान में घुसी तो अंदर करीब 15 युवक व दुकान संचालक और कर्मचारियों की भीड़ दाड़ी कटिंग के लिए जुटी थी। कई युवक कटिंग – दाड़ी बनवाते मिले। कुछ ने मास्क लगाए थे तो कई बिना मास्क के ही घूमते मिले। इसके अलावा इसी क्षेत्र में 6 से ज्यादा सब्जी वालों के भी पुलिस ने ठेले जब्त कर उन्हें कर्फ्यू उल्ल्घंन के तहत कार्रवाई कर गिरफ्तार किया।इंदाैर में पॉजिटिव मरीज 151, 13 की हाे चुकी है माैतशहर में काेरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 15..
                 

कोरोना के 30 संदिग्ध मरीज और मिले, स्वास्थ्य विभाग की टीम कर रही हैं जांच

शहरमें कोरोना के 30 संदिग्ध मरीज और मिले हैं। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. प्रवीण जड़िया के अनुसार, इन सभी संदिग्धों की जांच स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा की जा रही है। जांच के बाद सैंपल भेजा जाएगा औरसंदिग्धाें को क्वारेंटाइन किया जाएगा। सीएमएचओ के अनुसार इंदौर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 151 हो गई है इनमें 13 मरीजोंकी मौत हो चुकी है। मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित टाटापट्‌टी बाखल के साथ ही रानीपुरा, चंदननगर और अन्य क्षेत्रों में सर्वे किया जा रहा है।स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, सोमवार को इंदौर में मेडिकल टीम द्वारा कोरोना प्रभावित क्षेत्रों में लगभग 400 लोगों का सर्वे किया गया। इनमें तीस लोगों में कोरोना के लक्षण नजर आए हैं। मंगलवार को विभाग की टीम द्वारा सभी 30 संदिग्धों का परिक्षण किया जा रहा है। सीएमएचओ के अनुसार जांच के बाद इन संदिग्धों का सैंपल कोरोना की जांच के लिए भेजा जाएगा और इन लोगों को क्वारेंटाइन सेंटर में रखा जाएगा। अब कोरोना के सभी सैंपलों की जांच इंदौर के एमजीएम मेडिकल कॉलेज की लैब में ही की ..
                 

अब तक 274 मामले: सभी जिलों में टोटल लॉकडाउन; सीएम शिवराज ने पुलिस पर हमला होने पर कहा- कबूतर हो या कचौड़ी, किसी को नहीं बख्शेंगे

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में मंगलवार को कोरोना संक्रमण के 12 नए मामले सामने आए। इसी के साथ प्रदेश में कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़कर 274हो गई है। प्रदेश में अब तक 17 मरीजों की मौत हुई है। उधर, भोपाल में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी/कर्मचारी और पुलिसकर्मियों के संक्रमित होने के मामले भी बढ़ रहे हैं। यहां मिले 75 मरीजों में 34 अकेले स्वास्थ्य विभाग के हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी जिलों में टोटल लॉकडाउन लागू करने और नियम तोड़ने वालों पर एफआईआर का आदेश दिया है। संक्रमण छिपाना भी गंभीर अपराध होगा। मुख्यमंत्री ने पुराने भोपाल में पुलिस पर हमला करने वालों के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई करने की बात कही है।भोपाल: बाहर घूमने से रोकने पर पुलिसकर्मियों को चाकू मारेभोपाल में दो दिन से टोटल लॉकडाउन है। पुलिस पुराने शहर में गश्त कर लोगों को घरों में रहने की हिदायत दे रही है, लेकिन सोमवार रात बाहर घूम रहे कुछ लोगों ने दो पुलिसकर्मियों पर चाकू से हमला कर दिया। दूसरी ओर, टोटल लॉकडाउन होने से लोगों को जरूरी सामान मिलना बंद हो गया। यहां किराना और दूध की सप्लाई भी बाधित हुई है। इंदौर: आज ..
                 

कोरोना से जंग जीतकर आज तीन और मरीज लौटेंगे अपने घर, दो दिन में 14 मरीज हुए कोरोना मुक्त

कोरोनावायरस से जंग जीतकर तीन और मरीज मंगलवार को अपने घर लौटेंगे। संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी के अनुसार इन तीनों मरीजों की दूसरी रिपोर्ट नकारात्मक आने पर इन्हें अस्पताल से छुट्‌टी दी जा रही है। दो दिनों में 14 कोरोना पॉजिटिव मरीज ठीक हुए है।संभागायुक्त ने मंगलवार को इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि अंजु, जानकी और जितेन्द्र नामक तीन कोरोना पॉजिटिव मरीजों का उपचार रेड श्रेणी में शामिल अस्पताल में किया जा रहा था। इन तीनों मरीजों की पहली कोरोना जांच रिपोर्ट नकारात्मक आने के बाद मंगलवार को दूसरी जांच रिपोर्ट भी नकारात्मक आई है। इसके चलते इन तीनों मरीजों को कोरोना मुक्त घोषित करते हुए मंगलवार को अस्पताल से छुट्‌टी दी जा रही है। अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बाद इन्हें 14 दिनों तक होम क्वारेंटाइन रहना होगा। गौरतलब है कि सोमवार को भी इंदौर में 11 कोरोना पॉजिटिव मरीज ठीक होकर अपने घर लौटे थे।अब तक यह मरीज हुए ठीक7 अप्रैल तक इंदौर में कोरानावायरस से संक्रमित 14 मरीज पूरी तरह से ठीक हो गए है। कोरोना से जंग जीतने वालों में मोहम्मद सलीम, इकबाद कुरैशी, वाजीद कुरैशी, शब्बीर, करण सिसौदिया, ..
                 

कोरोना संक्रमण के 12 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 5 स्वास्थ्यकर्मी और 7 पुलिसवाले, शहर के 63 इलाके सील

भोपाल में मंगलवार सुबहकोरोना संक्रमण के 12 नए केस सामनेआए, इनमें 5 स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी-कर्मचारीऔर 7 पुलिस कर्मचारी और उनके परिवार के लोग हैं। अब राजधानी में कोरोना पॉजिटिव की संख्या बढ़कर 75 हो गई है। इसमें स्वास्थ्य विभाग के ही 34 केस सामने आए। सोमवार तक स्वास्थ्य विभाग के 29संक्रमित थे। शाम तक ये आंकड़ा और बढ़ सकता है। सीएमएचओ डॉ. सुधीर डेहरिया ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंनेलोगों से अपील की है कि वह अपने घरों में ही रहें। स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों औरअधिकारियों को भर्ती किया जा रहा है।उनके परिवार में किसी को भी संक्रमण के लक्षण दिखाई दे रहे हैं,वह तुरंत जांच कराएं और वह किस-किस से मिल चुके है, इसकी जानकारी दें ताकि कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की जा सके और संक्रमण को रोका जा सके। पुलिस कर्मचारियों की संख्या भी 15 पहुंच गई है।पाॅजिटिवआनेके दाे दिन बाद अस्पताल पहुंचे स्वास्थ्य विभाग के अफसरभोपाल के 75 कोरोना पॉजिटिव में 34 उसी स्वास्थ्य विभाग के अफसर और कर्मचारी हैं, जिनके कंधों पर कोरोना से जंग की जिम्मेदारी है। चिंता की बात ये है कि दाे दिन पहले पाॅजिटिव रिपाेर्ट मिलने के बावजूद महक..
                 

संदिग्ध युवक की ग्वालियर में मौत के बाद पूरा घर किया सैनिटाइज, परिजन की भी स्क्रीनिंग, इंडोनेशिया और डेनमार्क से लौटी युवतियां क्वारैंटाइन

कोरोना संक्रमण के संदिग्ध युवक की ग्वालियर में इलाज के दौरान मौत हो गई। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने दो दिन पहले ही उसका सैंपल जांच के लिए भेजा था लेकिन उसकी रिपोर्ट आने से पहले युवक ने दम तोड़ दिया। इधर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने आनन फानन में मृतक के घर पहुंचकर परिवार के लोगों की स्क्रीनिंग की। उसके घर को सैनिटाइजेशन भी किया गया है। इसके अलावा सोमवार को तीन नए लोगों के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं। इस प्रकार से जिले में कुल 18 सैंपल लिए जा चुके हैं, जिसमें सिर्फ 6 की रिपोर्ट आई है।बताया जा रहा है कि पुरा अतरसूमा हाल फूप निवासी गौरव राजावत (24) पुत्र उदयवीर सिंह को पिछले कुछ दिनों से बुखार आ रहा था। शनिवार को वह जिला अस्पताल में आया था। उसकी ब्लड प्लेटलेट्स कम हो रही थी। ऐसे में जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने कोरोना संक्रमण होने के शक में सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा था। रविवार को उसकी जब ज्यादा हालत बिगड़ी तो उसे ग्वालियर रैफर कर दिया गया जहां रविवार-सोमवार की रात उसने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। यह खबर जैसे ही भिंड जिले की स्वास्थ्य विभाग की टीम पर पहुंची तो आनन फानन में डॉ. डीके शर्मा..
                 

संक्रमण प्रभावित इलाकों के 4 कब्रिस्तान, इनमें अप्रैल के 6 दिन में 127 जनाजे पहुंचे, पूरे मार्च में 130 आए थे

हरिनारायण शर्मा. कोरोना संक्रमण और देश में हुई 129 मौत में इंदौर में मौत का आंकड़ा 13 तक पहुंच गया है। चौंकाने वाली बात यह है कि शहर में मार्च की अपेक्षा अप्रैल के मात्र छह दिनों में ही अचानक मुस्लिम समाज में मृत्यु दर बढ़ी है। शहर के चार बड़े कब्रिस्तानाें से मिले आंकड़े ताे यही कह रहे हैं। इन्हें सही मानें तो 1 से 6 अप्रैल के बीच इन कब्रिस्तानों में 127 जनाजे पहुंचे, जबकि मार्च में इन्हीं चार कब्रिस्तानाें में 130 शवों को दफनाया गया था।हालांकि मुक्तिधामों में भी शव पहुंचे हैं, लेकिन उनका औसत सालाना औसत के बराबर ही है, खासकर अप्रैल में। कोरोना के सबसे ज्यादा मरीज खजराना, चंदन नगर, रानीपुरा-दौलतगंज-हाथीपाला, आजाद नगर, टाटपट्‌टी बाखल-सिलावटपुरा-बंबई बाजार में मिले हैं। भास्कर ने खजराना कब्रिस्तान, रानीपुरा-दौलतगंज-हाथीपाला के लिए लुनियापुरा कब्रिस्तान, बंबई बाजार, टाटपट्‌टी बाखल, सिलावटपुरा के लिए महू नाका कब्रिस्तान और चंदननगर, नूरानी नगर, बांक के लिए चंदननगर कब्रिस्तान के आंकड़े जुटाए। हालांकि शहर में कोरोना से मौत 10 ही हुई है, लेकिन इन कब्रिस्तान में पिछले 6 दिनों में ही आंकड़..
                 

दुबई से लौटने की बात छिपाने पर कोरोना संक्रमित युवक पर एफआईआर, 22 रिश्तेदार किए आइसोलेट

दुबई से लौटने के बाद खुद को 14 दिन तक होम क्वारेंटाइन में रखने के बजाय पारिवारिक कार्यक्रम आयोजित करने वाले कोरोना पॉजीटिव युवक के खिलाफ सिविल लाइन थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई है। सिविल लाइन टीआई विनय यादव की रिपोर्ट पर आरोपी युवक के ऊपर दुबई से लौटने की जानकारी छिपाकर सैकड़ों लोगों की जान खतरे में डालने पर धारा 279-277 के तहत केस दर्ज किया गया है। वहीं कोरोना संक्रमित युवक के संपर्क में आए जिन 16 लोगों के सैंपल 2 दिन पहले भेजे गए थे, उनमें से 9 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। वहीं 7 सैंपल खराब होने की वजह से इनके सैंपल जांच के लिए दोबारा डीआरडीई लैब ग्वालियर भेजे जाएंगे।सोमवार को संक्रमित युवक के रिश्तेदार व उसके संपर्क में आए 22 रिश्तेदारों को जिला अस्पताल में आइसोलेट किया गया। वहीं सिहोरी गांव के 2 युवकों को भी जांच के लिए एंबुलेंस अस्पताल लेकर आई। वहीं शहर से पूरी तरह से अलग-थलग वार्ड क्रमांक 47 में घरों में कैद लोगों के सामने राशन व रसोई के सामान का संकट खड़ा हो गया है। सरकारी अफसरों के निर्देश पर जो मोबाइल बैन वार्डों में पहुंच रही है, वह राशन की आपूर्ति नियमित नहीं कर पा रही है।कोरोना ..
                 

लाॅकडाउन में घर पर रहने को कहा तो इतवारा में पुलिसकर्मियों को चाकू मारे, दो घायल

लाॅकडाउन में घूम रही भीड़ को घरों में रहने की सलाह दी तो दो शातिर बदमाशों ने साथियों के साथ मिलकर पुलिस पर चाकू से हमला कर पथराव कर दिया। हमले में तलैया थाने के दो सिपाही घायल हो गए। एक सिपाही के बाएं हाथ और दूसरे सिपाही के बाएं कंधे पर चाकू लगा है। पुलिस पर हमले की यह घटना पुराने शहर के तलैया थाना स्थित इतवारा इलाके की है। इलाके में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया। पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।तलैया थाना प्रभारी डीपी सिंह के मुताबिक रात करीब 11 बजे इतवारा इलाके के रसीदिया स्कूल के पीछे शामद मस्जिद के पास करीब 20 युवक झुंड बनाकर घूम रहे थे। पुलिस ने उन्हें समझाइश दी उन्हें घर लौटनेको कहा तो भीड़ में शामिल शातिर बदमाश शाहिद कबूतर, मोहसिन कचौड़ी और उसके साथियों ने पुलिस पर चाकू से हमला कर दिया।जिसमें तलैया थाने के सिपाही लक्ष्मण यादव के बाएं कंधे और सतीश कुमार के बाएं हाथ में चाकू लगा है। पुलिस पर हमला कर बदमाश मौके से फरार हो गए। पुलिस पर हमले की सूचना मिलते ही अफसर मौके पर पहुंच गए थे। वहां अतिरिक्त फोर्स तैनात किया गया है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ हत्या के प्रयास और शासकीय कार्य..
                 

