जागरण हिन्दुस्तान दैनिक भास्कर नईदुनिया नवभारत टाइम्स

कोविड-19 को देखते हुए बिना कव्वाली के हुई महफिल

अजमेर | ख्वाजा साहब की छठी के मौके पर बुधवार रात को दरगाह में परंपरागत महफिल बिना कव्वाली की हुई। दीवान सैयद जैनुअल आबेदीन ने कोविड-19 को देखते हुए केवल फातिहा दिलाने का हुक्म दिया। दरगाह दीवान के पुत्र सैयद नसीरुद्दीन चिश्ती की सदारत में यह महफिल हुई। सोशल डिस्टेंस को मेंटेन करते हुए कव्वाली नहीं कराई गई और केवल फातिहा दिलाकर रस्म-अदा की गई। दीवान आबेदीन ने अपने एक संदेश में कहा कि केंद्र सरकार कोविड-19 के लिए जो प्रयास कर रही है, वह सराहनीय है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Ajmer News - rajasthan news mahavil without qawwali while watching kovid 19..
                 

बस्तियों में भाेजन के लिए अागे अाए लाेग

अजमेर | धोलाभाटा कॅालाेनी के लाेगाें ने पार्षद गोपालसिंह के साथ मिलकर एक अच्छी पहल की है। कॅालाेनी के अजयसिंह टांक ने बताया कि प्रतिदिन कॅालाेनी के लाेग सुबह जल्दी मंडी जाकर सब्जी लेकर अाते हैं। कच्ची बस्ती वासियाें के लिए किचन खाेली गई है। सुबह व शाम नाश्ते के अलावा खाना भी पैकिंग करके वहां दिया जा रहा है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Ajmer News - rajasthan news you have come for settlement in settlements..
                 

राजस्थान में एक ही दिन में 27 नए रोगी मिले, इनमें 11 मरकज से लौटे हुए लोग

दिल्ली निजामुद्दीन में 36 घंटे लंबे अाॅपरेशन के बाद बुधवार तड़के तब्लीगी जमात का मरकज खाली करवा लिया गया। यहां से 2,361 लाेग निकाले गए हैं। इनमें से 617 अस्पतालाें में भर्ती हैं। मरकज के कार्यक्रम में शामिल हाेने के बाद देशभर में फैले लाेगाें काे तलाशने के लिए सभी राज्याें में युद्ध स्तर पर अभियान चल रहा है। देश में बुधवार काे मिले 365 नए मरीजाें में से 229 मरकज से ही देश के विभिन्न हिस्साें में गए थे। राजस्थान में भी मरकज से 538 लाेग पहुंचे। इनमें से टाेंक में 4 अाैर चूरू में 7 पाॅजिटिव मिले हैं। प्रदेश में बुधवार काे इनके सहित 27 नए राेगी सामने अाए। अब यहां मरीजाें की कुल संख्या बढ़कर 120 हाे गई है। देश में अब तक कुल 350 काेराेना संक्रमिताें की ट्रैवल हिस्ट्री मरकज से जुड़ चुकी है। बुधवार काे 14 राज्याें में छह हजार लाेगाें की पहचान की गई। इनमें से कई क्वारेंटाइन में रखे गए हैं। अल्पसंख्यक मामलाें के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने इस घटना काे तब्लीगी जमात का तालिबानी अपराध बताया है। कहा कि यह जानबूझकर किया गया है। लाॅकडाउन ताेड़ने वालाें काे बख्शा नहीं जाना चाहिए। दूसरी तरफ, केंद्र सर..
                 

डॉक्टरों ने एसबीआई व दूध डेयरी से जुड़े उपभाेक्ताअाें काे खंगाला

खारीकुई इलाके में जांच करने पहुंची जेएलएन अस्पताल की टीम।अजमेर | डिग्गी बाजार स्थित एसबीआई ब्रांच व दूध डेयरी से जुड़े उपभाेक्ताअाें काे बुधवार सुबह चिकित्सा विभाग की टीम ने खंगालना शुरू किया। विभाग ने बैंक प्रशासन से उन सभी उपभाेक्ताअाें की सूची मांगी थी जाे काेराेना पॉजिटिव महिला के बैंक में अाने के समय मौजूद थे। इन सभी लाेगाें की बुधवार काे टीम ने डाेर टू डाेर जाकर स्केनिंग की। सभी की स्थिति सामान्य है। इन सभी काे निर्देश जारी किए गए हैं कि शरीर में काेई भी बदलाव नजर अाने या सूखी खांसी, बुखार, जुकाम हाेने पर तुरंत विभाग काे संपर्क करें।खारीकुई डिग्गी बाजार मस्जिद में रहने वाले काेराेना पॉजिटिव युवक के बाद उसके परिवार की रिपोर्ट भी पॉजिटिव अाने पर विभाग की जांच में मंगलवार काे सामने अाया था कि पॉजिटिव महिला ने बैंक से राशि निकाली थी। वह दूध सप्लायर व मेडिकल स्टाेर के संपर्क में रही। इस दाैरान सीसी फुटेज में जाे लाेग सामने अाए थे उनकी सूची लेकर डाेर टू डाेर जांच करवाई गई।बढ़ गया जांच का दायरा | विभाग ने े अब रामगंज, सुभाष नगर, तारागढ़ संपर्क सड़क व जेएलएन के अास पास तक रहने ..
                 

राहत... तब्लीगी जमात के मरकज में शामिल हुए लाैंगिया के 2 युवकाें में नहीं मिले काेराेना के लक्षण

{ जमात से जुड़े लोगों को ऊंटड़ा, सोमलपुर, रातीडांग और ब्यावर-मगरा इलाके में भी खंगालातब्लीगी जमात के दिल्ली स्थित मरकज में शामिल हुए लाैंगिया अाैर दरगाह इलाके के दाे युुवकाें काे डाॅक्टराें की टीम ने जांच के बाद घर में 14 दिन के लिए क्वारेंटाइन कर दिया है। टीम ने उनके परिजनाें अाैर नाते-रिश्तेदाराें की भी मेडिकल जांच की है।जेएलएन अस्पताल में दाेनाें युवकाें की जांच में काेराेना के लक्षण नहीं मिले हैं, लेकिन एहतियातन इन्हें क्वारेंटाइन किया गया है। दूसरी अाेर इन युवकाें के बयान के अाधार पर मेडिकल टीम ने पुलिस दल के साथ जमात से जुड़े लाेगाें की ऊंटड़ा, साेमलपुर अाैर रातीडांग इलाके के अलावा ब्यावर मगरा इलाके में भी जांच की है। अजमेर के दाेनाें युवाओं ने दी जानकारी, मरकज में उनके साथ महाराष्ट्र अाैर जाेधपुर के पांच युवक भी थेलाैंगिया अाैर फूलगली इलाके के दाेनाें युवक दिल्ली स्थित जमात के मरकज में महाराष्ट्र के चार अाैर जाेधपुर के एक अन्य व्यक्ति के साथ शामिल थे। लौंगिया मोहल्ला निवासी शब्बीर और फूलगली निवासी अबरार 9 मार्च को दिल्ली में तब्लीगी जमात के कार्यक्रम में भाग लेने गए थे। दाेनाें ..
                 

एक बैंककर्मी, दाे दूध सप्लायर के अाज फिर लेंगे सैंपल, जांच पर टिकी निगाहें

काेरेाना पॉजिटिव परिवार के संपर्क में अाने वाले डिग्गी बाजार स्थित एसबीआई व दूध सप्लायर सहित मेडिकल स्टाेर पर काम करने वाले लाेगाें के मंगलवार काे लिए गए 14 लाेगाें के सैंपल की जांच रिपोर्ट बुधवार काे अा गई। रिपोर्ट में एक बैंककर्मी व दाे दूध सप्लायर की रिपोर्ट पर कुछ संशय की स्थिति है। इस कारण तीनों के सैंपल गुरुवार काे फिर से लिए जाएंगे। इन तीनों की रिपोर्ट पर प्रशासन व चिकित्सा विभाग की निगाहें टिक गई हैं। वहीं जयपुर के एसएमएस अस्पताल में भर्ती एक ही परिवार के पांचाें सदस्यों की स्थिति सामान्य है। विभाग नियमित उनकी रिपोर्ट पर मॉनिटरिंग कर रहा है। जिन 11 लाेगाें की रिपोर्ट निगेटिव अाई है। उन सभी काे होटल मानसिंह व स्टार क्वीन में क्वारेंटाइन कर दिया गया है। उल्लेखनीय है कि खारीकुई डिग्गी बाजार स्थित एक मस्जिद में रहने वाले एक परिवार के पांचाें सदस्यों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद महकमा हरकत में आ गया। इधर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने बुधवार तक 38 लाेगाें काे अलग-अलग क्वारेंटाइन वाली जगह पर शिफ्ट किया है।11 की रिपोर्ट निगेटिव, होटल मानसिंह व स्टार क्वीन में किया क्वारेंटाइन, अब..
                 

मास्क व सेनेटाइजर की कालाबाजारी करते मेडिकल स्टाेर पर किया जुर्माना

आगरा गेट स्थित समता मेडिकल स्टोर पर 2500 रुपए जुर्माना, अलवर गेट स्थित खंडेलवाल स्टोर पर खाद्य सामग्री की सप्लाई बिना पैकिंग करने पर नोटिसजिला प्रशासन की अाेर से कालाबाजारी पर अंकुश लगाने के लिए गठित स्पेशल टीम ने बुधवार काे 11 किराना स्टेनर व 7 मेडिकल स्टाेर का निरीक्षण किया। आगरा गेट स्थित समता मेडिकल स्टोर पर ढाई हजार रुपए का जुर्माना किया गया। नगरा क्षेत्र में खंडेलवाल डिपार्टमेंटल स्टोर काे नाेटिस दिया गया।स्पेशल टीम के सदस्य अाैर नाप ताेल विभाग के सहायक नियंत्रक मनीष भटनागर, रसद विभाग के प्रवर्तन अधिकारी सुरेन्द्र भारती व राजेश बंसल ने बताया कि आगरा गेट स्थित समता मेडिकल स्टोर से शिकायत मिल रही थी कि उपभाेक्ताअाें से सेनिटाइजर व मास्क की दाेगुनी राशि वसूल रहे हैं। सूचना के बाद मौके पर पहुंची टीम ने उपभोक्ता बनकर जानकारी मांगी ताे पहले ताे फार्मासिस्ट ने मना कर दिया कि उनके पास सेनिटाइजर व मास्क का स्टाॅक नहीं है। जब टीम दुकान में जांच करने पहुंची ताे वहां दाे कर्टन में सेनिटाइजर व मास्क भरे हुए मिले। कुछ मास्क ताे ऐसे थे जिनके वितरण पर ही राेक है।मामले की जानकारी प्रशासन व डीएसओ ..
                 

डायबिटीज के मरीज व्हाट्सएप पर डाॅ. सामरिया काे बता सकते हैं समस्या

अजमेर | जवाहरलाल नेहरू चिकित्सालय के मेडिसिन विभाग के सीनियर आचार्य डाॅ. अनिल सामरिया ने लॉकडाउन में मरीजों काे हाेने वाली परेशानी का देखते हुए गुरुवार से नहीं पहल शुरू की है। डाॅ. सामरिया ने बताया कि आमजन परेशान नहीं हाे इसके लिए बुजुर्ग व डायबिटीज के मरीज अपनी बीमारी काे लेकर हाेने वाली समस्या व दवाओं की जानकारी उनके मोबाइल नंबर 9414008246 के व्हाट्सएप नंबर पर भेजकर ले सकते हैं। डाॅ. सामरिया ने बताया कि केवल व्हाट्सएप पर जानकारी ली जा सकती है। इसका जवाब वह रात 9 बजे से 10 बजे तक ही देंगे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Ajmer News - rajasthan news dr on diabetic patient whatsapp samaria can tell problem..
                 

असहायों की मदद के लिए उठे हजारों हाथ

अजमेर | नगर निगम की ओर से बुधवार को वार्ड पार्षद शैफ्ता नाज के माध्यम से गरीबों व भिखारियों को भोजन बंटवाया गया। झरनेश्वर रोड और आसपास के क्षेत्रों में पूर्व पार्षद मुख्तार अहमद नवाब की अगुवाई में यह भोजन वितरित किया गया। नवाब ने बताया कि भोजन वितरण के समय लोग दूर-दूर माैजूद रहे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Ajmer News - rajasthan news thousands raised hands to help the helpless..
                 

भगवान झूलेलाल की आरती होगी ऑनलाइन

पूज्य सिंधी पंचायत ने उठाया कदम, करेंगे विशेष पूजापूज्य सिन्धी पंचायत, पंचशील नगर की ओर से चल रहे चेटीचंड महोत्सव के अवसर पर भगवान झूलेलाल साहिब की आरती ऑनलाइन करने की व्यवस्था की जाएगी। इस अवसर पर सिंधी परिवारों के घरों में दीप प्रज्ज्वलित कर भगवान की स्तुति करके विश्व से काेराेना को समाप्त करने की प्रार्थना करेंगे।उल्लेखनीय है कि चेटीचंड महोत्सव के दौरान सिंधी महिला संगीत लादा प्रतियोगिता, सांस्कृतिक कार्यक्रम व बहिराना साहिब के साथ भोजन परसादी और प्रभात फेरी सहित अन्य सामाजिक आयोजनों की रूपरेखा बनाई गई थी, जिन्हें स्थगित कर दिया गया। बैठक में संस्था अध्यक्ष राधा किशन आहूजा, मोहन चेलानी, मनोज कुमार मेंघानी, श्रीचंद मोतियानी, अजीत मुलानी, गोपाल दास लख्यानी, ललित चिबरानी, राजकुमार आहूजा, शोभराज विधानी, लवी भरद्वाज, टेक चंद गोदवानी, कमल मोतियानी, श्याम कल्याणी अादि ने संयुक्त निर्णय लिया और चेटीचंड महोत्सव के अवसर पर ऑनलाइन आरती एवं दीप जलाकर विश्व में सुख, शान्ति, समृद्धि और कोरोना प्रकोप को समाप्त कर स्वस्थ समाज की प्रार्थना की जाएगी।लॉकडाउन से कार्यक्रम स्थगितबैठक का आयोजन करके पूज्..
                 

