हिन्दुस्तान दैनिक भास्कर नईदुनिया नवभारत टाइम्स

11 साल से स्टेडियम जाकर मैच देख रहे रामबाबू की धोनी ने मदद की थी, 6 साल पहले बांग्लादेश में डेंगू होने पर इलाज कराया

पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी आज 39 साल के हो गए हैं। उनका जन्म 7 जुलाई 1981 को झारखंड (तब बिहार) के रांची में हुआ था। धोनी के खेल और लुक के कायल दुनियाभर में मौजूद हैं। ऐसे ही एक फैन पंजाब में मोहाली के रहने वाले रामबाबू भी हैं। वे 11 साल में धोनी के 200 से ज्यादा मैच स्टेडियम में जाकर देख चुके हैं। उन्होंने बताया कि बांग्लादेश में 2014 टी-20 वर्ल्ड कप के दौरान उन्हें डेंगू हो गया था।तब धोनी ने उन्हें फ्लाइट से वापस भेजा और इलाज करवाया। तब डॉक्टर ने कहा था कि यदि 4-5 दिन की देरी होती, तो शायद मामला बिगड़ सकता था। रामबाबू ने शरीर पर धोनी के टैटू बनाए हैं। धोनी के जन्मदिन पर भास्कर ने रामबाबू से बात की...धोनी ने दूसरा जीवन दिया, उन्हीं के कारण जिंदा हूंरामबाबू ने कहा- बांग्लादेश में 2014 टी-20 वर्ल्ड कप देखने के लिए पहुंचा था। यात्रा के बारे में कुछ पता नहीं था, इसलिए कोलकाता से बस में गया था। समुद्र का रास्ता शिप से पार किया। मैच के सभी पास माही सर ही देते थे। भारत-पाकिस्तान मैच से पहले रात को मेरी तबीयत खराब हुई। टीम इंडिया के डॉक्टर नितिन पटेल से दवाई ली, लेकिन कुछ असर नहीं ह..
                 

ब्रावो ने धोनी के लिए हेलिकॉप्टर-7 गाना शेयर किया, पत्नी साक्षी ने कहा- एक नए साल के साथ आप थोड़े और स्वीट-स्मार्ट हो गए

पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 7 जुलाई को 39 साल के हो गए हैं। पत्नी साक्षी ने बधाई देते हुए कहा कि एक नए साल के साथ धोनी थोड़े और स्वीट एंड स्मार्ट हो गए हैं। उनके अलावा भारतीय कप्तान विराट कोहली, कोच रवि शास्त्री और वेस्टइंडीज के ऑलराउंडर ड्वेन ब्रावो समेत कई खेल दिग्गजों ने बधाई दी है। ब्रावो ने तो गिफ्ट के तौर पर हेलिकॉप्टर-7 गाना भी रिलीज किया है।साक्षी ने धोनी की कई सारी फोटो शेयर की। ज्यादातर तस्वीरों में धोनी अपने पालतु कुत्तों के साथ खेलने नजर आ रहे हैं। साक्षी ने लिखा- ‘‘जीवन का एक साल और बढ़ गया। इसी के साथ आप थोड़े और स्वीट एंड स्मार्ट हो गए हैं। आप ऐसे व्यक्ति हैं, जो स्वीट विशेज और गिफ्ट से ज्यादा प्रभावित नहीं होते हैं। आइए, आपकी जीवन के एक और साल का जश्न मनाते हैं।’’चेन्नई सुपरकिंग्स ने ब्रावो का गाना शेयर कियाआईपीएल में चेन्नई सुपरकिंग्स (सीएसके) की कप्तानी में खेलने वाले ब्रावो ने धोनी के लिए एक गाना ‘हेलिकॉप्टर-7’ रिलीज कर गिफ्ट दिया। इस गाने में ब्रावो ने धोनी के पूरे क्रिकेट सफर को बताया है। धोनी रेलवे में टिकट चेकर रहे है..
                 

क्लब में धोनी के कोच रहे चंचल भट्टाचार्य ने कहा- वे गुस्सा जताते नहीं, सिर्फ नाक टेढ़ी कर लेते हैं; किसी भी नंबर पर बल्लेबाजी कर लेते थे

पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी आज 39 साल के हो गए हैं। उनका जन्म 7 जुलाई 1981 को झारखंड (तब बिहार) के रांची में हुआ था। धोनी ने अपनी कप्तानी में देश को 2007 में टी-20 और 2011 में वनडे वर्ल्ड कप के अलावा 2013 में चैम्पियंस ट्रॉफी जिताई। धोनी मैदान के अंदर और बाहर हमेशा शांत नजर आते हैं। बहुत ही कम मौके होंगे, जब फैंस ने उनको गुस्से में देखा होगा। धोनी के क्लब के कोच चंचल भट्टाचार्य ने बताया कि उनके पास गुस्से को कंट्रोल करने की एक अलग कलाहै।1996 से 2004 तक कमांडो क्रिकेट क्लब में धोनी के कोच रहे चंचल ने कहा कि गुस्सा आने पर धोनी अपनी नाक को टेढ़ी कर लेते हैं। वे लोगों के सामने गुस्से को जाहिर नहीं होने देते। क्लब में भी खेलते समय उनका रवैया ठीक ऐसा ही था। भास्कर ने चंचल के अलावा स्कूल टाइम के कोच केआर बनर्जी और भारतीय टीम में धोनी के साथ खेले तेज गेंदबाज मोहित शर्मा से बात की... धोनी क्या शुरू से अनुशासन में रहे?चंचल: एक बार किसी गलती पर मैंने पूरी टीम को सजा दी थी। सभी खिलाड़ियों को बस की बजाय बैग लेकर दौड़ते हुए स्कूल जाने के लिए कहा था। स्कूल करीब 1 किमी दूर था। दूसरे खिलाड़ियों..
                 

आरोपी रविंद्र डंडीवाल एक टीम को ऑस्ट्रेलिया लेकर गया था, कई प्लेयर्स तो वहां से लौटे ही नहीं

पंजाब पुलिस ने सोमवार को मैच फिक्सिंग में आरोपी रविंद्र डंडीवाल को मोहाली से गिरफ्तार कर लिया। बीसीसीआई की राडार पर चल रहे डंडीवाल ने हाल ही में 29 जून को युवा टी-20 लीग का मैच आयोजित किया था। बीसीसीआई की एंटी करप्शन यूनिट (एसीयू) टीम मोहाली पहुंच रही है और पुलिस से जानकारी साझा करेगी। बोर्ड के एंटी करप्शन यूनिट के हेड अजीत सिंह ने कहा- हम भी अपनी टीम वहां पर भेज रहे हैं। हम जो भी जानकारी एकत्रित करेंगे, उसे पुलिस के साथ साझा करेंगे। मोहाली में खेले गए मैच में पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ के प्लेयर्स मास्क लगाकर खेल रहे थे।उन्होंने कहा कि डंडीवाल कई सालों से ऐसी लीग से संबंध रखता आया है। 3-4 साल पहले वो एक टीम को ऑस्ट्रेलिया लेकर गया था और उस टीम के कई सदस्य वहां से लौटे ही नहीं। यह एक इमिग्रेशन स्कैंडल था और जिसने टूर्नामेंट कराया था, उसने अधिकारियों को इस बारे में अवगत कराया था। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के साथ बोर्ड को इस बारे में पत्र लिखा। हम ज्यादा कुछ नहीं कर सकते थे, इसलिए पंजाब पुलिस को जानकारी देते हुए केस दर्ज करा दिया था। इसके बाद लगातार हमारी उस पर नजर थी।नेपाल, अफगानिस्तान और ऑस्ट्र..
                 

बार्सिलोना क्लब के 9000 गोल पूरे, इसमें से 7% लियोनेल मेसी के; टीम ने सबसे ज्यादा 6165 गोल ला लिगा में किए

स्पेनिश फुटबॉल क्लब बार्सिलोना के सभी ऑफिशियल टूर्नामेंट में 9 हजार गोल पूरे हो गए हैं। स्पेनिश लीग ला लिगा में विलारियल के खिलाफ अंसु फातीके 87वें मिनट में किए गोल के साथ ही बार्सिलोना ने यह उपलब्धि अपने नाम कर ली। इन 9 हजार गोल में से टीम के कप्तान और 6 बार के बेलेन डि ओर विनर लियोनेल मेसी ने 630 गोल किए हैं यानी 7%।बार्सिलोना की ओर से पहला ऑफिशियल गोल अप्रैल 1909 में हुआ था। रविवार रात विलारियल के घरेलू मैदान पर हुए मुकाबले में बार्सिलोना को 4-1 से जीत मिली। पाओ टोरेस ने तीसरे मिनट में ओन गोल कर बार्सिलोना को आगे कर दिया। सुआरेज ने 20वें, ग्रीजमैन ने 45वें और अंसु फाती ने गोल किए।बार्सिलोना के 6 हजार से ज्यादा गोल ला लिगा में लीग गोल ला लिगा 6165 कोपा डेल रे 1474 चैम्पियंस लीग 543 विनर्स कप 178 यूईएफए कप 149 फेयर्स कप 141 अन्य 350 रियाल के हारने से बार्सिलोना की खिताब पर दावेदारी मजबूत होगीस्पेनिश क्लब बार्सिलोना 34 मैच के बाद 73 पॉइंट लेकर लीग टेबल में दूसरे और रियाल मैड्रिड (77) टॉप पर है। दोनों टीमों के 4-4 मैच बाकी..
                 

टी-20 वर्ल्ड कप पर 10 जुलाई को फैसला संभव, कोरोना के कारण 2 साल के लिए टाला जा सकता है

इस साल होने वाला टी-20 वर्ल्ड कप 10 जुलाई को होने वाली आईसीसी की बैठक में आधिकारिक रूप से स्थगित हो सकता है। वर्ल्ड कप अक्टूबर-नवंबर में ऑस्ट्रेलिया में होना है। ऑस्ट्रेलिया के अखबार डेलीटेलीग्राफ की रिपोर्ट के अनुसार, आईसीसी बैठक में स्थगित होने की खबर जारी कर सकता है। हालांकि, शुक्रवार को होने वाली बैठक में इस पर फैसला नहीं होगा कि वर्ल्ड कप कब होगा।ऑस्ट्रेलिया अक्टूबर 2021 में इसका आयोजन चाह रहा है। लेकिन भारत को अगले साल टूर्नामेंट की मेजबानी करनी है। इसका मतलब है कि ऑस्ट्रेलिया को 2 साल इंतजार करना पड़ सकता है।इंग्लैंड दौरा कर सकती है ऑस्ट्रेलियारिपोर्ट के मुताबिक, ऑस्ट्रेलिया की टीम सितंबर के मध्य में इंग्लैंड का दौरा कर सकती है। तब दोनों टीमों के बीच सीमित ओवरों की सीरीज खेली जा सकती है। अगर वर्ल्ड कप स्थगित होता है, इसका मतलब है कि बीसीसीआई के लिए आईपीएल के आयोजन का रास्ता खुल जाएगा। भारत में कोविड-19 के बढ़ते केस को देखते हुए गांगुली ने कहा कि लीग के देश के बाहर होने की संभावना ज्यादा है।न्यूजीलैंड ने आईपीएल की मेजबानी का प्रस्ताव दिया: बीसीसीआईयूएई और श्रीलंका के बाद अब न्यूजील..
                 

सौरव ने कहा- तेंदुलकर हमेशा मुझे स्ट्राइक लेने को कहते थे, इसके लिए उनके पास दो जवाब तैयार होते थे

बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा हैकि सचिन तेंदुलकरहमेशा मुझेही पहली गेंद पर स्ट्राइक लेने के लिए कहते थे। उन्होंने यह खुलासा क्रिकेटर मयंक अग्रवाल से ऑनलाइन चैटिंग के दौरान किया। गांगुली ने कहा कि पहले स्ट्राइक न लेने के पीछे हमेशा सचिन के पास दो वजहें होतीं थी।उनके पास अच्छे फॉर्म और खराब फॉर्म दोनों का जवाब था। फॉर्म में होने पर वेकहते कि उन्हें नॉन-स्ट्राइकर एंड पर बने रहना चाहिए। वहीं, फॉर्म खराबहोने पर कहते थे कि मुझे नॉन-स्ट्राइकर के अंत में रहना चाहिए, क्योंकि यह मुझ पर दबाव डालता है।गांगुली और मयंक के इस बातचीत का वीडियो बीसीसीआई ने ट्विटर पर शेयर किया है। गांगुली ने कहा कि एक-दो बार सचिन ने पहलीगेंद पर स्ट्राइक भी ली है,लेकिन ऐसा तब होताजब मैं पहले ही नॉन स्ट्राइक पर जाकर खड़ा हो जाता था।तेंदुलकर- गांगुलीसबसे सफल ओपनिंग साझेदारतेंदुलकर और भारत के पूर्व कप्तान गांगुली ने वनडे के 176 पारियां खेली हैं। इनमें दोनोंने मिलकर 47.55की एवरेज से 8227 रन बनाए हैं। वनडे में एक साथ 6,000 रन बनाने का रिकॉर्ड भी इसी जोड़ी के पास है।वहीं, सचिन और गांगुली ने भारत के लिए 136 पारियों में ओपनि..
                 

चेतेश्वर पुजारा बोले- मैंने लॉकडाउन से सीखा कि भागदौड़ भरी जिंदगी से परिवार के लिए वक्त निकालना जरूरी

हर आम और खास व्यक्ति की तरह क्रिकेटर चेतेश्वर पुजारा भी लॉकडाउन के बाद से ही परिवार के साथ कीमती वक्त बिता रहे हैं। साथ ही एक खिलाड़ी होने के नाते खुद को फिट रखने पर भी फोकस रखे हुए हैं। मैदान से दूर चार महीने से पिता, पत्नी और बेटी के साथ वक्त बिता रहे पुजारा कहते हैं कि- लॉकडाउन से सीख मिली है कि भागदौड़ भरी जिंदगी से परिवार के लिए वक्त निकालना बहुत जरूरी है।पुजारा ने कहा-मैं सभी फॉर्मेट में खेलने के लिए फिट हूं। घरेलू क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में मेरा प्रदर्शन अच्छा रहा है।हैंड-ऑई को-ऑर्डिनेशन साधने पर देना होगा जोरपुजारा सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा की उस बात का समर्थन करते हैं जिसमें शर्मा ने कहा था कि लॉकडाउन के बाद बल्लेबाज जब मैदान पर उतरेंगे तो उन्हें हैंड-ऑई को-ऑर्डिनेशन में तकलीफ से दो-चार होना पड़ेगा। पुजारा का कहना है कि हर खिलाड़ी की मानसिकता अलग होती है। बल्लेबाज हो या गेंदबाज लंबे समय के बाद मैदान में उतरने पर खिलाड़ियों को लय पकड़ने में वक्त लगता ही है। हां, प्री-प्रिपरेशन के लिए दो महीने का वक्त मिले तो सभी खिलाड़ी खुद को फिट हो सकते हैं।थूक से गेंद चमकाने पर प्रतिबंध सहीगेंद ..
                 