निजी वार्ड नहीं मिलने पर घर लौटी महिला एसआई का सुबह अस्पताल में हंगामा, स्टाफ से अभद्रता की

जिला अस्पताल में भर्ती नीमच जिले की एसआई का सिविल सर्जन से विवाद हो गया। जाे करीब पांच घंटे तक चला। सूचना पर पुलिस अधिकारी पहुंचे और दोनों पक्षों को समझाइश देकर मामला शांत किया।रविवार काे ड्यूटी के दौरान नीमच सिटी थाने में पदस्थ एसआई हर्षिता सांवलिया को उल्टी दस्त की शिकायत हुई। जिला अस्पताल में उपचार के बाद उन्हें मंदसौर रेफर किया। यहां उन्हें जनरल वार्ड में भर्ती किया। लेकिन एसआई सांवलिया रात काे नूर कॉलोनी स्थित घर चली गई। सोमवार सुबह 10.30 बजे जब वे उपचार के लिए माता-पिता के साथ जिला अस्पताल पहुंची तो गार्ड लाखन सिंह व सविता धाकड़ ने रोक दिया। दोनों का आरोप है कि महिला एसआई ने उन्हें थप्पड़ मारे और गालियां दी। विवाद की सूचना पर सिविल सर्जन पहुंचे। महिला एसआई व उनके परिजन ने सिविल सर्जन से भी विवाद शुरू कर दिया। सूचना पर अस्पताल चौकी से पुलिस अधिकारी व जवान पहुंचे और मामले को शांत कराने का प्रयास किया। दोनों के बीच विवाद दोपहर करीब 3.30 बजे तक चला।सिविल सर्जन ने सुरक्षा कर्मियों से कहा इन्हें भगा दो- एसआई सांवलिया ने बताया रविवार को नीमच अस्पताल से उन्हें मंदसौर रेफर किया। यहां प्राइ..
                 

सिंधिया समर्थकों के साथ अपने विधायकों को मंत्री बनाना भाजपा के लिए बड़ी चुनौती

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 14 अप्रैल को लाॅकडाउन खत्म होने के बाद मंत्रिमंडल गठन के संकेत दिए हैं। ऐसे में भाजपा के सामने चुनौती ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक मंत्रियों के साथ अपनों को एडजस्ट करने की है। इसे लेकर चौहान और संगठन के बीच चर्चा का दौर जारी है।सूत्रों के अनुसार मंत्रिमंडल में 24 से 26 मंत्री बनाए जा सकते हैं। इसके लिए भी दिल्ली से सहमति से लेना होगी, जिनमें सिंधिया समर्थक 8 से 10 लोगों की दावेदारी पक्की है, इस स्थिति में भाजपा को मंत्रिमंडल में शामिल करने के लिए अपने विधायकों का चयन करना मुश्किल होगा। सिंधिया समर्थक पूर्व कांग्रेस सरकार में कैबिनेट मंत्री थे, इसलिए शिवराज मंत्रिमंडल में भी उनका ओहदा वही होगा। कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए कद्दावरों में तुलसी सिलावट इंदौर जिले की सांवेर सीट से आते हैं, लेकिन इंदौर जिले से ही ऊषा ठाकुर, महेंद्र हार्डिया एवं रमेश मेंदोला के नाम प्रस्तावित है, जबकि मंत्री सिर्फ दो ही बनाए जाना है। इसी तरह से गोविंद सिंह राजपूत का नाम कैबिनेट मंत्री के लिए प्रस्तावित है, लेकिन सागर जिले से भूपेंद्र सिंह और गोपाल भार्गव का मंत्री बनाया ..
                 

समाजसेवी बांट रहे भोजन सामग्री के पैकेट

सिवनीमालवा| लॉक डाउन के चलते लोगों समाजसेवी जरूरतमंदों के भोजन की व्यवस्था करने में जुटे हुए हैं। 13 दिनों से लगातार बंद के कारण मजदूर और गरीब वर्ग के पास आज भोजन सामग्री खरीदने के लिए भी पैसा नहीं है ऐसी स्थिति में समाजसेवी विनय कुमार अग्रवाल, प्रणेश कुमार चौबे, विनयकुमार अग्रवाल, विक्रम सिंह रघुवंशी और कृष्णकुमार वर्मा ने गरीब परिवार को 15 दिन तक उपयोग में आने वाली भोजन सामग्री के 1000 पैकेट तैयार किए है। एसडीएम रविशंकर राय के निर्देशन में ये पैकेट वितरण किए जाएंगे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today siwanimalwa News - mp news social workers are distributing food packets..
                 

देवर पर कुल्हाड़ी से हमला किया तो भाभी ने आरोपी के सिर पर मारे डंडे और पत्थर, मौत

सिलवानी.पुददर गांव में आपसी विवाद को लेकर युवक की हत्या कर दी गई। जबकि एक युवक घायल हुआ है। घायल को अस्पताल लाया गया है, जहां पर उसका उपचार चल रहा है। सिलवानी एसडीओपी पीएन गोयल ने बताया कि पुददर गांव में रेशम सिंह व बृशन सिंह आदिवासी के बीच पुरानी रंजिश है।इसी रंजिश के चलते सोमवार को उनके बीच विवाद हो गया। दोपहर करीब 3 बजे के रेशन सिंह कुल्हाड़ी लेकर बृशन सिंह के घर पहुंच गया। यहां गाली गलौच करने लगा। इसी बीच 35 वर्षीय बृशन सिंह घर से बाहर आया। तभी रेशम सिंह ने बृशन सिंह की पीठ पर कुल्हाड़ी से बार कर दिया। इस हमले में बृशन सिंह घायल हो गया। तभी उसकी भाभी शारदा बाई घर से बाहर आई, और उसने रेशम सिंह के सिर पर लाठी से हमला कर दिया। सिर पर लाठी लगने से वह जमीन पर गिर गया। नीचे गिरते ही शारदा बाई ने पास ही पड़े पत्थर को उठाकर रेशम सिंह के सिर पर दे मारा। सिर में चोट लगने से रेशम सिंह की मौके पर ही मौत हो गई। यह जानकारी मिलते ही सिलवानी थाना प्रभारी आशीष धुर्वे पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। घायल को उपचार के लिए सिलवानी पहुंचाया। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today..
                 

बंजली में भीलवाड़ा से एक ही परिवार के 3 लोग आए, स्क्रीनिंग की

                 

महावीर जयंती और हनुमान जन्मोत्सव के चलते पैकेट के साथ मिठाई भी बांटी

कोरोना वायरस संक्रमण के संकट के समय जरूरतमंदों को जैन हेल्प लाइन भोजन बनाकर मुहैया करा रही है। दो अलग-अलग स्थानों पर बनाई गई रसोईघर प्रतिदिन 1400 से ज्यादा लोगों के लिए भोजन बन रहा है।सोमवार को महावीर जयंती होने व हनुमान जन्मोत्सव के उपलक्ष्य में इन भोजनशाला में मिठाई बनाकर वितरण किया। कोरोना वायरस के संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए लॉकडाउन में मोर्चा संभाल रहे पुलिसकर्मियों को मिठाई के पैकेट देकर अनुमोदना की गई।भोजन बांटते समय फोटो नहीं लेने का संकल्पकोरोना जैसी महामारी के समय पर भोजन के पैकेट बांटने में जुटे जैन हेल्प के 20 सदस्यों ने जैन समाज के चौबीसवें तीर्थंकर भगवान महावीर स्वामी के जन्म कल्याणक दिवस पर संकल्प लिया कि वे शहर में भोजन के पैकेट बांटते फोटो ना खुद फोटो लेंगे और नहीं अपना फोटो किसी को लेने देंगे। सुमंगल गार्डन में हेल्प लाइन के महेंद्र गादिया की मौजूदगी में संकल्प लिया। संकल्प के पूर्व दोनों स्थानों पर नवकार मंत्र के जाप किए। भगवान महावीर का जिओ और जीने दो के संदेश को घर-घर पहुंचाने के साथ संकट के समय में सेवा करने का भी आव्हान किया जाएगा।शाम 7 बजे 7 दीपक से 7 मिनट..
                 

वन विभाग की जमीन पर पेड़ की लकड़ियां काटने से रोका तो सिर पर कुल्हाड़ी मारी

सरवन के पास पाटड़ी में वन विभाग की जमीन पर लगे पेड़ की लकड़ी काटने से रोका तो आरोपियों ने कुल्हाड़ी से हमला कर दिया। परिजन ने घायल को सैलाना अस्पताल में भर्ती कराया जहां से गंभीर हालत में जिला अस्पताल रैफर कर दिया। सरवन थाने में जानलेवा हमले का प्रकरण दर्ज कर चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है।पुलिस के अनुसार कुल्हाड़ी से सिर में चोट लगने पर पाटड़ी निवासी 32 वर्षीय वीरसिंह पिता रामा मकवाना को जिला अस्पताल में भर्ती किया है। एसआई जितेंद्र चौहान ने बताया गांव के बाहर वीरसिंह के टापरे के पास वन विभाग की जमीन पर लगे पेड़ से गांव के निवासी आरोपी पंकज उर्फ पंकेश पिता रतना खराड़ी (26), उसकी प|ी लक्ष्मीबाई (23), बहन सविता (23) और रिश्तेदार पूनमचंद पिता पीरिया खराड़ी (22) लकड़ी काट रहे थे। वीरसिंह ने रोका तो आरोपियों ने विवाद कर मारपीट की। पंकज, पूनमचंद और सविता ने वीरसिंह को पकड़ लिया और लक्ष्मीबाई ने सिर पर कुल्हाड़ी मार दी। गांव का चौकीदार पहुंचा तो आरोपी मौके से भाग निकले। एसआई चौहान ने बताया जानलेवा हमले का प्रकरण दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।वीरसिंह मकवाना। Download Dainik Bhaskar App ..
                 

बच्चों ने कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर उकेरे चित्र

नाम-देशना छाजेड़ (जैन), सायर चबूतरा।विषय-इस चित्र में संदेश दिया है, कि जब एक मां के कोख में बच्चा 9 माह तक अंदर रह सकता है तो आप लोग 21 दिन तक घरों में क्यों नहीं रह सकते हैं। घर में रहे कोरोना वायरस संक्रमण से बचे।नाम-स्वर्णा कटारिया, चांदनीचौक।विषय-कोरोना से लड़ने के लिए एक जुट होकर खड़े हैं। डॉक्टर, सैनिक, पुलिसकर्मी, सफाईकर्मी कोरोना संक्रमण को रोकने का प्रयास कर रहे हैं।नाम-नम्रता कमलेश सोनी, खेरादीवास।विषय-कोरोना का प्रकृति की ओर सकारात्मक व मानव जाति पर नकारात्मक प्रभाव होना दर्शाया है।रतलाम | कोरोना वायरस संक्रमण के बचाव के लिए लॉकडाउन चल रहा है। ऐसे में सभी घरों में बंद है। ऐसे समय में बच्चे पेंटिंग बनाकर कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के उपाय बताने के साथ ही मानव जीवन को बचाने के लिए कौन-कौन एक जुट होकर खड़े हैं उन्हें भी दर्शाया। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Ratlam News - mp news children carved pictures of corona virus infection Ratlam News - mp news children carved pictur..
                 

थाली बजाकर मनाई महावीर जयंती

_photocaption_पचमढ़ी| भगवान महावीर का जन्म महोत्सव अपने अपने घरों में प्रातः थाली-ताली बजाकर जय जयकार करके मनाया गया। टेलीविजन पर विश्व शांति के लिए महामुनि प्रमाण सागर औऱ सुधा सागर के मुखारबिंद से उदघोशीत पूजन व विधान किया गया। दोपहर में भगवान की कथा सुनी वा गरीब परिवार को एक माह का संपूर्ण राशन समाज की ओर से दिया गया। शाम को 9-9 दीपक घर के बाहर रखे।*photocaption* Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today PACHMADI News - mp news mahavir jayanti celebrated by playing the plate..
                 

रोजाना 12 घंटे तक काम करके 10 दिन में 6 महिला आरक्षकों ने बना दिए 2000 मास्क और 450 ग्लब्स

रायसेन.मास्क की कमी का हल पुलिस ने अपने ही स्तर पर निकाल लिया है। पुलिस लाइन में खुद महिला पुलिस कर्मचारी अपने हाथों से मास्क और ग्लब्स तैयार कर रही हैं। इसके लिए उन्होंने 28 मार्च से काम शुरू कर मात्र 10 दिनों में 2000 से अधिक कपड़े के मास्क और 450 से अधिक ग्लब्स तैयार कर लिए हैं।इस काम में छह महिला पुलिस कर्मचारी लगी हुई है। जो रोज ही पुलिस लाइन में 10 से 12 घंटे तक रोज काम कर रही हैं। पुलिस लाइन के टेलर रामनारायण के साथ तृप्ति नामदेव, पिंकी पाल, सुषमा, श्वेता मिश्रा, राजश्री राय, आरती बछानिया, चंचल चौहान, शीतल मेहर, नेहा पटेल ये जिम्मेदारी निभा रही हैं।जगह-जगह जाकर बांटे जा रहे मास्क: एसपी मोनिका शुक्ला ने बताया कि पुलिस लाइन मेें 6 महिला पुलिस कर्मचारियों द्वारा मास्क बनाने का काम किया जा रहा है। इससे पुलिस कर्मचारियों को मास्क मिल जाएं।पुलिस कर्मचारियों को इसलिए मास्क जरूरीशहर सहित जिलेभर में इन दिनों पुलिस कर्मचारी और अधिकारी टोटल लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंस का पालन कराने के लिए प्रशासन के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। वे शहर के अंदर, बाहर और जिले की सीमाओं पर तैनात हैं। इस दौरान उनकेसं..
                 