निम्स अस्पताल के क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखे 9 मरीज कोरोना पॉजिटिव, 15 नए संदिग्ध आए

जयपुर दिल्ली हाइवे पर कस्बे के पास संचालित निम्स यूनिवर्सिटी में बनाए कोरोना वायरस को लेकर क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखे गए मरीजों की जांच की गई तो इनमें से बुधवार को 9 लोग कोरोना पॉजीटिव पाए गए। सभी को एंबुलेंस से जयपुर एसएमएस अस्पताल भेज दिया गया। इस बीच 15 संदिग्धों को जयपुर से और यहां लाकर शिफ्ट कर दिया गया। ऐसे में यहां मरीजों की संख्या 58 हो गई है।सीएमएचओ प्रथम डॉ. नरोत्तम शर्मा ने बताया कि निम्स अस्पताल की क्वॉरेंटाइन सेंटर में रामगंज में कोरोना पॉजीटिव पाए गए मरीजोें के सम्पर्क में आए 52 मरीजों को रखा गया था। इनमें से बुधवार को आई रिपोर्ट में 9 मरीज पॉजीटिव पाए गए। विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम मरीजों पर नजर रखे हुए हैं। निम्स अस्पताल के आसपास रहने वाले लोगों में छात्रावास तथा क्वार्टर स्टाफ के लोगों में भी पॉजीटिव मिलने के बाद में दहशत है। देर शाम को दुकानदार भी अपनी दुकानें बंद कर घर चले गए। लोगों ने घरों से निकलना बंद कर दिया है। साथ ही निजी अस्पताल के गेट व आसपास क्षेत्र में सेनिटाइजेशन करवाने की मांग की गई। पॉजीटिव केस की खबर मिलने के बाद आमेर एसडीएम लक्ष्मी कांत कटारा, ब्लॉक सीए..
                 

स्टूडेंट्स बोले- लॉकडाउन के कारण डाउट्स क्लीयर नहीं हाे पा रहे, समय खराब हो रहा; जरूरत की बुक्स नहीं मिल रहीं

(शैलेंद्र माथुर)लाॅकडाउन के लगभग एक सप्ताह बाद ही लाेगाें की परेशानियां बढ़ना शुरू हाे गई हैं। घराें में परिवार के साथ रह रहे लाेगाें के सामने भी कई समस्याएं आरही हैं। काेटा में काेचिंग कर रहे स्टूडेंट्स और उनके साथ रह रहे पेरेंट्स भी इससे अछूते नहीं हैं। जेईई मेन के बाद नीट का एग्जाम भी कोराेना के कारण स्थगित कर दिया गया है। ऐसे समय में दैनिक भास्कर ने हाॅस्टल्स, पीजी और अपार्टमेंट्स में रह रहे कई स्टूडेंट्स और उनके पेरेंट्स से बात की, तो सभी ने लॉकडाउन का टेस्ट पास करने की बात कहते हुए पढ़ाई को लेकर चिंता जताई। अधिकतर स्टूडेंट्स का कहना था कि डाउट्स क्लीयर नहीं हाे पा रहे हैं, समय खराब हाे रहा है, जरूरत की बुक्स नहीं मिल रही हैं। वहीं पेरेंट्स का कहना है कि सब्जी औरराशन महंगा मिल रहा है। हाॅस्टल में रहने वाले स्टूडेंट्स काे भी खाना पहुंच रहा है।इन पांच उदाहरणों से समझें स्टूडेंट्स के हालात बुक्स की दुकान खुलवा दाे, ताकि पढ़ाई का नुकसान न हाे-मां सुदेश सिंह के साथ मथुरा से काेटा आकर नीट की तैयारी कर रही गरिमा सिंह का कहना है कि लाॅकडाउन के दाैरान सब्जी और किराने का सामान काफी महंगा मिल..
                 

जयपुर में अब 34 रोगी, यहां के रामगंज इलाके में 26 मरीज कोरोना संक्रमित पाए गए; पूरा इलाका सील

भीलवाड़ा के बाद अब जयपुर का रामगंज इलाका डर रहा है। पूरे प्रदेश में बुधवार काे 16 नए राेगी मिले। इनमें से 13 ताे अकेले इस इलाके में मिले, जबकि दाे नए राेगी जाेधपुर में मिले। अब प्रदेश में कुल 109 मरीज हाे गए हैं। चिंताजनक बात यह है कि जयपुर में कुल 34 राेगी हैं। इनमें अकेले रामगंज इलाके में मिले 26 राेगी हैं। यानी शहर के जितने राेगी हैं, उनसे तीन गुना ज्यादा अकेले इसी इलाके में मिले हैं। हैरानी वाली बात यह भी है कि इस इलाके में मात्र दो दिन में ही पाॅजीटिव 26 हो गए। इस बीच, चारदीवारी क्षेत्र में कर्फ्यू जारी रहा।जाेधपुर में कुल 26 मरीजजाेधपुर में मसूरिया इलाके के 65 वर्षीय एक वृद्ध के अलावा ईरान से लाए गए यात्रियाें में शामिल 61 वर्षीय महिला पाॅजिटिव मिली है। जाेधपुर में कुल 26 मरीज हैं। इनमें 18 वे हैं, जिन्हें ईरान से लाकर रखा गया है, जबकि 8 शहर के निवासी हैं। इनके अलावा पाली का एक नागरिक भी यहां भर्ती है। अलवर जिला निवासी एक युवक जयपुर के बर्न वार्ड में कोरोना पॉजिटिव मिला है।चिंताजनक : जाेधपुर में बुजुर्ग के राेगी बनने के साॅर्स का पता नहींजाेधपुर के मसूरिया इलाके में काेराेना से प..
                 

कोरोना बचाव के लिए गांव के बाहर लिखा- बाहरी लोगो का प्रवेश मना, कहीं बेजुबानों की मदद में लगा युवा

(ताराचंद गवारिया).राजस्थान में कोरोना पॉजिटिव का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। संक्रमण से बचाव के लिए 21 दिन का लॉकडाउन जारी है। वहीं उदयपुरजिले के कोल्यारी गांव ने एक अच्छी पहल करते हुए, यहां बाहर से आने वाले लोगों पर रोक लगा दी है।उदयपुर से करीब 70 किमी दूर कोल्यारी गांव के युवाओं ने गांव के मुख्य प्रवेश पर सड़क पेंट से लिख दिया कि कोरोना की वजह से बाहरी लोगो का गांव में प्रवेश मना है।इसके साथ में गांव में आने वाले सारे रास्ते बंद कर दिए है।गांव में किसी भी व्यक्ति को ना हो परेशानी इस ध्यान रखागांव के पूर्व सरंपच मोहन लाल ने बताया कि सभी रास्तों को बंद करने के साथ यह भी ध्यान रखा गया है कि गांव में किसी भी व्यक्ति को कोई परेशानी ना हो। इसके अलावा जरूरतंमदों तक राशन साम्रगी भी व्यवस्थाकी गई है। कोल्यारी गांव की तस्वीर बताती है किअपने गांव से कोरोना जैसी गंभीर बीमारी सेदूर रखने के लिए लोग मेहनत से जुटे हुएहैं।उदयपुर में बेजुबानों की मदद में जुटे लोगवहीं उदयपुर के कुछ युवाओं की टीम शहरभर बेजुबान जानवरों के भोजन की व्यवस्था में लगी है। बेजुबानों की मदद कर रहीं शौर्या जैन का कहना है कि इ..
                 

अक्षय ऊर्जा निगम व आरएसपीडीसी ने मुख्यमंत्री राहत कोष में दिए एक करोड़ 11 लाख

(श्याम राज शर्मा)।प्रदेश में कोराना महामारी से लड़ने के लिए सरकार को आर्थिक सहयोग करते हुए राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम व राजस्थान सोलर पार्क डवलपमेंट कंपनी ने मुख्यमंत्री राहत कोष ((कोविड-19 राहत कोष) में एक करोड़ 11 लाख रुपए दिए हैं।ऊर्जा मंत्री बीडी कल्ला ने बुधवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को सहयोग राशि का चैक दिया है। इस अवसर पर ऊर्जा विभाग के प्रमुख सचिव अजिताभ शर्मा और राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम के प्रबंध निदेशक अनिल गुप्ता भी मौजूद थे।ऊर्जा मंत्री बीडी कल्ला ने बताया कि कोरोना वायरस की रोकथाम व बचाव और इसके बाद बने हालात से प्रभावित गरीब, कमजोर व मजदूर वर्ग के लोगों को राहत प्रदान देने के लिए लोग आगे आ रहे है।उन्होंने अन्य लोगों से भी सहायता की अपील की है। उनको जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग से सम्बंधित ड्रिलिंग एवं हैण्डपम्प अभियांत्रिक संघ तथा राजस्थान पीएचईडी तकनीकी कर्मचारी संघ की ओर से भी कर्मचारियों ने एक दिन का वेतन सहायता कोष में देने का पत्र सौंपा है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को ..
                 

निजामुद्दीन मरकज में शामिल पांच जनों को जोधपुर में तलाश कर अस्पताल में  कराया भर्ती

जोधपुर. दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में शामिल पांच जनों को जोधपुर में तलाश कर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मरकज में शामिल कुछ लोगों के जोधपुर में होने की सूचना के बाद से प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है। पुलिस कल शाम से ही शहर में जगह-जगह तलाशी अभियान चला रही है। इस दौरान प्रताप नगर क्षेत्र में 3 तथा बोरानाडा व बासनी क्षेत्र से एक-एक व्यक्ति मिला। इनमें से चार जनों को खांसी-जुकाम-बुखार हो रखा है। इसके बाद पुलिस ने एहतियात बरतते हुए एम्बुलेंस बुलाकर पांचों को एमडीएम अस्पताल पहुंचाया।शहर में कल से जारी तलाशी अभियान के दौरान पुलिस को अलग-अलग स्थान पर बने कुछ धर्म स्थलों पर कई लोग ऐसे मिले जो बाहर से यहां आए हुए है। इन सभी को पुलिस ने पाबंद कर उसी स्थान पर क्वारेंटाइन कर दिया। वहीं मरकज में हिस्सा लेकर लौटे पांच जनों की ट्रेवल हिस्ट्री खंगाली जा रही है। पता लगाया जा रहा है कि ये लोग कब और किस माध्यम से जोधपुर पहुंचे। इसके साथ ही जोधपुर में इनके विभिन्न स्थानों पर जाकर लोगों से मिलने के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। अब शहर में इन लोगों की तलाश करने में जुटे चिकित्सा व पुलिस विभाग का काम क..
                 

यहां परकोटे की सभी सीमाएं सील, अंदर और बाहर जाने वाली हर गाड़ी को किया जा रहा सैनेटाइज

बुधवार को राजस्थान में लॉकडाउन का आठवां दिन रहा। वहीं जयपुर के सात थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू का छठा रहा। अब सरकार ने जयपुर परकोटे की सभी सीमाएं सील कर दी हैं। वही सिविल डिफेंस के कार्यकर्तासड़कों पर लोगों की मदद मदद कर रहे हैं।अब परकोटे में सिर्फ पुलिस, चिकित्साकर्मियों और मीडिया समेत कुछ ही लोगों को एंट्री दी जाएगी। इसके अलावा परकोटा बाहरी लोगों के लिए बिल्कुल बंद रहेगा। यहां रामगंज में कोरोना पॉजिटिव केसों की संख्या लगातार बढ़ने के कारण ये फैसला लिया गया है।इस दौरान आवश्यक सेवाओं से जुड़े हुए वाहनों को ही प्रवेश दिया गया। शहर के परकोटे में मुख्य द्वारों पर दमकल की गाड़ियां तैनात कर दी गई हैं। जो यहां से गुजरने वाले सभी वाहनों को सैनेटाइजर का छिड़काव कर रही हैं।सिविल डिफेंस के कार्यकर्ताओं ने बांटा भोजन।अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) राजीव स्वरूप ने जानकारी दी थी कि परकोटे में किसी प्रकार की आवाजाही नहीं होगी। जो परकोटे में रहते हैं, वो वहीं रहेंगे। केवल चिकित्साकर्मी, जिला प्रशासन, नगर निगम कर्मी को परकोटा क्षेत्र से बाहर जाने की अनुमति होगी। अगर किसी व्यक्ति को किसी जगह पर जाना आवश्यक ह..
                 

संक्रमण के 76 रोगियों में से 48 आपस में रिश्तेदार हैं या सहकर्मी, कहीं-कहीं पूरा परिवार संक्रमित

(डूंगरसिंह राजपुरोहित).प्रदेश में 29 दिन में 93 मरीज सामने आचुके हैं। इनमें 76 प्रदेश के हैं, जबकि 17 ईरान से लाए गए भारतीयाें में पाॅजिटिव मिले हैं। प्रदेश के 76 राेगियाें में से 48 या तो एक ही परिवार के सदस्य हैं, आपसी रिश्तेदार हैं या एक ही संस्थान के सहकर्मी हैं। सात शहरों में तो इतना आपसी संक्रमण फैल गया कि कई परिवार ताे ऐसे हैं, जिनमें शायद ही काेई व्यक्ति इस राेगी से पीड़ित बचा हाे। इस हिसाब से प्रदेश में फैमिली संक्रमण वालों का आंकड़ा 63.15 प्रतिशत हो गया है, जो खतरे का संकेत है। इस बीच, प्रदेश में कुल 20 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव हो चुकी। काेराेनाजाेन बने भीलवाड़ा के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती 26 में से 13 मरीजों की रिपोर्ट पाॅजिटिव से निगेटिव आई है। यहां दो मौतें हो चुकी हैं। झुंझुनूं में भी कुल 8 में 3, जयपुर में भी 21 मरीजों में से 4 की रिपोर्ट पाॅजिटिव से निगेटिव आई है। जोधपुर में दो की रिपोर्ट पहले पाॅजिटिव और अब निगेटिव आई।जयपुर : दो रोगियों से 12 पॉजिटिव2 मार्च को इटली का यात्री रोगी मिला। 48 घंटे बाद उनकी पत्नी भी पाॅजटिव मिली। ओमान से आए मरीज के दोस्त को संक्रमण हुआ। फिर..
                 

फर्नीचर की हैंडीक्राफ्ट फैक्ट्री में भीषण आग, एक दर्जन दमकलों ने तीन घंटे में पाया काबू

शहर के बासनी औद्योगिक क्षेत्र में बुधवार सुबह हैंडीक्राफ्ट उत्पादों की एक फैक्ट्री में भीषण आग लग गई। आग बहुत तेजी से फैली और देखते ही देखते इसने पूरी फैक्ट्री को अपने आगोश में ले लिया। तीन घंटे की मशक्कत के बाद करीब 12 दमकलों ने आग पर काबू पाया। तब तक इसमें रखे सारे उत्पाद जल कर नष्ट हो गए।बासनी औद्योगिक क्षेत्र की गली नंबर आठ में द फर्नीचर के नाम से स्थित हैंडीक्राफ्ट फैक्ट्री में आज सुबह करीब सवा छह बजे लपटे उठती देख कुछ लगों ने इसके मालिक जितेन्द्र सोलंकी को फोन पर जानकारी दी। वे तुंरत मौके पर पहुंचे और उन्होंने पुलिस नियंत्रण कक्ष को सूचना देकर दमकलों को बुलवाया।माना जा रहा है कि बिजली के तारों में हुए शॉर्ट सर्किट से निकली चिंगारियों के कारण आग लगना शुरू हुई। थोड़ी देर में ही इसमें विकराल रूप धारण कर लिया। लकड़ी के उत्पाद और इन पर पॉलिश करने के लिए रखे गए ज्वलनशील रसायन के कारण आग बहुत तेजी से फैली। आग लगते ही फैक्ट्री के भीतर रहने वाले कुछ कर्मचारियों ने स्वयं के स्तर पर आग बुझाने का प्रयास किया, लेकिन विफल रहने पर उन्होंने फैक्ट्री मालिक को फोन कर सूचना दी। देखते ही देखते आग पूरे..
                 