भारत में क्रिकेट की वापसी और आईपीएल में चाइनीज स्पॉन्सर वीवो पर चर्चा हो सकती है

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) अपेक्स काउंसिल की बैठक 17 जुलाई को होगी। भारत में क्रिकेट की वापसी को लेकर फ्यूचर टूर प्रोग्राम (एफटीपी), घरेलू सीजन के कार्यक्रम को तैयार किया जा सकता है। साथ ही आईपीएल स्पॉन्सर वीवो को लेकर भी चर्चा की उम्मीद है।काउंसिल की कैग सदस्य अल्का रेहानी ने कहा- जिन पदाधिकारियों के कूलिंग पीरियड में जाने को लेकर कोर्ट का फैसला नहीं आया है, उन पर भी बात हो।मीटिंग में सिर्फ योग्य अधिकारी शामिल हों: अल्काअल्का ने कहा- बैठक में केवल योग्य पदाधिकारी ही शामिल हों और इस मुद्दे को एजेंडे पर रखने की आवश्यकता है, क्योंकि बोर्ड अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सचिव के कार्यकाल या तो समाप्त हो गए हैं या जल्द ही समाप्त हो रहे हैं। बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट से अपने अध्यक्ष सौरव गांगुली, सचिव जय शाह और संयुक्त सचिव जयेश जार्ज के कार्यकाल को बढ़ाने के साथ अनिवार्य अनुकूलन अवधि (कूलिंग ऑफ पीरियड) से छूट की मांग की है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today बीसीसीआई ने सुप्रीम कोर्ट से अपने अध्यक्ष सौरव गांगुली, सचिव जय शाह और स..
                 

हेजलवुड ने कहा- कोहली अच्छी बल्लेबाजी के लिए झगड़ा करना पसंद करते हैं, गेंदबाजों को उनसे बचना चाहिए

ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड ने कहा कि भारतीय कप्तान विराट कोहली अच्छी बल्लेबाजी के लिए झगड़ा करना पसंद करते हैं। इस दौरान गेंदबाज को कोहली से नहीं उलझना चाहिए। साल के आखिर में भारत को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर 3 टी-20, 4 टेस्ट और 3 वनडे की सीरीज खेलना है।दौरे की शुरुआत 11 अक्टूबर पहले टी-20 मुकाबले से होगी। इसके बाद दोनों टीमें 18 अक्टूबर से 15 नवंबर तक ऑस्ट्रेलिया में ही टी-20 वर्ल्ड कप खेलेंगी। फिर भारतीय टीम मेजबान के खिलाफ 3 दिसंबर से 4 टेस्ट और फिर 12 जनवरी से 3 वनडे की सीरीज खेलेगी।खिलाड़ी सीधे तौर पर झगड़ा करने से बचते हैंसीरीज को लेकर हेजलवुड ने स्टार स्पोर्ट्स के क्रिकेट कनेक्टेड शो में कहा, ‘‘मुझे लगता है कि खिलाड़ी सीधे तौर पर भिड़ने से बचते हैं। लेकिन वह (कोहली) बल्लेबाजी करते समय झगड़ा करना पसंद करता है। शायद इससे वह बल्लेबाजी में अच्छा प्रदर्शन करता होगा। मेरी सलाह है कि गेंदबाज उससे झगड़ा करने से बचें तो फायदा होगा।’’विराट से नहीं उलझा फायदेमंद होगाहेजलवुड ने कहा, ‘‘मुझे ऐसा लगता है कि हमारी बल्लेबाजी के दौरान जब विराट मैदान पर हो..
                 

क्विंटन डिकॉक दूसरी बार क्रिकेटर ऑफ द ईयर चुने गए, महिलाओं में यह अवॉर्ड लॉरा वोल्वार्ट को मिला

क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) ने क्विंटन डीकॉक को क्रिकेटर ऑफ द ईयर अवॉर्ड से सम्मानित किया है। क्रिकेट के सीमित ओवर फॉर्मेट के कप्तान डीकॉक के 2017 के बाद दूसरी बार यह सम्मान मिला। वहीं, महिलाओं में इस अवॉर्ड के लिए ओपनर लॉरा वोल्वार्ट को चुना गया है। उन्हें प्रोज वनडे क्रिकेटर ऑफ द ईयर भी चुना गया है।खिलाड़ियों को वर्चुअल अवॉर्ड समारोह में शनिवार को सम्मानित किया गया। कोरोना के कारण कोई कार्यक्रम नहीं हो सका। द. अफ्रीका को मार्च में भारत दौरे पर 3 वनडे खेलना था। पहला मैच बगैर टॉस के बारिश के कारण रद्द हो गया था, बाकि दो मैच वायरस के कारण टाल दिए गए।कैलिस को 2004 और 2011 में दो बार यह सम्मान मिल चुकाक्विंटन पहले क्रिकेटर नहीं है, जिन्हें दो बार सीएसए के क्रिकेट ऑफ द ईयर से सम्मानित किया गया है। इनसे पहले 5 क्रिकेटर यह उपलब्धि हासिल कर चुके हैं। जैक्स कैलिस (2004 और 2011), मखाया एनटीनी (2005 और 2006), हाशिम अमला (2010 और 2013), एबी डिविलियर्स (2014 और 2015) और कगिसो रबाडा (2016 और 2018)।इन क्रिकेटरों को भी मिल चुका क्रिकेटर ऑफ द ईयरक्रिकेटर ऑफ द ईयर अवॉर्ड 2004 में पहली बार कैलिस को द..
                 

बायर्न म्यूनिख ने लगातार 8वां बुंदेसलिगा खिताब जीता, लीग के इतिहास में सबसे ज्यादा 58 में से 30 बार चैम्पियन बना

जर्मनी में कोरोनावायरस के बीच खेली जा रही फुटबॉल लीग बुंदेसलिगा खिताब पर बायर्न म्यूनिख ने कब्जा जमा लिया है। बायर्न लगातार 8वीं बार चैम्पियन बना। बुंदेसलिगा की शुरुआत 1963 में हुई थी। तब से अब तक बायर्न ने 58 में से सबसे ज्यादा 30 बार यह खिताब जीता है।बायर्न ने मंगलवार को ही वेर्डर ब्रेमेन क्लब को 1-0 से हराया है। टीम के लिए अकेला गोल रॉबर्ट लेवनडॉस्की ने 43वें मिनट में किया था। बायर्न ने पिछले मैच में बोरुसिया मोचेंगलादबाख को 2-1 शिकस्त दी थी।76 पॉइंट के साथ बायर्न टॉप परवेर्डर के खिलाफ जीत के साथ ही बायर्न ने 29वां खिताब पक्का कर लिया। बायर्न पॉइंट टेबल में 76 अंक के साथ टॉप पर काबिज है। दूसरे नंबर पर काबिज बोरुसिया डॉर्टमंड के 66 पॉइंट हैं। पॉइंट टेबल में शीर्ष पर रहने वाला क्लब ही चैम्पियन होता है।बायर्न को अब भी दो मैच खेलना हैबुंदेसलिगा के इस सीजन में अभी 23 मैच और बचे हैं। आखिरी मुकाबला 27 जून को खेला जाएगा। अपना खिताब पक्का कर चुकी बायर्न को अभी दो मैच और खेलना है। कोरोनावायरस के कारण सीजन को 8 मार्च को रोक दिया गया था। इसके बाद बगैर दर्शकों के इसे दोबारा 16 मई से शुरू किया गय..
                 

बॉल से कोरोना का खतरा नहीं, संक्रमित कपड़े से सफाई के 30 सेकंड बाद बॉल पर वायरस नहीं मिला

कोरोना के बीच 8 जुलाई से इंटरनेशनल क्रिकेट की शुरुआत होने जा रही है। ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन ने कहा कि बॉल से संक्रमण का खतरा है। इसके बाद पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने पीएम की आलोचना की थी। लेकिन, इम्पीरियल कॉलेज ऑफ लंदन और स्वीडन के कारोलिंस्का इंस्टीट्यूट की रिपोर्ट पीएम के बयान के एकदम उलट है।रिसर्च में पाया गया है कि यदि बॉल को संक्रमित कपड़े से साफ किया जाता है तो भी 30 सेकंड बाद बॉल पर वायरस नहीं मिले। इस बीच इंग्लैंड में क्लब क्रिकेट को भी अनुमति मिल गई है। 11 जुलाई से इसकी शुरुआत होगी।बॉल को सिर्फ टिशू पेपर से साफ करके सुरक्षित बनाया जा सकता हैरिसर्च में कहा गया है कि अगर सुपर कॉन्ट्रैक्टेड सैंपल का प्रयोग भी बॉल पर किया गया हो तो उसे सिर्फ टिशू पेपर से साफ कर सुरक्षित बनाया जा सकता है। इसमें कहा गया है कि गेंद के आकार के कारण ड्रॉपिंग और रोलिंग के दौरान संक्रमण के फैलने का भी कोई खतरा नहीं है।सरकार के सीनियर साइंटिफिक एडवाइजर ने कहा कि हमने वैज्ञानिक तौर पर हालांकि कोई काम नहीं किया है लेकिन यह कहा जा सकता है कि बॉल हमारे लिए बड़ी दिक्कत नहीं है। इसके बाद इंग्लैंड एंड वेल्स क्र..
                 

2028 गेम्स की तैयारी: चैम्पियन तैयार करने वाली पोडियम स्कीम में अब जूनियर्स को भी मौका, कोच की सैलरी और कॉन्ट्रैक्ट में भी इजाफा होगा

खेल मंत्रालय ने 2028 ओलिंपिक की तैयारी के लिए अभी से तैयारी शुरू कर दी है। खेल मंत्री किरन रिजिजू ने शुक्रवार को कहा कि ओलिंपिक चैम्पियन तैयार करने वाली टारगेट ओलिंपिक पोडियम स्कीम (टॉप्स) में अब जूनियर्स को भी शामिल किया जाएगा। साथ ही अगले ओलिंपिक और कॉमनवेल्थ गेम्स को देखते हुए कोच की सैलरी और 4 साल के लिए कॉन्ट्रैक्ट बढ़ाने का फैसला भी किया है।रिजिजू ने फिट इंडिया सेशन में कहा, हर भारतीय का सपना है कि हमारे खिलाड़ी ओलिंपिक में ज्यादा मेडल जीतकर लाएं। इसके चलते खेल मंत्रालय ने 2028 ओलिंपिक के मेडल जीतने के मामले में टॉप-10 में आने का लक्ष्य रखा है। इसकी तैयारी अभी से शुरू कर दी गई है।टैलेंटेड जूनियर्स को एडॉप्ट किया जाएगारिजिजू ने कहा- सरकार ने 10 से 12 साल के टैलेंटेड खिलाड़ियों को पहचान कर एडॉप्ट किया जाएगा। उन्हें सभी आधुनिक सुविधाओं के साथ ट्रेनिंग दी जाएगी, ताकि वे 2024 और 2028 ओलिंपिक में मेडल जीत सकें।नतीजों के आधार पर सैलरी बढ़ेगीबड़े खिलाड़ियों के कोच को 2 लाख रुपए से ज्यादा नहीं दिए जाने के बाउंडेशन को खत्म किया जाएगा। उनके साथ भी विदेशी कोच की तरह 4 साल का कॉन्ट्रैक्ट किया ..
                 

रविंद्र जडेजा इंडिया के मोस्ट वैल्यूएबल टेस्ट प्लेयर बने, मैगजीन ने कहा- उनका रोल काफी अहम

विज्डन ने ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा को 21वीं सदी का भारत का मोस्ट वैल्यूबलखिलाड़ी घोषित किया है। वहीं, दुनिया के सबसे कीमती खिलाड़ी का दर्जा श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन को मिला है। जडेजा उनके बाद दूसरे नंबर पर हैं। विज्डन ने क्रिकविज रेटिंग के आधार पर प्लेयर्स का सेलेक्शन किया है।2012 से क्रिकेट में डेब्यू करने वाले जडेजा ने बैटिंग, बॉलिंग और फील्डिंग तीनों में शानदार प्रदर्शन किया है। लिस्ट में तीसरे नंबर पर ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ, चौथे पर ग्लेन मैक्ग्रा और 5वें नंबर पर द.अफ्रीका के शॉन पोलाक हैं।टेस्ट केटॉप-10 मेंअश्विन दूसरे भारतीय नंबर खिलाड़ी देश 1. मुथैया मुरलीधरन श्रीलंका 2. रविंद्र जडेजा भारत 3. स्टीव स्मिथ ऑस्ट्रेलिया 4. ग्लेन मैक्ग्रा ऑस्ट्रेलिया 5. शॉन पोलाक दक्षिण अफ्रीका 6. शाकिब अल हसन बांग्लादेश 7. जैक कैलिस दक्षिण अफ्रीका 8. रविचंद्रन अश्विन भारत 9. पैट कमिंस ऑस्ट्रेलिया 10. शेन वॉर्न ऑस्ट्रेलिया जडेजा का गेंदबाजी औसत शेन वॉर्न से बेहतरक्रिकविज के फ्रेडी वाइल्..
                 

जर्मनी में क्लब क्रिकेट एक महीने पहले शुरू हो चुका है, इंग्लैंड में सरकार ने पाबंदी लगा रखी है

कोरोना के कारण पूरी दुनिया में क्लब क्रिकेट लगभग बंद है। इंग्लैंड में भी इसकी शुरुआत नहीं हुई है। प्रधानमंत्रीबोरिस जॉनसन अभी क्लब क्रिकेट को शुरू करने के पक्ष में नहीं हैं। वहीं हमारे देश में ट्रेनिंग तक शुरू नहीं हो सकी है। इस बीच जर्मनी में एक महीने से क्लब क्रिकेट खेला जा रहा है। हालांकि यहां वनडे के आयोजन बंद है। इस कारण टी-20 लीेग के मुकाबले खेले जा रहे हैं।देश के 16 में से 14 राज्यों में क्रिकेट शुरू हो चुका है। मैच को घरेलू मैदान पर ही कराया जा रहा है, ताकि खिलाड़ियों को अधिक ट्रैवल ना करना पड़े। जर्मनी में क्रिकेट को कॉन्टैक्ट स्पोर्ट्स में शामिल नहीं किया गया है। ऐसे में इसके आयोजन को मंजूरी मिल चुकी है।खेल से कोरोना फैलने का अंदेशा नहींजर्मनी क्रिकेट फेडरेशन के चीफ एक्जीक्यूटिव ब्रायन मेंटले ने कहा, ‘हमारे विशेषज्ञों ने बताया कि खेल से कोरोना के फैलने का अंदेशा नहीं है। हमारे यहां खेल को नॉन-कॉन्टैक्ट स्पोर्ट्स में शामिल किया गया है। इस कारण हमें खेलने की अनुमति है। हमने आयोजन के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का नियम भी बनाया है।’देश में क्रिकेट का चलन बढ़ रहा है। यहां खिलाड़..
                 