नगर में कल से कोविड-19 का डोर-टू-डोर सर्वे होगा, 68 टीमें गठित

लॉकडाउन की अवधि धीरे-धीरे खत्म हो रही है लेकिन देश में कोरोना संक्रमित मरीजों की तादाद भी तेजी से बढ़ रही है। ऐसे में 14 अप्रैल के बाद लॉकडाउन की क्या स्थिति निर्मित होगी, यह कहना अभी मुश्किल है। इसके पहले प्रशासन पूरे शहर का कोरोना वायरस कोविड-19 सर्वे करवाएगा ताकि कहीं कोई संदिग्ध बीमार हो तो उसे चिकित्सा सुविधा दी जा सके।नगर के सभी 30 वार्डों में ये सर्वे 8 अप्रैल से शुरू होकर 11 तक खत्म करने का लक्ष्य है। इसके लिए प्रशासन ने 68 टीमें गठित की हैं। इनमें बीएलओ, शिक्षक, नपाकर्मी, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता शामिल रहेंगे। इस सर्वे में जहां-जहां बीमार लोग सामने आएंगे, केवल वहीं पर स्वास्थ्य विभाग की टीम जाएगी। एसडीएम राहुल धोटे, तहसीलदार नित्यानंद पांडेय ने बताया कोविड-19 सर्वे में परिवार सदस्य संख्या व उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली जाएगी। ट्रेवल हिस्ट्री जुटाएंगे ताकि कोरोना संक्रमण से संबंधित तमाम एहतियात बरती जा सके।पहले बीएलओ, नपाकर्मी व आंगनवाड़ी कार्यकर्ता सर्वे करेंगे, फिर जहां बीमार लोग मिलेंगे वहां जाएगी स्वास्थ्य टीमइंदौर से आए तीन लोगों को आइसोलेशन वार्ड में रखा, तीन पहले से..
                 

कार्रवाई : सुबह 9 बजे से प्रशासन मुस्तैद, वाहन चालकों पर बरसाए डंडे

_photocaption_आलोट | कोरोना की रोकथाम के लिए लगाए गए लॉकडाउन में सुबह के समय जरूरी काम के लिए दी गई छूट का लोग बेवजह फायदा उठा रहे हैं। भास्कर में खबर प्रकाशन के बाद सोमवार को सुबह 9 बजे प्रशासन बाजारों में मुस्तैदी से जुटा। एसडीएम चंदरसिंह सोलंकी के निर्देश पर तहसीलदार व नायब तहसीलदार ने पुलिस के साथ बिना वजह घूम रहे लोगों पर सख्ती दिखाई। प्रशासन द्वारा अपने-अपने घरों में रहने की अपील करने के बाद भी जब लोग नहीं माने तो मजबूरन पुलिस ने वाहन चालकों पर डंडे बरसाए। ऐसे में सुबह 10 बजे तक बाजारों में सन्नाटा पसर गया।*photocaption* Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Jaora News - mp news action administration promptly from 9 am drivers were torched..
                 

जावरा के 30 वार्ड, जनपद के 147 गांवों में बनेगी निगरानी समिति

बाहर से आने वाले लोगों से फैलने वाले संक्रमण से बचाव के लिए शहर सहित ग्रामीण क्षेत्रों में निगरानी समितियां बनाई जाएगी। शहर में वार्डवार और ग्रामीण क्षेत्रों में ग्रामवार। समिति में 15 सदस्य रहेंगे। जो घूमकर बाहर से आने वाले लोगों की जानकारी इकट्ठा करेगी। वहीं गांव की सीमा की निगरानी भी रखेंगे।जनपद की 68 पंचायतों के 147 गांवों में निगरानी समितियां बनाई जाना है। जिसमें 10 से 15 सदस्य शामिल रहेंगे। सोमवार को ढोढर में 15 लोगों की निगरानी समिति बनाई गई। समिति सदस्य गांव में कोरोना प्रभावित क्षेत्रों से आने वाले लोगों के बारे में पता करेंगी और प्रशासन को सूचना देगी। इसका उद्देश्य बाहर से आकर शहर व गांव में रह रहे लोगों की वस्तुस्थिति पता करना है। समिति सदस्यों को परिचय पत्र दिए जाएंगे। बाहर से आए व्यक्तियाें की पहचान करने का काम 10 मार्च के बाद से शुरू होगा।ऑनड्यूटी लिखकर निजी काम करने वालों पर भी पुलिस की नजरअभी कई समाजसेवी व वालेंटियर कोरोना संकट के दौर में जरूरतमंदों की सेवा में लगे हैं। प्रशासनिक अमला कम होने से इनकी जरूरत है और ये साधुवाद के पात्र भी लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जो निजी क..
                 

फिर जले खेत : जुझारपुर, कुबड़ाखेड़ी, पथरौटा में 50 एकड़ में गेहूं की फसल खाक

इटारसी | इटारसी के पास जुझारपुर, कुबड़ाखेड़ी अाैर पथरौटा के किसानों की 50 एकड़ में गेहूं की खड़ी फसल जलकर खाक हाे गई। अाग से लगभग 20 किसानों की फसल जलकर नष्ट हुई है। आग लगने का कारण हार्वेस्टर का 11 केवी तार से टकराना बताया जा रहा है। खेतों से धुआं अाैर आग की लपटें उठती देखकर किसान घरों से निकलकर दौड़े। आग पर इटारसी नपा और आयुध निर्माणी की फायर ब्रिगेड ने काबू पाया। अधिकारियाें ने पंचनामा बनाया। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Itarsi News - mp news then burnt fields 50 acres of wheat crop in jujharpur kubdakheri patharota..
                 

लाॅकडाउन : क्लासेस बंद, बच्चों को ऑनलाइन पढ़ा रहे टीचर्स

जहां चाह वहां राह। लाॅकडाउन में स्कूल, काॅलेज काेचिंग कक्षाएं बंद हैं लेकिन यदि सीखने की चाह है ताे शिक्षक तैयार हैं। बाहरवीं की बची हुई परीक्षाएं हाें, नए सत्र में अगली कक्षा की पढ़ाई, काॅलेज की कक्षाएं हाें या प्रतियाेगी परीक्षा की तैयारी.. हर विषय से जुड़े नवाचारी शिक्षक स्टूडेंट्स की अाॅनलाइन क्लास ले रहे हैं। शिक्षक इन दिनाें स्टूडेंट्स काे साेशल मीडिया की मदद लेकर पढ़ाई नियमित करने में सहयागी बन रहे हैं।इधर, जीवन के संघर्ष से रूबरू कराने बनाया यूट्यूब चैनलहोशंगाबाद| लाॅकडाउन में अपने-जीवन के अनुभव शेयर करने के लिए शहर के एक युवा ने यूट्यूब चैनल बनाया है। बाबई राेड निवासी प्रिंस गुप्ता ने बताया- साेशल मीडिया के एक सकारात्मक उपयाेग के लिए यूट्यूब चैनल जस्ट जिंदगी विथ प्रिंस बनाया है। इसमें स्पाेर्ट्स पर्सन, स्टूडेंट्स, कलाकाराें सहित एेसे अधिकारियाें के बारे में जानने का माैका मिलेगा जिन्हाेंने संघर्ष से सफलता हासिल की।प्रतियाेगी परीक्षा की अाॅनलाइन तैयारीइटारसी के शिक्षक अाशीष भदाैरिया पीएससी, वर्ग 3 अाैर अाने वाली प्रतियाेगी परीक्षाअाें के लिए स्टूडेंट्स को ऑनलाइन पढ़ा रहे हैं। उन..
                 

चुनौती से लड़ते हमारे सिटी हीरो

होशंगाबाद| जिला प्रशासन एवं लायंस क्लब होशंगाबाद ने दीनदयाल भोजन रसोई योजना के अंतर्गत सेठानी घाट पर गरीब, मजदूर एवं बेसहारा लोगों को भोजन बांटा गया। इस दाैरान लायंस क्लब काेअाॅर्डिनेटर डीएस दांगी, एसडीएम अादित्य रिछारिया, सीएमअाे माधुरी शर्मा, लायन डॉ. अतुल सेठा, लायन डॉ. बीएम मालवी, लायन केएस राजपूत, लायन डॉ. जेपी मालवीय, लायन अनिल अग्रवाल, लायन ललित सोनी (अध्यक्ष), लायन सुभाष बरेले, लायन शहीद खान, लायन हरिसिंह चौहान, लायन अमोल जैन, लायन रामकुमार गुबरेले संयोजक, लायन आदिल फाजली, लायन मोहित चौकसे, लायन र|ेश दीवान अादि माैजूद थे। लायंस क्लब के मेंबर्स ने सेठानी घाट पर बने सर्कल पर खड़े हाेकर साेशल डिस्टेंस का संदेश दिया।सेठानीघाट पर बांटा गरीबाें काे भाेजन Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Hoshangabad News - mp news our city heroes fight the challenge..
                 

जिला अस्पताल में राेज बनेंगी पांच हजार राेटी

होशंगाबाद| शहर में भाेजन संग्रह की जगह अब जिला अस्पताल की राेटी मेकर मशीन से 5 हजार राेटी काे तैयार कराया जा रहा है। इसके लिए स्वंयसेवी संगठनाें ने अाटा नमक साैंपा। अब जिला प्रशासन के साथ मिलकर संगठन शहर में भाेजन वितरण करवाने का काम करेंगे। इसके लिए एडीएम जीपी माली ने व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए हैं। अब संगठन भाेजन बनाने के लिए राशन जिला अस्पताल में देंगे। वहां से पांच हजार राेटी प्रतिदिन बनाकर वितरण करवाने का काम नपा अाैर स्वयंसेवी संगठन करेंगे। संगठनाें काे वार्ड तय कर दिए हैं। इससे हर वार्ड में जरूरतमंद लाेगाें काे भाेजन मिल सके। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Hoshangabad News - mp news five thousand rati will be made in district hospital..
                 

लाॅकडाउन में बंद हो सकती है ब्रेड, पाव व टोस्ट की सप्लाई

हम विचार करेंगेबेकरी व ब्रेड फैक्टरियों को प्रशासन आटा, मैदा व दूसरा कच्चा माल तो मुहैया करा रहा है लेकिन पैकिंग मेटेरियल के लिए कोई व्यवस्था नहीं की गई है। यहां पैकिंग के लिए हर दिन 500 किलो से अिधक पॉलीथिन व पैकिंग मेटेरियल का उपयोग होता है। पैकिंग में उपयोग होने वाली पॉलीथिन (पीपी) बनाने वाली शहर में दो फैक्टरी और बेचने के लिए 15 से अिधक दुकानें हैं। अब समस्या यह है कि लॉकडाउन में फैक्टरी का प्रोडक्शन बंद है और थोक दुकानदारों को माल बेचने की अनुमति नहीं मिल रही है। ब्रेड फैक्टरी में रखा पैकिंग मेटेरियल का स्टॉक खत्म हो रहा है। ऐसे में कभी भी सप्लाई बंद हो सकती है। यही कारण है कि ब्रेड फैक्टरी संचालक प्रशासन से समय के लिए पैकिंग मेटेरियल की दुकानंे खोलने की अनुमति मांग रहे हैं।यह है खपत: ग्वालियर जिले में 80 हजार से अिधक ब्रेड और टोस्ट के पैकेट की खपत होती है। इसके अलावा पाव की सप्लाई 10 हजार पैकेट प्रतिदिन है। लॉकडाउन के दौरान लोगों को होने वाली हर असुविधा के बारे में प्रशासन लगातार विचार कर रहा है। यदि ब्रेड और टोस्ट की पैकिंग मटेरियल की दिक्कत है और ब्रेड फैक्टरी या बेकरी वाले हम..
                 

दुबई से लौटने की बात छिपाने पर युवक पर एफआईआर, 22 रिश्तेदार किए आइसोलेट

इसी युवक के संपर्क में आकर इसकी प|ी और बच्चों सहित 11 लोग हो चुके हैं संक्रमितदुबई से लौटने के बाद खुद को 14 दिन तक होम क्वारेंटाइन में रखने के बजाय पारिवारिक कार्यक्रम आयोजित करने वाले कोरोना पॉजिटिव युवक के खिलाफ सिविल लाइन थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई है। सिविल लाइन टीआई विनय यादव की रिपोर्ट पर आरोपी युवक पर दुबई से लौटने की जानकारी छिपाकर सैकड़ों लोगों की जान खतरे में डालने पर धारा 279-277 के तहत केस दर्ज किया गया है। वहीं कोरोना संक्रमित युवक के संपर्क में आए जिन 16 लोगों के सैंपल 2 दिन पहले भेजे गए थे, उनमें से 9 की रिपोर्ट निगेटिव आई है।सोमवार को संक्रमित युवक के रिश्तेदार व उसके संपर्क में आए 22 रिश्तेदारों को जिला अस्पताल में आइसोलेट किया गया। वहीं सिहोरी गांव के 2 युवकों को भी जांच के लिए एंबुलेंस अस्पताल लेकर आई। वहीं शहर से पूरी तरह से मुरैना में कर्फ्यू में फिलहाल राहत नहीं है। लोगों के सामने राशन व रसोई के सामान का संकट खड़ा हो गया है। सरकारी अफसरों के निर्देश पर जो मोबाइल बैन वार्डों में पहुंच रही है, वह राशन की आपूर्ति नियमित नहीं कर पा रही है।उज्जैन : दाे डॉक्टर और दो स्..
                 