गुजरात बाॅर्डर पर 50 से ज्यादा गांवाें में कमेटियां बनाई, जेसीबी से खुदाई की, कांटे लगाकर जंगल के 20 रास्ताें पर बना दिए नाके

गुजरात से मजदूराें का पलायन राेकने के लिए पुलिस अाैर प्रशासन की टीमें दाे दिनाें में बाॅर्डर से सटे 6 थाना क्षेत्राें के 50 से ज्यादा गांवाें तक पहुंची है। इन गांवाें में कमेटियां बनाई गई हैं, जाे पहाड़ी अाैर नदियाें वाले रास्ताें से अाने वाले मजदूराें काे वहीं राेकने के साथ पुलिस काे सूचना देंगी। यही नहीं, वाहनों को राेकने के लिए कुछ रास्ताें पर पुलिस ने जेसीबी से खुदाई कर गहरे गड्ढे तक कर दिए हैं। इस प्रयास से पुलिस का दावा है कि गत दिनाें की तुलना में मंगलवार काे मजदूरों का पलायन 95 प्रतिशत तक रुका है। मजदूराें के पलायन के मुद्दे पर राजस्थान-गुजरात पुलिस अधिकारियाें की रतनपुर बाॅर्डर पर बैठक भी हुई। इसमें उदयपुर अाईजी बिनीता ठाकुर, एसएसपी कैलाशचन्द्र बिश्नाेई, गांधीनगर अाईजी मयंक चावड़ा, अरावली एसपी मयूर पाटिल सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।एसएसपी बिश्नाेई ने बताया कि उदयपुर से सटी गुजरात सीमा करीब 125 किलाेमीटर की है। पहले सीमा सेटे रास्ताें काे चिन्हित किया जहां से मजदूराें का मूवमेंट ज्यादा हुअा था। जंगलाें अाैर नदी वाले 20 रास्ते सामने अाए, कहीं पर जेसीबी से खुदाई कराई जिससे वाहन ..
                 

सेवा के संकल्प के साथ मदद के लिए जुटी संस्थाएं, शहर ही नहीं, गांवों में भी पहुंचा रहे भोजन और राहत

लेडीज क्लब ने दिया एक लाख रुपए का चेकडबोक. उदयपुर सीमेंट वर्कर्स श्रीपति नगर के लेडीज क्लब ने डीएसओ को सहायता कोष में एक लाख रुपए का चेक दिया। अध्यक्ष सुशीला शर्मा सहित क्लब की अन्य पदाधिकारी मौजूद थीं।कलाल समाज सेवा संस्थान ने दिया 51 हजार रुपए का चेककलाल समाज सेवा संस्थान ने कलेक्टर को इक्यावन हजार रुपए का चेक भेंट किया। आईटीसेल संयोजक शैलेंद्र कुमार चौधरी, अशोक चौधरी, मदन चौधरी मौजूद थे। दाऊदी बोहरा जमात की खारोल कॉलोनी मस्जिद कमिटी ने एडीएम प्रशासन को ओपी बुनकर को 1 लाख रुपए का चेक दिया। कमेटी के सचिव फिरोज टीन वाला, अख्तर हुसैन बोहरा मौजूद थे।खाटू श्याम भक्त मंडल जरूरतमंदों का बांट रहा फूड पैकेट खाटू श्याम भक्त मंडल ने सेक्टर 9 कच्ची बस्ती, मेलडी माता, नया घर कच्चीबस्ती, खेड़ा गांव सेक्टर 14, सेक्टर 3, सेवाश्रम, प्रताप नगर में भाेजन के पैकेट बांटे। संरक्षक ज्ञानी राम अग्रवाल, शशिकान्त खेतान, मुकेश अग्रवाल मौजूद थे। भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) ने 290 लाेगाें काे भाेजन के पैकेट बांटे। राजेश सिंघवी मौजूद थे।निरंकारी मिशन के साधकों ने 15 दिन की राशन सामग्री बांटीसंत निरंका..
                 

गणगाैर : भगवान ईसरजी और पार्वती की प्रतिमाअाें का घर में ही किया विसर्जन

उदयपुर | शहर में लॉकडाउन के कारण महिलाओं ने घर में ही भगवान ईसरजी और पार्वती की मिट्टी की प्रतिमा का विसर्जन किया। गणगौर पर पूर्बिया समाज की महिलाओं ने हाथीपोल स्थित समाज के नोहरे में ईसरजी और पार्वती जी की मिट्टी की प्रतिमा का टब में विसर्जन किया। तरूणा पूर्बिया, कमला बाई, ललिता बाई, तारा देवी मौजूद थीं। इधर, हिरणमगरी सेक्टर 3 ऋषि नगर में प्रो. कंचन राठौड़ ने भी घर पर ही कुंड बना कर गणगौर माता का विसर्जन किया। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Udaipur News - rajasthan news gangaur immersed the idols of lord isarji and parvati at home..
                 

बॉर्डर सील, चेक पोस्टों से गुजरने वालों की संख्या में कमी आई

बॉर्डर सील होने तथा गुजरात, महाराष्ट्र से ट्रकों, पैदल, दुपहिया वाहनों पर घर जाने वाले लोगों के निकलने पर सरकार की रोक का असर मंगलवार को दिखा। क्षेत्र में पांच चेक पोस्ट बना रखी है। इनमें से अधिकांश पर बाहर से आने वाले लोगों की संख्या कम रही। प्रशासनिक अधिकारियों ने बाहर से आने वालों को रोककर इन्हें अधिग्रहित किए गए स्कूल, कॉलेजों में रखने के निर्देश दिए हैं। तहसीलदार रतनलाल कुमावत ने बताया कि डबोक स्थित गीतांजलि कॉलेज में बाहर से आने वालों की संख्या 195 हो गई है। शाम तक यहां पर 150 लोग रखे गए थे। शाम को 50 लोग बलीचा से और लाए गए। फतहनगर में ठहराए गए लोगों के लिए सुविधा पूरी नहीं होने के कारण उन्हें वल्लभनगर के सिंघानिया यूनिवर्सिटी में भेजा गया है। मावली में नवोदय विद्यालय, मॉडल स्कूल, कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय, राउमावि मावली को भी होम आइसोलेट बनाया गया है। इधर, एसडीएम रमेशचंद्र सीरवी ने क्षेत्र में चेक पोस्टों से गुजरने वाले लोगों, चिकित्सा विभाग की स्क्रीनिंग की व्यवस्था देखी।पुलिस ने बढ़ाई सख्ती : बाहर से आने वालों को रोकने के आदेश पर पुलिस ने मावली में हाईवे पर चेक पोस्ट पर आ..
                 

सिविल ड्रेस में ग्राहक बन दुकानाें पर पहुंचेंगे पुलिसकर्मी कालाबाजारी करने वालों पर दर्ज होगा मुकदमा : एसपी

लॉक डाउन के बीच एक परेशानी ने सबको चिंता में डाल दिया है। वो है-कालाबाजरी। इसलिए पुलिस ने अब कालाबाजारी करने वालों का सच उजागर करने की ठानी है। पुलिस सिविल ड्रेस में बोगस ग्राहक बनकर दुकानों पर छापेमार कार्रवाई करेगी। कालाबाजारी करने वाले दुकानदारों पर सख्त कार्रवाई होगी। दैनिक भास्कर के पास जिलेभर के सैकड़ों पाठकों ने अपने सवाल भेजे, जिनमें सबसे ज्यादा सवाल कालाबाजारी रोकने को लेकर थे। इन्हीं सवालों के जवाब देते हुए एसपी डॉ. गगनदीप सिंगला ने कहा कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए पुलिस पूरी मुस्तैदी के साथ जुटी है। जहां कमी है, उन्हें दूर करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कालाबाजारी को रोकने के लिए आम लोगों के साथ की भी जरूरत है। जांच में कालाबाजारी करते पाए गए दुकानदारों पर मुकदमें मिला, उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा।अाजमन के सुझाव : लाॅक डाउन में घर से बाहर निकलने वाले जरूरतमंद व्यक्ति पर डंडा बरसाने से पहले पुलिस काे उससे पूछना चाहिए कि वह आखिर किस काम से बाहर आया है। मजबूरी मेंं लाेग घर के बाहर राशन, सब्जी और दवा आदि लेने के लिए निकल रहे हैं। परंतु पुलिस उनकाे भी ..
                 

जरूरतमंदों को खाना खिला रहे, फोन आते ही पहुंच जाते हैं दवा का छिड़काव करने

ये उन लोगों की कहानी है जो अपने छाेटे-छोटे प्रयासों से कोरोना वायरस की जड़ंे खत्म कर रहे हैं। इसके लिए उन्हें किसी सरकारी मदद की जरूरत नहीं है और न ही वे इसके इंतजार में हैं कि कोई आएगा और उन्हें रुपए देकर कहेगा कि लोगों की मदद करो। ये लोग अपने रुपयों से लोगों की मदद कर रहे हैं। डॉक्टर अपने घर और गांव-ढाणियों में जाकर निशुल्क इलाज कर रहे हैं। वहीं कोई वार्डों में सोडियम हाईपोक्लोराइड का छिड़काव और कोई पशु-पक्षियों व वन्यजीवों के खाने-पानी की व्यवस्था करके उन्हें बचा रहा है। पढ़िए ऐसी ही कहानियां...गरीबों को खाना खिला रहे हैं और पुलिसकर्मियों की वर्दी को कर रहे हैं सेनेटाइजसंपूर्ण नर नारायण सेवा ट्रस्ट की अाेर से शहर के विभिन्न क्षेत्रों में आर्थिक रूप से कमजोर व्यक्तियों को भोजन एवं मास्क उपलब्ध करवाए जा रहे हैं। दिन-रात ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मियों की वर्दी को सेनेटाइज करने और उन्हें चाय पिलाने का कार्य कर रहे हैं। ट्रस्ट के अध्यक्ष डॉ. नितिन शर्मा व मंत्री निश्चय कुमार जीनगर, सूर्य मंदिर के पुजारी सोनू व्यास सहित पूरी टीम इसमें जुटी हुई है।फोन करते ही पहुंच रहे सोडियम हाइपोक्लोराइड का छ..
                 

रानोली से यूपी रवाना हुआ परिवार वाहन नहीं मिलने पर रींगस से लौटा

अजबपुरा में पुचके का ठेला लगाने वाले यूपी निवासी अखिलेश कुमावत अपने परिवार के साथ दो दिन पहले अपने घर यूपी जाने के लिए रवाना हुए। रींगस में उन्हें वाहन नहीं मिले। दो दिन तक वहां परेशान होकर वापस अजबपुरा आने के लिए रींगस से पैदल रवाना हो गए। मंगलवार को उन्हें सड़क पर पैदल चलते देख शिश्यूं पंचायत के सरपंच जयराम खोवाल सरकारी स्कूल में लगे शिविर में ले आए। वहां सरपंच जयराम खोवाल, बबलू पटवारी, ग्राम विकास अधिकारी छीतरमल यादव आदि ने खाने की व्यवस्था करवाई। अखिलेश ने बताया कि वह यूपी का रहने वाला है और अजबपुरा गांव में पुचके का ठेला लगाकर अपने परिवार को पालता है। लॉक डाउन के बाद दो दिन पहले वे यूपी जाने के लिए निकले थे। रानोली में टेंपो मिला तो उसमें रींगस तक पहुंच गए। रींगस पहुंचने के बाद वहां से कोई साधन नहीं मिला। इसके बाद वे पुलिस के डर से पैदल ही रानोली के लिए रवाना हो गए। मंगलवार को शिश्यूं स्टैंड पर सरपंच ने उन्हें स्कूल में लगे शिविर में खाना खिलाया तथा उनके ठहरने की व्यवस्था की। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Ringus New..
                 

ग्रामीणाें ने उठाया गांवाें काे सेनेटाइज्ड करने का बीड़ा, युवाअाें की टीम लगी

कस्बे में साेमवार से चालू किया गया सेनेटाइज्ड करने का अभियान मंगलवार काे भी जारी रहा। नापासर संघर्ष समिति के संयोजक रामरतन सुथार व समाजसेवी डॉ. भवानी शंकर जोशी के नेतृत्व में युवाओं ने कस्बे के बंद बाजाराें व गलियाें में सेनेटाइजर का छिड़काव किया। ये लाेग बुधवार काे भी अभियान काे चालू रखेंगे ताकि काेई भी काेना छूट ना जाए। नापासर एसएचअाे संदीप पूनिया ने भी इस मुहिम का समर्थन करते हुए स्वयं गलियों मे छिड़काव किया। युवाअाें का हाेसला बढ़ाया। समिति के महेश तिवाड़ी, गजू महाराज, राम पारीक, संजय जोशी, पार्श जोशी, रति राम तावनिया, भंवर लाल परिहार अादि साथ थे। वहीं दूसरी अाेर ग्राम पंचायत प्रशासन भी छिड़काव की तैयारी कर रही है। ग्राम विकास अधिकारी भागीरथ आचार्य ने बताया कि दवाई अाते ही ग्राम पंचायत की अाेर से भी छिड़काव किया जाएगा।श्रीडूंगरगढ़. क्षेत्र की सभी 53 ग्राम पंचायतों को पंचायत समिति की ओर से सोडियम हाइपोक्लोराइड मंगवाकर दिया। विकास अधिकारी सुनिल कुमार छबड़ा ने बताया कि कम क्षेत्रफल वाली ग्राम पंचायतों में 165 लीटर व बड़ी पंचायतों में 220 लीटर सोडियम हाइपोक्लोराइड उपलब्ध करवाया गया है। एक..
                 