वेस्टइंडीज के ब्रेथवेट ने कहा- खिलाड़ियों का घुटना टेकना सिर्फ दिखावा, रंगभेद के खिलाफ मजबूत कानून बनाने की सबसे ज्यादा जरूरत

वेस्टइंडीज के ऑलराउंडर कार्लोस ब्रेथवेट ने कहा कि रंगभेद के विरोध को लेकर खिलाड़ियों का घुटने टेकना सिर्फ दिखावा है। इस भेदभाव को समाज से खत्म करने के लिए मजबूत कानून बनाने की सबसे ज्यादा जरूरत है। हाल ही में अमेरिका में अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस कस्टडी में मौत के बाद दुनियाभर में खिलाड़ियों ने मैदान पर घुटने के बल बैठकर रंगभेद के खिलाफ विरोध जताया है। विरोध का यह एक सिंबल बन गया है।वेस्टइंडीज और इंग्लैंड के बीच 8 जुलाई से 3 टेस्ट की सीरीज खेली जानी है। इसके साथ ही कोरोनावायरस के बीच करीब 3 महीने बाद इंटरनेशनल क्रिकेट की वापसी हो रही है। इस सीरीज में रंगभेद के खिलाफ अभियान को सपोर्ट करने के लिए वेस्टइंडीज और इंग्लैंड के खिलाड़ी ब्लैक लाइव्स मैटर लोगो वाली टी-शर्ट पहनेंगे।समाज की मानसिकता में बदलाव की जरूरतब्रेथवेट के हवाले से बीबीसी ने लिखा, ‘‘मैदान पर घुटने टेकना या फिर बैज लगाना ही काफी नहीं है। अब मानसिकता में बदलाव लाना होगा। मेरे हिसाब से यह एक दिखावा है। एक बड़े तौर पर बदलाव के लिए कानून में बदलाव करना होगा। समाज में भी लोगों को मानसिकता बदलने की जरूरत है।’&r..
                 

मेसी ने करियर के 700 गोल पूरे किए, लेकिन बार्सिलोना की मुश्किलें बढ़ीं; एटलेटिको मैड्रिड से ड्रॉ खेलकर खिताब की दावेदारी में दूसरे नंबर पर

अर्जेंटीना के लियोनल मेसी ने मंगलवार को एटलेटिको मैड्रिड के खिलाफ अपने करियर का 700 वां गोल पूरा किया, लेकिन वह अपनी टीम बार्सिलोना को जीत नहीं दिला सके। स्पेनिश फुटबॉल टूर्नामेंट ला लिगा में मंगलवार को बार्सिलोना और एटलेटिको मैड्रिड का मैच 2-2 से ड्रॉ रहा।इसी के साथ बार्सिलोना खिताब की दावेदारी में रियाल मैड्रिड (71) से 1 पॉइंट पीछे दूसरे नंबर पर काबिज है। लीग में टीम को अब 5 और मैच खेलना है, जबकि रियाल के 6 मुकाबले बाकी हैं। ऐसे में बार्सिलोना की मुश्किलें ज्यादा बढ़ती दिखाई दे रही हैं।862वें मैच में मेसी ने पूरे किए 700 गोलमैच में एटलेटिको के खिलाड़ी डिएगो कोस्टा ने 11वें मिनट में आत्मघाती गोल (अपने ही पोस्ट में) किया। इससे बार्सिलोना का खाता खुला। वहीं, एटलेटिको के लिए सौल निगुएज़ ने 19वें और 62वें मिनट में पेनल्टी 2 गोल दागे। इसी बीच मेसी 50वें मिनट में पेनल्टी से गोल कर 700वां गोल करने वाले खिलाड़ियों के क्लब में शामिल हो गए।मेसी ने 862वें मैच में यह उपलब्धि हासिल की। उन्होंने अपने क्लब बार्सिलोना के लिए 724वें मैच में 630 गोल किए हैं। 16 साल के करियर में मेसी ने यह गोल 0.87 स्ट्र..
                 

वेस्टइंडीज के साथ इंग्लैंड टीम भी टेस्ट सीरीज में ब्लैक लाइव्स मैटर लोगो वाली टी-शर्ट पहनेगी, आईसीसी की मंजूरी

वेस्टइंडीज की तरह इंग्लैंड टीम भी टी-शर्ट पर ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ का लोगो लगाकर सीरीज खेलेगी। दोनों टीमों के बीच 3 टेस्ट की सीरीज का पहला मैच 8 जुलाई से खेला जाएगा। आईसीसी ने इसकी मंजूरी पहले ही दे दी है।इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने कहा, ‘यह महत्वपूर्ण है कि अश्वेत समुदाय के साथ एकजुटता दिखाई जाए। समानता और न्याय को लेकर जरूरी जागरूकता पैदा की जाए।’ उन्होंने कहा कि इस काम में इंग्लैंड के खिलाड़ी और मैनेजमेंट एकजुट है, जहां भी नस्लवादी पूर्वाग्रह मौजूद है उसे हटाने के उद्देश्य से हम अपना समर्थन देंगे।क्रिकेट इतिहास में यह बड़ा बदलावविंडीज के कप्तान जेसन होल्डर ने इसे बड़ा बदलाव बताया है। उन्होंने कहा, ‘‘हमारा मानना है कि इसके खिलाफ मजबूत से आवाज उठाना हमारा कर्तव्य है। सभी को जागरुकता के लिए मदद करना चाहिए। यह खेल, क्रिकेट और वेस्टइंडीज टीम के इतिहास में बड़ा बदलाव है। हम यहां इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज खेलने आए हैं, लेकिन इसके साथ दुनिया में चल रहे बराबरी और न्याय की लड़ाई में भी साथ दे रहे हैं।’’फुटबॉल मैचों में भी ऐसी ही टी-शर्ट पहनी गई थी..
                 

अब घरेलू फर्स्ट क्लास क्रिकेट में देशी कूकाबुरा बॉल से खेलेंगे खिलाड़ी, 4 साल से इस्तेमाल हो रही इंग्लैंड की ड्यूक बॉल को हटाया

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट टूर्नामेंट शेफील्ड शील्ड में ड्यूक बॉल का इस्तेमाल नहीं करने का फैसला किया है। इसकी जगह इस सीजन 2020-21 में सिर्फ देशी कूकाबुरा बॉल से ही सभी टूर्नामेंट खेले जाएंगे। ड्यूक बॉल इंग्लैंड में, जबकि कूकाबुरा ऑस्ट्रेलिया में ही बनती है।ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड की कंडीशन में खेलने की तैयारी को लेकर घरेलू क्रिकेट में 2016 से ड्यूक बॉल इस्तेमाल कर रहा था। सीए के क्रिकेट ऑपरेशंस के हेड पीटर रोच ने कहा कि ड्यूक को छोड़ने का फैसला सही समय पर लिया गया है।एशेज सीरीज के लिए ड्यूक बॉल से प्रैक्टिस सही रहीरोच ने कहा, ‘‘ड्यूक से शुरुआत में प्रैक्टिस करना बेहतर रहा। खासतौर पर इंग्लैंड की मेजबानी में होने वाली एशेज सीरीज के लिए इस बॉल से ट्रेनिंग करना हमारे लिए फायदेमंद रहा है। हम 4 साल से ऑस्ट्रेलिया में इस बॉल से खेल रहे हैं।’’ऑस्ट्रेलिया समेत ज्यादातर टीमें कूकाबुरा से ही खेलती हैंउन्होंने कहा कि दुनियाभर के ज्यादातर देशों में कूकाबुरा बॉल से ही क्रिकेट खेला जा रहा है। ऐसे में हमें लगता है कि फिर से इस देशी बॉल का इस्लेमाल करना हम..
                 

चीफ सिलेक्टर रह चुके अरविंद डी सिल्वा से 9 साल बाद पूछताछ, अगली पेशी में फाइनल के ओपनर थरंगा से सवाल-जवाब होंगे

श्रीलंका पुलिस ने2011 वर्ल्ड कप फाइनल फिक्स होने की जांच शुरू कर दी है। मंगलवार को पूर्व कप्तान और 2011 में चीफ सिलेक्टर रहे अरविंद डी सिल्वा से 6 घंटे पूछताछ हुई। अगली पेशी फाइनल के ओपनर उपुल थरंगा की होगी। इस वनडे वर्ल्ड कप फाइनल में भारत ने श्रीलंका को 6 विकेट से हराया था। श्रीलंका के पूर्व खेलमंत्रीमहिंदानंद अल्थगामागे ने इस मैच को फिक्स बताते हुए जांच की मांग की थी। पूर्व कप्तान सनथ जयसूर्या भी सवाल उठा चुके हैं।हाल ही में महिंदानंद ने श्रीलंकाई क्रिकेट बोर्ड को एक लिस्ट सौंपी थी। इसमें बताया था कि किन वजहों से उन्हें ये शक है किफाइनल फिक्स था।उन्होंने कहा था, “9 पन्नों में मैंने 24 कारण बताए हैं।जिसकी वजह से हमें फाइनल में हार मिली।”2011 में अल्थगामागे ही श्रीलंका के खेल मंत्री थे।संगकारा और जयवर्धने ने आरोपों कोनकारावर्ल्ड कप में कप्तान रहे कुमार संगकारा और महेला जयवर्धने जैसे श्रीलंका के कई पूर्व खिलाड़ी महिदानंद के आरोपों को खारिज कर चुके हैं। हालांकि, श्रीलंका सरकार इन आरोपों की जांच करा रही है। तब के चीफ सिलेक्टर डी सिल्वा से पूछताछ हो चुकी है। माना जा रहा कि फाइ..
                 

सिर्फ 7 साल की उम्र में धोनी से प्रेरणा पाकर प्रोफेशनल क्रिकेट की शुरुआत की, आज किसी पहचान के मोहताज नहीं मोक्ष मुरगई

क्रिकेट के खेल में एक से बढ़कर एक टैलेंट आते रहते हैं। हाल में टीम इंडिया की मजबूती का कारण टीम में एक से बढ़कर एक टैलेंटेड युवा खिलाड़ियों का आना है। ऐसे ही एक युवा टैलेंटेड उभरते सितारे मोक्ष मुरगई भी हैं। मोक्ष ने बहुत ही कम समय में अपने खेल से सबको प्रभावित कर अपनी अलग ही पहचान बनाई है। बीते दिनों एक अंतरराज्यीय प्रतियोगिता के दौरान जालंधर आए महज 20 साल के इस होनहार खिलाड़ी ने दैनिक भास्कर के साथ अपने अनुभव सांझा किए। आइए मोक्ष की जिंदगी और क्रिकेट कॅरियर से जुड़ी कुछ खास बातें जानते हैं।दिल्ली के रहने वाले मोक्ष मुरगई बताते हैं कि महज 7 साल की उम्र से ही क्रिकेट सितारे महेंद्र सिंह धोनी से प्रेरित हो अपने पेशेवर क्रिकेट कॅरियर की शुरुआत कर दी थी। थोड़े दिन पहले ही दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ का खेल अध्यक्ष भी इन्हें नियुक्त किया गया था। उन्होंने अपने कॉलेज टीम की कप्तानी भी की है, जिसमें टीम को कई जीत भी दिलाई है। वहींमोक्ष ने सब जूनियर (अंडर 14), जूनियर (अंडर 16) और सीनियर्स (अंडर 19) सभी श्रेणियों में राष्ट्रीय भूमिका निभाई है। पिछले सीजन में ही मोक्ष मुरगई की शानदार बल्लेबाजी क..
                 

टोक्यो के 51.7% लोग अगले साल होने वाले ओलिंपिक के विरोध में, कहा- कोरोनावायरस की वजह से गेम्स टाल दिए जाएं तो बेहतर

टोक्यो के आधे से ज्यादा लोग नहीं चाहते कि अगले साल ओलिंपिक हों। एक सर्वे के अनुसार, कोरोनावायरस के कारण टोक्यो के लोग चाहते हैं कि 2021 में होने वाले गेम्स या तो टाल दिए जाएं या फिर कैंसिल कर दिए जाएं। जापान के क्योडो न्यूज और टोक्यो एमएक्स टेलीविजन ने अगले साल होने वाले टोक्यो ओलिंपिक के आयोजन को लेकर 26 से 28 जून तक सर्वे किया। सर्वे के अनुसार, टोक्यो के 51.7% लोग आयोजन का विरोध कर रहे हैं। इतने लोग चाहते हैं कि गेम्स पोस्टपोन या कैंसिल हो जाएं। जबकि 46.3% लोग ओलिंपिक होते देखना चाहते हैं।ओलिंपिक पर जापान में हुए सर्वे में लोगों की राय इस प्रकार थी।क्या कहता है सर्वे46.3% : लोग ओलिंपिक होते देखना चाहते हैं51.7% : लोग नहीं चाहते आयोजन हो2% : लोग इस मामले में कोई राय नहीं देना चाहते27.7% लोगों का मानना कि गेम्स कैंसिल हो जाएं51.7% में से 27.7% लोग चाहते हैं कि गेम्स कैंसिल हो जाएं। 24% लोग चाहते हैं कि ओलिंपिक को फिर स्थगित कर दिया जाए। ओलिंपिक मार्च में अगले साल तक के लिए स्थगित कर दिए गए थे। गेम्स 23 जुलाई से होने हैं।टोक्यो ओलिंपिक पर आप ये खबरें भी पढ़ सकते हैं...1.टोक्यो बोर्ड ने ..
                 