सुबह भगवान महावीर का पूजन कर बजाई ताली थाली, फहराया ध्वज, शाम को मनाया दीपोत्सव

जैन समाज के लोगों ने सोमवार को महावीर स्वामी का जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया। लोगों ने सुबह छत पर और बालकनी में पहुंचकर थालियां, तालियां, शंख और वाद्य यंत्र बजाकर महावीर स्वामी के जयकारे लगाए। इस दौरान पुरुष श्वेत और महिलाएं केसरिया परिधान धारण किए हुए थीं। कार्यक्रम सुबह ठीक 8 बजे प्रारंभ हुआ। लोगों ने भजन और बधाई गीतों पर डांडिया नृत्य किया। इसके बाद भक्तों ने महामंत्र णमोकार का जाप भी किया।भक्तों ने घरों में चौकी पर भगवान महावीर स्वामी की तस्वीर विराजमान की। उसके आगे रंगोली सजाकर मंगल कलश स्थापित किया। इसके बाद अष्टद्रव्य से महावीर स्वामी का पूजन किया। फिर महावीर अष्टक और चालीसा का पाठ किया। शाम को भक्तों ने भगवान को पालने में झुलाया। साथ ही दीपक जलाकर भगवान की आरती की और भक्तामर का पाठ किया। शाम को भक्तों ने घरों के बाहर मुख्य दरवाजे पर रंगोली सजाकर दीपक जलाकर दीपोत्सव मनाया। वहीं मुनिश्री विहर्ष सागर ने कहा कि हमें महावीर स्वामी से जियो और जीने दो सीखना चाहिए।85 मंदिरों में पुजारियों ने की पूजा: समाज के 85 जैन मदिर में सोमवार को कोई भी भक्त नहीं पहुंचा। मंदिरों के पुजारियों ने ही भग..
                 

4 दिन से शहर की सीमा पर डटे हैं ये जांबाज, ताकि कोरोना से शहर बचा रहे, अपने घर भी जाना छोड़ा

शहर की सीमा पूरी तरह सील हैं। कारण, देश के कई शहर हाई रिस्क कैटेगरी में हैं। क्योंकि यहां कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। ऐसे दूसरे शहरों से आने वालों को पूरी तरह रोकने, चार दिन से सीमा पर पुलिस अफसर और डॉक्टर डटे हैं। ये वो जांबाज हैं, जो 16-16 घंटे तक यहां ड्यूटी कर रहे हैं ताकि कोरोना से शहर बचा रहे। इन्होंने अपने घर तक जाना छाेड़ दिया, भले ही शहर में रहते हैं लेकिन अब चार दिन से घर नहीं गए। क्योंकि... ड्यूटी के दौरान अलग-अलग शहरों से आ रहे लोगों से मिल रहे हैं। इनके संपर्क में आ रहे हैं, खुद खतरे के बीच हैं लेकिन घर जाना इसलिए छोड़ दिया जिससे परिजन इस खतरे से दूर रहे हैं। जानिए...इनकी कहानी, कैसे कर रहे हैं हमारी रक्षा। यह लोग अभी तक 125 लोगों को क्वारेंटाइन सेंटर में भेज चुके हैं।खुद खतरे के बीच में रहकर 16-16 घंटे ड्यूटी कर रहे हैं -डॉ. राहुल सिंह राजपूत, एमबीबीएस(इंटर्न छात्र, जीआरएमसी) -प्रवीण अष्ठाना, एसडीओपी, घाटीगांव -रवि भदौरिया, सीएसपी, महाराजपुरा Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Gwalior News ..
                 

कारोबारी और उद्योगपतियों की अपील- काम बंद है, लेकिन कर्मचारियों का वेतन, बिल, टैक्स चालू, इसलिए मिले राहत

देश में लॉकडाउन के कारण सारे काम बंद हैं। फैक्टरी, दुकानें और अन्य संस्थानाें तक पर ताला लगा है। ऐसे में कारोबारियों और विभिन्न औद्योगिक संगठनों ने सरकार से राहत की मांग की है। उन्हाेंने सोशल मीडिया पर संदेश जारी कर प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से अपील की है कि काम बंद होने के बाद भी कंपनी वालाें काे कर्मचारियों का भुगतान करना है। इसके साथ ही जीएसटी लग ही रहा है। बिजली के बिल भरना है।कर्मचारियों की भविष्य निधि औरईएसआईसी (कर्मचारी राज्य बीमा निगम) में अंशदान देना है। संपत्ति कर और अन्य तरह के टैक्स भी चालू हैं। हालांकि ईएमआई में राहत मिली है, लेकिन इस पर बैंक बाद में ब्याज वसूलेंगे। इसलिए व्यापारियाें, कारोबारियाें और उद्योगपतियों काे राहत देने के बारे में साेचा जाए।ये मांगें उठाई हैं संगठनों ने बिजली बिल वास्तविक खर्च यूनिट का ही आए। सरचार्ज आदि माफ किए जाएं। सभी कमर्शियल बिजली बिल तीन महीने के लिए आधे कर दिए जाएं। अगले 12 महीने तक जीएसटी का 50 फीसदी कंपनियां अपने पास ही रखें। अगले छह महीने तक ब्याज नहीं देने की छूट दी जाए। सभी बैंक और गैर बैंकिंग वित्तीय..
                 

तनु की हालत में सुधार, मां की अावाज सुनी पर अांखें नहीं खाेलीं

बाबई के बीकाेर गांव मंे शुक्रवार को घर की छत से गिरी तनु राजपूत (2) की हालत में सुधार हो रहा है। डाॅक्टराें के मुताबिक तनु मां की अावाज सुन रही है। सूजन हाेने के कारण वह अांखे नहीं खाेल पा रही। सोमवार को उसे दूध पिलाने की काेशिश की गई लेकिन उसने नहीं पिया।बता दें कि बाबई के बीकाेर गांव में तनु अपनी बड़ी बहन खुशबू के साथ छत से गिर गई थी। हादसे में खुशबू की मौत हो गई थी। वहीं तनु की हालत गंभीर होने के कारण उसका इलाज हरदा बायपास स्थित अस्पताल में चल रहा है। उसके सिर में 5 बड़े फैक्चर है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Babai News - mp news tanu39s condition improves mother39s voice is not heard on eyes..
                 

इंदौर में मृतक अब 13, संक्रमित 151; नए 16 केस, 3 मौतों के बीच 11 डिस्चार्ज

शहर में काेरोना संक्रमण के 16 नए मामले मिले हैं। सोमवार को पॉजिटिव मरीजों की संख्या 151 पर पहुंच गई है। एमजीएम मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने तीन मरीजों के मौत की पुष्टि भी की है। हालांकि इनकी मौत रिपोर्ट मिलने से पहले ही हो चुकी थी। इस महामारी से मरने वालों की संख्या 13 हो गई है। इन बुरी खबरों के बीच अच्छी खबर भी आई। सोमवार को ही कोरोना से जंग जीतकर 11 मरीज अस्पताल से डिस्चार्ज हो गए। इनमें 10 तो अरबिंदो हॉस्पिटल में भर्ती थे, जबकि एक मेल नर्स एमआर टीबी अस्पताल में।मेडिकल कॉलेज से मिली जानकारी के अनुसार नए पॉजिटिव मरीज टाटपट्टी बाखल, अहिल्या पल्टन, अनूप नगर, विद्या पैलेस, दौलतगंज (रानीपुरा), रानी नगर, दाऊदी नगर, आजाद नगर, धार रोड आदि क्षेत्रों में मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग और प्रशासनिक अमले ने इन इलाकों को सील कर दिया है। इसी बीच दो संदिग्ध मरीजों की मौत की सूचना है। इनमें एक महिला और एक पुरुष हैं। महिला रानी बाग की रहने वाली है। उनकी डिप्रेशन की दवाइयां चल रही थी। रविवार को अचानक से उन्हें बोलने में दिक्कत होने लगी। इस पर उन्हें सीएचएल हॉस्पिटल लेकर गए। निमोनिया बताने पर एक्स-रे करवाया।एक्स..
                 

होम डिलीवरी के लिए 30 स्टोर्स पर 20 हजार कॉल, छह हजार घरों तक ही पहुंचा पाए सामान

टोटल लॉकडाउन का पहला दिन। किराना और सब्जी की होम डिलीवरी के लिए सोमवार को अधिकृत 30 स्टोर्स पर 20 हजार से ज्यादा कॉल पहुंचे, लेकिन 6 हजार घरों तक ही सामान पहुंचाया जा सका। सबसे ज्यादा छह हजार कॉल ऑनडोर पर आए। नतीजा-उनका एप क्रैश कर गया। प्रशासन की सूची में दिए गए बेस्ट प्राइस करोंद का नंबर 0755-716445 गलत निकला, मोबाइल नंबर 8349173177 स्वीच ऑफ था। बेस्ट प्राइस कोलार का नंबर 0755716445 भी गलत निकला। बिग बाजार के मोबाइल नंबर लगातार बंद मिले। कोलार के प्रेप्टीज सर्विस के नंबर भी लगातार व्यस्त मिले। किसी स्टोर पर सामान नहीं था तो किसी पर होम डिलीवरी के लिए स्टाफ की कमी थी। बाकी को मंगलवार को सप्लाई होगा।इस भ्रम में ज्यादा पहुंचे कॉल...कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा चार दिन के लिए टोटल लॉक डाउन घोषित करने और लगातार संक्रमित मरीजों का आंकड़ा बढ़ने से आम लोगों के मन में यह भय बैठ गया कि अगले कई दिनों तक बाजार बंद रहेंगे। नतीजा उन्होंने होम डिलीवरी के लिए प्रशासन द्वारा जारी किए गए नंबर, एप और वेबसाइट पर बुकिंग के लिए झड़ी लगा दी।झाड़ू, चिप्स, शेविंग क्रीम सेे ल..
                 

घायल को तीन अस्पतालों ने लौटा दिया, एमवायएच पहुंचते ही मौत

लोकमान्य नगर में रहने वाले 86 वर्षीय रिटायर्ड इंजीनियर नारायण फाटक सोमवार को घर में सीढ़ियां चढ़ते वक्त फिसल गए। उन्हें सिर में गंभीर चोट लगी। बेटा तुषार उन्हें तुरंत यूनिक अस्पताल ले गया, पर डॉक्टर नहीं है... कहकर स्टाफ ने इलाज करने से मना कर दिया। इसके बाद अरिहंत अस्पताल पहुंचे। वहां भी यही जवाब देकर बाहर से ही मना कर दिया गया।दो अस्पतालों के मना करने के बाद रिश्तेदारों ने चोइथराम अस्पताल ले जाने को कहा। वहां भी वही रटारटाया जवाब मिला। तीन अस्पतालों की भाग-दौड़ में डेढ़ घंटे से ज्यादा बर्बाद हो गया। फिर घायल को लेकर एमवायएच पहुंचे। वहां पहुंचते ही नारायण ने दम तोड़ दिया। तुषार ने व्यवस्था पर आक्रोश जताते हुए कहा- कोरोना संक्रमण महामारी जरूर है, लेकिन किसी की इमरजेंसी को भी समझना चाहिए। यदि पिता को समय पर इलाज मिल जाता तो शायद वे बच जाते।रात को मरीज को अंदर तक नहीं आने दिया, सीधे गोकुलदास अस्पताल भेजाउधर, खजराना के हाईपोग्लाइसिमिया पीड़ित एक मरीज को रविवार रात काे निजी अस्पताल ने बाहर से ही रवाना कर दिया। डॉक्टर ने हाथ तक नहीं लगाया और सीधे गोकुलदास अस्पताल जाने की सलाह दे दी। परिजन गोक..
                 

22 नए कंटेनमेंट एरिया, संख्या बढ़कर 63 हुई, यहां आने-जाने पर पूरी रोक

कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ ही प्रशासन ने 22 नए कंटेनमेंट एरिया घोषित किए हैं। इनके साथ ही शहर में कंटेनमेंट एरिया की संख्या बढ़कर अब 63 हो गई। नए घोषित एरिया में बाग सेवनिया, रीगल होम्स खजूरीकलां, जानकी नगर चूना भट्टी, सलैया, पार्वती नगर कोलार, टीटी नगर पुलिस आवासीय परिसर के तीन मकान, जहांगीरबाद, 25वीं बटालियन, शिवाजी नगर, अशोका गार्डन, नुपूर कुंज, एसबीआई कॉलोनी जहांगीराबाद, नॉर्थ टीटी नगर, घरोंदा हाइट्स कोलार, ऋषि नगर चार इमली, अवधपुरी, 477 बाग सेवनिया, खनूजा इनक्लेव दाना पानी, रचना नगर और अमलतास फेज- शामिल हैं। इन एरिया में बाहरियों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है।थाना प्रभारी समेत 271 पुलिसकर्मी अब घर नहीं जाएंगेइधर, पुलिसकर्मियों में बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर थाना प्रभारी समेत 271 पुलिसकर्मी अब घर नहीं जाएंगे। इन सभी को होटलों में रोका जाएगा। इनमें टीटी नगर, ऐशबाग और जहांगीराबाद थाने का पूरा स्टाफ शामिल है। एक-दूसरे से मिलने के कारण पुलिसकर्मियों में ये संक्रमण बढ़कर 8 हो गया है। इनमें 5 पुलिसकर्मी और 3 परिजन शामिल हैं। टीटी नगर थाने में 94, ऐशबाग थाने में 76 और जहांग..
                 

कोरोनावायरस पॉजिटिव 11 मरीजों ने जीती जंग, पूरी तरह से ठीक हुए, अस्पताल से किया डिस्चार्ज

कोरोनावायरस के लगातार बढ़ते प्रभाव के मध्य के मध्य एक बेहतर खबर यह है कि सोमवार को इंदोर में इसके 11 पॉजिटिव मरीज पूरी तरह से ठीक हो गए है। इन मरीजों को अस्पताल से छुट्‌टी दे दी गई है और अब यह 14 दिनों तक होम क्वारेंटाइन रहना होगा।महात्मा गांधी मेडिकल कॉलेज की डीन डॉक्टर ज्योति बिंदल ने बताया कि सोमवार को कोरोनावायरस से पीड़ित मरीज राजेश असावरा को पूरी तरह से ठीक होने के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया। राजेश कोरोना से जंग जीतने वाले इंदौर के पहले व्यक्ति है। इसके अलावा 10 अन्य कोरोना पॉजिटिव मरीज भी सोमवार को कोरोना बीमारी से ठीक हो गए है। कोरोना पॉजिटिव आने के बाद इन 10 मरीजों का उपचार अरबिंदो अस्पताल में किया जा रहा था।डॉक्टर बिंदल के अनुसार जिन मरीजों ने काेरोना से जंग जीती है उनके नाम मोहम्मद सलीम, इकबाद कुरैशी, वाजीद कुरैशी, शब्बीर, करण सिसौदिया, प्रहलाद अग्रवाल, जितेन्द्र सिसौदिया, अंजु सिसौदिया, आयशा और आलिया है। यह पूरी तरह से ठीक हो गए हैं लेकिन इन्हें 14 दिनों तक होम क्वारेंटाइन रहना पड़ेगा। डीन ने कहा कि आज से इंदोर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या में 11 मरीजों क..
                 