वैलनेस सेंटर: 10% लोग भी नहीं आए, कई एंट्री करवा भाग गए, भोजन बिस्तर भी घर से लाने पड़े

लॉकडाउन के चलते बाहर से गांव लौटे लोग प्रशासन के लिए चुनौती बन गए हैं। 14 दिन तक उन्हें होम आइसोलेशन में रहना था। बाहर घूमते पाए जाने पर उनके लिए अब पंचायत स्तर पर आनन-फानन में वैलनेस सेंटर बनाए गए। हालांकि वैलनेस सेंटर्स पर अव्यवस्थाएं हावी हंै। इसके चलते दूसरे दिन भी बाहर से आए 30443 लोगों में से 10 प्रतिशत इन सेंटरों पर नहीं पहुंचे।मंगलवार को भास्कर के रिपोर्टर्स ने इन सेंटरों का जायजा लिया तो यहां कई अव्यवस्थाएं सामने आईं। कहीं पीने के लिए पानी नहीं था तो कहीं बिस्तर। कहीं पर भोजन की सुविधा नहीं तो कहीं पर बाथरूमी। ऐसे में न केवल अव्यवस्थाएं बल्कि कोरोना संक्रमण से बचने की बेसिक गाइडलाइन भी यहां लागू होती नजर नहीं आईं। बीएलओ लोगों को फोन करके सेंटरों पर बुला रहे हैं लेकिन बहुत कम लोग ही सेंटरों पर पहुंचे। ऐसे में प्रशासनिक अधिकारियों की चिंता बढ़ गई है। अगर कोई होम आइसोलेशन में रखा गया व्यक्ति संक्रमित पाया गया तो 14 दिनाें में कितने और लोगों को संक्रमित कर चुका होगा। सेंटरों पर नहीं आने वाले लोगों को अब पुलिस काबू करेगी। बीएलओ ने नोटिस देने शुरू कर दिए हैं और इस पर भी नहीं आएंगे तो..
                 

इनसे सीखें : भीड़ न हो इसलिए सनवाली में युवा घर-घर बांट रहे खाद्य सुरक्षा का राशन

ये गलत है : सिंगरावट में डीलर की दुकान पर कतार, राशन के साथ संक्रमण का खतरालक्ष्मणगढ़. सनवाली गांव के युवाअाें ने साेशल िडस्टेंसिंग की पालना का अच्छा उदाहरण पेश किया। खाद्य सुरक्षा में चयनित सभी 300 लाभार्थियाें के घर पर ही राशन सामग्री पहुंचाई। सामाजिक कार्यकर्ता पंकज शर्मा ने बताया िक गांव की राशन की दुकान पर भीड़ एकत्रित होने और संभावित संक्रमण के खतरे काे देखते हुए युवाओं टीम ने खुद के खर्चे पर ट्रैक्टर-ट्राॅलियाें केे जरिए घर-घर राशन पहुंचाने की िजम्मेदारी ली।लोसल. सिंगरावट में सीकर-डीडवाना मुख्य सड़क मार्ग पर राशन डीलर की दुकान पर मंगलवार को निशुल्क राशन वितरण के बीच लोग सोशल डिस्टेंस की हिदायत को तोड़ते नजर आए। यह लापरवाही संक्रमण का खतरा पैदा कर सकती है। कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लोगों को आपस में एक मीटर दूर रहने की हिदायत दी गई है। राशन डीलर की दुकान पर सुबह कतार लगना शुरू हुई थी। दोपहर तक 200 लोगों की कतार लग गई।लक्ष्मणगढ़. सनवाली में युवा घर-घर पहुंचा रहे हैं खाद्य सुरक्षा राशन।लाेसल. सिंगरावट में राशन सामग्री के लिए लगी कतारें। Download Dainik Bhaskar ..
                 

रात को जैसे ही कोरोना सस्पेक्टेड का पता चला पुलिस एक्टिव हुई, अनाउंसमेंट-बैरिकेडिंग के लिए दौड़े वाहन

30 मार्च को रात 8 बजे बाद जैसे ही बसंत विवार एरिया में कोरोना संदिग्ध की खबर वायरल होने लगी तो पुलिस भी एक्शन में आ गई। दादाबाड़ी सीआई ताराचंद के नेतृत्व में पुलिस ने उस व्यक्ति के मकान को जाने वाले चारों रास्तों को सील कर दिया ताकि कोई वहां आ-जा न सके। पुलिस ने एनाउंसमेंट शुरू करवाया और लोगों को जागरूक किया कि वे अपने-अपने घरों में रहे। इसी बीच डीएसपी संजय शर्मा ने रात को ही खुद मोर्चा संभाल लिया। वे दादाबाड़ी थाने पहुंचे और पूरी व्यवस्थाओं का जायजा लेना शुरू किया। शर्मा खुद उस व्यक्ति के घर तक जाकर आए और व्यवस्थाओं की निगरानी और उन्हें हर परिस्थिति के हिसाब से तैयार करवाने का काम शुरू करवाया। 30 मार्च को रातभर उस इलाके में पुलिस पूरी तरह मुस्तैद रही और किसी के आने-जाने पर पूरी तरह से पाबंदी रखी गई। 31 मार्च को लोगों की नींद खुलने के पहले ही पुलिस ने रातभर में काफी तैयारियां कर ली थी। सुबह 6 बजे तक करीब 15 प्वाइंटों पर बैरिकेडिंग हो चुकी थी। हर प्वाइंट पर पुलिसकर्मी तैनात कर दिए गए थे और पुलिस लोगों को घरों पर रहने की सलाह दे रही थी।एसपी राउंड लेकर आए, शुरू किया सील करना : दोपहर 3 बजे ब..
                 

काम के लिए निकले, लेकिन 16 दिन में भी वापस घर नहीं पहुंचे

}कैथूनीपोल थाना क्षेत्र का मामला_photocaption_लापता साजनदास*photocaption*कोटा | कैथूनीपोल थाना क्षेत्र के सराय का स्थान निवासी साजनदास खत्री पिछले 16 दिनों से लापता हैं। परिजनों ने कैथूनीपोल थाने में रिपाेर्ट दी है। उनके पुत्र मयूर खत्री ने बताया कि उनके पिता बजाज खाना में एक साड़ी की दुकान में काम करते हैं। 16 मार्च को वह अपने घर से दुकान पर जाने की बात बोलकर निकले थे, लेकिन उसके बाद से वह घर नहीं पहुंचे। परिजनों ने अपने रिश्तेदारों को फाेन कर पूछा गया, लेकिन काेई सुराग नहीं लगा, तो उन्होंने साजनदास खत्री के लापता होने की शिकायत कैथूनीपोल थाने में दी है। इधर पुलिस ने मामला दर्ज कर लापता अधेड़ की तलाश शुरू कर दी है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Kota News - rajasthan news left for work but did not return home even in 16 days..
                 

राममंिदर में दिए भोजन के पैकेट

काेटा| जवाहरनगर के प्रमुख समाजसेवियों ने श्री राममंदिर व जवाहरनगर के क्षेत्रों में जाकर जरूरतमंद लोगों व मजदूर वर्ग को भोजन के 110 पैकेट बांटे।वहीं, कष्ट निवारण हनुमान मंदिर जवाहरनगर चाैराहा में सुबह अाैर शाम पूजा पाठ हाे रही है। सुबह व शाम अारती की जाती है। इसके अलावा यहां दाे पंडित व महामंत्री बिरधीलाल नूनेरा बैठे साेशल डिस्टेंसिंग कर दुर्गा शक्ति का पाठ कर रहे हैं। वही भगवान की पूजा-अर्चना कर दुर्गा चालीसा का पाठ भी पढ़ते हैं। मंदिर के मुख्य पदाधिकारी ही वहां जाते हैं अाैर पूरी व्यवस्था देखते हैं। इसके अलावा श्रद्धालुअाें के लिए पूरी तरह से मंदिर बंद है। दाेपहर के समय मंदिर के पट बंद रहते हैं अाैर शाम 5 बजे मंदिर खुलता है। 7 बजे अारती हाेती है अाैर 9.30 बजे भाेग लगवा 10 बजे भगवान का शयन हाे जाता है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Kota News - rajasthan news food packets given in ramamindar..
                 

बस से 35 अांगनबाड़ी कार्यकर्ता दादाबाड़ी भेज दिए, सोशल डिस्टेंस का नहीं रखा ध्यान

कोरोना वायरस से संक्रमण की अाशंका के चलते एक अाेर जहां साेशल डिस्टेंस रखने के लिए जिला प्रशासन द्वारा हर व्यक्ति काे अाह्वान किया जा रहा है। लाेगाें काे पूरी एहतियात बरतने के निर्देश हंै, वहीं महिला बाल विकास िवभाग ने जिला प्रशासन के इस अादेश की धज्जियां उड़ा दी। िवभाग ने दादाबाड़ी एरिया में घर-घर सर्वे कराने के लिए मंगलवार काे स्टेशन एरिया की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मानदेयकर्मियों काे अादेश जारी कर दिया। जाे तत्काल एक जगह एकत्र हाे गई। इनकाे साेशल डिस्टेंस रखे बिना ही एक ही बस में बिठा कर दादाबाड़ी एरिया में सर्वे के लिए रवाना कर दिया। साथ ही सर्वे के दाैरान सावधानी बरतने के लिए मास्क भी उपलब्ध नहीं कराए गए। पर्याप्त मात्रा में सेनेटाइजर भी उपलब्ध नहीं कराए गए।राजस्थान आंगनबाड़ी महिला कर्मचारी संघ की प्रदेशाध्यक्ष शाहिदा खान ने मानदेय कर्मियों की सुविधा के लिए समुचित व्यवस्था नहीं करने का आरोप लगाया। उन्होंने बताया कि मंगलवार को दादाबाड़ी, बसंत विहार में सर्वे के लिए मानदेयकर्मियों को लगाया था। इनके लिए हर सेक्टर में बसें, लगाई थी। बसों में 35 कार्यकर्ता, आशा सहयोगिनी को एक साथ बैठाकर ती..
                 

कोई भूखा न रहे, इसी भावना के साथ जरूरतमंदों का पेट भरने में लगा हुआ है पूरा शहर

कंट्राेलरूम पर खाना खिलायाकांग्रेस जिलाध्यक्ष रविन्द्र त्यागी ने रीकाे सामुदायिक भवन में कंट्राेलरूम बना रखा है। जहां पर मजदूर, काेचिंग छात्राें व अन्य लाेगाें काे खाना उपलब्ध कराया जा रहा है। त्यागी ने बताया क उन्हाेंने बताया कि रीको समुदायक भवन से लगभग 2500 पैकेट जरूरतमंदाें काे डेढ़ मीटर की दूरी बनाकर वितरित किए। खाना बनाने तथा पैकेट वितरित करने का कार्य दिन-रात चलता रहेगा। महासचिव विजय सोनी ने बताया कि पीड़ित कंट्रोल रूम के सदस्यों को 9413622224, 9414311726,8239277777, 9549590999, 9887579339, 9782898444 सूचना दे सकते है। विधायक संदीप की पहल पर 4500 फूड पैकेट बांटेकोटा दक्षिण विधायक संदीप शर्मा की पहल पर कोटा शहर में भोजन के साढ़े 4 हजार पैकेट जरूरतमंद लोगों को वितरित किए गए। भोजनशाला में मंगलवार काे 2500 पैकेट तैयार करवाए गए, जिसमें समाजसेवी जितेंद्र सिंह राजावत का योगदान रहा। श्री बनखंडी हनुमान मंदिर समिति श्रीनाथपुरम बीके जगदीश फौजी ने बताया कि 700 पैकेट, समाजसेवी महेंद्र विजय ने 500 पैकेट तैयार कर क्षेत्र के जरूरतमंद लोगों को वितरित किए।भाजयुमो मंडल के संयोजक हरीश राठौर व सदस्यो..
                 

लॉकडाउन से किसी को फायदा है तो वो है आमजन : एसपी बारहठ

ग्रामीण पुलिस अधीक्षक जोधपुर राहुल बारहठ ने मंगलवार को क्षेत्र में लॉकडाउन का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने आमजन से अपील करते हुए कहा कि लॉकडाउन की पालना करें व कोरोना संक्रमण से अपने आप को और अपने परिवार को सुरक्षित रखने के लिए घरों में ही रहे। अनावश्यक बाहर नहीं घूमे। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन की पालना नहीं करने वालों के खिलाफ पुलिस कठोर कार्यवाही करेंगी। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन से किसी को फायदा है तो वो आमजन को ही फायदा है। ये पब्लिक के लिए है, पब्लिक के हित में ही है, वो घर में रहे है। घर पर रहेंगे तो एक बात तो निश्चित है कि कोरोना घर पर नहीं आ सकता है। यदि हम बाहर जाएंगे, किसी से मिले व कोई संक्रमित व्यक्ति से हम मिले व हमारे संपर्क में आ गया तो आपको, परिवार वालों को भी संक्रमित कर देगा। उन्होंने कहा कि अभी तक लोग लॉकडाउन की पालना कर रहे हैं। एसपी ग्रामीण बारहठ ने जोधपुर रोड, बस स्टैंड, मास्टर किशनलाल रोड, अंबेडकर सर्किल का जायजा लेने के बाद खारिया मीठापुर व पाली जोधपुर जिला सीमा जोड की नाड़ी तक भी गए। इसके बाद पुलिस थाना पहुंचकर पुलिस को आवश्यक निर्देश भी दिए। इस दौरान पुलिस उपअधीक..
                 

दर्द में बने हमदर्द : कोरोना से बचाने 33.74 लाख कोष में दिए, अब तक 2.56 करोड़ जमा

खनन क्षेत्र से जुड़े संगठनों ने किया 5.16 लाख का सहयोगजोधपुर| सूर्यनगरी खनन क्षेत्र पर्यावरण संरक्षण सेवा समिति से जुड़े क्षेत्रीय संगठनों ने 5.16 लाख रुपए के अलग-अलग चेक प्रशासन को सौंपे। पर्यावरण संरक्षण सेवा समिति के अध्यक्ष खूमसिंह गहलोत ने बताया कि उन्होंने समिति, क्लस्टर नं. 24 पाबू मगरा, क्लस्टर नं. 2 काली बेरी के अध्यक्ष नरसिंह सोलंकी, क्लस्टर नं. 19 कैरू के अध्यक्ष मोतीलाल परिहार सहित अन्य की ओर से 4 लाख एक हजार रुपए के चार चेक प्रशासन को सौंपे गए हैं। इसी तरह, फिदुसर पत्थर उद्योग एवं विक्रेता संघ के अध्यक्ष पूनाराम गहलोत ने बताया कि खानधारकों के सहयोग से मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए 1.15 लाख का चेक संभागीय आयुक्त को सौंपा गया।कबूतरों का चौक हाल नथावतों की गली निवासी संतोष व्यास प|ी स्व. मंडलदत्त व्यास ने 1,01,100 रुपए का चेक कलेक्टर को सौंपा। संतोष पूर्व मुख्य अग्निशमन अधिकारी सुरेश व हरीश थानवी की बहन हैंजोधपुर| कोरोना आपदा के दौरान जोधपुर में आर्थिक सहायता देने वाले भामाशाह लगातार सामने आ रहे हैं। सहायता राशि मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा करवाई जा रही है। जोधपुर में मंगलवार को ..
                 