शाहिद अफरीदी ने कहा- इमरान खान की टीम में यूनिटी की कमी; मैं गरीबों की मदद कर रहा था, मंत्री छुट्टियां मना रहे थे

शाहिद अफरीदी ने इशारों में इमरान खान सरकार पर निशाना साधा। अफरीदी के मुताबिक, इमरान सरकार में एकता की कमी है और ये पूरा मुल्क देख रहा है। अफरीदी पिछले दिनों कोरोना संक्रमित हुए थे। अब ठीक हो चुके हैं। उन्होंने कहा- जब मैं देश के पिछड़े इलाकों में जाकर गरीबों की मदद कर रहा था, तब कुछ मंत्री और सांसद उसी इलाके में जाकर छुट्टियां मना रहे थे।पिछले साल तक अफरीदी अकसर इमरान के साथ नजर आते थे। लेकिन, अब यह सिलसिला थम चुका है। शाहिद अपने फाउंडेशन के जरिए गरीबों की मदद करते रहे हैं।कोरोना से खौफ खाने की जरूरत नहींशाहिद 13 जून को पॉजिटिव पाए गए थे। सोमवार को एक इंटरव्यू में उन्होंने कोरोना समेत कई मुद्दों पर बातचीत की। खुद के संक्रमित होने के सवाल पर कहा, “मैं जानता था कि मैं भी संक्रमित हो सकता हूं। और यही हुआ। अब मैं बिल्कुल ठीक हूं। मैंने क्वारैंटाइन नहीं किया। तीन दिन बाद कमरे से बाहर आ गया। ट्रेनिंग शुरू की। इस बीमारी में सोशल डिस्टेंसिंग बहुत जरूरी है। लेकिन, इसको सिर पर नहीं चढ़ाना चाहिए। ये भी ध्यान रहे कि लापरवाही न करें। रही बात स्मार्ट लॉकडाउन की तो यह मेरी समझ में नहीं आया।&rdq..
                 

वेस्टइंडीज टीम इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में ब्लैक लाइव्स मैटर लोगो वाली टी-शर्ट पहनकर खेलेगी, आईसीसी ने मंजूरी दी

वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम इंग्लैंड के खिलाफ 3 टेस्ट की सीरीज में ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ लोगो वाली टी-शर्ट पहनकर खेलेगी। इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने भी इसकी मंजूरी दे दी है। कोरोनावायरस के बीच करीब 3 महीने बाद इस सीरीज के साथ इंटरनेशनल क्रिकेट की वापसी हो रही है। पहला टेस्ट 8 जुलाई को इंग्लैंड के साउथैम्पटन में खेला जाएगा।हाल ही में अमेरिका में अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस कस्टडी में मौत के बाद दुनियाभर में रंगभेद के खिलाफ विरोध शुरू हुआ। इसके बाद फुटबॉल और क्रिकेट के अलावा खेल जगत के सभी खिलाड़ियों ने ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ मूवमेंट को सपोर्ट किया। क्रिकेट में वेस्टइंडीज के कप्तान जेसन होल्डर, डेरेन सैमी, क्रिस गेल और ड्वेन ब्रावो ने इसके खिलाफ आवाज उठाई। आईसीसी ने भी इनका साथ दिया है।क्रिकेट इतिहास में यह बड़ा बदलावजेसन होल्डर ने इसे बड़ा बदलाव बताया है। उन्होंने क्रिकेट वेबसाइट क्रिकइंफो से कहा, ‘‘हमारा मानना है कि इसके खिलाफ मजबूत से आवाज उठाना हमारा कर्तव्य है। सभी को जागरुकता के लिए मदद करना चाहिए। यह खेल, क्रिकेट और वेस्टइंडीज टीम के इतिहास में..
                 

3 टेस्ट और 24 वनडे में अंपायरिंग कर चुके नितिन मेनन अंपायरों के स्पेशल पैनल में शामिल, यह दर्जा पाने वाले तीसरे भारतीय

भारत के युवा अंपायर नितिन मेनन को इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) के अंपायरों की इलीट पैनल में शामिल कर लिया गया है। नितिन को इंग्लैंड के निजेल लॉन्ग की जगह 2020-21 के लिए जगह मिली है। यह सम्मान पाने वाले वे तीसरे भारतीय अंपायर हैं।नितिन से पहले श्रीनिवास वैंकटराघवन और सुंदरम रवि अंपायरों के इलीट पैनल में शामिल रहचुके हैं। नितिन को 3 टेस्ट, 24 वनडे और 16 टी-20 के अलावा 57 फर्स्ट क्लास मैच में अंपायरिंग का अनुभव है। रवि पिछले साल ही पैनल से बाहर हुए हैं।बड़े अंपायरों के साथ काम करना ही सपना रहा हैनितिन ने कहा, ‘‘इलीट पैनल में नाम होना मेरे लिए सम्मान और गर्व की बात है। विश्व के बड़े अंपायर और रेफरी के साथ काम करना हमेशा से मेरा सपना रहा है।’’मध्यप्रदेश के लिए खेलते हुए नितिन ने 2 मैच में 7 रन बनाएमध्यप्रदेश के नितिन ने राज्य की ओर से खेलते हुए दो मैच में 7 रन बनाए हैं। 2006 में उन्होंने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की ऑल इंडियन अंपायरिंग एग्जाम पास की। इसके बाद घरेलू मैच में अंपायरिंग करने लगे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi ..
                 

किसी भी सीरीज से पहले एंटी-डोपिंग और एंटी-करप्शन के साथ एंटी-रेसिज्म को लेकर जागरुकता अभियान चलाया जाए: जेसन होल्डर

वेस्टइंडीज के कप्तान जेसन होल्डर ने कहा कि नस्लवाद को भी क्रिकेट में डोपिंग और मैच फिक्सिंग की तरह गंभीरता से लिया जाना चाहिए। उन्होंने ने कहा कि टीमों को किसी भी सीरीज से पहले एंटी-डोपिंग और एंटी-करप्शन के साथ एंटी-रेसिज्म को लेकर जागरुक करने के लिए सेमीनार की शुरूआत करनी चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने किसी नस्लीय भेदभाव का अनुभव नहीं किया है, लेकिन मैंने अपने आसपास ऐसा सुना या देखा है।’’होल्डर ने कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता कि नस्लवाद किसी भी तरह डोपिंग या भ्रष्टाचार से अलग है। इसके लिए अलग से जुर्माना लगाया जाना चाहिए। अगर हमने खेल के अंदर भी इन मामलों को देखा है, तो हमें उनके साथ समान रूप से निपटना चाहिए।’’खिलाड़ी पर आजीवन प्रतिबंध लग सकता हैइंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) की गवर्निंग बॉडी के एंटी-रेसिज्म कोड के तहत कोई खिलाड़ी तीसरी बार दोषी पाया जाता है, तो उस पर आजीवन प्रतिबंध लग सकता है। वहीं पहली बार गलती के लिए 4 टेस्ट या 8 मैचों में खेलने पर प्रतिबंध लगता है।सरफराज पर लगा था 4 मैच का प्रतिबंधपिछले साल पाकिस्तान टीम के कप्तान रहे सरफर..
                 

मैनचेस्टर यूनाइटेड 30वीं बार एफए कप के सेमीफाइनल में, नया रिकॉर्ड; मैनचेस्टर सिटी लिवरपूल को गार्ड ऑफ ऑनर देगी

12 बार का पूर्व चैम्पियन मैनचेस्टर यूनाइटेड दुनिया के सबसे पुराने फुटबॉल टूर्नामेंट एफए कप के सेमीफाइनल में पहुंच गया है। यूनाइटेड ने नॉरविच सिटी को 2-1 से हराकर 30वीं बार सेमीफाइनल में जगह बनाई। यूनाइटेड किसी भी अन्य टीम से ज्यादा बार सेमीफाइनल में पहुंचने वाला क्लब बन गया है। आर्सनल 29 बार सेमीफाइनल में पहुंचा।यूनाइटेड के हैरी मैक्ग्वायर ने नॉरविच सिटी के घरेलू मैदान पर एक्स्ट्रा टाइम (118वें मिनट) में गोल कर टीम को जीत दिलाई। इससे पहले, यूनाइटेड के ओडियन इगहालो ने 51वें और नॉरविच सिटी के टॉड केंटवेल ने 75वें मिनट में गोल किए। नॉरविच के टिम क्लोस को 88वें मिनट में रेड कार्ड दिखाया गया। यह यूनाइटेड की नॉरविच के घरेलू मैदान पर पिछले 13 मैच में 11वीं जीत है। यूनाइटेड ने नॉरविच को उसके मैदान पर लगातार चौथे मैच में हराया।लिवरपूल ने 19वीं बार इंग्लिश फुटबॉल लीग खिताब जीतामैनचेस्टर सिटी इंग्लिश प्रीमियर लीग के नए चैंपियन लिवरपूल को घरेलू मैदान पर गार्ड ऑफ ऑनर देगी। सिटी और लिवरपूल का मैच गुरुवार को एतिहाद स्टेडियम में होगा। शुक्रवार को मैनचेस्टर सिटी के चेल्सी के खिलाफ हारते ही लिवरपूल चैम्..
                 

पाकिस्तान के 10 में से 6 क्रिकेटर्स की दूसरी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव, इंग्लैंड पहुंची 20 सदस्यीय टीम

इंग्लैंड दौरे से पहले पाकिस्तान के 10 में से 6 खिलाड़ियों की दूसरी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है। अब पाकिस्तान की 20 सदस्यीय क्रिकेट टीम इंग्लैंड पहुंच गई है। सभी खिलाड़ी चार्टर्ड प्लेन से पहुंचे हैं। दोनों टीमों के बीच अगस्त-सितंबर में कोरोना के बीच दूसरी इंटरनेशनल क्रिकेट सीरीज खेली जाएगी।कोरोना के बीच इंटरनेशनल क्रिकेट की शुरुआत इंग्लैंड में 8 जुलाई से वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज से होगी। इसके बाद इंग्लैंड को पाकिस्तान से 3 टेस्ट और 3 टी-20 की सीरीज खेलनी है। दोनों के बीच पहला टेस्ट 30 जुलाई को लॉर्ड्स में खेला जाएगा। सभी मैच बगैर दर्शकों के खेले जाएंगे।पाकिस्तान को इंग्लैंड में परेशानी नहीं होगी: अजहरकप्तान अजहर अली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘‘जहां तक अनुभव की बात है तो मुझे नहीं लगता है कि हमें कोई परेशानी है। मिस्बाह भाई, 7 साल तक टीम के कप्तान रहे हैं। यूनिस भाई कप्तान भी रहे हैं। उन्हें दुनिया में हर जगह खेलने का अनुभव है। अनुभवी वकार यूनिस भाई और मुश्ताक अहमद भाई, किसी भी गेंदबाज से कहीं ज्यादा अनुभव है।’’काउंटी क्रिकेट का अनुभव सीरीज में फायदेमंद..
                 

पूर्व ऑस्ट्रेलियन कप्तान मार्क टेलर ने कहा- भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच यह आइकॉनिक मैच बगैर दर्शकों के अच्छा नहीं लगेगा

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान मार्क टेलर ने कहा कि भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच होने वाला बॉक्सिंग-डे टेस्ट एक आइकॉनिक मैच होगा। यह बगैर दर्शकों के अच्छा नहीं लगेगा। हालांकि, इससे पहले प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने सभी खेलों के लिए स्टेडियम में 25% दर्शकों को आने की मंजूरी दे चुके हैं।भारत को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर अक्टूबर में तीन टी-20 खेलना है। इसके बाद 18 अक्टूबर से 15 नवंबर तक टी-20 वर्ल्ड कप होगा। फिर भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया में ही 4 टेस्ट और 3 वनडे की सीरीज भी खेलना है। इसकी शुरुआत 3 दिसंबर को ब्रिस्बेन टेस्ट से होगी। 26 दिसंबर को मेलबर्न में बॉक्सिंग डे और फिर 3 जनवरी को सिडनी में न्यू ईयर टेस्ट खेला जाएगा।पर्थ या एडिलेड में कराया जाना चाहिए टेस्टटेलर ने एक न्यूज चैनल से कहा, ‘‘क्रिसमस के दौरान ऑस्ट्रेलिया में क्या हालात होंगे, यह आप समझ सकते हैं। ऐसे में मेलबर्न का एमसीजी स्टेडियम सिर्फ 10 या 20 हजार दर्शकों की मेजबानी ही कर सकता है। यह भारत-ऑस्ट्रेलिया जैसी टीमों के बीच होने वाले बड़े मैच के लिए बहुत कम है। आप इसे पर्थ के ऑप्टस स्टेडियम या फिर एडिलेड के ओवल में भी फुल फैंस ..
                 

वाडा का 20 करोड़ का फंड रोक सकता है अमेरिका, रूस में डोपिंग नहीं रोक पाने का आरोप लगाया

इंटरनेशनल ओलिंपिक कमेटी (आईओसी) वाडा के समर्थन में उतर आया है। व्हाइट हाउस ने रूस के डोपिंग मामले में वर्ल्ड एंटी डोपिंग एजेंसी (वाडा) के पूरी तरह से फेल रहने का आरोप लगाया था। इसके अलावा उसने सालाना फंडिंग रोकने की बात कही थी। रूस पर एथलीट के सैंपल के साथ छेड़छाड़ के आरोप लगे हैं।अमेरिका वाडा को बतौर फंड 20 करोड़ रुपए देता है। यह एक देश के तौर पर दी जाने वाली सबसे ज्यादा राशि है। वाडा का वार्षिक बजट लगभग 282 करोड़ का है। इसका 50% खर्च आईओसी उठाता है। अमेरिका की रिपोर्ट में यह भी दावा किया है कि हमें बजट के अनुरूप वाडा से कोई सपोर्ट नहीं मिल रहा है।रिपोर्ट गलत धारणाओं और झूठ पर आधारितइस रिपोर्ट पर वाडा ने कहा कि यह रिपोर्ट गलत धारणाओं और झूठ पर आधारित है। यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि बिना उचित कारण के वाडा को बदनाम करने के लिहाज से इसे तैयार किया गया है। वाडा ने कहा कि यह समझ से परे है कि इस तरह की रिपोर्ट तब तैयार की जाती है, जब उनकी ओर से पिछले 20 वर्षों में वाडा फाउंडेशन बोर्ड की बैठक में इस तरह का कोई मुद्दा नहीं उठाया गया। 2020-2024 के नए स्ट्रेटजिक प्लान का भी उनकी ओर से समर्थन किया..
                 

आईओए के अध्यक्ष ने कहा- ओलिंपिक की तैयारी में खिलाड़ियों को दिक्कत न हो, इसलिए 2-3 हफ्ते में मामला सुलझा लेंगे

भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा ने कहा है कि नेशनल स्पोर्ट्स फेडरेशन की मान्यता के मामले को 2-3 हफ्ते में सुलझा लिया जाएगा। इससे अगले साल होने वाले टोक्यो ओलिंपिक की तैयारी में खिलाड़ियों को कोई दिक्कत न हो। उन्होंने कहा, ‘‘मैं खेल मंत्रालय के संबंधित लोगों के संपर्क में हूं। यदि सब कुछ ठीक रहा तो अगले दो से तीन हफ्ते में इन सभी मुद्दों का निपटारा कर लिया जाएगा।’’खेल फेडरेशन की मान्यता वापस लिए जाने के कारण खेल संघों की फंडिंग बंद हो जाएगी। ऐसे में अक्टूबर से विभिन्न खेलों के शुरू हो रहे ओलिंपिक क्वॉलिफाइंग के लिए टीमों को अपने खर्चे पर भेजना पड़ेगा। लॉकडाउन के बाद कुछ खेलों के शुरू हुए कैंप को कंटिन्यू करने पर भी खतरा मंडरा गया है।ट्रेनिंग कैंप को लेकर कोई आदेश नहींअभी पटियाला एनआईएस में एथलेटिक्स और वेटलिफ्टिंग का कैंप चल रहा है। वेटलिफ्टिंग का कैंप 30 जून तक है। वेटलिफ्टिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया के सेक्रेटरी सहदेव यादव ने बताया कि अभी कैंप को आगे बढ़ाए जाने को लेकर कोई आदेश फेडरेशन को नहीं मिला है, लेकिन उम्मीद है कि इसे बढ़ाया जाएगा।खिलाड़ी भी उलझन म..
                 