चरित्र शंका में दिनभर झगड़े, शाम को गर्भवती थाने पहुंची तो भागा पति, फिर रात में झड़गे, आखिर में 5वीं मंजिल से कूद गई पत्नी

खंडवा नाका स्थित न्यू रानी बाग में रहने वाली एक गर्भवती महिला ने पति से विवाद के बाद सोमवार सुबह पांच बजे पांचवी मंजिल से कूदकर जान दे दी। दिनभर दंपत्ति में विवाद होता रहा, इसके चलते पत्नी शाम को थाने पहुंची तो पति भाग गया फिर रात 11 बजे पहुंचा और रातभर झगड़ता रहा। इन दोनों का विवाद पांच साल का मासूम भी देखता रहा। सुबह जब महिला की मौत हो गई तो पति ने पुलिस को फोन लगाकर बुलाया। वह भी गंभीर रूप से झुलसा हुआ था। उसका भी इलाज चल रहा है।तेजाजी नगर टीआई नीरज मेढ़ा के अनुसार न्यू रानीबाग स्थित जेएमडी बिल्डिंग की पांचवी स्थित मंजिल से गिरने से 28 वर्षीय वंदना तिवारी की मौत हो गई। उसके पति अनूप तिवारी को झुलसी हालत में एमवायएच में भर्ती करवाया है। एडवाइजरी कंपनी संचालित करने वाले पति ने पुलिस को बताया कि उसका पत्नी से विवाद हो रहा था। दोनों रातभर झगड़ते रहे। सुबह पांच बजे पत्नी ने पानी गर्म किया और गुस्से मे आकर अनूप के ऊपर फेंक दिया। वह बुरी तरह झुलस गया और फिर पत्नी आक्रोशित होकर पांचवी मंजिल स्थित पेंट हाउस की छत से कूद गई। उसके गिरने के बाद पति ने तत्काल पुलिस को फोन लगाकर बुलाया। तब तक मल्..
                 

पुलिसकर्मियों ने गाना गाकर व्यवस्था में लगे स्टाफ एवं जनता का हौंसला बढ़ाया

राजधानी भोपाल में आज सहायक उपनिरीक्षक (रेडियो) प्रभात श्रीवंश द्वारा शहर के कई स्थानों पर गाना गाकर व्यवस्था में लगे स्टाफ एवं जनता का हौंसला बढ़ाया गया। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (दूरसंचार) एसके झा के निर्देशन में पुलिस दूरसंचार मुख्यालय एवं राज्यस्तरीय डायल 100 पुलिस कंट्रोल रूम के पुलिस अधिकारियों के स्वयं के सहयोग से दो टीम बनाकर जेपी अस्पताल के मेडीकल स्टाफ एवं गरीब बस्तियों में जाकर असहाय लोगों को भोजन के पैकेट वितरण किए।देश भर में लॉक डाउन के कारण कई परिवारों को भोजन मिलने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है ऐसे समय में मध्य प्रदेश पुलिस के द्वारा जन सेवा के उत्कृष्ट प्रयास किये जा रहे हैं। इसी पहल के अनुसरण मे पुलिस दूरसंचार मुख्यालय एवं राज्यस्तरीय डायल -100 पुलिस कंट्रोल रूम के पुलिस अधिकारियों तथा कर्मचारियों के सहयोग से जेपी अस्पताल में जाकर मेंडीकल स्टाफ एवं बस्तियों में जाकर गरीबों व असहाय लोगों को भोजन के पैकेट वितरण कराया गया। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today पुलिसकर्मियों द्वारा गाए जा रहे गीतों को सुनकर ह..
                 

डॉक्टरों ने टूटने नहीं दिया हौसला, कहते थे- बेटा तुम्हें हारना नहीं है... जीतकर दिखाना है

शहर में लगातार काेरोना पॉजिटिवकी बढ़ती संख्या के बीच सोमवार को एक राहतभरी खबर आई। इंदौर में 8 दिन पहले संक्रमित 47 वर्षीय मेल नर्स राजेश असावरा ने कोरोना सेजंग जीत ली। राजेशचंद्रपुरी कॉलोनी में रहते हैं।उनकी रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद मनोरमा राजे अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया। जब वे पूर्ण स्वस्थहोकर घर के लिए चले तो लोगों ने ताली बजाकर उनका अभिनंदन किया। उन्हाेंने भी सभी डॉक्टर्स, मेडिकल स्टाफ, जिला प्रशासन का शुक्रिया अदा किया।डॉक्टर और स्टाफ ने मुझे कोरोना से लड़ने की ताकत दीकोरोना को हराकर घर पहुंचे राजेश ने बताया कि एमवायएच में कोरोना संक्रमित मरीज के इलाज के दौरान वे संक्रमित हुए थे। 26 मार्च को गले में खरास हुई। इसके बाद तत्काल डॉक्टर हर्ष से संपर्क किया।उन्होंने 27 मार्च को एमआरटीवी अस्पताल में बुलाया। यहां पर सैंपल लेने के बाद कहा गया कि जब तक रिपोर्ट नहीं आती, आप सात दिन होम क्वारैंटाइन में रहिए। 29 मार्च को उन्होंने फोन करके मुझे एमआरटीबी अस्पताल आने को कहा। यहां जब पहुंचा तो पता चला कि मेरी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्होंने कहा- आपको 14 दिनों तक आइसोलेशन वार्ड में ही रहना होग..
                 

इंदौर में अब तक 10 मौतें, 135 संक्रमित; दो संदिग्ध मरीजों ने भी दम तोड़ा, 6 नए कैंटोनमेंट एरिया घोषित

शहर में कोरोना के मरीजों की संख्या थमने का नाम नहीं ले रही। रविवार को 22 और नए मरीज मिले, जबकि दो मरीजों की मौत हो गई। इंदौर में इस महामारी से मरने वालों का आंकड़ा 10 हो चुका है। यह देश के कुल मृत्यु के आंकड़े 127 का 8 फीसदी है। देर रात दो और संदिग्धों की मौत का पता चला, लेकिन प्रशासन ने इसकी पुष्टि नहीं की। एमजीएम मेडिकल कॉलेज और स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों में भी गफलत जारी है। विभाग ने शनिवार को जो रिपोर्ट दी, उसके हिसाब से रविवार को मरीजों की संख्या 150 होना थी, जबकि मेडिकल कॉलेज 135 बता रहा। लगातार संख्या बढ़ने के बाद सोमवार को छहनएक्षेत्र कंटेनमेंट एरिया घोषित कर दिए गएमेडिकल कॉलेज के मुताबिक रविवार को स्नेहलतागंज की नसरीन बी (53) और उदापुरा के मो. रफीक (50) ने दम तोड़ा। दोनों की कोई ट्रैवल हिस्ट्री सामने नहीं आई है। यह भी पता नहीं चला कि वे किस संक्रमित के संपर्क में आए। इधर, नए मिले मरीजों में सबसे ज्यादा 6 टाटपट्‌टी बाखल के हैं। इनमें भी 5 मरीज उस मकान के हैं, जहां शनिवार को 7 मरीज मिले थे। यानी यहां एक ही घर में 12 संक्रमित हो गए।नयापुरा, समाजवाद नगर भी अब कंटेनमेंट एरियामध्य प..
                 

एक लाख की अंग्रेजी शराब के साथ दो आरोपी गिरफ्तार, एक मौके से भागा

लॉकडाउन के बाद भी शहर में अवैध शराब का कारोबार तेजी से चल रहा है। इस पर नियंत्रण के लिए आबकारी विभाग सख्त होने के बजाए सुस्त नजर आ रहा है। सोमवार तड़के सुबह 4 बजे अवैध रूप से स्कार्पियों में ले जाई जा रही अंग्रेजी शराब की एक खेप को हीरानगर पुलिस ने पकड़ा। पुलिस की कार्रवाई में दो आरोपी तो मौके पर ही पकड़ा गए, लेकिन एक आरोपी चकमा देकर भाग निकला।हीरानगर टीआई राजीव भदौरिया ने बताया कि कबीट खेड़ी इलाके में अवैध रूप से अंग्रेजी शराब ले जाई जाने की सूचना मिली थी। इस गैंग को पकड़ने के लिए देर रात 2 बजे से टीम को लगाया था,लेकिन तड़के सुबह 4 बजे सफलता मिली। टीम ने एक स्कार्पियों कार को रोका तो उसमें सवार आरोपी विनोद (45) पिता दौलत सिंह ठाकुर निवासी कबीट खेड़ी और कपिल (32) पिता भंवरसिंह राजपूत निवासी छोटी खजरानी को गिरफ्तार किया। इनका एक साथी बंटी सोनवाने निवासी छोटा बांगड़दा पुलिस कार्रवाई के दौरान भाग निकला।पुलिस ने इनकी स्कार्पियों चेक की तो उसमें 12 पेटी अंग्रेजी शराब की हाई रेंज की बोतलें मिली। आरोपी अवैध रूप से ये शराब लाकर कबीट खेड़ी इलाके में लोगों को दो गुने से तीन गुना रेट में बेच रहे थे। आरोपि..
                 

जन्मदिन मना रहे लोगों को समझाने पहुंची प्रशासन की टीम पर हमला; तहसीलदार समेत कई पुलिस कर्मी घायल

जिले के भितरवार जनपद के ग्राम सांखनी में कोरोना संक्रमण से बचाव की समझाइश देने गए प्रशासनिक अमले पर हमला कर दिया गया, जिससे तहसीलदार और और अन्य कर्मचारी घायल हो गए हैं। पुलिस के मुताबिक, लॉकडाउन के दौरान भितरवार के तहसीलदार कुलदीप दुबे कल रात क्षेत्र में भ्रमण पर थे। तभी उन्हें खबर मिली कि ग्राम सांखनी के पास एक घर में कुछ लोग इकट्ठे होकर जन्मदिन की पार्टी मना रहे हैं। उन्हें एकत्र होने से रोकने के लिएतहसीलदारकुलदीप दुबे मौके पर पहुंचे और लॉकडाउन के दौरान इस तरह के आयोजन पर आपत्ति जताई। इसके बादउन्हें समझाने लगे।जन्मदिन मना रहे एकत्रितलोगों ने इसका विरोध किया और फिर दोनों पक्षों मेंविवाद हो गया। घर में एकत्रित लोगों ने अमले पर पत्थरों और लाठियों से हमला कर दिया। इस हमले में तहसीलदार कुलदीप दुबे सहित उनके साथ गए अन्य कर्मचारी घायल हो गए। घटना की खबर मिलते ही पुलिस बल मौके पर पहुंच गया और इस मामले में आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने इस घटना में पांच लोगों को नामजद और कुछ अज्ञात लोगों के विरुद्ध प्रकरण दर्ज किया गया है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hi..
                 

दो दिन पहले दिया था ऑर्डर, अधिकांश घरों में नहीं पहुंचा राशन, 3-4 दिन और लगेंगे

कोरोनावायरस से बचाव के लिए शहर में सख्त कर्फ्यू जारी है। ऐसे में लोगों के घरों तक राशन पहुंचाने की व्यवस्था शनिवार से प्रशासन ने शुरूकी थी। लेकिन सोमवार तक अधिकांश लोगों के घरों में राशन नहीं पहुंचा है। कई घरों में राशन लगभग समाप्त हो गया है। निगम में कार्यरत कर्मचारियों का कहना है कि घर तक राशन पहुंचने में अभी तीन से चार दिन का समय और लग सकता है।कर्फ्यू के दौरान आवश्यक वस्तुओं जैसे आटा-दाल औरअन्य राशन की सामग्री को खरीदने के बहाने लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकले, इसके लिए प्रशासन द्वारा घर पर ही राशन पहुंचाने की व्यवस्था की गई है। शनिवार से इस व्यवस्था के तहत 27 हजार से अधिक घरों से कचरा गाड़ी के माध्यम से राशन का ऑर्डर लिया गया था। इसकी डिलीवरी अगले दिन की जानी थी। रविवार को भी लगभग 23 हजार नए ऑर्डर निगम को मिले। इस तरह प्रशासन को 50 हजार से अधिक घरों में राशन पहुंचाना है। रविवार को कुछ घरों में राशन पहुंचाया गया लेकिन अधिकांश घरों में सोमवार तक भी राशन नहीं पहुंच सका।मध्य शहर के छत्रीबाग में रहने वाले एक परिवार ने जब इस संबंध में कचरा गाड़ी के ड्राइवर से पूछा तो उसने कहा कि राशन कब आ..
                 