200 मजदूरों को पलायन से रोका वेतन देने के लिए किया पाबंद

बासनी थानाधिकारी ने मजदूरों को पलायन से रोक, व्यवस्था करवाई।जोधपुर | शहर में लॉकडाउन के चलते जहां मजदूर वर्ग पलायन करने को मजबूर है, वहीं बासनी थानाधिकारी देवेंद्र सिंह ने पहल कर 200 मजदूरों को पलायन करने से रोका। ये सभी 200 मजदूर अपने परिवार सहित थाना इलाके में ही किराए के मकानों में रह रहे हैं। इतना ही नहीं, उन्होंने इलाके की तमाम फैक्ट्री एसोसिएशन के अध्यक्ष को पत्र भेजा, जिसमें उन्हें पाबंद करते हुए मजदूरों का पूरा वेतन देने और उनके खाने-पीने की व्यवस्था करने की बात भी कही। ऐसा नहीं करने पर डिजास्टर मैनेजमेंट की धारा के तहत संबंधित फैक्ट्री मालिक पर कार्रवाई की जाएगी। थानाधिकारी ने बताया कि इसके लिए अब थाने के बीट कांस्टेबल से भी सर्वे करवाया जा रहा है। वहीं जिन किराए के मकानों में वे रह रहे हैं, उनके मालिकों को भी उनसे किराए फिलहाल नहीं लेने को लेकर पाबंद किया गया है। भामाशाह के सहयोग से बासनी पुलिस प्रतिदिन खाने के 2 हजार पैकेट भी जरूरतमंदों को वितरित कर रही है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Jodhpur News - rajastha..
                 

कष्टों व पापों से मुक्ति और सुखमय जीवन के लिए करें देवी महागौरी की पूजा

}नवरात्रा का आठवां दिन आजजोधपुर | चैत्र नवरात्रा के 8वें दिन मां दुर्गा की पूजा महागौरी स्वरूप में की जाती है। मार्कंडेय पुराण अनुसार शुम्भ-निशुम्भ से हारकर देवताओं ने महागौरी से प्रार्थना की और देवी के अंश से कौशिकी जन्मे, जिसने शुम्भ-निशुम्भ के प्रकोप से देवताओं को मुक्त कराया। देवी गौरी शिव की प|ी हैं। गोस्वामी तुलसीदास के अनुसार इन्होंने शिवजी को प्राप्त करने के लिए कठोर तपस्या की, जिससे इनका शरीर काला पड़ गया था। शिवजी ने प्रसन्न हो इनके शरीर पर पवित्र गंगाजल डाला तब उनका शरीर गौर हो गया और महागौरी नाम पड़ा। चौकी पर देवी महागौरी की तस्वीर स्थापित करें। घड़े में जल भर नारियल रख कलश स्थापना करें। व्रत रख महागौरी के मंत्र ‘श्वेते वृषे समारूढा श्वेताम्बराधरा शुचिः। महागौरी शुभं दद्यान्महादेवप्रमोददा।। या देवी सर्वभू‍तेषु मां गौरी रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।’ का जाप कर पूजा करें। महागौरी की पूजा से सभी कष्ट दूर होते हैं। जो स्त्री इनकी पूजा करती हैं, देवी उनके सुहाग की रक्षा करती हैं। कन्याओं को योग्य वर मिलता है। जो पुरुष इनकी पूजा करते हैं उनका जीवन सुखमय ..
                 

नशे में पूर्व मंत्री से ट्‌वीट किया, कहा- राशन और पैसे खत्म, मदद कीजिए; टीम पहुंची तो बीयर की 10 खाली बोतलें और चखना मिला

भिवाड़ी के सांथलका गांव से बिहार निवासी युवकों ने बिहार के पूर्व मंत्री उपेंद्र कुशवाहा काे राशन और पैसे नहीं हाेने और 12 लाेगाें के कई दिनाें से भूखा हाेने का ट्‌वीट किया। यह रीट्‌वीट हाेते हुए सीएमओ तक पहुंचा। बाद में मामला कलेक्टर और एसपी तक गया ताे टीम काे राशन किट लेकर युवकाें द्वारा बताए गए पते पर भेजा गया। टीम वहां पहुंची ताे हक्की-बक्की रह गई। युवकाें के पास बीयर की खाली 10 बोतलें और चखने का सामान रखा हुआ था।सख्ती से पूछने पर युवकों ने कहा-शर्त लगी थी और मजाक में ट्वीट कर दिया। इसके बाद बिहार के पटना जिला निवासी जीतेश (23) और समस्तीपुर निवासी उमेश कुमार (25) काे गिरफ्तार कर लिया गया। वे सांथलका में अपने दाेस्त के साथ फ्लैट में रहते हैं और रिलेक्सो चौक पर स्थित एक कंपनी में ऑपरेटर हैं। सुबह 11:39 बजे उन्होंने ट्‌वीट में लिखा कि लॉक डाउन के चलते हम 12 लोग राजस्थान के भिवाड़ी में फंसे हैं। मदद करें। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today प्रतीकात्मक फोटो।..
                 

डेढ़ साल से पेयजल संकट, अधिकारियों ने ली सुध

बालेसर| चिड़वाई में पिछले डेढ़ साल से पेयजल का संकट बना होने से ग्रामीणों को पेयजल संकट का सामना करना पड़ रहा हैं। इसको लेकर सरपंच ने जलदाय विभाग के उच्चाधिकारियों को पत्र लिखकर इस समस्या का समाधान करवाने की मांग की। सरपंच भंवरलाल सुथार व समाजसेवी भंवरलाल पालीवाल ने बताया कि चिड़वाई व पाबूनगर में पीने के पानी की सप्लाई खुड़ियाला के उच्च जलाशय से होती हैं। जिसका बूस्टर चिड़वाई गांव में लगाया हुआ है। इस बूस्टर का उद्घाटन केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्रसिंह शेखावत ने सन् 2015 में किया था। इस बूस्टर से चिड़वाई बस स्टैंड, ढाढियों की ढाणी, सुथारों की ढाणी, सोलली नाड़ी, कुम्हारों की ढाणी सहित कई जीएलआर में यहां से सप्लाई की जाती है, लेकिन डेढ़ साल पूर्व सप्लाई काट दी। बूस्टर की सुध नहीं लेने से इसके चारों तरफ झाड़ियां उग गई हैं। इस समस्या के समाधान को लेकर जलदाय विभाग के उच्चाधिकारियों को पत्र लिखकर समस्या समाधान करवाने की मांग की। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Balesar News - rajasthan news drinking water crisis for one and a..
                 

मजदूरों के रोते बच्चों को देख गार्ड ने गोद लिए 300 परिवार, नाम पूछा तो बोले- ‘क्यूं किए-कराए पर पानी फेरते हो साब!’

(महेश शर्मा).कोरोना महामारी ने जहां हजारों लोगों को बेघर और पलायन को मजबूर कर दिया, इतने ही बेबस-बेसहारा और रोज कुआं खोद पानी पीने वालों के लिए जीवनयापन का संकट खड़ा हो गया है, तो इस बीच कुछ ‘फरिश्ते’ इनके लिए आ खड़े हुए हैं। जिन्होंने मानों महामारी के बीच इनको गोद लेकर जीवन बचाने के लिए संकल्प ले लिया हो। आमेर रेंज के एक छोटे से गार्ड ने अपनी जेब से 5 हजार रुपए दे दिए हैं। बल्कि रोजाना ऐसे लोगों के खाने-पीने की व्यवस्थाएं कराने में जुटे रहे हैं। नाम पूछने पर हाथ जोड़ते हैं कि साब क्यों किए पर पानी फेरते हो! मदद का कारण पूछा तो बोले- अब तो लोगों को पलायन भी रूक गया, लेकिन जिंदगी तो चलानी ही है। किसी को भूखे मरते देख खुद की हलक से खाना कैसे उतरे। आखिर इंसानियत भी कोई चीज है भला।आमेर रेंज में इन जैसे कई साथियों ने जोड़े 1.40 लाखआमेर रेंज में इन साथियों ने 1.40 लाख जोड़े हैं। इस पैसों से दिहाड़ी 300 मजदूरों का खाना बनता है। आमेर, शाहपुरा, झालाना रेंजर की टीम ने भी आमेर एसडीएम को 150-200 आटा-दाल के पैकेट दिए हैं। 60-70 गार्ड और जूनियर कर्मचारियों की मदद से आकेड़ा में 500 श्रमिक परिवा..
                 

मित्तल हॉस्पिटल के चिकित्सकों ने की भास्कराइट्स की सेहत जांच

दैनिक भास्कर परिवार के रिपोटर्स सहित स्टाफ के अन्य सदस्यों की जांच के लिए मंगलवार काे विशेष मेडिकल जांच कैंप लगाया गया। हेल्थ कैंप में मित्तल हॉस्पिटल के चिकित्सकों की टीम ने भास्कराइट्स की जांच की। टीम ने उन्हें अपने दैनिक कामकाज व रिपाेर्टिंग के दाैरान बरती जाने वाली सावधानियाें के निर्देश दिए। भास्कर के सभी कर्मचारियाें काे स्वस्थ पाया गया। मित्तल अस्पताल के चिकित्सकों ने दिनचर्या काे लेकर भी आवश्यक टिप्स देने के साथ ही बचाव ही सुरक्षा की जानकारी दी। काेराेना का कवरेज करने के दौरान सभी काे हर अाधे घंटे में साबुन से हाथ धाेने या अपनी जेब में सेनिटाइजर रखने के साथ पेपर साेप रखने के लिए कहा गया ताकि बार-बार हाथ धाेए जा सकें। टीम का नेवृत्व डाॅ. राहुल चाैहान ने किया। उनके साथ मित्तल अस्पताल की अाेर से संताेष गुप्ता व वसीम अादि भी थे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Ajmer News - rajasthan news doctors of mittal hospital investigate health of bhaskaraites..
                 

गुजरात की सीमा पर बीएसएफ ने फेंसिंग कर 11,800 सोडियम लाइट्स लगाईं; सुरक्षित और रोशनी से जगमग हुई सरहद

कंट्रोल रूम से ही घुसपैठ रोकी जा सकेगी{सोडियम लाइट्स इजरायल की मदद और स्वदेशी पद्धति से डेवलप की गई है। इसमें गुप्त सीसीटीवी कैमरों की मदद से कंट्रोल रूम से ही घुसपैठ को रोका जा सकता है।{संवदेनशील इलाकों में बाड़ के साथ लेजर वॉल बनाई गई है। लेजर बीम, कैमरा, राडार और सेंसर लगाए जाएंगे।{स्मार्ट फेंसिंग में नाइट विजन कैमरा, हैंडहेल्ड थर्मल इमेजर्स, बेटल फील्ड सर्विलांस राडार के अलावा डायरेक्शन फाउंडर, ग्राउंड सेंसर, हाईपावर टेलिस्कोप भी है।41 लाख रु. होंगे खर्च एक माह में, 55% बिजली की बचत होगीगुजरात सीमा पर अभी 2970 पोल पर 11800 सोडियम लाइट्स लगी हैं। हर पोल पर 4 लाइट लगी हैं। एक रात में एक पोल से 12 यूनिट बिजली खर्च होती है। यानी हर रोज 35,640 यूनिट बिजली की खपत होती है। इसकी कीमत करीब ढाई लाख रु. है। यानी हर माह 41 लाख रु. की बिजली की खपत होती है। ये लाइट लगने बाद बिजली के खर्च में 55 प्रतिशत बिजली की बचत होगी।{पाक सीमा पर लगी चीन से खरीदी लाइट कमजोर थीं{425 किमी बॉर्डर स्वदेशी लाइट्स से पूरी तरह सीलबीएसएफ ने फेंसिंग को स्मार्ट बनाया12 मध्यप्रदेश|छत्तीसगढ़|राजस्थान|नई दिल्ली|पंजाब |चंड..
                 

अब इनका नया संदेश - हमारी तरह दूरी बनाएं, अफवाहें न सुनें, बुरा न देखें, सुरक्षित रहें

गांधीजी के बंदर हमने साथ ही देखे हैं। हमेशा... पर कोविड-19 से बदले हालात ने इन्हें भी दूर-दूर कर दिया...आप पढ़ रहे हैं देश का सबसे विश्वसनीय और नंबर 1 अखबारराजस्थान12 राज्य | 65 संस्करणचैत्र, शुक्ल पक्ष-8, 2077अजमेर, बुधवार, 1 अप्रैल, 2020 Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Ajmer News - rajasthan news now their new message keep distance like us don39t listen to rumors don39t look bad be safe Ajmer News - rajasthan news now their new message keep distance like us don39t listen to rumors don39t look bad be safe Ajmer News - rajasthan news now their new message keep distance like us don39t listen to rumors don39t look bad be safe Ajmer News - rajasthan news now their new message keep distance like us don39t listen to rumors don39t look bad be safe..
                 

साढ़े 67 हजार फूड पैकेट बांटे, कर्फ्यू क्षेत्र में पहुंची चल दुकानें

लॉकडाउन के दाैरान मंगलवार को जिले में भामाशाहों एवं जिला प्रशासन ने संयुक्त रूप से साढ़े 67 हजार फूड पैकेट बांटे। कर्फ्यू क्षेत्र में पहुंची चल दुकानों से राशन सामग्री एवं सब्जियों का वितरण किया गया। बुधवार से शहर में राशन की दुकानों से खाद्य सुरक्षा गारंटी में मिलने वाला अनाज भी वितरित हाेगा।जिला प्रशासन के अनुसार जिले में मंगलवार को कुल 67 हजार 555 फूड पैकेट वितरण किए गए। इनमें से 3354 पैकेट सूखी सामग्री के थे। जिला प्रशासन ने भामाशाहों को अलग-अलग जगहों पर फूड पैकेट बांटे। मंगलवार को कर्फ्यू क्षेत्र दरगाह बाजार, धान मंडी, देहली गेट सहित अन्य इलाकों में चल दुकानों से राशन सामग्री एवं सब्जियां उपलब्ध करवाई गई।भामाशाह रसद विभाग के जरिए बांटेंगे सूखी सामग्री : अजमेर शहरी क्षेत्र का सर्वे बीएलओ के माध्यम से अति. जिला मजिस्ट्रेट शहर (ईआरओ अजमेर उत्तर) तथा उपखंड अधिकारी अजमेर (ईआरओ अजमेर दक्षिण) द्वारा नगर निगम अजमेर के सहयोग से कराया जाएगा। जिला रसद अधिकारी अजमेर द्वारा सर्वे में प्राप्त जरूरतमंद लोगों को संख्या के अनुसार साप्ताहिक सामग्री की आवश्यकता का निर्धारण किया जाएगा। दानदाता सूखी सा..
                 