हफीज तीन दिन में पॉजिटिव, निगेटिव और फिर पॉजिटिव आए; आकाश चोपड़ा ने कहा- पाकिस्तान क्रिकेट का दूसरा नाम कन्फ्यूजन है

इंग्लैंड दौरे के लिए पाकिस्तान की 29 सदस्यीय टीम को 29 जून को रवाना होना है। इससे पहले पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने सभी खिलाड़ियों का 20 और 25 जून को दो बार कोरोना टेस्ट कराया। इसमें मोहम्मद हफीज समेत 10 खिलाड़ी पॉजिटिव पाए गए।हफीज ने पहली रिपोर्ट के बाद परिवार के साथ खुद के खर्चे पर टेस्ट कराया, जिसमें उनकी रिपोर्ट निगेटिव निकली। पीसीबी ने जब दूसरा टेस्ट कराया, तब सूत्रों के मुताबिक हफीज की रिपोर्ट दोबारा पॉजिटिव पाई गई। ऐसे में पाकिस्तान क्रिकेट अब दुनियाभर में मजाक बन गया है।72 घंटे में पॉजिटिव, निगेटिव और फिर पॉजिटिवपूर्व भारतीय क्रिकेटर आकाश चौपड़ा ने ट्वीट किया, ‘‘पाकिस्तान क्रिकेट का दूसरा नाम कन्फ्यूजन रहा है, लेकिन इस बार तो यह सब अलग ही लेवल पर पहुंच गया है। पॉजिटिव, निगेटिव और फिर पॉजिटिव... सबकुछ 72 घंटों में।’’हफीज के खिलाफ कार्रवाई कर सकता है पीसीबीपीसीबी की पहली रिपोर्ट के बाद हफीज ने प्राइवेट मेडिकल सेंटर की रिपोर्ट शेयर की थी, जिसमें वे निगेटिव आए थे। इसके बाद हफीज ने पीसीबी के आइसोलेशन में रहने से मना कर दिया था। दूसरी रिपोर्ट पॉजिटिव आन..
                 

विराट ने पंड्या से कहा- खिलाड़ी को मेहनत से ही नंबर-1 बनना चाहिए, किसी को धक्का मारकर नहीं

भारतीय ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या ने कहा कि कप्तान विराट कोहली कई मौकों पर उन्हें सफल होने के लिए सलाह देते रहे हैं। पंड्या ने कोहली से नंबर-1 बनने को लेकर सवाल किया था। इस पर भारतीय कप्तान ने कहा कि खिलाड़ी को कड़ी मेहनत से ही नंबर-1 बनने की कोशिश करना चाहिए, किसी को धक्का मारकर नहीं।पंड्या ने बड़ौदा के अंडर-19 खिलाड़ियों से कहा, ‘‘दो दिन पहले मैंने विराट से बात की। मैंने उनसे पूछा कि आपकी सफलता का राज क्या है? इस पर कोहली ने कहा कि तुम्हारा एटीट्यूड ठीक है, सबकुछ सही है। आप अपने दिमाग को लगातार एक बात यह बताते रहो कि यदि आपमें नंबर-1 बनने की भूख है, तो इसे सही रास्ते पर चलकर ही पाना चाहिए। किसी को धक्का मारकर नहीं। कड़ी मेहनत से ही सफलता मिलती है और नंबर-1 बना जाता है।’’पंड्या को तीन खिलाड़ियों की कप्तानी में खेलने का अनुभवपंड्या ने अपना वनडे डेब्यू महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में किया था। जबकि उन्होंने पहला टेस्ट विराट की कप्तानी में खेला। इसके अलावा वे इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में मुंबई इंडियंस टीम से खेलते हैं, जिसके कप्तान रोहित शर्मा हैं।‘अब समझा ..
                 

अमेरिका की जेसी ने 841 किमी की स्पीड से दौड़ाई थी रेसिंग कार, हादसे में मौत के 10 माह बाद अब गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज

अमेरिका की चर्चित जेट कार रेसर जेसी कॉम्ब्स को मरणोपरांत दुनिया में सबसे तेज स्पीड से कार चलाने के रिकॉर्ड से नवाजा गया है। जेसी की मौत 27 अगस्त 2019 को ओरेगॉन के अल्वर्ड डेजर्ट में लैंड-स्पीड रिकॉर्ड को तोड़ने की कोशिश के दौरान हुई थी। इस दौरान उनकी जेट पॉवर्ड कार ने 841 किमी प्रति घंटे की स्पीड को पार कर लिया था।गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड ने गुरुवार को इस रिकॉर्ड को अधिकारिक रूप से शामिल करने की घोषणा की।39 साल की जेसी ने 40 साल पहले अल्वर्ड के ही मरुस्थल में अपनी हमवतन किटी ओ नील के बनाए गए रिकॉर्ड को तोड़ा। किटी ने अपनी तीन पहियों वाली जेट कार से 1976 में 823 किमी प्रति घंटे की स्पीड का रिकॉर्ड बनाया था। जेसी के रेसिंग पार्टनर रह चुके टैरी मैडेन ने इंस्टाग्राम परभावुक पोस्ट किया है।टैरी ने लिखा- आखिर जेसी जीत ही गईटैरी ने इस रिकॉर्ड की पुष्टि करते हुए कहा, ‘आखिरकार जेसी जीत ही गई, जिसके लिए उसने अपनी जान दी। कोई भी रिकॉर्ड उसके जज्बे से बड़ा नहीं हो सकता। यह ऐसा लक्ष्य था, जिसे वह हमेशा पाना चाहती थी। मुझे मेरी साथी पर गर्व है।’घर में बनाई थी तीन पहियों वाली कारटैरी बता..
                 

फीफा ने सदस्यों के लिए 11 हजार करोड़ रु. के रिलीफ फंड को मंजूरी दी, 211 देशों में से हर एक को 7.4 करोड़ रु. मिलेंगे

इंटरनेशनल फुटबॉल फेडरेशन (फीफा) ने कोरोना के कारण आर्थिक संकट झेल रहे सदस्यों के लिए 1.5 बिलियन डॉलर (करीब 11 हजार करोड़ रुपए) के रिलीफ फंड को मंजूरी दी है। सभी 211 देशों में से हर एक को 1 मिलियन डॉलर (7.4 करोड़ रुपए) दिए जाएंगे। इसमें से एक हिस्सा इसी साल जुलाई में दिया जाएगा, जबकि बाकी पैसा जनवरी 2021 में बांटा जाएगा।कोरोना के बाद महिला फुटबॉल की वापसी में किसी तरह की परेशानी न हो, इसलिए फीफा ने 5 लाख डॉलर (करीब 3.70 करोड़ रुपए) दिए हैं। इसके अलावा 6 अलग-अलग कॉन्टिनेंटल बॉडी को भी 2-2 मिलियन डॉलर दिए जाएंगे। फीफा सदस्य देशों को इंटरेस्ट फ्री लोन देगाफीफा के मुताबिक, कोरोनावायरस के कारण दुनियाभर में फुटबॉल टूर्नामेंट नहीं हो रहे हैं। ऐसे में सदस्य देशों को भारी नुकसान उठाना पड़ा है। वहीं, फीफा ने कहा कि इस मुश्किल घड़ी में सदस्य देश इंटरेस्ट फ्री लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं। इसकी सीमा 5 लाख से 50 लाख डॉलर के बीच हो सकती है।फुटबॉल कन्फेडरेशन 30 करोड़ रु. तक का लोन ले सकते हैंवहीं, फुटबॉल कन्फेडरेशन 40 लाख डॉलर (करीब 30 करोड़ रुपए) तक का लोन ले सकते हैं। इस पैसे का इस्तेमाल कोरोना की ..
                 

19 साल की वैशाली सेमीफाइनल में पहुंची, मंगोलिया की मुंखजुल को हराया; कोनेरू हंपी पहले राउंड में ही बाहर

भारतीय ग्रैंडमास्टर आर वैशाली (19) ने गुरुवार को फीडे चेस.कॉम महिला स्पीड चेस चैम्पियनशिप के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। चैम्पियनशिप के पहले लेग में वैशाली ने मंगोलिया की इंटरनेशनल मास्टर मुंखजुल तुरमुंख को हराया। हालांकि, भारत की दिग्गज शतरंज खिलाड़ी कोनेरू हंपी पहले ही राउंड में बाहर हो गई हैं।इससे पहले वैशाली ने पहले राउंड में पूर्व वर्ल्ड चैम्पियन एंताओनेता स्टेफानोवा को हराया था। भारतीय यूवा ग्रैंडमास्टर ने बुल्गारिया की चैम्पियन के खिलाफ 6-5 से मुश्किल मुकाबला जीता था। वैशाली का सेमीफाइनल यूक्रेन की अन्ना उशेनिना से होगा।इंटरनेट की वजह से हारीं कोनेरू हंपीवहीं, वर्ल्ड चैम्पियन हंपी को वियतनाम की थाओ नगुयेन फाम ने 4.5-5.5 हराया। इन दोनों खिलाड़ियों के बीच हमेशा कड़ी टक्कर रही है। हंपी ने कहा, ‘‘एक घंटे तक मैंने मैच में 5.5-2.5 की विजयी बढ़त बना ली थी। तभी इंटरनेट में दिक्कत आने लगी और मैंने काफी समय इसी में गंवा दिया। इसके बाद मैच नियम के मुताबिक बराबर आ गया था।’’20 जुलाई को होगा सुपर फाइनलचैम्पियनशिप को चार लेग के साथ खेला जा रहा है। इसमें दुनियाभर के 21 ..
                 

लिवरपूल 30 साल बाद चैम्पियन बना, 19 बार खिताब जीतने वाला दूसरा क्लब; मैनचेस्टर यूनाइटेड 20 ट्रॉफी के साथ टॉप पर

इंग्लिश प्रीमियर लीग (ईपीएल) में लिवरपूल ने गुरुवार को खिताब जीत लिया। इंग्लैंड की इस फुटबॉल लीग में 30 साल बाद लिवरपूल का चैम्पियन बनने का सपना पूरा हुआ है। 132 साल के इतिहास मेंमैनचेस्टर यूनाइटेड (20) के बाद लिवरपूल (19) के पास ही सबसे ज्यादा लीग खिताब हैं।कोरोनावायरस के कारण मार्च में प्रीमियर लीग रोक दी गई थी। 3 महीने के इंतजार के बाद यह 17 जून से फिर शुरू हुई। वहीं, लिवरपूल के चैम्पियन बनने का रास्ता गुरुवार रात को खेले गए चेल्सी और मैनचेस्टर सिटी के मैच से हुआ।चेल्सी ने मैनचेस्टर सिटी को 2-1 से हरायाचेल्सी ने मैनचेस्टर सिटी को 2-1 से हरा दिया। पॉइंट टेबल में लिवरपूल 86 अंक के साथ टॉप पर काबिज है। दूसरे नंबर की सिटी के 63 पॉइंट हैं। लीग में सिटी अब लिवरपूल की बराबरी नहीं कर सकती है, क्योंकि उसके 7 मैच बाकी हैं। इस लिहाज से लिवरपूल का खिताब पक्का हो गया है।मार्च में लीग रोकी गई तो लिवरपूल दूसरे नंबर कीमैनचेस्टर सिटी से25 प्वॉइंट आगे था। टीम मैच जीते हारे ड्रॉ पॉइंट लिवरपूल 31 28 1 2 86 मैनचेस्टर सिटी 31 20 8 3 63 लिसेस्टर सिटी ..
                 

श्रीलंका के पूर्व खेल मंत्री ने फाइनल में हार के 24 कारणों की लिस्ट सौंपी, कहा- जिम्मेदारी के साथ यह सब कह रहा हूं

श्रीलंका के पूर्व खेल मंत्री महिंदानंद अल्थगामागे ने वर्ल्ड कप 2011 के फाइनल को फिक्स बताया था। अब उन्होंने अथॉरिटी को इसके कारणों की लिस्ट सौंपी है। उन्होंने कहा, ‘9 पन्नों में मैंने 24 संदिग्ध कारण दिए हैं, जिसकी वजह से हमें फाइनल में हार मिली।’ 2011 में अल्थगामागे ही श्रीलंका के खेल मंत्री थे।श्रीलंका के पूर्व खिलाड़ी आरोपों को खारिज कर चुके हैं। अल्थगामागे द्वारा आरोप लगाए जाने के बाद श्रीलंका की सरकार ने जांच बैठाई है।‘बहस के लिए तैयार हूं’खेल मंत्री ने कहा, ‘मैं जिम्मेदारी के साथ बोल रहा हूं और बहस के लिए आगे आ सकता हूं। लोग इसके बारे में चिंतित हैं। मैं इसमें क्रिकेटरों को शामिल नहीं करूंगा, लेकिन कुछ लोग जरूर मैच को फिक्स करने में शामिल थे।’भारत 28 साल बाद वर्ल्ड कप जीता था2011 में मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए वर्ल्ड कप फाइनल में टीम इंडिया श्रीलंका को 6 विकेट से हराकर 28 साल बाद वर्ल्ड चैंपियन बनी थी। इस मैच में श्रीलका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट खोकर 274 रन बनाए थे। महेला जयवर्धने ने 103, कुमार संगकारा ने 30 और कुलशेखरा ने..
                 