रात 9 बजे दीप जलाने के बाद कलाबाजी करते युवक का चेहरा झुलसा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर शहर में रविवार रात 9 बजे, 9 मिनट के सभी ने लोगों ने अपने घरों की बिजली बंद की। किसी ने दीपक से घर में रोशनी की तो किसी ने मोमबत्ती जलाकर। कुछ ने तो मोबाइल की फ्लैश लाइट जलाकर कोराेना से इस जंग में अपनी सहभागिता की। दीप जलाने के बाद एक युवक ने आग से कलाबाजी की। ढाबा रोड स्थित गैबी हनुमान मंदिर के पास ज्वलनशील पदार्थ लेकर कलाबाजी कर रहा युवक जब दूसरी बार आग को मुंह के पास ले गया तो चेहरे ने आग पकड़ ली। रहवासियों ने तत्काल आग बुझाई लेकिन जब तक उसका चेहरा झुलस गया। उसे इलाज के लिए अस्पताल भिजवाया।शहर में 23 मेगावाट की डिमांड घटीप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर शहर में रविवार रात 9 बजे से 9:09 बजे तक लोगों ने अपने घरों की बिजली बंद की। इस वजह से 23 मेगावाट की डिमांड घटी। रविवार रात 9 बजे तक 220 मेगावॉट की डिमांड थी जो घटकर 197 मेगावॉट रह गई। बिजली कंपनी के अमले ने शाम 6 बजे से ही लोड मैनेजमेंट सिस्टम पर कार्य शुरू कर दिया था। इसलिए वोल्टेज बढ़ने की समस्या नहीं आई। 24 मिनट बाद वापस यथास्थिति हो गई। एसई भूपेंद्र सिंह ने बताया रात 9 बजे तक 220 मेगा व..
                 

मस्जिदों में मिले 14 जमाती, 4 का तापमान अधिक होने से जिला अस्पताल में किया भर्ती, सेंपल भेजे गए

पिछले दिनों दिल्ली में हुई घटना के बाद जिला प्रशासन और पुलिस शहर की मस्जिदों पर नजर रखे हुए है। प्रशासन और पुलिस ने लोगों की सूचना पर सिटी कोतवाली क्षेत्र की दो मस्जिदों में रह रहे 14 जमातियों को जिला अस्पताल पहुंचाते हुए जांच कराई। इनमें से 10 लोगों के शरीर का तापमान सामान्य पाया गया। यह स्वस्थ भी पाए गए। वहीं 4 लोगों का तापमान अधिक पाए जाने पर जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया है।स्थानीय लोगों की शिकायत पर सीएसपी उमेशचंद्र शुक्ला, नायब तहसीलदार शैवाल सिंह, कोतवाली टीआई जीतेंद्र वर्मा, ओरछा रोड थाना प्रभारी अरविंद सिंह दांगी, टीआई याकूब खान सहित पुलिस और प्रशासन की टीम नौगांव रोड में क्रिश्चियन स्कूल के पास की मस्जिद पहुंचे। वहां पर इस टीम ने मस्जिद में रह रहे 10 लोगों को वाहन में बैठाया और जिला अस्पताल पहुंचाया। इसके बाद यह टीम छोटी कुजरेटी स्थित मस्जिद पहुंची और वहां से 4 लोगों को दूसरे वाहन में बैठाकर जिला अस्पताल पहुंचाया। इन सभी 14 लोगों को पुलिस और प्रशासन ने आइसोलेशन वार्ड पहुंचाया। यहां ड्यूटी पर मौजूद डॉक्टर ने सभी की स्क्रीनिंग करते हुए स्वास्थ्य की जांच की। इनम..
                 

इंदाैर में काेराेना पाॅजिटिव दाेस्त के साथ हाेटल में ठहरा था, वहीं से संक्रमित हुआ बड़गांव का युवक

जिले में कोराेना का चौथा मरीज सामने आने के बाद प्रशासन ने सख्ती और बढ़ा दी है। जिला मुख्यालय से 11 किमी दूर बड़गांव के 42 वर्षीय युवक की रविवार को रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वह 27 मार्च को इंदौर से लौटा था। वहां ऑनलाइन कामकाज कर रहा था। वह दोस्तों के साथ होटल में ठहरा था। उनमें से बाद में एक की पॉजिटिव रिपोर्ट आई। उसके संपर्क में रहने से कोरोना हुआ। यह जानकारी खुद मरीज ने साझा की है।युवक ने बताया इंदौर के रानीपुरा स्थित होटल में ऑनलाइन डिलेवरी के ऑर्डर लेता था। बाकी साथी सामान पहुंचाते थे। लॉकडाउन के बाद वे होटल में ठहरे थे। इंदौर से मराल फाटा तक श्रीखंडी के दोस्त के साथ मिनी ट्रक से पहुंचे। कसरावद से साले को बाइक लेकर छोड़ने बुलाया। वह खरगोन में दोनों को इंदौर रोड तक पहुंचाकर गया। यहां दो बार जांच हुई। डॉक्टरों ने 14 दिन घर पर ही रहने को कहा था। घर के ऊपरी हिस्से में रह रहा था। ज्यादा खांसी आने लगी। तो 30 मार्च को जिला अस्पताल पहुंचा। छह दिन से जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड व उसके दामखेड़ा स्थित एकांतवास में भर्ती रहा। दोपहर में इंदाैर रैफर कर दिया गया। उसके परिजन, बाइक से छोड़ने वाले साले व..
                 

20 जमातियों के संपर्क में आए एक हजार लोग; 300 होम क्वारैंटाइन, 700 की तलाश, प्रशासन की लोगों से अपील- जो इनके संपर्क में आया हो, हमें जानकारी दें

दिल्ली के निजामुद्दीन से लौटे 20 जमातियों के सैंपल कोरोना पॉजिटिव आने के बाद शहर में एक हजार लोगों को संक्रमण का खतरा बना हुआ है। इसमें से 300 लोग ऐसे हैं जो सीधे इन 20 जमातियों के संपर्क में थे। जिनका पता लगा लिया गया है, इन 300 लोगों को होम क्वारेंटाइन करा दिया गया है। जबकि पुलिस, प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग का अमला शेष 700 लोगों की तलाश कर रहा है। जो इन जमातियों के संपर्क में रहे होंगे। प्रशासनआम लोगों से यह अपील कर रहा हैकि जो भी इन जमातियों के संपर्क में रहा है, उसकी जानकारी पुलिस और प्रशासन को दे। साथ ही खुद होम क्वारेंटाइन हो जाए।ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि इन जमातियों के संपर्क में आने से सब्जी मंडी के व्यापारी अब्दुल गफार और उनके बेटे सरफाराज कोरोना पॉजिटिव आया है। जबकि स्वास्थ्य विभाग के 13 अफसर और कर्मचारियों को कोरोना पॉजिटिव आने के बाद 172 लोगों को होम क्वारेंटाइन करा दिया गया है। इसी तरह आईएएस जे विजय कुमार को कोरोना पॉजिटिव आने के बाद कोरोना कोर ग्रुप के 12 आईएएस ऑफिसर भी सेल्फ क्वारेंटाइन में चले गए हैं।मप्र में अब तक 223 लोग कोरोना संक्रमितमध्य प्रदेश में 223कोरोना सं..
                 

20 जमातियों के संपर्क में आए 1000 लोगों पर संक्रमण का खतरा, 300 होम क्वारेंटाइन, 700 की तलाश जारी

दिल्ली के निजामुद्दीन से लौटे 20 जमातियों के सैंपल कोरोना पॉजिटिव आने के बाद शहर में एक हजार लोगों में संक्रमण का खतरा बना हुआ है। इसमें से 300 लोग ऐसे हैं जो सीधे इन 20 जमातियों के संपर्क में थे। इनका पता लगा लिया गया है, इन्हें होम क्वारेंटाइन करा दिया गया है। जबकि पुलिस, प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग का अमला बाकी के 700 लोगों की तलाश कर रहा है। इसके चलते ही लाॅकडाउन में सख्ती की है। लोगों से भी यह अपील की जा रही है कि जो भी इन जमातियों के संपर्क में रहा है उसकी जानकारी पुलिस और प्रशासन को दें। साथ ही खुद होम क्वारेंटाइन हो जाएं।अनुमान है कि इनके संपर्क में आने से ही सब्जी कारोबारी अब्दुल गफ्फार और उनके बेटे सरफराज भी संक्रमित हुए हंै। जबकि स्वास्थ्य विभाग के 12 अफसर और कर्मचारियों के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद 172 लोगों को होम क्वारेंटाइन करा दिया है। कलेक्टर तरुण पिथोड़े के मुताबिक पॉजिटिव मरीजों के घरों के आसपास बाहरी व्यक्ति के आने जाने पर रोक लगा दी गई थी। बाहरी व्यक्ति के घूमने पर पुलिस सीधे गिरफ्तारी करेगी। मेडिकल टीम यहां पर घरों का सर्वे करेंगी।20 जमाती पॉजिटिव इनके संपर्क में अब..
                 

भोपाल में कोरोना से पहली मौत, 23 नए पॉजिटिव केस आए, इनमें 3 डॉक्टर शामिल; प्रदेश में अब तक 15 लोगों ने जान गंवाई

(अजय वर्मा). भोपाल में कोरोना से पहली मौत हो गई है। शहर केइब्राहिमगंज के रहने वाले नरेश खटीक ने रविवार-सोमवार देररात को 12.30 बजे दम तोड़ दिया। रविवार को ही युवक कीकोरोना रिपोर्ट पॉजीटिव आई थी। चार दिन पहले सांस लेने तकलीफ के चलते उन्हें नर्मदा अस्पताल में भर्ती कराया गया था। यहां पर डॉक्टर्स की टीम आइसोलेशन वार्ड में इलाज कर रही थी। अस्पताल की डायरेक्टर डॉ रेणु शर्मा ने बताया कि डॉक्टर्स की टीम ने उसे बचाने का पूरा प्रयास किया। लेकिन उसकी स्थिति में सुधार नहीं होने की वजह से मौत हो गई। उसके दोनों फेफड़े खराब हो गए थे। इधर, खटीक के बेटे गौरव ने बताया कि पिता नरेश बिट्टन मार्केट में चौकीदारी करते थे। चार दिन पहले उनकी तबीयत अचानक खराब होने के बाद उनको अस्पताल में भर्ती किया गया था।भोपाल में एक मौत के साथ ही कुल संक्रमितों की संख्या 41 हुईभोपाल में रविवार को 23 नए कोरोना पॉजिटिव मिले, इनमें 12 जमाती और 11 स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी-कर्मचारी शामिल हैं। सभी को एम्स में भर्ती कराया गया है। भोपाल में कुल संक्रमितों की संख्या 41 हो गई है। यहां इस समय कुल 39 संक्रमितों का इलाज चल रहा है। दो मरीज..
                 

9 मुस्लिम युवकों का क्वारैंटाइन सेंटर में हंगामा, डॉक्टर से अभद्रता, स्टाफ पर थूका

गाजियाबाद में तब्लीगी जमात के लाेगों द्वारा क्वारैंटाइन सेंटर में डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ के साथ अभद्रता के बाद ऐसा ही एक मामला ग्वालियर में सामने आया है। गुपचुप महाराष्ट्र, तेलंगाना, गुजरात और बिहार से आकर गिजौर्रा के पास सिस गांव में रह रहे नौ मुस्लिमाें सहित दस लाेगाें को जब राज्य प्रबंधन संस्थान में बनाए गए क्वारैंटाइन सेंटर में भेजा गया ताे युवकाें न सिर्फ हंगामा किया बल्कि डॉक्टरों से अभद्रता की। इनमें से एक युवक ने स्टाफ पर थूक भी दिया। सभी ने अभद्रता करने के साथ विशेष खाने की मांग की और क्वारैंटाइन सेंटर में दिए जाने वाला खाना खाने से इनकार कर दिया। हंगामा बढ़ने पर सेंटर के स्टाफ ने पुलिस बुलाई। इंसीडेंट कमांडेंट की मांग के बाद यहां 24 घंटे के लिए सिपाही तैनात किए गए हैं।इंसीडेंट कमांडर रविनंदन तिवारी ने बताया कि गिजौर्रा के सिस गांव से 10 लोग स्वास्थ्य प्रबंधन संस्थान स्थित क्वारैंटाइन सेंटर में भेजे गए थे। इनमें से नौ मुस्लिम हैं। दोपहर में स्टाफ ने उन्हें बताया कि गिजौर्रा से आए लोग हंगामा कर रहे हैं। यह लोग विशेष खाने की डिमांड कर रहे हैं। जो खाना यहां उपलब्ध है, उसे देखक..
                 

नारी प्रगति मंच जरुरतमंदों को बांट रहा अनाज, मास्क

सोहागपुर| शोभापुर के नारी प्रगति मंच द्वारा लॉकडाउन के दौरान गांव के जरुरतमंद लोगों में प्रतिदिन भोजन के पैकेट बांटे जा रहे हैं। इसके अलावा समाज सेवी संगठन लोगों को निशुल्क अनाज और माक्स भी बांट रहे हैं। संस्था सदस्यों ने बताया कि देश में चल रहे कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए सभी ग्रामवासी मिलकर कार्य कर रहे हैं जिसमें विश्व हिंदू परिषद द्वारा गांव को सैनिटाइज एवं माक्स वितरण करने में सहयोग किया जा रहा है संस्था के सदस्यों ने बताया कि वह प्रतिदिन भोजन के 200 पैकेट बनाकर गरीब मजदूर परिक्रमा वासी एवं बेसहारा लोगों में वितरण कर रहे हैं इसके अलावा संगठन द्वारा लोगों को निशुल्क अनाज माक्स आदि का वितरण भी किया जा रहा है। जिसमें सरला साहू, बसंती मेहरा, आकाश रेवा, संदीप, अंकित, सौरभ, आशु दुबे आदि सहयोग कर रहे हैं Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Suhagpur News - mp news nari pragati manch is distributing grains masks to the needy..
                 