ख्वाजा साहब के दर की चादर साहबजादे साहब की मजार पर पेश

महान सूफी संत हजरत ख्वाजा मोईनुद्दीन हसन चिश्ती के दर की चादर खुद्दाम ए ख्वाजा ने मंगलवार काे सरवाड़ में साहबजादे साहब के उर्स के मौके पर पेश की। सादगी से यह रस्म निभाई गई। खुद्दाम ए ख्वाजा की सदारत में ही रात को प्रतीक महफिल हुई और बुधवार को कुल की रस्म अदा हाेगी।अंजुमन सैयदजादगान के सदर सैयद मोईन हुसैन चिश्ती, सचिव सैयद वाहिद हुसैन अंगाराशाह और कन्वीनर सैयद तसद्दुक हुसैन जमाली की अगुवाई में एक प्रतिनिधिमंडल चादर लेकर सरवाड़ स्थित हजरत ख्वाजा सैयद फखरुद्दीन चिश्ती की दरगाह पहुंचा। अस्र की नमाज के बाद इस प्रतिनिधिमंडल ने सरवाड़ स्थित दरगाह परिसर में ही मस्जिद से आस्ताना शरीफ तक जुलूस निकाला। आस्ताना शरीफ पहुंच कर चादर व फूल पेश कर दुआ की गई। रात को अंजुमन प्रतिनिधियों की सदारत में महफिल हुई। बुधवार दोपहर 1 बजे कुल की रस्म अदा हाेने के साथ उर्स का समापन हाेगा।सरवाड़ में साहबजादे साहब हजरत ख्वाजा सैयद फखरुद़दीन चिश्ती की मजार पर चादर पेश करने जाते हुए। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Ajmer News - rajasthan news khwaja saheb39s r..
                 

2011 में बनी फिल्म कॉन्टेजियन में कोरोना वायरस जैसी कहानी; बचाव के दो सबक- अफवाहें न फैलाएं, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें

वायरस के आक्रमण पर 2011 में रिलीज हुई स्टीवन सोडरबर्ग की फिल्म कॉन्टेजियन ने वैश्विक महामारी बन चुके कोरोना के कहर के बीच आई-ट्यूंस और अमेजन जैसे वीडियो स्ट्रीमिंग प्लेटफाॅर्म पर खूब लोकप्रियता बटोर रही है। वजह... लोगों को इस अदृश्य वायरस के बारे में जानने की इतनी उत्सुकता है कि वे ऐसी फिल्मों से जानकारी ले रहे हैं। फिल्म में दिखाया गया है कि कोरोना जैसा एक वायरस कितनी तेजी से पूरी दुनिया में फैलकर हर तबके को अपने शिकंजे में ले सकता है। फिल्म के दृश्य कोरोना से लड़ रहे देशों के हालत से काफी मिलते हैं। आज 196 देशों को इस कोरोना वायरस ने इंटरनेशनल ट्रेवल की वजह से अपना शिकार बना लिया। कॉन्टेजियन के अलावा 1995 में अमेरिका में फैले इबोला पर आधारित फिल्म आउटब्रेक व दक्षिण कोरिया में बर्ड फ्लू पर 2013 में रिलीज हुई फिल्म फ्लू भी काफी देखी जा रही है।सीन 1- इंटरनेट पर होम्योपैथिक दवा वायरल होना, सीन 2- मास्क और राशन की जमाखोरी वायरस हमले के बाद की चुनौतियाें को कॉन्टेजियन में दिखाया है। सामाजिक विघटन, इलाज, संसाधन व हमारे आसपास मौजूद ऐसे लोग जो किसी नियम-कायदे को मानने को तैयार नहीं होते और सब..
                 

वीडियो कॉलिंग और मोबाइल नंबर से मरीजाें को मिलेगी कंसल्टेंसी; यूटीबी आधार पर डॉक्टर, नर्सेज और लैब टेक्नीशियन की भर्ती

(प्रणीता भारद्वाज)देशभर में लॉकडाउन के चलते पेशेंट्स को किसी तरह की परेशानी न हाे इसलिए एमसीआई और राजस्थान मेडिकल काॅउंसिल ने डॉक्टर्स को टेलिमेडिसिन के जरिए कंसल्टेंसी देने की मंजूरी दे दी है। इसके तहत हॉस्पिटल्स और डॉक्टर्स अपने स्तर पर टाइमिंग के मुताबिक कंसल्टेंसी दे पाएंगे। ताकि पेशेंटस अपने शहर में ही रहते हुए डॉक्टर से परामर्श करके इलाज ले पाएं।डॉ. अरविंद गुप्ता ने बताया कि गवर्नमेंट ने हॉस्पिटल्स और निजी स्तर पर रूटीन ओपीडी को बंद कर रखी है। हॉस्पिटल्स में रेस्प्रेरिटरी डिजीज यानी जुकाम, खांसी, बुखार के पेशेंट्स की ओपोडी ही जारी है। इसके अलावा अन्य बीमारी से ग्रसित पेशेंट्स टेलिमेडिसीन, वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए कंसल्टेंसी ले सकते हैं। एक सप्ताह में अलग-अलग तरह के कुछ सॉफ्टवेयर उपलब्ध हो जाएंगे। इनमें से कुछ सॉफ्टवेयर पर फ्री कंसल्टेंसी होगी।वहीं, कुछ सॉफ्टवेयर पर नॉमिनल फीस देकर कंसल्टेंसी ले पाएंगे। हालांकि अभी भी शहर के डॉक्टर्स अपने पेशेंट्स को वाॅट्सएप पर वीडियो कॉलिंग, मैसेज और पुराना रिकॉर्ड देखते हुए कंसल्टेंसी दे रहे हैं। इसके लिए वे किसी तरह की फीस नहीं ले रहे। फोर्ट..
                 

भीलवाड़ा जिले में अग्रिम आदेशाें तक कर्फ्यू बढ़ाया गया, 3 से 13 अप्रैल तक हर काॅलाेनी सील

जिले में लगातार मिल रहे काेराेना पाॅजिटिव मरीज और संक्रमण फैलने की आशंका काे देखते हुए कलेक्टर राजेंद्र भट्टे ने अग्रिम आदेशाें तक कर्फ्यू बढ़ा दिया है, साथ ही 3 से 13 अप्रैल शहर में घराें से बाहर निकलने पर सख्त पाबंदी लगाई है। प्रशासन ने इसे महा लाॅकडाउन नाम दिया है।जिला प्रशासन ने शहर को सील करने की तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसके तहत शहर की हर कॉलोनी को सील किया जाएगा। शहर में टैंट से सामग्री मंगवाकर हर बस्ती के बाहर बेरिकैड्स लगाने की व्यवस्था की जा रही है ताकि कोई घर से बाहर न निकल पाए, अगर इस सबसे बावजूद कोई बाहर निकलता है ताे पुलिस कार्रवाई की जाएगी। इधर, भीलवाड़ा में कफ्यू के 12वें दिन मंगलवार को एक भी रिपोर्ट पॉजिटिव नहीं आई है। वहीं आइसाेलेशन वार्ड में भर्ती 26 में से 11 मरीजाें की रिपाेर्ट पाॅजिटिव से निगेटिव हाे चुकी है।काेराेना चेन काे ताेड़ने के लिए कर्फ्यू में कुछ और सख्ती जरूरी: कलेक्टर3 से 13 अप्रैल तक शहर में कर्फ्यू काे लेकर और सख्ती की जाएगी। किसी भी व्यक्ति काे घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं हाेगी। जिन संस्थाओंकाे भाेजन बांटने और दुकानदाराें काे राशन सामग्री पहुंच..
                 

आइसोलेशन से भागे सभी व्यक्तियों को रात में पकड़ा, सभी 10 संदिग्धों के खिलाफ केस

मीणा छात्रावास में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड से सोमवार को भागे 10 कोरोना संदिग्धों को पुलिस ने रात भर मशक्कत कर पकड़ लिया तथा वापस आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करा दिया। जिला विशेष शाखा के प्रभारी राजेश शर्मा ने आइसोलेशन वार्ड से भागे 10 संदिग्धों के खिलाफ सदर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है।आइसोलेशन वार्ड में भर्ती राहुल मीणा, सौदान मीणा, मथुरेश मीणा, मीठालाल मीणा, कमलेश मीणा, इंद्रराज मीणा, विनोद शर्मा, रिंकू मीणा, कृष्ण कुमार बैरवा गार्डों को चकमा देकर भाग गए थे। सूचना मिलने पर पुलिस ने रात भर मशक्कत कर संदिग्धों को पकड़ लिया। सदर थाना पुलिस ने पांच, नांगल राजावतान थाना पुलिस ने 2 व रामगढ़ पचवारा थाना पुलिस ने 1 संदिग्ध को पकड़कर आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया।जिला विशेष शाखा प्रभारी ने बताया कि संदिग्धों नेबीमारी की गंभीरता से परिचित होते हुए भी आइसोलेशन वार्ड से भागकर लोगों के जीवन को संकट में डालने एवं जनता में संक्रमण फैलने की आशंका उत्पन्न की है। वहीं उन्होंने लॉक डाउन व आइसोलेट रखने के आदेशों की अवहेलना की है।पुलिस द्वारा संदिग्धों के भागने के मामले में वार्ड के लापरवाह कर्मचारियों एवं सुर..
                 

यहां परकोटे की सभी सीमाएं होंगी सील, न अंदर आने न ही बाहर जाने की अनुमति

जयपुर. मंगलवार को राजस्थान में लॉकडाउन का सांतवा दिन रहा। वहीं जयपुर के सात थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू का पांचवा रहा। अब सरकार जयपुर परकोटे में और सख्ती करने जा रही है। जिसमें परकोटे की सभी सीमाएं सील कर दी जाएंगी। इसके बाद परकोटे में सिर्फ पुलिस, चिकित्साकर्मियों और मीडिया समेत कुछ ही लोगों को एंट्री दी जाएगी। इसके अलावा परकोटा बाहरी लोगों के लिए बिल्कुल बंद रहेगा। यहां रामगंज में कोरोना पॉजिटिव केसों की संख्या लगातार बढ़ने के कारण ये फैसला लिया गया है।अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) राजीव स्वरूप ने जानकारी दी कि चारदीवारी क्षेत्र में कर्फ्यू लगा है। इस क्षेत्र को अब पूर्णरूप से सील कर दिया जाएगा। इसमें किसी प्रकार की आवाजाही नहीं होगी। जो परकोटे में रहते हैं, वो वहीं रहेंगे। केवल चिकित्साकर्मी, जिला प्रशासन, नगर निगम कर्मी को परकोटा क्षेत्र से बाहर जाने की अनुमति होगी। अगर किसी व्यक्ति को किसी जगह पर जाना आवश्यक है तो उसे अनुमती दी जाएगी। इसके लिए उसे अलग से पास दिया जाएगा।परकोटे में जगह-जगह तैनात किए गए पुलिसकर्मी।इन्हे मिलेगी परकोटे में एंट्रीपरकोटे क्षेत्र में बाहर से जिन्हे आने की अनुम..
                 

प्रिंट रेट से ज्यादा राशि वसूलने पर 2 व्यापारियों पर 25-25 हजार रुपए जुर्माना, एक की दुकान सीज

(विपिन सोलंकी) उदयपुर. खाद्य सामग्री पर प्रिंट रेट से अधिक राशि वसूलने को लेकर पुलिस की कार्रवाई पर डीएसओ ने दो दुकानदारों पर 25-25 हजार रुपए जुर्माना लगाया और एक की दुकान सीज की है। थानाधिकारी हनवंत सिंह ने बताया कि कृषि मंडी स्थित भंवरलाल रंगलाल आइल्स प्राइवेट लिमीटेड के अरविन्द पुत्र जयंतीलाल जैन और आरबी ट्रेडिंग कंपनी के रविन्द्र पुत्र ब्रजलाल मोटवानी पर 25-25 हजार रुपए जुर्माना लगाया है।साथ ही सेक्टर 3 विवेक नगर स्थित जय झामेश्वर दूध डेयरी और जनरल स्टोर को सीज किया जिसका मालिक विनोद पुत्र केवा पटेल है। उन्होंने बताया कि शहर में खाद्य सामग्री पर प्रिंट रेट से ज्यादा राशि वसूलने की शिकायतें मिल रही थीं। इसके बाद एएसपी सिटी गोपाल स्वरूप मेवाड़ा ने जिला स्पेशल टीम और थाने के जाप्ते की टीम बनाई।मिल रहीं थीं शिकायतेंकृषि मंडी में ज्यादा राशि लेने की शिकायत प्राप्त हुई तो मौके पर पहुंचे। वहां पर व्यापारी भंवरलाल रंगलाल आइल्स प्राइवेट लिमीटेड के अरविन्द और आरबी ट्रेडिंग कंपनी के रविन्द्र द्वारा सामग्री पर ज्यादा राशि वसूलने और बिल नहीं देना पाया गया।मौके पर डीएसओ जयमल सिंह राठौड़ और एसीटी..
                 

हवामहल को सैनेटाइज किया, धौलपुर में कलेक्टर ने सोशल डिस्टेंसिंग रखते हुए खरीदी सब्जियां

जयपुर. कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए देश में 21 दिन का लॉकडाउन है।राजस्थान में तमाम कोशिशों के बाद भी संक्रमण के केस बढ़ते जा रहे हैं। यहां मंगलवार को 14 नए कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इनमें 10 जोधपुर के जबकि चार अन्य झुंझुनू, अजमेर, डूंगरपुर और जयपुर का है। राज्य में मंगलवार शाम तकसंक्रमितों की संख्या 93 तक पहुंच गई।संक्रमण का केस बढ़ने के साथ ही लोगों का खौफ और पुलिस की सख्ती बढ़ती जा रही है। तस्वीरों में देखिए 21 दिन के लॉकडाउन का सातवां दिन-जयपुर में पुलिस की गाड़ियों को भी सैनेटाइज किया जा रहा है।हनुमानगढ़ में लॉकडाउन के बीच पुलिस ने तीन ट्रॉलेजब्त किए। इनमें72 लोग सवार थे, जो कि अपने गांव जा रहे थे। पुलिस नेट्रॉले चालकों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। वहीं 72 लोगों के खाने और रहने कीव्यवस्था की गई है।हनुमानगढ़ में तीन ट्रॉले पर बैठकर जा रहे 72 लोगों को पुलिस ने पकड़ा है।धौलपुर में लॉकडाउन का पालन कराने को लेकर पुलिस सख्त है।घर से बाहर निकल रहे लोगों से पूछताछ की जा रही। सही और वाजिब कारण न बता पाने पर लोगों को वापस घर भेजा रहा है।धौलपुर में बेवजह घूमते लोगों को घर भेजा गया।..
                 