लॉर्ड्स में वर्ल्ड कप जीतने के जश्न में शामिल होने के लिए शशि कपूर को दूसरे से लेना पड़ा था कोर्ट और टाई

1983 वर्ल्ड कप जीत के बाद भारतीयक्रिकेट टीम जश्न में डूब गई। जब ये जश्न मन रहा था, तभी मशहूर अभिनेता शशि कपूर वहां पहुंच गए। कपिलदेव ने अपनी आत्मकथा 'स्ट्रेट फ़्रॉम द हार्ट' में लिखा है कि "जब हम 'ड्रेसिंग रूम' से बाहर निकले तो वहां 'साउथ हॉल' से आए कुछ पंजाबी नाचने लगे। फिर किसी ने आकर मुझसे कहा कि शशि कपूर बाहर खड़े हैं और अंदर आना चाहते हैं। मैं टीम के दो सदस्यों के साथ उन्हें लेने बाहर गया। उस दिन हमने लॉर्ड्स के सारे क़ायदे-क़ानून तोड़ डाले।"कपिल ने लिखा,"लॉर्ड्स के मुख्य स्वागत कक्ष में कोई भी बिना कोट-टाई पहने घुस नहीं सकता। हमने शशि कपूर के लिए टाई का इंतज़ाम तो कर लिया, लेकिन वो इतने मोटे हो चुके थे कि हम में से किसी का कोट उन्हें 'फिट' नहीं आया। लेकिन, शशि कपूर 'स्मार्ट' शख़्स थे। उन्होंने एक 'स्टार' की तरह कोट अपने कंधे पर डाला और टाई बांधे हुए अंदर घुस आए। फिर उन्होंने हम सब के साथ जश्न मनाया।"श्रीकांत कुछ ही घंटों में पीए गए 20 सिगरेट1983 वर्ल्ड टीम के सदस्य रहे कृष्मणचारी श्रीकांत ने एक इंटरव्यू में वर्ल्..
                 

मदन लाल ने कहा- मुश्किलों से लड़कर हासिल होने वाली जीत इतिहास रचती है, शास्त्री बोले- इससे भारतीय क्रिकेट का चेहरा बदला

भारत आज ही के दिन 1983 में पहली बार क्रिकेट वर्ल्ड कप जीता था। 37 साल बाद भी इस जीत की यादें टीम के हर खिलाड़ी के जहन में ताजा हैं। वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम के सदस्य रहेमदन लाल ने उस दिन कोयाद करते हुए कहा,‘‘मुश्किलों से लड़कर हासिल होने वाली जीतइतिहास रचती है।’’ वहीं, टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री ने कहा कि भारतीय टीम ने 1983 वर्ल्ड कप जीतकर देश में खेल की नींव रखी और हमेशा के लिए इसका चेहरा बदल दिया।मदन लाल ने आगे कहा, ‘‘1983 में किसी ने भी नहीं सोचा था कि हम वर्ल्ड चैम्पियन बनेंगे। 1975 और 1979 के वर्ल्ड कप में हम सिर्फ दो ही मैच जीते थे। ऐसे में 1983 की वर्ल्ड कप जीत देश के लिए बहुत बड़ी थी। यह क्रिकेट इतिहास की सबसे बड़ी जीत में से एक थी, क्योंकि हमने फाइनल में 2 बार की चैम्पियन वेस्टइंडीज को हराया था।’’बीसीसीआई ने भी 1983 वर्ल्डकप जीत के 37 साल पूरे होने पर भारतीय टीम को बधाई दी।##एक खिलाड़ी नहीं, यह पूरी टीम की जीत थी:मदन लालउन्होंने आगे बताया कि यह किसी एक खिलाड़ी की नहीं, बल्कि पूरी टीम की जीत थी। हर किसी ने टूर्नामेंट में अ..
                 

आईसीसी ने कहा- मैच फिक्सिंग रोकने के लिए भारत में इसे अपराध घोषित करना जरूरी, कड़ा कानून न होने से पुलिस के हाथ भी बंधे

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) के एंटी करप्शन यूनिट (एसीयू) के कोऑर्डिनेटर स्टीव रिचर्डसन का मानना है कि भारत में मैच फिक्सिंग को अपराध घोषित करने पर ही इस पर लगाम लगाई जा सकेगी। उन्होंने कहा कि देश में कड़ा कानून नहीं होने की वजह से क्रिकेट में करप्शन की जांच करते वक्त अधिकारियों के हाथ बंधे रहते हैं। रिचर्डसन ने ईसपीएन क्रिकइंफो से कहा, ‘‘फिलहाल इसको लेकर कोई कानून नहीं है। इसके बावजूद हम भारतीय पुलिस के साथ मिलकर मैच फिक्सिंग रोकने के लिए काम कर रहे हैं। आईसीसी के पास भी मैच फिक्सिंग रोकने के लिए सीमित संसाधन है, जिसका फायदा फिक्सिंग में शामिल लोग उठाते हैं।’’इस एसीयू अधिकारीने कहा, ‘‘भारत में कानून बनने से हालात बदल जाएंगे। अभी हम फिक्सिंग से जुड़े 50 मामलों की जांच कर रहे हैं और इनमें से अधिकतर भारत से जुड़े हुए हैं।’’श्रीलंका में10 साल की सजा हो सकती हैदक्षिण एशिया में केवल श्रीलंका ऐसा देश है, जिसने 2019 में मैच फिक्सिंग को कानूनन अपराध घोषित किया था। यहां दोषी पाए जाने पर 10 साल की सजा हो सकती है।उन्होंने कहा,‘‘भार..
                 

दुनिया की सबसे बड़ी बास्केटबॉल लीग एनबीए 74 साल के इतिहास में पहली बार बिना फैंस के होगी, सभी मैच एक शहर में

दुनिया की सबसे बड़ी बास्केटबॉल लीग एनबीए वापसी के लिए तैयार है। आयोजकों ने कोविड-19 के कारण पूरी सुरक्षा के साथ अमेरिका के नेशनल बास्केटबॉल एसोसिएशन (एनबीए) को शुरू करने की प्लानिंग कर ली है। 22 दिग्गज टीमों के बीच खेली जाने वाली यह लीग 31 जुलाई से शुरू होगी और 12 अक्टूबर से पहले इसका फाइनल मैच भी खेल लिया जाएगा। एनबीए के 74 साल के इतिहास में पहली बार मुकाबले बिना फैंस के खेले जाएंगे।पहली ही बार होगा कि सिर्फ एक वेन्यू पर सभी टीमें अपने-अपने मुकाबले खेलेंगी। न होम मैच होगा और न ही अवे। फ्लोरिडा (ऑरलैंडो) के वॉल्ट डिज्नी वर्ल्ड रिजॉर्ट को इसके लिए फाइनल किया गया है। सभी टीमें यहीं रुकेंगी, यहीं प्रैक्टिस करेंगी, सभी मुकाबले यहीं खेलेंगी और पूरे सीजन में इसी वेन्यू पर रहेंगी। अभी तक टीमें 65-66 मैच खेल चुकी हैं और 72-73 मैच बाकी हैं। कुछ टीमों को 8 और कुछ टीमों को 10 मैच खेलने हैं। एनबीए को उम्मीद है कि नया सीजन (2020-21) समय पर शुरू होगा। तीन होटल में रुकेंगे खिलाड़ी, उन्हें एक-दूसरे के कमरे में जाने की अनुमति नहींखिलाड़ियों को ऑरलैंडो के डिज्नी वर्ल्ड में पहुंचने पर सेल्फ आइसोलेशन में रहन..
                 

टूर्नामेंट 17 फरवरी से 7 मार्च तक होगा; नवी मुंबई और कोलकाता समेत 5 शहरों में 16 टीमों के बीच होंगे 32 मैच

अंडर-17 महिला फुटबॉल वर्ल्ड कप का 7वां सीजन भारत में अगले साल 17 फरवरी से 7 मार्च के बीच होने वाला है। इसके लिए फुटबॉल इंटरनेशनल फेडरेशन एसोसिएशन (फीफा) ने नया शेड्यूल तय कर दिया है। यह इवेंट इसी साल 2 से 21 नवंबर के बीच होना था, लेकिन कोरोना के कारण इसे टाल दिया गया है।महिला वर्ल्ड कप में भारत समेत 16 टीमें शामिल होंगी। इन सभी के बीच 32 मैच खेले जाएंगे। मेजबान होने के कारण भारतीय टीम को क्वालिफाई करने की जरूरत नहीं पड़ी। टीम को सीधी एंट्री मिली। 2008 में शुरू हुए टूर्नामेंट में उत्तर कोरिया दो बार (2008 और 2016) में चैम्पियन रह चुका है।नवी मुंबई में होगा फाइनलयह टूर्नामेंट देश में 5 जगह कोलकाता, गुवाहाटी, भुवनेश्वर, अहमदाबाद और नवी मुंबई में खेला जाना है। पहला मैच 17 फरवरी को गुवाहाटी में होगा। प्ले-ऑफ, एक सेमीफाइनल और फाइनल नवी मुंबई में खेला जाएगा। जबकि दूसरा सेमीफाइनल भुवनेश्वर में होगा।भारतीय टीम अपने सभी ग्रुप मैच गुवाहाटी में ही खेलेगी। शहर स्टेडियम मैच गुवाहाटी इंदिरा गांधी एथलेटिक 6 ग्रुप मुकाबले भुवनेश्वर कलिंगा स्टेडियम 6 ग्रुप मैच, एक क्वार्टरफा..
                 

वर्ल्ड फेडरेशन ने नियमों के खिलाफ चुनाव कराने का दोषी माना, कहा- केएआई में चल रही गुटबाजी बढ़ गई है

वर्ल्ड कराटे फेडरेशन (डब्ल्यूकेएफ) ने कराटे फेडरेशन ऑफ इंडिया (केएआई) को अस्थायी तौर पर सस्पेंड कर दिया है। डब्ल्यूकेएफ ने केएआई को पिछले साल नियमों के खिलाफ चुनाव कराने का दोषी माना है। केएआई के पास 21 दिन में डब्ल्यूकेएफ की लीगल कमेटी के पास अपील करने का मौका है।डब्ल्यूकेएफ ने केएआई के अध्यक्ष हरिप्रसाद पटनायक को पत्र भेजा है। इसमें कहा है कि डब्ल्यूकेएफ की कमेटी ने पाया है कि पिछले साल केएआई के जनवरी में हुए चुनाव में नियमों का पालन नहीं किया गया। साथ ही इंडियन फेडरेशन में काफी गुटबाजी भी बढ़ गई है। एक गुट भरत शर्मा को उपाध्यक्ष पद पर शामिल करवाने की पैरवी कर रहा है। इन सबके चलते 22 जून से अस्थायी तौर पर केएआई की मान्यता को सस्पेंड कर दिया है।इंटरनेशनल टूर्नामेंट में डब्ल्यूकेएफ के झंडे के सात खेलना होगामान्यता रद्द होने के बाद अब इंडियन कराटे प्लेयर इंटरनेशनल टूर्नामेंट में तिरंगे के साथ नहीं खेल पाएंगे। खिलाड़ियों को अब डब्ल्यूकेएफ की टीम के तौर पर उनके ही झंडे के साथ खेलना होगा।आईओए ने पहले ही चुनाव को मानने से कर दिया था इंकारइंडियन ओलिंपिक एसोसिएशन (आईओए) ने पहले ही केएआई के जनव..
                 

इंग्लैंड के प्रधानमंत्री जॉनसन ने बॉल से संक्रमण का खतरा बताया, कहा- प्रतिबंध नहीं हटेंगे और वेस्टइंडीज सीरीज भी होगी

कोरोनावायरस के कारण तीन महीने के बाद इंटरनेशनल क्रिकेट की वापसी इंग्लैंड से हो रही है। यहां 8 जुलाई को वेस्टइंडीज-इंग्लैंड के बीच तीन टेस्ट की सीरीज का पहला मैच खेला जाएगा। इसी बीच इंग्लैंड के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने क्रिकेट बॉल से बीमारी फैलने का खतरा बताया है। उन्होंने कहा कि क्रिकेट में लगे प्रतिबंध हटाए नहीं जाएंगे, लेकिन सीरीज पर कोई असर नहीं होगा।इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) कोरोना के कारण बॉल को चमकाने के लिए लार के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा चुका है। साथ ही टेस्ट में कोरोना कन्कशन (सब्स्टीट्यूट) का ऑप्शन भी दिया है। आईसीसी ने मैच के दौरान हाथ नहीं मिलाने और सोशल डिस्टेंसिंग जैसी कई गाइडलाइंस जारी की हैं।क्रिकेट को सुरक्षित रखने के लिए ज्यादा काम किया जा रहाबोरिस जॉनसन ने मीडिया से कहा, ‘‘क्रिकेट के साथ समस्या यह है कि हर कोई यह समझता है कि बॉल से नेचुरल तौर पर बीमारी फैलने का खतरा है। मैंने इस बारे में कई बार वैज्ञानिकों से बातचीत की है। फिलहाल, हम क्रिकेट को कोविड से सुरक्षित रखने के लिए ज्यादा काम कर रहे हैं। अब तक हमने कोई गाइडलाइंस नहीं बदलीहै।’&rs..
                 

इंग्लैंड दौरे से 5 दिन पहले पाकिस्तान के 10 खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव; बोर्ड ने कहा- दौरे पर कोई खतरा नहीं

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने मंगलवार को बताया कि टीम के 7 खिलाड़ी और कोरोना संक्रमित मिले हैं। सोमवार को तीन खिलाड़ी पॉजिटिव पाए गए थे। यानी दो दिन में कुल 10 प्लेयर संक्रमित पाए जा चुके हैं।बोर्ड के सीईओ वसीम खान ने साफ कर दिया कि भले ही प्लेयर कोरोना पॉजिटिव पाए गए हों, लेकिन इसका असर इंग्लैंड दौरे पर नहीं होगा। पाकिस्तान टीम 28 जून को इंग्लैंड रवाना होने वाली है।अब तक ये खिलाड़ी पॉजिटिव पाए गएहैदर अली, हरीस रउफ, शादाब खान,मोहम्मद हफीज,वहाब रियाज, फखर जमां, इमरान खान, काशिफ भट्टी, मोहम्मद हसनैन और मोहम्मद रिजवान।इंग्लैंड दौरे पर 3 टेस्ट और 3 टी-20 की सीरीज खेलनी हैइंग्लैंड दौरे के लिए पाकिस्तान ने 29 सदस्यीय टीम घोषित की थी। 4 खिलाड़ी रिजर्व रखे हैं। टीम को इंग्लैंड दौरे पर अगस्त-सितंबर में 3 टेस्ट और 3 टी-20 की सीरीज खेलनी है। पहला टेस्ट 30 जुलाई को लॉर्ड्स में खेला जाएगा। वहीं, टी-20 सीरीज की शुरुआत 29 अगस्त से होगी।14 दिन क्वारैंटाइन रहेगी टीमइंग्लैंड पहुंचने पर पाकिस्तान टीम डर्बीशायर में 14 दिन क्वारैंटाइन रहेगी। हालांकि, इस दौरान प्रैक्टिस पर रोक नहीं रहेगी।29 सदस्यीय पा..
                 