नारी सशक्तिकरण की प्रतीक यह इमारत, विक्टोरिया की याद में बनी, बाद में महारानी लक्ष्मीबाई रखा गया इसका नाम

शहर का महारानी लक्ष्मीबाई एक्सीलेंस कॉलेज, महिला सशक्तिरण का प्रतीक है। इस ऐतिहासिक इमारत की आधारशिला सन् 1887 में महारानी विक्टोरिया की स्मृति में रखी थी। इसके बाद तत्कालीन वायसराय लार्ड कर्जन ने 30 नवंबर 1899 में इसका उद्घाटन किया।उस समय इस भवन में विक्टोरिया कॉलेज के नाम से महाविद्यालय का संचालन किया जाता था। लश्कर मदरसे में कुछ अन्य कक्षाओं का संचालन इसमें शुरू हुआ। 1891-92 मेंस्नातक कक्षाओं के संचालन की स्वीकृति प्राप्त हुई। इसके बाद विज्ञान, वाणिज्य और विधि की कक्षाएं शुरू हो गईं। कॉलेज की प्रोफेसर डॉ. अनीता तिवारी का कहना है कि वीरांगना लक्ष्मीबाई की 100वीं जयंती के अवसर पर 1957 में इसका नाम महारानी लक्ष्मीबाई कॉलेज रखा गया। छात्र संख्या बढ़ने के कारण 1961 में इस संस्थान का विभाजन करके इसमें से विज्ञान संकाय को अलग कर दिया गया।ग्वालियर सेंड स्टोन से बना है इसका भवनकॉलेज के प्रोफेसर डॉ. एके वाजपेयी का कहना है कि इस भवन का डिजाइन आर्किटेक्ट हैरिस-लेक ने किया। उन्होंने इसे इंडोसेरसेनिक शैली में तैयार कराया। इसमें ग्वालियर सेंड स्टोन का इस्तेमाल किया गया। इस भवन का दूसरा तल की सीलिंग..
                 

बैतूल का भैंसदेही क्षेत्र कैंटोनमेंट एरिया घोषित, तीन किमी की सीमा तक आने-जाने पर प्रतिबंध

जिले में सोमवार कोएक कोरोना पॉजिटिवमिला है।नागपुर की तब्लीगी जमात में शामिल होने गए जमाती की वजह से यहप्रकरण सामने आ गया है।भैंसदेही निवासी युवक कीरिपोर्ट कोरोना पॉजीटिव आने के बाद जहां स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया।कलेक्टर राकेश सिंह ने जिले के भैंसदेही नगरीय क्षेत्र मेंकर्फ्यूलगा दिया है, जिसके तहत भैंसदेही नगरीय क्षेत्र सहित तीन किमी की परिधि में कोई भी व्यक्ति घर से बाहर नहीं निकल सकेगा।घर को एपीसेंटर घोषित कियाजिस घर में मरीज पाया गया है, उस घर को कलेक्टर ने एपीसेंटर घोषित करते हुए घर से तीन किलोमीटरदूरी के क्षेत्र को कैंटोनमेंटएरिया घोषित कर दिया है। भैंसदेही नगर में समस्त दुकानें एवं प्रतिष्ठान भी इस दौरान बंद रहेंगे। कलेक्टर राकेेश सिंह ने बताया कि लॉकडाउनके दौरान जिले के अन्य क्षेत्रों में अत्यावश्यक वस्तुओं की उपलब्धता के लिए सुबह 7 बजे से सुबह 10 बजे तक दुकानें खोलने की दी गई छूट भीसमाप्त कर दी गई है। भैंसदेही छोडकऱ अन्य स्थानों पर इस समय में होम डिलेवरी की वस्तुएं दी जा सकेंगी। बैतूल जिले में प्रशासन द्वारा निर्धारित छूट प्राप्त वाहनों को छोडकऱ दोपहिया ए..
                 

राजधानी में कोरोना के मरीजों के लिए निजी और सरकारी अस्पतालों में 5 हजार बेड आरक्षित, पड़ोसी जिलों से भी रेफर होकर आएंगे मरीज

राजधानी भोपाल में कोरोना के बढ़ते संक्रमण और मरीजों की संख्या में हो रही बढ़ोतरी के को देखते हुए सरकार ने शहर के विभन्न अस्पतालों में करीब 5 हजार बेड आरक्षित रखने के आदेश दिए हैं। मंगलवार को राजधानी में संक्रमित मरीजों की संख्या 75 पर पहुंच गई। जिन्हें फिलहाल एम्स और चिरायु मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है।प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। अब तक 3,323 व्यक्तियों की कोरोना की जांच की गई। सरकार ने 25 जनवरी को जिलों के लिए कोरोना संबंधी एडवायजरी जारी की थी। इसके बाद से कोरोना की जांच भी शुरू की गई। खास बात यह है कि जैसे-जैसे टेस्ट की संख्या बढ़ी संक्रमितों की संख्या में भी इजाफा होता गया। शुरुआत में करीब 250 टेस्ट ही प्रतिदिन हो रहे थे। बाद में इसे बढ़ाकर 500 तक लाया गया। पहले टेस्टिंग क्षमता कम होने की वजह से संक्रमितों की संख्या भी कम आ रही थी। लेकिन बाद में टेस्ट की संख्या बढ़ने पर तेजी से संक्रमितों की संख्या बढ़ी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी रोज की टेस्टिंग क्षमता विभिन्न जिलों में दो हजार किए जाने के निर्देश दे चुके हैं। इससे अंदाजा लगाया ज..
                 

इस्तेमाल कर फेंके जा रहे मास्क और हैंड ग्लव्ज बने बड़ी समस्या, इनका उचित तरीके से निपटान नहीं हुआ तो बिगड़ सकते हैं हालात

कोरोनावायरस के संक्रमण से बचने के लिए उपयोग किए जा रहे मास्क और हैंड ग्लव्ज प्रशासन की परेशानी का सबब बन सकते हैं। शहर में अमूमन हर शख्स मास्क तो खरीद ही रहा है। दवा विक्रेता, फल, सब्जी और किराना व्यवसायी तथा उनका स्टाफ भी मास्क और ग्लव्ज का इस्तेमाल कर रहे हैं। आमतौर पर लोग सस्ते और यूज एंड थ्रो वाले सामान में यकीन कर रहे हैं। इतना ही नहीं मास्क और ग्लव्ज का उपयोग कर वे कहीं भी फेंक रहे हैं। इससे महामारी सफाई कर्मियों और जानवरों में फैलने का खतरा बढ़ गया है।जिला प्रशासन ने सोमवार को बैठक कर इस मुद्दे को गंभीरता से लिया है। कलेक्टर ने जनता से भी अपेक्षा की है कि वह मास्क और ग्लव्ज का इस्तेमाल करने के बाद यहां-वहां न फेंके। शहर में इन दिनों जगह-जगह डस्टबीन में और कचरे के आसपास मास्क और ग्लव्ज के टुकड़े पड़े हुए हैं। सफाई कर्मी बगैर मास्क लगाए और ग्लव्ज पहने कचरा उठा रहे हैं। कचरे के ढेर के पास मवेशी और आवारा कुत्ते मंडरा रहे हैं। ऐसे नजारे कई जगह देखने को मिले। पुराने भोपाल स्थित दवा बाजार के शौचालय में तो इस्तेमाल किया हुआ मास्क लटका था।निपटान सही तरीके से करेंभाभा यूनिवर्सिटी भोपाल की डी..
                 

5 दिन पहले इंदौर से ट्रक में बैठकर नागदा पहुंचा 20 साल का युवक काेराेना पाॅजिटिव; पूरा क्षेत्र सील, कर्फ्यू लगाया

नीलगंगा टीआई की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद सोमवार देर रात नागदा निवासी एक 20 वर्षीय युवक के भी संक्रमित होने का पता चला। इसके साथ ही उज्जैन जिले में काेरोना पॉजिटिव की संख्या 11 हो गई है। इनमें से चार की अब तक मौत हो चुकी है। उज्जैन की पहली कोरोना पॉजिटिव 65 वर्षीय मृत महिला के पति सहित परिवार में छह लोग संक्रमित हैं। नागदा में संक्रमित युवक के मिलने के बाद नई दिल्ली क्षेत्र को पूरी तरह से सील कर दिया गया है। वहीं, परिवार के 9 लोगों को आइसोलेट कर दिया है। इसके अलावा दूध-सब्जी सहित परिवार के सदस्य जिन लोगोंसे मिले उनके बारे में भी पता लगाया जा रहा है।जानकारी अनुसार नागदा के नई दिल्ली निवासी 20वर्षीय युवक पेशे से ड्राइवर है। 2 अप्रैल को वह इंदौर के चंदन नगर क्षेत्र से एक ट्रक में सवार होकर नागदा पहुंचा था। दो दिन बाद 4 अप्रैल को उसे सांस लेने में तकलीफ हुई तो उसके पिता ने जबरन उसे जांच करवाने के लिए अस्पताल भेजा। रात 10 बजे वह सरकारी अस्पताल पहुंचा, जहां डॉक्टर ने उसका प्राथमिक उपचार किया। उसे आराम नहीं लगने पर डॉक्टरों ने उज्जैन भेजा। उज्जैन में युवक के सैंपल जांच के लिए भेजे गए, जिसकी ..
                 

तीन थाना प्रभारियों समेत 271 पुलिसकर्मी अगले आदेश तक ड्यूटी के बाद घर नहीं जा सकेंगे, होटल और शॉदी हॉल में रोका जाएगा

राजधानी के पुलिसकर्मियों में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर थाना प्रभारी समेत 271 पुलिसकर्मी अब ड्यूटी के बादघर नहीं जाएंगे। इन सभी को अब थाना क्षेत्र के होटल में रोका जाएगा। इनमें टीटी नगर, ऐशबाग और जहांगीराबाद थाने का पूरा स्टाफ शामिल है। एक-दूसरे से मिलने के कारण पुलिसकर्मियों में ये संक्रमण बढ़कर आठ हो गया है। इनमें पांच पुलिसकर्मी और तीन परिजन शामिल हैं। अफसरों का कहना है कि इस फैसले का मकसद पुलिसकर्मियों के साथ-साथ उनके परिजनों की भी सुरक्षा करना है।किसी को बख्शा नहीं जाएगा : सीएम शिवराजवहीं, पुलिस कर्मियों पर हमले को लेकर सीएम शिवराज ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि किसी को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने इसे लेकर ट्वीट किया है। पांच होटल और एक शादी हाॅलल बुक किया गयाटीटी नगर थाने में 94, ऐशबाग थाने में 76 और जहांगीराबाद थाने में 101 पुलिसकर्मी पदस्थ हैं। एएसपी संदेश जैन ने बताया कि पुलिसकर्मियों के रुकने के लिए कुल पांच होटल और एक शादी हॉल अधिग्रहित किया गया है। ऐशबाग का स्टाफ दो होटल, टीटी नगर का स्टाफ तीन होटल और जहांगीराबाद थाने का स्टाफ लाला शादी हॉल में रुकेगा। इनके खाने..
                 

िदल्ली प्रसूता की मदद करने वाले एएसआई को इनाम

नई दिल्ली | दिल्ली पुलिस के एसआई शेख सैफुद्दीन 3 मार्च को लॉकडाउन के दौरान रुटीन गश्त पर थे। इसी बीच एक घर से जोर-जोर से चीखने की आवाजें आने लगीं। शेख जब वहां पहुंचे तो देखा कि एक गर्भवती बेहद तकलीफ में है और प्रसव पीड़ा की वजह से चीख रही है। लॉकडाउन के चलते उस तक मदद नहीं पहुंच पा रही थी। एएसआई शेख ने सक्रियता दिखाते हुए तुरंत एंबुलेंस का इंतजाम किया और महिला को एलएचएमसी अस्पताल पहुंचाया। समय रहते मदद मिल जाने की वजह से महिला ने स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया। अब दोनों स्वस्थ हैं। दिल्ली पुलिस के डीसीपी ने पत्र लिखकर शेख की तारीफ की है। साथ ही उन्हें नकद इनाम भी दिया गया है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Tal News - mp news delhi reward to asi who helps maternity..
                 

आइसोलेशन में हैं प्रोड्यूसर करीम मोरानी की बेटियां, एक की हालत ठीक

दिखे थे कोरोना के लक्षण...Á‘रा.वन’, ‘चेन्नई एक्सप्रेस’,‘हैप्पी न्यू ईयर’ जैसी कई फिल्में प्रोड्यूस कर चुके प्रोड्यूसर करीम मोरानी की बेटियों में कोरोना के लक्षण डिटेक्ट हुए हैं। दैनिक भास्कर से खास बातचीत में उन्होंने बताया कि...‘मेरी दोनों बेटियों को नानावटी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। एक बेटी शाजा, श्रीलंका से लौटी थी, जिसके बाद उसमें कोरोना के लक्षण दिखे थे। टेस्ट करवाने पर उसकी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आईं। फिलहाल उसकी कंडीशन ठीक है। दूसरी बेटी जोया भी राजस्थान से लौटी थी, उसे भी कोरोना जैसे कुछ सिम्टम्स थे, हालांकि टेस्ट में उसकी रिपोर्ट नेगेटिव आई है। एहतियातन इस वक्त दोनों ही इसोलेशन में हैं। इस वक्त हमारा पूरा घर सेनेटाइज किया जा रहा है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Tal News - mp news producer karim morani39s daughters in isolation one39s condition is fine..
                 

राशन न मिलने की शिकायत लेकर तहसील कार्यालय पहुंची महिलाएं

सिवनीमालवा| नगरपालिका एव प्रशासन के द्वारा राशन वितरण में अनियमितताएं किए जाने से लाेगाें में आक्रोश बढ़ता जा रहा है। जिसका नजारा सोमवार के दिन स्थानीय थाने ओर तहसील कार्यालय में भी नजर आया। यहां कई वार्डो की महिलाएं पहले थाने पहुंची। थाने में काेई सुनवाई नहीं होने के बाद तहसील कार्यालय पहुंची। महिलाओं ने तहसीलदार दिनेश सांवले से राशन दिलाए जाने की मांग की। जहां तहसीलदार ने सभी को आश्वासन दिया कि जांच कर वास्तविक लोगों को राशन दिलाया जाएगा। महिलाओं ने आरोप लगाया है कि कई अपात्र परिवारों को भी राशन वितरण किया जा रहा है, ऐसे कर्मचारियों पर ही कार्रवाई की जाए। इस दाैरान कई महिलाएं बिना मास्क के देखी गई। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today siwanimalwa News - mp news women reached tehsil office complaining of not getting ration..
                 