महा कर्फ्यू की तैयारियां, बैरिकेडिंग कर बंद की जा रही सड़कें और गलियां

भीलवाड़ा.राजस्थान में भीलवाड़ा कोरोना का एपिसेंटर बन गया है। यहां अब तक संक्रमण के 26 मामले सामने आ चुके हैं। वहीं, दो संक्रमितों की मौत भी हो चुकी है। भीलवाड़ा में संक्रमण का पहला केस यहां के बांगड़ हॉस्पिटल के डॉक्टर में मिला था। बाकी यहां जितने भी संक्रमित मिले हैं वह डॉक्टर या हॉस्पिटल से जुड़े हुए हैं। हालांकि, अब यहां पर कम्यूनिट में संक्रमण फैलने की आशंका है। संक्रमण की इस चेन को रोकने के लिए प्रशासन ने तीन से13 अप्रैल तक यहां महा कर्फ्यू लगाने की घोषणा की है। मंगलवार से भीलवाड़ा में महाकर्फ्यू की तैयारी शुरू हो गईं। यहां हर कॉलोनी की सभीसीमाएं सील की जा रही हैं। हर बस्ती के बाहर बेरिकैडिंग की जा रही है। इसके लिए प्रशासन ने टेंट का सामान किराए पर लिया है।रेलवे स्टेशन चौराहे और बाजार के चारों तरफ रोड पर बल्ली लगाकर बंद कर दिया गया है।गली-मुहल्लों के रास्तों को बल्ली लगाकर सील किया जा रहा है।भीलवाड़ा मेंसाेमवार काे जिस व्यक्ति की पाॅजिटिव रिपाेर्ट आई वहयहां के बांगड़ अस्पताल में डाॅक्टर काे चेकअप कराने गया था। जिस डाॅक्टर काे चेकअप कराने गया था वह और उसकी पत्नी भीकाेराेना पाॅजिटिव है और..
                 

राज्यपाल कलराज मिश्र बोले- इस वक्त घर में रहना ही देश की सच्ची सेवा, आप एकांत में है अकेले नही

जयपुर. राज्यपाल कलराज मिश्र ने कोरोना वैश्विक महामारी की इस संकट की घड़ीमें लोगों से लॉकडाउन का पालन करने और धीरज बनाएरखने के लिए मंगलवार को प्रदेशवासियों के नाम संदेश दिया है। राज्यपालमिश्र ने कहा है कि सभी को एकजुट होकर देश का साथ देना है। उन्होंने कहा कि इस वक्त घर में रहना ही देश की सच्ची सेवा है।आप एकांत में है लेकिन अकेले नहीराज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा कि एक परिवार के सदस्य के नाते मेरा प्रदेशवासियों से निवेदन है कि किसी भी आपात स्थिति में जरूरत के लिए हेल्पलाइन नम्बरों पर फोन करें। जिससे प्रशासन से तुरन्त आवश्यक मदद और चिकित्सा मिल सके। राज्यपाल ने कहा कि याद रखिए आप एकांत में है, अकेले नही।लोगों की मदद करें, भेदभाव न करेंराज्यपाल ने कहा कि यदि आपके आसपास ऐसे लोग हैं, जिनके पास खाने का सामान नही है, तो उनकी मदद अवश्य करें। उन्होंने कहा कि समाज के किसी भी व्यक्ति से भेदभाव न करें।मदद करें लेकिन एक मीटर की दूरी जरूर रखें। साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखें।घर पर रहना ही कोरोना से बचाव का इलाजराज्यपाल ने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी से बचाव ही इसका इलाज है। हम लोगों को इस बीमारी से बचने ..
                 

पॉजीटिव पिता-पुत्र को झाड़ा लगाने का पता चलते ही भोपा भी सदमे में, बंद कमरे में बार-बार खुद पर ही कर रहा झाड़ा

डूंगरपुर. यहां कोरोना पॉजिटिव के अब तक तीन केस सामने आ चुके हैं। मंगलवार को 65 साल के बुजुर्ग की रिपोर्ट भी पॉजिटिव पाई गई। यह बुजुर्गपहले पॉजिटिव पाए गए पिता-पुत्र के दादा हैं। वहीं, कोरोना पॉजीटिव पिता-पुत्र को झाड़ा लगाने वाला भोपा (तांत्रिक)सदमे में आ गया है। उसने खुद कोघर में सेल्फआईसोलेशन में कर लिया है। खुद का एक कमरे में बंद करते हुए वह परिजन से भी नहीं मिल रहा है। कमरे के अंदर बार-बार खुद के ऊपर ही झाड़ा कर रहा है।बीसीएमओ आसपुर डॉ. अलंकार गुप्ता ने बताया कि 27 मार्च को पिता-पुत्र के कोरोना पॉजिटिव होने का पता चला। इसके बाद मेडिकल टीम और पुलिस प्रशासन ने पिता-पुत्र के गांव पारडा सोलंकी तथा इसके एक किमी के दायरे में आने वाले गांव पारडा जानी व भोपालपुरा को कोरोना प्रभावित क्षेत्र घोषित करते हुए लोगों को उनके घरों में ही रहने के लिए कहा। किसी भी बाहरी व्यक्ति के गांवों में आने पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया था। दूसरे दिन जैसे ही पिता-पुत्र द्वारा पारडाजानी गांव निवासी भोपा से झाड़ा लगवाने का खुलासा हुआ तो एक मेडिकल टीम भोपा के घर पहुंची थी।कमरे के अंदर डरा हुआ था भोपाजब टीम पहुं..
                 

पॉजिटिव से निगेटिव हुए माधोसिंह ने कहा डॉक्टरों और हौसले के दम पर जीती कोरोना से जंग

जोधपुर.पाली के ढोला गांव निवासी माधोसिंह बिजनेस यात्रा पर दुबई में कोरोना संक्रमित हो गए थे। इनका जोधपुर में इलाज चल रहा है। अब दो बार इनकी जांच रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। अब वे अस्पताल से छुट्‌टी मिलने का इंतजार कर रहे है। उन्होंने बताया कि करोना के खिलाफ उन्होंने यह जंग इलाज करने वाले डॉक्टरों व हौसले के दम पर जीती है।उन्होंने कहा कि सबसे पहले मैं जोधपुर के डॉक्टरों व अन्य स्टॉफ को धन्यवाद देना चाहता हूं जो कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज कर रहे है। एक अपील लोगों से भी करना चाहता हूं कि वे सोशल मीडिया के माध्यम से कोरोना को लेकर गलत जानकारी व अफवाह न फैलाए। गत 12 दिन से मेरा यहां इलाज चल रहा है और मुझे एक दिन भी डर नहीं लगा। वास्तव में डर तो उस दिन लगा जब लोगों ने सोशल मीडिया पर मेरी मौत की अफवाह फैला दी। मुझे भय सता रहा था कि कहीं ये सुनकर मेरे परिजनों को कुछ हो न जाए। क्योकि घर पर बुढ़े माता-पिता, पत्नी व चार बच्चे बैठे थे। लेकिन मुझे ऊपर वाले और धरती पर भगवान कहलाने वाले डॉक्टरों पर पूरा भरोसा था कि ये मुश्किल हालात से भी मुझे बाहर निकाल कर ले आएंगे। मैं भी पूरी सकारात्मक सोच क..
                 

कोरोना संक्रमण को रोकेने के लिए कोटा जिले की सीमाओं को सील किया

कोटा। कोरोना के संक्रमण को देखते हुए कोटा जिले की सभी सीमाओं को सील कर दिया गया है। जिले में बाहर से आने वाले नागरिकों को सीमाओं पर बनी चेकपोस्ट पर परिचय पत्र देखकर ही प्रवेश दिया जा रहा है। भास्कर द्वारा ये मुद्दा उठाए जाने के बाद सीमाओं को सील करने के आदेश कलेक्टर ओम कसेरा की ओर से दिए गए।सीमाओं को बंद करने के बाद एडीएम आरडी मीणा ने चेकपोस्टों का आकस्मिक निरीक्षण कर सभी वाहनों की जांच और अनुमति होने पर ही आने देने के निर्देश दिए। उन्होंने बाहर से आने वाले सभी वाहनों के प्रवेश को अनुमति नहीं देने के निर्देश दिए। चेक पोस्ट पर प्रत्येक वाहन की एन्ट्री होगी तथा अनावश्यक घूमते पाए जाने पर वाहन सीज किया जाए।उन्होंने भदाना चौराहा चेक पोस्ट, बड़गांव पुलिस चौकी चेक पोस्ट, लालसोट रोड तिराहा चेक पोस्ट तथा बारां रोड पर नयानोहरा चेक पोस्ट का निरीक्षण कर चिकित्सा टीम द्वारा की जा रही स्क्रीनिंग तथा पुलिस द्वारा की जा रही जांच के सम्बन्ध में निर्देश दिए। मीणा ने कहा कि अन्य जिलों से आने वाले नागरिकों को बिना वैध पास के अनुमति नहीं दें।तथा अनावश्यक घूमते पाए जाने पर वाहन सीज किया जाए। उन्होंने भदाना..
                 

सुरेंदरपाल विरदी, उम्र 51, आरके चौराहा उदयपुर

होम क्वारेंटाइन यानी सुरक्षा घेरा... ये स्वस्थ हैं, लेकिन संदिग्ध माने गए थे, समाज-शहर को महामारी से दूर रखने के लिए 14-14 दिन बंद रहे कमरों मेंसुरेंदरपाल विरदी, उम्र 51, आरके चौराहा उदयपुर कोरोना वायरस के संक्रमण की चेन देश-दुनिया में तेजी से बढ़ रही है। रोगी का पता चलता है तब तक वह दूसरे लोगों को संक्रमित कर चुका होता है। फिर भी उदयपुर में आये दिन होम क्वारेंटाइन के नियम तोड़ने वालों के खिलाफ शिकायत मिल रही है। हाल ही में उदयपुर में होम क्वारेंटाइन किए लोगों को हाथ पर सील देखकर जयपुर कलेक्टर जोगाराम ने पकड़ा था। इस वायरस की चेन तोड़कर खुद, समाज और देश को बचाने के लिए शहर के ये जिम्मेदार नागरिक 14-14 दिन होम क्वारेंटाइन पूरा कर चुके हैं। प्रशासन ने संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए विदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, दिल्ली, झुंझुनूं, भीलवाड़ा जैसे संक्रमित प्रदेश-शहरों से आने वाले 48 हजार लोगों को संदिग्ध मानकर एहतियात के तौर पर 14 दिन के लिए होम क्वारेंटाइन किया है। इसकी पालना नहीं करने वालाें पर सख्ती की जाएगी।मैं पूरी तरह फिट हूं, खुद खाना बनाता हूं ताकि कोई परिचित खाना देने के बहाने भी संपर्क में न ..
                 

एक ही दिन में ढेर हुई मुखर्जी चौक सब्जी मंडी की व्यवस्था, विक्रेता फिर सड़क पर आ बैठे, लोगों में चिंता और आक्रोश

कोरोना संक्रमण से बचाव और मुखर्जी चौक में अतिक्रमण को देखते हुए प्रशासन ने सड़क पर बैठकर सब्जी बेचने वाले को रविवार को निगम के मंडी परिसर में शिफ्ट किया, लेकिन सोमवार को दूसरे ही दिन सब्जी विक्रेता मनमर्जी से फिर सड़क पर आ बैठे। शहरवासियों ने सुबह जब सब्जी विक्रेताओं को फिर से मुखर्जी चौक में बीच सड़क बैठे देखा तो हैरान रह गए। लोगों ने पार्षद डॉ. शिल्पा पामेचा के साथ ही नगर निगम और जिला प्रशासन को भी सूचना दी, लेकिन प्रशासन और निगम लाचार नजर आया। किसी ने इन लोगों को सख्ती से मंडी परिसर में ही बैठाने की जहमत नहीं की। क्षेत्रवासियों के अनुसार चिंता इस बात की है कि सड़क पर सब्जी बेचने वालों के पास-पास बैठने और भीड़ होने से कहीं संक्रमण न फैल जा।व्यवस्थित मंडी बना रखी, कोई उपयोग नहीं : निगम के दूसरे बोर्ड में तत्कालीन सभापति युधिष्ठिर कुमावत के कार्यकाल में 2000-2001 में मंडी का निर्माण हुआ था। फिर तीसरे बोर्ड में सभापति रवीन्द्र श्रीमाली के समय फर्स्ट फ्लोर बना। मंडी में सब्जी विक्रेताओं के लिए पक्के प्लेटफार्म भी बनाये गए हैं। फिर भी सब्जी विक्रेता मंडी परिसर की बजाय मुखर्जी चौक में सड़क पर..
                 

उदयपुर में फंसे उत्तराखंड के 54 लोगों की सेवा में जुटा जिला प्रशासन-जैन फैडरेशन

उदयपुर | अखिल भारतीय जैन युवा फैडरेशन और अरिहंत युवा मंच के साझे में सोमवार को कॉल डाउन में उदयपुर में फंसे उत्तराखंड के लोगों को भोजन उपलब्ध कराने डबोक स्थित गीतांजलि कॉलेज पहुंचे। भाजपा जिला मंत्री एवं युवा फैडरेशन प्रदेश अध्यक्ष डॉ. जिनेंद्र शास्त्री, पेट्रोलियम एसोसिएशन उदयपुर के सचिव राजराजेश्वर जैन, युवा मंच अध्यक्ष राजकुमार जैन, शौर्या जैन के नेतृत्व में 54 लोगों के लिए भोजन पैकेट दिए। इन्हें कलेक्टर आनंदी के निर्देश पर गिर्वा एसडीएम डॉ. सौम्या झा ने गीतांजलि में होम क्वारेंटाइन कराने के लिए भेजा। चिकित्सा टीम ने स्क्रीनिंग की। इस दौरान मावली तहसीलदार रतन लाल कुमावत, सरपंच भगवती लाल पाटीदार, पटवारी जोगेंद्र सिंह आदि मौजूद थे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Udaipur News - rajasthan news district administration jain federation engaged in service of 54 people of uttarakhand stranded in udaipur..
                 

रजवाड़ी अंदाज में किया ईसर-गणगौर का शृंगार घरों में प्रतीकात्मक विसर्जन से पूरा किया पूजन

नीलम पूर्बियापूर्बिया समाज : पीळिया में गणगौरों को सजायापलक पूर्बियागणगौर पूजन को विराम }चौथे दिन भी महिलाओं ने घराें में ईसर-गणगौर की एकल पूजा कीशालिनी परिहाररिंकूप्रतिभा और प्रीतिश्वेता और मानसीमधु वर्मातनु, निकु और शालू मालीसूरजपाेलमां ने की पूजा, गणगौर की तरह सजीं कृषिका-सियांशीछवि चंदेरियादीपिका पूर्बियाप्राचीबड़ा भोईवाड़ा में राज माली समाज की कुछ महिलाओं ने सोमवार शाम किया गणगौर पूजन अनुष्ठान का विसर्जन।उदयपुर. गणगौर पूजन उत्सव अधिकांश जगह सोमवार को थम गया। बड़ा भोईवाड़ा में राजमाली समाज की कुछ महिलाओं ने प्रतीकात्मक विसर्जन के साथ चार दिन के इस पूजन अनुष्ठान को विराम दिया। इससे पहले ईसर-गणगौर की प्रतिमाओं का भव्य शृंगार किया गया। रजवाड़ी अंदाज में प्रतिमाओं को वागा, आभूषण आदि के बाद मालाएं पहनाईं। फिर गुलाब से जल कसूंबे दिए। सूरजपोल और हाथीपोल खटीकवाड़ा स्थित घरों में भी ये आयोजन हुए। लॉक डाउन के कारण इस बाद एकल पूजन ही हुआ, जिसकी तस्वीरें युवतियों और महिलाओं ने भास्कर से साझा कीं। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Udaipur ..
                 