माही सबसे ज्यादा 9 बार आईपीएल फाइनल खेलने वाले पहले खिलाड़ी, कैप्टन कूल के इन 7 रिकॉर्ड्स तक पहुंचना बेहद मुश्किल

पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी आज 39 साल के हो गए हैं। उनका जन्म 7 जुलाई 1981 को झारखंड (तब बिहार) के रांची में हुआ था। कैप्टन कूल धोनी ने इंटरनेशनल क्रिकेट के अलावा इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में भी ऐसे कई रिकॉर्ड बनाए हैं, जिन्हें तोड़ना किसी भी खिलाड़ी के लिए बेहद मुश्किल होगा। धोनी आईपीएल में सबसे ज्यादा 9 बार फाइनल खेलने वाले अकेले खिलाड़ी हैं। इस दौरान उन्होंने अपनी टीम चेन्नई सुपर किंग्स को तीन बार विजेता भी बनाया।धोनी ने भारत के लिए अब तक सबसे ज्यादा 200 वनडे में कप्तानी की। इसमें भारत को 110 में जीत मिली। वह दुनिया के तीसरे ऐसे कप्तान हैं, जिन्होंने सबसे ज्यादा वनडे मैचों में कप्तानी की है। माही ने 90 टेस्ट, 349 वनडे और 98 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेले। 2015 में उन्होंने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। धोनी ने अपनी कप्तानी में देश को 2007 में टी-20 और 2011 में वनडे वर्ल्ड कप के अलावा 2013 में चैम्पियंस ट्रॉफी जिताई है। बतौर कप्तान सबसे ज्यादा मैच जीतेधोनी ने बतौर कप्तान आईपीएल में सबसे ज्यादा 104 मैच जीते हैं। इसमें सबसे ज्यादा 99 मैच चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए जीते, जब..
                 

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने कहा- कोहली का टारगेट सिर्फ मैच जीतना होता है, उसके लिए कुछ भी करने को तैयार रहते हैं

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान और कमेंटेटर नासिर हुसैन ने भारतीय कप्तान विराट कोहली की तारीफ की। उन्होंने कहा कि कोहली जब लक्ष्य का पीछा करते हैं, तो वे मैच में जीतने को ही टारगेट रखते हैं। उसके लिए कुछ भी करने के लिए तैयार रहते हैं। टारगेट को पूरा करने के लिए वे अग्रेसिव रहते हैं। नासिर ने यह बात हाल ही में स्टार स्पोर्ट्स के शो 'क्रिकेट कनेक्टेड' में कही।नासिर ने कहा कि यदि लक्ष्य का पीछा करने के लिए किसी बल्लेबाज को चुनना हो, तो वे हमेशा कोहली को ही सिलेक्ट करेंगे। हालांकि इंडिया में काफी अच्छे बल्लेबाज हैं। उनमें से किसी एक का चयन करना आसान नहीं है, लेकिन वे कोहली को ही चुनेंगे।कोहली कभी भी धोनी की तरह कूल नहीं हो सकतेनासिर ने कहा कि ग्राउंड पर कोहली की सबसे बड़ी ताकत उनका जीत का जज्बा है। उसके लिए वे पूरी ताकत लगा देते हैं। उन्होंने भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के साथ तुलना करते हुए कहा कि कोहली कभी भी उनकी तरह शांत और कूल फिनिशर नहीं हो सकते हैं। कोहली का अपना अलग तरीका है। उनका खून ज्यादा गर्म है। वे जीतने के लिए कुछ भी कर सकते है। कोहली ने 248 वनडे में 43 शतक लगाएकोह..
                 

टूर्नामेंट से होने वाली कमाई पर बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष बोले- ये पैसा गांगुली, जय शाह या मेरी जेब में नहीं, देश के विकास में जाता है

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) से होने वाली कमाई पर जवाब दिया। क्रिकेट वेबसाइट क्रिकइंफो से बात करते हुए धूमल ने कहा कि यह पैसा बोर्ड अध्यक्ष सौरव गांगुली, सचिव जय शाह या मेरी जेब में नहीं जाता। यह पूरा पैसा देश और खिलाड़ियों के विकास में लगता है।कोरोनावायरस के कारण 29 मार्च से होने वाला आईपीएल पहले ही अनिश्चितकाल के लिए टाला जा चुका है। इसको लेकर धूमल ने कहा कि अब टूर्नामेंट को कराने के लिए ज्यादा देरी नहीं करना चाहिए। बोर्ड इस साल अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप के टलने की स्थिति में उसकी जगह आईपीएल करा सकता है। इस पर धूमल ने कहा कि आईसीसी को वर्ल्ड कप पर जल्द फैसला लेना चाहिए।कई लोगों को रोजगार भी मिलता हैधूमल ने कहा, ‘‘आईपीएल तभी होगा, जब खेल को लेकर सुरक्षित स्थिति होगी। सारी बात इसी पर हो रही है कि आईपीएल एक पैसा बनाने वाली मशीन है,लेकिन यह पैसा लेता कौन है? पूरा पैसा खिलाड़ियों और देश के विकास, यात्रा, पर्यटन और उद्योग-व्यापार के लिए जाता है। यह किसी अधिकारी की जेब में नहीं जाता, तो क्यों फि..
                 

बीसीसीआई ने कहा- कोहली को परेशान करने के लिए लगातार शिकायतें की जा रहीं, हम ऐसे लोगों को कामयाब नहीं होने देंगे

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली और उनकी कंपनी के खिलाफ लगातार हो रही शिकायतों को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने साजिश बताया है। हाल ही में मध्यप्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन (एमपीसीए) के लाइफ टाइम मेम्बर संजीव गुप्ताने बीसीसीआई के एथिक्स ऑफिसर डीके जैन को पत्र लिखकर कोहली के खिलाफ शिकायत की थी। संजीव ने कहा था कि कोहली की कंपनी ने लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों का उल्लंघन किया है।उन्होंने हितों के टकराव मामले में की गईशिकायत में कहा कि भारतीय कप्तान कोहली दो कंपनियों स्पोर्ट्स एलएलपी और कोरटनस्टोन पार्टनर एलएलपी में डायरेक्टर हैं। स्पोर्ट्स एलएलपी में कोहली के अलावा अमित अरुण सजदेह भी निदेशक हैं। कोरटनस्टोन में कोहली और अमित समेत बिनॉय भरत खिमजी तीन डायरेक्टर हैं।लोग कोहली की तरक्की से खुश नहीं- बोर्डबीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘पिछले कुछ सालों से कोहली और उनकी कंपनी को लेकर लगातार शिकायत की जा रही है। इसको देखकर ऐसा लगा रहा है कि कुछ लोग दबाव बनाकर ब्लैकमेल करने की कोशिश कर रहे हैं। 6 साल से आ रही शिकायतों से पता चलेगा कि कोई भारतीय कप्तान को नुकसान पहुंचाना चाहता है। ..
                 

तेंदुलकर ने कहा- आज मैं जो कुछ भी हूं, पिता, कोच रमाकांत आचरेकर और बड़े भाई की वजह से ही हूं

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सचिन तेंदुलकर ने रविवार को गुरु पूर्णिमा पर अपने तीन गुरुओं को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने सोशल मीडिया पर इसका एक वीडियो भी शेयर किया। जिन तीन गुरुओं को सचिन ने श्रद्धांजलि दी, उनमें बड़े भाई, कोच रमाकांत आचरेकर और पिता शामिल हैं। वे इस वीडियो में कह रहे हैं कि जब भी मैं बल्लाउठाता हूं, तोमैं इन तीनों के बारे में सोचता हूं। इन्होंने मेरे क्रिकेट करियर में अहम भूमिका निभाई है। आज मैं जो भी हूं इन तीनों की वजह से ही हूं।उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘गुरु पूर्णिमा पर मैं ऐसे सभी लोगों को शुक्रिया कहना चाहूंगा जिन्होंने मुझे सिखाया,अपना बेस्ट देने के लिए प्रेरित किया। हालांकि, इन तीन लोगों का मैं हमेशा एहसानमंद रहूंगा।’’‘भाई ने ही आचरेकर सर से मिलवाया था’सचिन ने कहा, ‘‘मेरे भाई ने ही सबसे पहले मुझे आचरेकर सर से मिलवाया था। एक चीज मैं जानता हूं कि वहभले हीआज हमारे बीच मौजूद न हो, लेकिनहमेशा मेरे साथ साए की तरह रहताहै। इसलिए जब भी मैं चलता हूं तो ऐसा लगता है जैसे वहमेरे साथ चल रहा है।‘मेरी सभी गलतियों पर गौर करते थे गुरु&..
                 

44 टेस्ट खेल चुके कुसल मेंडिस ने कार से बुजुर्ग को टक्कर मारी, मौके पर ही मौत; पुलिस ने गिरफ्तार किया

श्रीलंका के विकेटकीपर बल्लेबाज कुसल मेंडिस ने रविवार सुबह साइकिल से जा रहे 64 साल के व्यक्ति को कार से टक्कर मार दी। बुजुर्ग की मौके पर ही मौत हो गई। हिट एंड रन मामले में पुलिस ने खिलाड़ी को गिरफ्तार कर लिया है। हादसा राजधानी कोलंबो से करीब 30 किमी दूर पानादुरा शहर में हुआ।पुलिस प्रवक्ता और एसएसपी जलिया सेनारत्ने ने खबर की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि मेंडिस को गिरफ्तार कर लिया गया है। अस्पताल में चेकअप के बाद खिलाड़ी को कोर्ट में पेश किया जाएगा।मेंडिस ने 44 टेस्ट में 2995 रन बनाएमेंडिस ने श्रीलंका के लिए 44 टेस्ट में 2995 और 76 वनडे में 2167 रन बनाए हैं। उनके नाम 26 टी-20 में 484 रन हैं। विकेटकीपर बल्लेबाज कोरोना के बाद शुरू हुए ट्रेनिंग कैंप का भी हिस्सा हैं। जुलाई में श्रीलंका को भारत के साथ घरेलू सीरीज खेलना था, जिसे कोरोना के कारण टाल दिया गया। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today मेंडिस ने श्रीलंका के लिए 44 टेस्ट में 2995 और 76 वनडे में 2167 रन बनाए हैं। उनके नाम 26 टी-20 में 484 रन हैं। -फाइल फोटो..
                 

36 साल के लिन डैन ने खेल को अलविदा कहा, वे ‘सुपर ग्रैंड स्लैम’ टाइटल जीतने वाले दुनिया के एकमात्र खिलाड़ी

बैडमिंटन के महान खिलाड़ियों में शामिल चीन के लिन डैन ने शनिवार को संन्यास ले लिया। 36 साल के इस खिलाड़ी ने 2011 में सुपर ग्रैंड स्लैम टाइटल जीतने का रिकॉर्ड बनाया था। सुपर ग्रैंड स्लैम यानी 9 मेजर टाइटल। इसमें ओलिंपिक, वर्ल्ड चैंपियनशिप, वर्ल्ड कप, थॉमस कप, सुदिरमान कप, सुपर सीरीज मास्टर्स फाइनल्स, ऑल इंग्लैंड ओपन, एशियन गेम्स और एशियन चैंपियनशिप के टाइटल शामिल हैं।लिन ने ओलिंपिक (2008 और 2012) में लगातार दो बार गोल्ड जीते हैं। यह उपलब्धि हासिल करने वाले वे दुनिया के पहले पुरुष खिलाड़ी हैं। लिन डैन और मलेशिया के ली चोंग वेई के बीच अच्छी लड़ाई देखने को मिली। दोनों के बीच हुए 40 मुकाबलों में से 28 में डैन को जीत मिली।लिन डैन का रिकॉर्ड 66 करियर टाइटल 666 मुकाबले जीते 2 ओलिंपिक गोल्ड जीते 5 वर्ल्ड चैम्पियनशिप गोल्ड जीते 6 ऑल इंग्लैंड टाइटल जीते‘संन्यास का फैसला मेरे लिए सबसे कठिन रहा’लिन ने कहा, ‘‘2000 से 2020 तक नेशनल टीम से खेलने के बाद संन्यास लेना मेरे लिए कठिन है। मैं 37 साल का होने जा रहा हूं, ऐसे में मेरी फिजिकल कंडिशन और इंजरी के कारण मैं अधिक समय तक नहीं खेल ..
                 

पीवी सिंधु ने कहा- खिलाड़ी सिर्फ खेल को एंजॉय करें, उन्हें हार और जीत के बारे में नहीं सोचना चाहिए

भारत की बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु ने कहा कि खिलाड़ियों को जीत और हार के बारे में ज्यादा सोचना नहीं चाहिए। उन्हें सिर्फ खेल को एंजॉय करना चाहिए। ओलिंपिक सिल्वर मेडलिस्ट सिंधु ने शुक्रवार को फिट इंडिया के प्रोग्राम को संबोधित किया था। इस दौरान खेल मंत्री किरन रिजिजू और इंडियन फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील छेत्री भी थे।अपनी स्पीच में सिंधु ने स्कूली बच्चों को जीवन में खेल का महत्व बताया। उन्होंने कहा कि व्यक्ति के जीवन में घर से लेकर स्कूल तक, किसी न किसी रूप में खेल होना बहुत जरूरी है। फिट रहने के लिए खेल जरूरी हैं।फिट रहने के लिए 45 मिनट प्रैक्टिस काफीऐसा भी नहीं होना चाहिए कि आप घंटों तक प्रैक्टिस ही करते रहें। फिट रहने के लिए किसी भी उम्र के व्यक्ति के लिए 45 मिनट से 1 घंटे का अभ्यास काफी है। साथ ही हर खेल के खिलाड़ी के लिए फिटनेस जरूरी है। फिजिकल और मेंटल ट्रेनिंग के साथ ही एंड्यूरेंस, एजिलिटी और वेट ट्रेनिंग भी जरूरी है।माता- पिता का सपोर्ट बहुत जरूरीसुनील छेत्री ने कहा, ‘‘आजकल के बच्चों के लिए जरूरी है कि वे खेल को करियर के रूप में चुनें। इसमें माता-पिता का सपोर्ट जरूरी है..
                 

23 बार की ग्रैंड स्लैम चैम्पियन सेरेना बेटी ओलंपिया के साथ कोर्ट पर उतरीं, अगस्त में होने वाले यूएस ओपन की तैयारी शुरू की

23 बार की ग्रैंड स्लैम चैम्पियन सेरेना विलियम्स फरवरी से टेनिस से दूर हैं। अमेरिका की टेनिस खिलाड़ी ने बेटी ओलंपिया के साथ खेलते हुए फोटो शेयर की। ओलंपिया सितंबर में तीन साल की हो जाएंगी। सेरेना ने यूएस ओपन में उतरने की घोषणा भी की है।सेरेना अगले साल सितंबर में 40 साल हो जाएंगी। उनका टोक्यो ओलिंपिक में खेलना आसान नहीं होगा। इस साल हुए पहले ग्रैंड स्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन में वे तीसरे राउंड में ही बाहर हो गई थीं। उन्होंने अब तक ओलिंपिक में एक सिंगल्स और डबल्स में 3 गोल्ड जीते हैं।सेरेना 1999 में पहली बार चैम्पियन बनी थीं1998 में पहली बार यूएस ओपन खेलने वाली सेरेना 1999 में चैम्पियन बनी थीं। इसके बाद उन्होंने 2002, 2008, 2012, 2013 और 2014 में खिताब अपने नाम किया। वे पिछली साल विंबलडन ओपन के फाइनल में सिमोना हालेप के खिलाफ हार गई थीं। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today सेरेना विलियम्स की बेटी ओलंपिया सितंबर में तीन साल की हो जाएंगी।..
                 