अाज से टोटल लॉकडाउन, सुबह 8 से 11 बजे तक की छूट बंद; किराना-सब्जी की घर पहुंच सेवा चालू रहेगी

पड़ाेसी जिले बैतूल के भैंसदेही में काेराेना पाॅजिटिव युवक मिलने के बाद प्रशासन अाैर सतर्क हाे गया है। जिले की सीमाअाें पर चाैकसी बढ़ा दी है। इसके साथ ही हाेशंगाबाद, बाबई, सिवनीमालवा, पिपरिया सहित सभी जगह टाेटल लाॅकडाउन जैसी सख्ती रहेगी। प्रशासन ने मंगलवार से सुबह 8 से 11 के बीच लाेगाें के किराना अाैर सब्जी लेने जाने पर भी राेक लगा दी है। सब्जी, किराना, दूध सहित सभी जरूरी सामान की अब केवल हाेम डिलेवरी ही हाेगी। हाेशंगाबाद एसडीएम अदित्य िरछारिया ने अादेश जारी किए हैं कि लाॅकडाउन में किराना, सब्जी लेने के लिए लाेगाें के बाहर निकलने पर पाबंदी रहेगी। सभी जरूरी सामान की हाेम डिलेवरी हाेगी। साेमवार शाम काे पूरे शहर में इसकी मुनादी करा दी। घर से बाहर से निकलने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।इटारसी : डाॅक्टर सहित 6 लाेगों व पानीपत से लाैटे साेहागपुर के 3 व्यापारियाें के सैंपल भेजेजिले में काेराेना के नए संदिग्ध सामने अा रहे हैं। साेमवार काे भी इटारसी के डाॅक्टर समेत एक ही परिवार के 6 लाेगाें अाैर पानीपत से साेहागपुर लाैटे 3 व्यापारियाें के सैंपल जांच के लिए एम्स भाेपाल भेजे। सीएमएचअाे डाॅ.सुधीर जैसा..
                 

खेत में रखी गेहूं की फसल जलकर राख

बिजली के पोल से हुए शाॅर्ट सर्किट से खेत में रखी गेहूं की कटी हुई फसल जल गई। जानकारी मिलने पर सैलाना और धामनोद से आई फायर लॉरी ने आग पर काबू पाया।वानपुरा के नागजी गौतम निनामा के खेत में गेहूं की फसल कटी हुई रखी थी। रविवार देर रात आग लग गई। नागजी के खेत में चार बीघा की कटी हुई फसल रखी हुई थी। सोमवार को गेहूं निकालने थे। इसलिए खेत पर थ्रेसर मशीन रखी हुई थी। नागजी ने बताया खेत के पास ही बिजली पोल लगा है। शाॅर्ट सर्किट होने से पोल पर लगे हैलोजन से चिंगारी निकली जिससे आग लग गई। सैलाना और धामनोद से 40 मिनट में आई फायर लॉरी ने आग पर काबू पाया। तब तक अधिकांश फसल जल गई थी। सूचना पर टीआई बीएल भाभर बल सहित मौके पर पहुंच गए थे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Sarwan News - mp news wheat crop kept in field burnt to ashes..
                 

1300 लीटर सोडियम हाईड्रोक्लोराइड से शहर के 35 क्षेत्रों को सैनिटराइज्ड किया

सोमवार को टैंकर रोड बस्ती में समय पर पहुंचे पैकेट, निगम के अफसर शिकायतों से परेशानलॉकडाउन के दौरान सोमवार को नगर निगम ने 6300 पैकेट जरूरतमंद परिवारों तक पहुंचाए। इनमें 3100 सुबह और लगभग 3200 शाम को बांटे। टैंकर रोड वाली बस्ती जहां से रविवार को देरी से बासी खाने की शिकायत आई थी, वहां सुबह व शाम को खाना पहुंचा। निगम अफसरों के लिए परेशानी कंट्रोल रूम में धड़ल्ले से आ रहे नेताओं के फोन बज रहे हैं।सोमवार को कंट्रोल रूम को 47 शिकायतें मिली। बता दें कि रविवार से प्रशासन ने जरूरतमंदों तक भोजन के पैकेट वितरण पहुंचाने की जिम्मेदारी नगर निगम को सौंप दी है। फिलहाल निगम के सारे इंजीनियर और अफसर इसी में लगे हैं। कमिश्नर एसके सिंह ने बताया कंट्रोल रूम पर मिल जानकारी के अनुसार प्रत्येक व्यक्ति तक भोजन के पैकेट पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं।कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए सोमवार को निगम ने 3 फायर लॉरियों में 1300 लीटर सोडियम हाईड्रोक्लोराइड मिले पानी का छिड़काव कर 35 क्षेत्रों को सैनिटाइज्ड किया। इसके लिए फॉयर लॉरियों ने 2 ट्रिप लगाई। 5000 लीटर की प्रत्येक फॉयर लॉरी में 50 लीटर केमिकल मिलाया । इसके अ..
                 

पांच माह में दूसरी बार 100 फीट ऊंचाई पर लगा तिरंगा फटा, लॉकडाउन होने से नहीं हो पा रही सिलाई

रेलवे स्टेशन परिसर में 100 फीट की ऊंचाई पर लगा तिरंगा फिर फट गया है। जानकारी लगने के बाद इंजीनियरिंग विभाग ने चार दिन पहले इसे उतार लिया था। अब कोरोना वायरस के चलते लगे लॉकडाउन में उसकी सिलाई नहीं हो पा रही है। इसलिए तिरंगा झंड़ा अब तक वापस नहीं लग पाया है। अधिकारियों के मुताबिक सिर्फ झंड़े की चौड़ाई ही 30 फीट और लंबाई 20 फीट है, इसलिए हर कोई टेलर ठीक नहीं कर पाएगा। कोशिश कर रहे हैं, जल्द वापस लगवा देंगे।इसलिए फटा झंड़ाकुछ दिन पहले मौसम बदलने के बाद तेज हवाओं के साथ बारिश हुई थी। इसके बाद से लगातार तेज हवा चल रही है। उसकी दिशा भी बार-बार बदल रही है। इससे झंड़ा फट गया।नवंबर से अब तक दूसरी बार उतारना पड़ाइसके पहले दिसंबर में झंड़ा फट गया था। तब भी रेलवे को इसे उतारकर ठीक कराना पड़ा था। अब चार माह बाद फिर से झंडे का कपड़ा फट गया है। बता दें कि रेलवे ने 8 नवंबर 2019 को स्टेशन परिसर के पार्किंग एरिया में 100 फीट ऊंचा झंड़ा स्थापित किया था।पहले100 फीट ऊंचाई पर लहराता तिरंगा इस तरह बढ़ाता है स्टेशन की शान। (फाइल फोटो)अभीलॉकडाउन के कारण सुनसान स्टेशन परिसर में बिना झंडे के लगा पोल। Download Dainik ..
                 

प्रधानमंत्री जनधन योजना, सम्मान निधि, श्रमिकों की सहायता राशि डलने के बाद इसे निकालने के लिए कियोस्क सेंटर पर लग रही हैं लंबी-लंबी कतारें

प्रधानमंत्री जनधन योजना, सम्मान निधि, श्रमिकों की सहायता राशि डलने के बाद राशि निकालने के लिए कियोस्क सेंटर पर लोगों की कतारें लग रही हैं।आम दिनों के मुकाबले राशि निकालने वालों की संख्या दोगुना है। कोरोना वायरस के बीच लोगों में दूरी रहे इसके लिए गोले बना रखे हैं। बावजूद लोग एक दूसरे से दूरी बनाकर खड़े नहीं हो रहे। शिवपुर स्थित कियोस्क सेंटर संचालक विनोद जाट ने बताया एक दिन में 70 से ज्यादा ट्रांजेक्शन हो रहे हैं। पहले आधे ही होते थे। लोग दूर-दूर खड़े रहे इसलिए गोले बना रखे हैं। फिर भी लोग मान नहीं रहे।कियोस्क सेंटर के बाहर लगी रुपए निकालने वालों की कतार। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Ratlam News - mp news after queuing up the pradhan mantri jan dhan yojana samman nidhi workers39 help long queues are being held at the kiosk center to remove it..
                 

घरों से ही पशुओं को चारा, जानवरों को रोटी व पक्षियों को दाना डाला

घंटा बजाकर खोपरे के गोले वधारे गएसकल जैन श्री संघ व परिषद परिवार ने 24वें तीर्थंकर भगवान महावीर स्वामी का जन्म कल्याणक महोत्सव उत्साह, उमंग के साथ घर में ही मनाया। मंदिरों में संघ व परिषद प्रमुख ने जन्म वाचन किया।वाटिका उपाध्यक्ष शिखर बोहरा व तरुण परिषद राष्ट्रीय महासचिव हर्ष कटारिया ने झंड़ाचौक स्थित जैन मंदिर में विधिवत भगवान के जन्म वाचन कार्यक्रम को सम्पन्न करवाया। नवयुवक परिषद प्रांतीय उपाध्यक्ष राकेश जैन ने भगवान को पालना झुलाया। अभा नवयुवक परिषद राष्ट्रीय संगठन मंत्री प्रफुल्ल जैन ने बताया समाजजनों ने सुबह 9 बजे अपने-अपने घरों से ही इस महोत्सव को मनाते हुए नवकार महामंत्र का जाप किया। सभी ने थाली, शंखनाद, घंटा बजाकर खोपरे के गोले वधारे व भगवान महावीर के जयकारे लगाए।परीषद ने किए सेवा कार्य : श्री संघ अध्यक्ष बाबूलाल धींग, उपाध्यक्ष नरेंद्र जैन, राजेंद्र कोठारी, स्थानक श्री संघ अध्यक्ष महेश नांदेचा, वाटिका अध्यक्ष शैलेंद्र कटारिया, नवयुवक परिषद अध्यक्ष महेश बोहरा सहित समाजजनों ने अलग-अलग स्थानों व अपने-अपने घरों से पशुओं को चारा, जानवरों को रोटी व पक्षियों को दाना डालकर इस बार समाज..
                 

होलकरों ने रामपुर के नवाबों के लिए आरामगाह के तौर पर 1870 में बनवाई थी रामपुर कोठी

तकरीबन 150 साल पुरानी इस कोठी का आर्किटेक्चर ब्रिटिश और मराठा शैली के भवनों से प्रेरित है। मराठा शैली में लंबे कॉरिडोर्स बनाए जाते थे। ऐसे कॉरिडोर यहां भी बने हैं। ब्रिटिश आर्किटेक्चर में नक्काशी और जालीदार काम कम होता है और आर्च बनाए जाते हैं। इस दो मंज़िला कोठी के नीचे दो तलघर भी हैं। पहले तलघर में आरटीओ कार्यालय का रिकॉर्ड रखा हुआ था। कहा जाता है कि इसके नीचे वाले तलघर में कुछ सुरंगें थीं। इनमें से एक सुरंग इस कोठी से सीधे लालबाग पैलेस तक पहुंचाती है। हालांकि जानकार कहते हैं कि तलघर में कुछ रास्ते तो हैं, लेकिन सुरंग के होने के ठोस प्रमाण अब तक नहीं मिले हैं। इस तलघर को काफी समय पहले बंद कर दिया गया था।कोठी को फिर दिया जा रहा पुराना स्वरूप, बनाएंगे आर्ट गैलरी और रेस्तरां1972-73 में होलकर स्टेट का निजी भवन होने से लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) को इसकी देखरेख का जिम्मा सौंपा गया। पीडब्ल्यूडी ने यह इमारत आरटीओ कार्यालय चलाने के लिए परिवहन विभाग को दे दी। विभाग ने यहां अपने हिसाब से कई परिवर्तन किए थे। दूसरी मंजिल के तलघर को विभाग ने दीवार उठाकर बंद कर दिया था। पहली मंजिल के तलघर में र..
                 

शवयात्रा में जाने से बिगड़े टाटपट्टी बाखल के हालात

टाटपट्टी बाखल, चार तंग गलियों में बसा हुआ है। इन्हीं गलियों में कुछ दिन पहले डॉक्टरों पर पत्थरबाजी हुई थी और बाद में जब यहां एक-एक करके 16 लोग पॉजिटिव आए तो लोगों को समझ आया कि हालत बेहद नाजुक है। कलेक्टर मनीष सिंह और डीआईजी हरिनारायणाचारी मिश्र के साथ सोमवार दोपहर में यहां दौरे पर पहुंचे तो लोगों को लगा कि फिर कोई बड़ी कार्रवाई होने जा रही है। कई घरों की खिड़कियां खुल गईं और चेहरे झांकने लगे।हालांकि इतने दिनों से चल रही समझाइश के बाद इन चेहरों के मुंह दुपट्टे, रूमाल, गमछे आदि से ढंके हुए थे। मास्क तो काफी कम लोगों के पास थे। जो थे वह भी कुछ अच्छे बने मकानों के युवा लोगों ने लगा रखे थे। कलेक्टर ने वहां मोहल्ले के कार्यकर्ता टाइप के दो-तीन लोगों को बुलाया और समझाया कि वह लोगों को समझाइश दें कि यहां डॉक्टर और सभी लोग उन्हीं की मदद के लिए हैं। ऐसे में टीम को मदद करें। आप लोगों ने बात नहीं मानी और शवयात्रा में शामिल हुए। इसके चलते हालात बिगड़ गए। यहां के 82 लोगों को क्वारेंटाइन मेंरखा है और अभी तक 16 लोग इन चार गलियों से ही पॉजिटिव पाए गए हैं।सिंह ने कहा यहां पर टीम गठित कर लगा दी है। हर ए..
                 

बच्चे प्रबंधन सीख रहे, गृहिणियां खुश, नौकरीपेशा समझे परिवार का महत्व

सीनियर सिटीजन बोले : घर में ही खुशियाें का तीर्थ22 मार्च से सारे परिवार घरों में हैं। ये सबके आत्म अनुशासन और खुद के साथ ही समाज व देश को स्वस्थ, सुरक्षित रखने के प्रति बड़े योगदान का उदाहरण है। इस तीसरे रविवार को लॉकडाउन के 15 दिन पूरे हो गए। अभी 15 अप्रैल तक परिस्थितियां सामान्य होने तक हमें घरों में ही रहना है। बीते एक पखवाड़े में लॉकडाउन