सीमाएं सील, वाहनों, पैदल जाने वालों को स्कूल, कॉलेजों में क्वारेंटाइन करना शुरू, 14 तक यहीं रहना होगा

सरकार के निर्देश पर सोमवार से सभी जिलों की सीमाएं सील कर दी है। जिले की सीमा सील होने के बाद गुजरात, महाराष्ट्र से वाहनों में तथा पैदल घर जाने वाले लोगों को पुलिस तथा प्रशासनिक अधिकारियों ने रुकवाना शुरू कर दिया। इसके लिए जिलेभर में उपखंड अधिकारियों को दिशा-निर्देश देकर स्कूल, कॉलेजों को होम आइसोलेशन के लिए अधिकृत कर वहां लोगों के रहने, भोजन, पानी की व्यवस्था की है। तहसीलदार रतनलाल कुमावत ने बताया कि मावली क्षेत्र में आने वाले बाहर के लोगों को होम क्वारेंटाइन करने की प्रक्रिया शाम को ही शुरू करवा दी। डबोक के पास गीतांजलि कॉजेज, मावली में जवाहर नवोदय विद्यालय, मॉडल स्कूल, कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय, अंबेडकर छात्रावास तथा फतहनगर में विद्या निकेतन स्कूल में लोगों को ठहराने की व्यवस्था की है। गीतांजलि कॉलेज में रात तक सौ से ज्यादा लोग, फतहनगर के विद्या निकेतन स्कूल में 150 लोगों को रात तक ठहराया जा चुका था। यहां कमरों में दो-दो मीटर दूर रहने, सोने की व्यवस्था की है। भोजन, पानी के लिए संबंधित पंचायत, स्वयंसेवी संस्थाओं या कॉलेज के मैस से व्यवस्था शुरू करवाई है। एसडीएम रमेशचंद्र सीरवी ने..
                 

भास्कर सुझाव : कैंपस खाली, तय दूरी पर व्यापारियों के लिए जगह तय करे मंडी प्रशासन

लॉकडाउन टूटा : सब्जियों की खरीद-बिक्री के लिए मंडी में व्यापारियों और किसानों की भीड़सीकर. लॉकडाउन के आदेशों की धज्जियां उड़ाती ये तस्वीर सीकर मंडी की है। कारोबारियों और किसान के बीच 3 मीटर तो दूर 1 फीट की भी दूरी नहीं थी। न ही व्यापारी-किसान और न ही मंडी प्रशासन सोशल डिस्टेंस की पालना को लेकर गंभीर था। ज्यादातर लोगों ने मास्क तक नहीं पहन रखे थे। सोमवार को सुबह 5 से 9:00 बजे तक मंडी में इसी तरह सब्जियां खरीदने और बेचने वालों की भीड़ जुट रही। सब्जियों का कारोबार होना जरूरी है, लेकिन उतना ही जरूरी नियमों की पालना भी है। मंडी का पूरा कैंपस खाली है। यदि मंडी प्रशासन चाहे तो जहां कैंपस खाली है वहां व्यापारियों को एक-दूसरे से निर्धारित दूरी पर कारोबार के लिए पाबंद कर सकता है।व्यापारियों-किसानों को सोशल डिस्टेंस की पालना की हिदायत दी गई है। मंडी के गेट पर मास्क व सेनेटाइजर की व्यवस्था भी है। भीड़ में दूरी कम है, इसमें सुधार के लिए प्रयास करेंगे।देवेंद्र सिंह बारेठ, मंडी सचिवसीकर. मंडी में सोमवार को उमड़ी भीड़। फोटो सुनील सैनी Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today ..
                 

हर दिन दो हजार जरूरतमंदों को खाना खिला रहा सेवा ग्रुप

कोरोना महामारी के संकट में आमजन की सेवा करने के लिए युवाओं ने सेवा ग्रुप बनाया। यह ग्रुप मजदूरों, राहगीरों, कच्ची बस्तियों, निर्माणाधीन भवनों में काम करने वाले अन्य राज्यों के दिहाड़ी मजदूरों को खाने के पैकेट बांट रहे हैं। सेवा ग्रुप के युवा भी सुबह से देर शाम तक लोगों की सेवा में जुटे हुए हैं। ग्रुप के युवा हर्ष की पहाड़ी पर जाकर बंदरों और अन्य वन्यजीवों को भी खाद्य सामग्री वितरित कर रहे हैं। अनिल कुमार तोदी, नितिन सर्राफ, विष्णु अग्रवाल, गर्वित झाझुका, पंकज बिदावतका, महेंद्र तोदी, शंकर अग्रवाल आदि दोस्तों ने मिलकर यह ग्रुप बनाया है। उन्होंने बताया कि इस संकट की घड़ी मे सभी को मिलकर कोरोना से लड़ना होगा। समाज के बीच कुछ ऐसे भी लोग है जिन्हें खाना भी नसीब नहीं हो रहा है। मानवता के नाते गरीबों और असहाय की मदद के लिये हम सब युवाओं ने लोगों की सेवा करने की ठानी है। सभी युवा अलग-अलग व्यवसाय से जुड़े हुए हैं। युवाओं ने बताया कि यदि समाज के अन्य प्रमुख व्यवसाय व भामाशाह इस मुहिम में शामिल होना चाहते हैं तो हमें सूखा राशन जैसे आटा, तेल, सब्ज़ी, चावल, दाल दे सकते हैं। युवाओं ने बताया कि सीकर शहर में..
                 

तीन गांवों के 47 जरूरतमंद परिवाराें को लिया गाेद

लॉकडाउन के चलते पुष्कर में जरूरतमंदों की सहायता के लिए कई धार्मिक व सामाजिक संगठनों के साथ-साथ भामाशाह आगे आ रहे हैं। मोतीसर स्थित होटल आराम बाग के मालिक राजेंद्र सिंह पचार ने मोतीसर, सवाईपुरा, मेघवंशी की ढाणी में निवास कर रहे 47 परिवारों को गाेद लिया है। उन्हें आगामी 14 अप्रैल तक नियमित रूप से सुबह-शाम भोजन कराया जाएगा। प्रतिनिधि नौरतमल ने बताया कि गाेद लिए परिवारों के छोटे-बड़े 370 सदस्यों को होटल से खाना बना कर खिलाया जा रहा है। ग्राम तिलोरा में सरपंच समंद्र सिंह रावत, गनाहेड़ा सरपंच लीला देवी रावत, समाज सेवी मांगीलाल रावत पंचायत अधीनस्थ गांवों में गरीबों को भोजन व खाद्य सामग्री के पैकेट वितरित कर रहे है। उद्योगपति रिजु झुनझुनवाला की ओर से ताराचंद गहलोत, जगदीश कुर्डिया, बाबूलाल दग्दी, संजय दग्दी, अरूण पाराशर आदि ने बीते दो दिन में 300 जरूरतमंदों को आटे के कट्टे वितरित किए। नए रंगजी मंदिर के प्रबंधक सत्यनारायण रामावत, पार्षद कमल रामावत, धीरज जादम, पुष्पा दायमा, नारायण दायमा, हिमांशु कुमावत समेत अनेक भामाशाह अपने-अपने सहयोगी टीमों के साथ गरीबों की मदद कर रहे हैं।पुष्कर. जरूरतमंदों क..
                 

पुष्कर में कोरोना पर फिलहाल कंट्रोल, अब तक एक भी विदेशी पॉजिटिव नहीं

कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर जहां कोरोना पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है, वहीं पुष्कर वासियों के लिए यह अच्छी खबर है कि यहां पर अभी तक एक भी विदेशी सैलानी पाॅजिटिव नहीं मिला है।पुष्कर में कोरोना संक्रमण का सबसे बड़ा खतरा विदेशी नागरिकों से था। अधिकतर विदेशी सकुशल पुष्कर से लौट गए हैं। मार्च की शुरुआती दिनों में कोरोना वायरस ने भारत में प्रवेश किया। इस दाैरान पुष्कर में अंतरराष्ट्रीय होली महोत्सव में इजरायल समेत विभिन्न देशों के पर्यटक पुष्कर पहुंचे। विदेशी के साथ होली खेलने के लिए दिल्ली, हरियाणा, गुजरात, पंजाब सहित विभिन्न राज्यों से भी काफी संख्या में स्वदेशी पर्यटक आए थे। यहां विदेशियों से दूरी बनाए रखने सहित कई हिदायतें व एडवाइजरी जारी की गई थी।प्रदेश में पहला पॉजिटिव केस इटलीवासी पर्यटक का ही मिला था। एेसे हालात में पुष्कर में सबसे अधिक पर्यटक ठहरे हाेने के कारण यहां संक्रमण का खतरा गंभीर अांका जा रहा था। इस कारण प्रशासन ने विदेशी पर्यटकों से भरी होटलों को खाली कराना शुरू किया। लाॅकडाउन पर सख्ती से अमल कराया गया। अाखिरकार धीरे-धीरे अधिकांश पर्यटक पुष्कर से सकुशल लौट ..
                 

आफत पर भारी हमारी संवेदना, हर ओर मदद

जिले में काेराेना वायरस के कारण लॉकडाउन के चलते भामाशाहाें, युवाअाें, ग्रामीणों व पुलिस आदि के स्वैच्छिक सहयोग से जरूरतमंदों काे खाद्य सामग्री का वितरित की जा रही हैं। इससे निर्धन, निशक्त व जरूरतमंद परिवारों काे दाे वक्त का भाेजन नसीब हा़े रहा हैं। वहीं इनकाे सुबह-शाम खाद्य सामग्री के किट बनाकर वितरण किए जा रहे हैं।शेरगढ़| कस्बे के ऊपरला वास, गवारियों का वास, रावों का वास, भीलों की ढाणी आदि इलाके में करीब 25 परिवारों को खाद्य सामग्री के किट वितरण किए। जरूरतमंद परिवारों के घरों पर पहुंचकर शेरगढ़ पुलिस थानाधिकारी कैलाशदान, हैड कांस्टेबल बाबूसिंह, हैड कांस्टेबल मुकेश कुमार, सूचना अधिकारी, कांस्टेबल चंपालाल, बृजवाल सहित पुलिसकर्मियों ने खाद्य सामग्री के पैकेट वितरित किए।केतू कलां| सदरी, राजाला में स्व. चौधरी बीरबल खीचड़ परिवार से पुत्र श्रीराम खीचड़, सुरेश व दिलीप ने 200 परिवारों को राशन वितरण किया।मथानिया| पुलिस प्रशासन सहित कई समाजसेवी व राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक जरूरतमंद लोगों के घरों तक खाद्य सामग्री का वितरण किया जा रहा हैं। ऐसे में पुलिसकर्मी हरदयालसिंह द्वारा एक यूथ टीम का ..
                 

शहरवासी समझ गए लॉकडाउन का मतलब, राशन की लाइन में कट्‌टे रख दूर खड़े रहे लोग

                 

कालाबाजारी; दाल 70 रुपए किलो में बेच रहा था व्यापारी, विभाग ने पकड़ा

अधिक राशि लेने पर दुकान सीज : कनवास में किराने के दुकानदार द्वारा निर्धारित राशि से अधिक में सामान बेचने तथा दुकान के बहार मूल्य सूची चस्पा नहीं करने पर एक दुकान को 24 घंटे के लिए सीज कर दिया है। उपखण्डाधिकारी राजेश डागा ने बताया ग्रामीणों द्वारा रिषभ किराना स्टोर की दुकान पर संचालक जम्मूकुमार जैन द्वारा सामान की अधिक राशि लिये जाने की शिकायत की जिसका सत्यापन कार्यालय के कार्मिक को भेजकर कराया गया। जिसमें चीनी 45 रूपए किलो देना पाया गया। दुकानदार द्वारा दुकान के बाहर मूल्य सूची भी चस्पा नहीं की गई थी। ऐसे में 24 घंटे के लिए दुकान को सीज कर दिया है।रसद अधिकारी माेहम्मद ताहिर काे सूचना मिली थी कि कुन्हाड़ी हाउसिंग बाेर्ड काॅलाेनी में 1-एफ- 3 में मैसर्स बजरंग ट्रेडिंग कम्पनी के संचालक सर्वेश्वर काबरा का थाेक सामग्री का गाेदाम है, जहां पर निर्धारित राशि से अधिक वसूली की जा रही है। इस पर वे टीम के साथ पहुंचे अाैर स्वयं जाकर वहां दाल का भाव करवाया ताे उन्हें 70 रुपए किलाे बताया गया। इस पर उन्हाेंने टीम काे माैके बुलाया। यहां जांच करने पर पाया कि गाेदाम में बिना मार्का व कीमत के चावल के कट्..
                 

निगेटिव सिचुएशन में भी पॉजिटिव बने रहने का हौसला दे रहा माय एफएम

काेटा| कोरोना के दिन ब दिन बढ़ते खौफ़, लॉकडाउन के बीच कोटावासियों में एनर्जी भरने के साथ कोटा का नम्बर वन रेडियो चैनल 94.3 माय एफएम लगातार आपको एजुकेट व अवेयर करने के लिए प्रयासरत है।21 दिनों के लॉकडाउन के बीच माय एफएम ही ऐसा रेडियो चैनल है जो दे रहा है आपको ग्राउंड ज़ीरो से रिपोर्ट। अपने घरों में बने रहने की अपील के साथ जहां आरजे अरुण रोजाना अपने पेज पर आपके लिए रोचक, मनोरंजक वीडियो बना कर पोस्ट कर रहे हैं, वहीं उनके शो में कभी कोटा सिटी कलेक्टर, कभी सिटी एसपी तो कभी एक्सपर्ट डॉक्टर्स व काउंसलर्स उनके साथ बने रहते हैं और इस क्रम में आगे विभिन्न कोचिंग संस्थानों के प्रतिनिधि भी बच्चों से रुबरू होंगे। यही नहीं, रोज़ रात 9 बजे आरजे अरुण, आलिया लाइव आपसे सोशल डिस्टेंस बनाने, बिना मिले कोरोना से साथ लड़ने की अपील के साथ मनोरंजक बातें कर रहे हैं। घर बैठे रोज़ कुछ नया करने की टिप्स भी बता रहे हैं। कोरोना का असर कम होने तक घरों में रहिए, अपनों के साथ रहिए। अपना व अपनों का ख़याल रखिए, 94.3 माय एफएम आपके लिए अनलिमिटेड एंटरटेनमेंट का ग्राफ़ डाउन नहीं होने की गारंटी देता है। रहिए ट्यून इन विद माय एफएम, ..