इंग्लैंड के ऑलराउंडर सैम करन का कोरोना टेस्ट निगेटिव, वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट से 5 दिन पहले सेल्फ-आइसोलेशन में

इंग्लैंड के ऑलराउंडर सैम करन वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज से 5 दिन पहले बीमार हो गए हैं। उनमें कोरोनावायरस के लक्षण दिखाई दिए थे। हालांकि, उनका कोरोना टेस्ट निगेटिव आया है। करन होटल में ही सेल्फ-आइसोलेशन में हैं। यह जानकारी इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने गुरुवार को दी। करन अब वॉर्म-अप मैच भी नहीं खेलेंगे।ईसीबी के मुताबिक, करन को डायरिया की शिकायत है। उनका गुरुवार को ही कोरोना टेस्ट के लिए सैंपल ले लिया गया था। डॉक्टरों की एक टीम उनकी निगरानी कर रही है।प्रैक्टिस मैच में करन ने नाबाद 15 रन बनाएकोरोनावायरस के बीच करीब 3 महीने बाद इस इंग्लैंड-वेस्टइंडीज सीरीज से इंटरनेशनल क्रिकेट की वापसी हो रही है। मैच से पहले इंग्लैंड के खिलाड़ियों ने आपस में ही वॉर्म-अप मैच खेला है। इसके पहले दिन करन ने नाबाद 15 रन बनाए थे। हालांकि, अब वे इस प्रैक्टिस मैच से हट गए हैं।बगैर दर्शकों के होगी सीरीजपहला मुकाबला 8-12 जुलाई तक साउथैम्पटन के एजिस बॉल में होगा, जबकि बाकी दो टेस्ट ओल्ड ट्रैफर्ड में 16 से 20 जुलाई और 24-28 जुलाई तक खेले जाएंगे। तीनों मैच सुरक्षित स्टेडियम में कराए जाएंगे। सीरीज बगै..
                 

दिल्ली क्रिकेट बॉडी के सेक्रेटरी ने कहा- रोहन जेटली डीडीसीए अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी बखूबी निभा सकते हैं

पूर्व केंद्रीय मंत्री स्व. अरुण जेटली के बेटे रोहन को दिल्ली क्रिकेट एसोसिएशन (डीडीसीए) के अध्यक्ष पद की कमान सौंपने की तैयारी है। इससे पहले अरुण जेटली ने खुद लंबे समय तक डीडीसीए प्रेसिडेंट की भूमिका निभाई थी। वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा के इस्तीफे के बाद से यह पद खाली है।इसके लिए डीडीसीए के सेक्रेटरी विनोद तिहरा ने रोहन जेटली का नाम आगे बढ़ाया है। उन्होंने शुक्रवार को न्यूज एजेंसी से कहा कि डीडीसीए को मौजूदा स्थिति से उबारने के लिए रोहन जैसे युवा के हाथों में कमान सौंपना जरूरी है। रोहन डीडीसीए प्रेसिडेंट पोस्ट के लिए सही च्वाइस हैं, लेकिन आखिरी फैसला उन्हीं का होगा।तिहरा ने कहा कि अरुण जेटली दिल्ली क्रिकेट बॉडी में काफी रुचि रखते थे और डीडीसीए उनके दिल के बेहद करीब था। इसलिए मैं चाहता हूं कि रोहन यह जिम्मेदारी निभाने के लिए आगे आएं।हाईकोर्ट ने डीडीसीए चुनाव के निर्देश दिएवहीं, डीडीसीए के अधिकारियों ने बताया कि नए अध्यक्ष के लिए प्रयास एक दिशा में आगे बढ़ रहा है। तिहरा, बंसल और सीके खन्ना जेटली परिवार के करीबी हैं। माना जा रहा है कि तीनों ने उन्होंने सभी से चर्चा के बाद यह फैसला लिया है। ..
                 

ईशांत शर्मा ने कहा- मैंने माही को 2013 के बाद ठीक से समझा, वे हमेशा युवाओं की मदद करते हैं, कभी भी कमरे में आने से नहीं रोका

भारतीय तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा ने कहा कि उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी को 2013 के बाद ठीक से समझा है। उन्होंने धोनी के साथ काफी समय बिताया और समझा कि पूर्व भारतीय कप्तान मैदान के अंदर और बाहर हमेशा शांत ही रहते हैं। इसी लिए उन्हें कैप्टन कूल कहा जाता है। वे हमेशा युवाओं की मदद करते हैं और कभी भी कमरे में आने से नहीं रोकते।ईशांत ने धोनी की कप्तानी में ही तीनों फॉर्मेट वनडे, टेस्ट और टी-20 में डेब्यू किया है। हालांकि, सीनियर तेज गेंदबाज ने पिछला वनडे जनवरी 2016 और टी-20 अक्टूबर 2013 में खेला था। वे टेस्ट में रेगुलर प्लेयर हैं।कमरे में आने से धोनी ने किसी को नहीं रोका, शमी सबसे ज्यादा जाते थेईशांत ने स्टार स्पोर्ट्स के क्रिकेट कनेक्टेड शो में कहा, ‘‘मेरी धोनी के साथ बातचीत बहुत कम होती थी। मैंने धीरे-धीरे उनसे बातचीत शुरू की और 2013 के बाद सही से उन्हें समझ पाया हूं। अब मुझे पता चला कि वे कितने शांत हैं। वे कितने अच्छे से युवाओं से बात करते हैं और कैसे उनसे पेश आते हैं, यह भी समझ सका हूं। वह मैदान पर भी ऐसे ही होते हैं। उन्होंने अपने कमरे में आने से कभी भी हमें मना नहीं किया। आप ..
                 

सरकारी मदद के बावजूद नेशनल चैम्पियनशिप का खर्च डेढ़ गुना और बढ़ेगा, फेडरेशनों के पास खिलाड़ियों का कोरोना टेस्ट कराने का भी फंड नहीं

कोरोनावायरस के कारण दुनियाभर में खेल जगत को भारी आर्थिक संकट झेलना पड़ रहा है। भारत में कई ऐसे स्पोर्ट्स फेडरेशन हैं, जिन्हें नेशनल चैम्पियनशिप के लिए लोकल स्पॉन्सर्स भी नहीं मिल रहे हैं। स्विमिंग, आर्चरी, फेंसिंग और जूडो समेत कई फेडरेशन हैं, जो चैम्पिनयशिप के लिए लोकल स्पॉन्सर्स पर ही डिपेंड रहते हैं। क्योंकि, खेल मंत्रालय से इन्हें एक टूर्नामेंट के लिए जो राशि मिलती है, वह खर्च की आधी से भी कम रहती है। कई फेडरेशनों के पास तो खिलाड़ियों का कोरोना टेस्ट कराने तक का फंड नहीं है।इन फेडरेशन के सामने दूसरी समस्या यह है कि कोरोना के कारण हर एक टूर्नामेंट में करीब डेढ़ गुना खर्च और बढ़ जाएंगे। मंत्रालय की नई एसओपी यानी गाइडलाइंस पर भी अतिरिक्त खर्चे बढ़ेंगे। जैसे- खिलाड़ियों की हर टूर्नामेंट से पहले कोरोना जांच करानीहोगी। पहले होटल के एक रूम में 5 से 6 खिलाड़ी रहते थे, अब एक ही खिलाड़ी को रुकने की मंजूरी होगी।लोकल उद्योगपति और व्यापारी करते हैं मददक्रिकेट, फुटबॉल, बैडमिंटन और टेनिस जैसे खेलों को छोड़ दें तो भारत में ज्यादातर खेल फेडरेशन लोकल स्पॉन्सर्स की मदद से ही टूर्नामेंट करा पाते हैं। यह ..
                 

टेस्ट चैम्पियनशिप में आठ जुलाई से भिड़ेंगे इंग्लैंड-विंडीज, 13 मार्च से इंटरनेशनल मैच बंद हैं

कोराेना के कारण 13 मार्च से इंटरनेशनल क्रिकेट बंद है। अब इसकी वापसी का काउंटडाउन शुरू हो गया है। 8 जुलाई से इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज शुरू हो रही है। यह वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप का हिस्सा है। सीरीज के पहले खिलाड़ियों का कोरोना टेस्ट हुआ।क्रिकेट वापसी के लिए नियमों में बदलाव भी किया गया है। अब गेंद पर लार का उपयोग नहीं होगा। मैच में लोकल अंपायर होंगे। फैंस स्टेडियम में मैच नहीं देख सकेंगे। वर्ल्ड चैम्पियनशिप की बात की जाए तो इंग्लैंड ने 9 में से 5 मैच जीते हैं। टीम 146 पॉइंट के साथ चौथे नंबर पर है। दूसरी ओर विंडीज की टीम ने दो मैच खेले हैं और दोनों में उसे हार मिली है।ब्लैक लाइव्स मैटर लोगो वाली टी-शर्ट पहनकर खेलेगी विंडीज टीमवेस्टइंडीज टीम सीरीज में ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ लोगो वाली टी-शर्ट पहनकर खेलेगी। आईसीसी ने भी इसकी मंजूरी दे दी है। यह लोगो टी-शर्ट की कॉलर पर लगा होगा। हाल ही में अमेरिका में अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस कस्टडी में मौत के बाद दुनियाभर में रंगभेद के खिलाफ विरोध शुरू हुआ। इसके बाद फुटबॉल और क्रिकेट के अलावा खेल जगत के सभी खिलाड़िय..
                 

वेस्टइंडीज के लेजेंड सर एवर्टन का 95 साल की उम्र में निधन, 1948 में डेब्यू के बाद भारत के खिलाफ 4 समेत लगातार 5 शतक लगाए थे

वेस्टइंडीज के पूर्व बल्लेबाज सर एवर्टन वीक्स का 95 साल की उम्र में निधन हो गया। उन्होंने बुधवार को बारबाडोस के क्राइस्टचर्च में अंतिम सांस ली। एवर्टन ने 22 साल की उम्र में 21 जनवरी 1948 को डेब्यू किया था। पहला मैच उन्होंने जॉर्ज हेडली की कप्तानी में इंग्लैंड के खिलाफ किंग्सटन ओवल में खेला था। एवर्टन ने आखिरी मैच त्रिनिदाद में पाकिस्तान के खिलाफ 26 मार्च 1958 को खेला था।सर एवर्टन ने 10 साल के करियर में 48 टेस्ट खेले और 58.61 की औसत से 4455 रन बनाए। उन्होंने 1948 में लगातार 5 शतक लगाए थे। इस दौरान उन्होंने जमैका में इंग्लैंड के खिलाफ 141 रन की पारी भी खेली थी। इसके बाद भारत में 128, 194, 162 और 101 रन बनाए। अपनी अगली पारी में उन्होंने 90 रन बनाए।वेस्टइंडीज के दो महानतम खिलाड़ियों में शामिल थे58.61 की औसत के साथ सर एवर्टन सर जॉर्ज हेडली के साथ वेस्टइंडीज के दो महानतम बल्लेबाजों में शामिल थे। एवर्टन टेस्ट के टॉप-10 बल्लेबाजों में शामिल रहे हैं। वहीं, 58.61 की औसत से अब तक सिर्फ 4 बल्लेबाज ही 4000 से ज्यादा रन बना सके हैं। उन्होंने 152 फर्स्ट क्लास क्रिकेट मैच खेले और 55.34 के एवरेज से 12010..
                 

इरफान पठान ने कहा- मुझे नंबर-3 पर बल्लेबाजी के लिए प्रमोट करने का आइडिया सचिन का था, चैपल का नहीं

भारत के पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान ने कहा कि उनसे तीन नंबर पर बल्लेबाजी का आइडिया सचिन तेंदुलकर ने दिया था। इसमें कोच ग्रेग चैपल का कोई हाथ नहीं था। पठान को पहली बार 2005 में श्रीलंका के खिलाफ वनडे में तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए भेजा गया था। इसमें उन्होंने 70 बॉल पर 83 रन बनाए थे। भारत यह मैच 152 रन से जीता था।इसके बाद इरफान ने कई मैचों में टॉप आर्डर पर बल्लेबाजी की थी। वे भारतीय टीम में बतौर तेज गेंदबाज शामिल हुए थे। कई दिग्गजों का मानना है कि पहली पारी में अच्छा प्रदर्शन करने के बाद मैनेजमेंट ने उन्हें ऑलराउंडर के तौर पर तैयार करने का प्लान बनाया था। यही कारण है कि इरफान का करियर ज्यादा लंबा नहीं चल सका।करियर खत्म करने में चैपल का हाथ नहींइरफान ने रौनक कपूर के साथ इंस्टाग्राम पर कहा, ‘‘मैंने संन्यास के बाद भी कई बार कहा कि मेरा करियर खत्म होने में ग्रेग चैपल का कोई हाथ नहीं है। जहां तक मुझे 3 नंबर पर बल्लेबाजी के लिए प्रमोट करने की बात थी, तो वह आइडिया चैपल का नहीं सचिन पाजी का था।’’सिक्स मारने की काबिलियत के चलते प्रमोट हुए थे इरफानउन्होंने कहा, ‘&ls..
                 

माइकल हसी ने कहा- ऑस्ट्रेलिया में खेलना सभी बल्लेबाजों के लिए मुश्किल, लेकिन रोहित शर्मा को दिक्कत नहीं होगी, उनकी काबिलियत सबसे अलग

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेट माइकल हसी ने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई पिचों पर टेस्ट खेलना किसी भी बल्लेबाज के लिए आसान नहीं होता है। लेकिन, रोहित शर्मा के खेलने का अंदाज और काबिलियत दूसरों से काफी अलग है। उन्हें यहां कोई दिक्कत नहीं होगी। भारतीय टीम को दिसंबर-जनवरी में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर 4 टेस्ट और 3 वनडे की सीरीज खेलना है।सीरीज का पहला टेस्ट 3 दिसंबर को ब्रिस्बेन में होगा। इसके बाद दोनों टीमों के बीच 26 दिसंबर को मेलबर्न में बॉक्सिंग डे और 3 जनवरी को सिडनी में न्यू ईयर टेस्ट खेला जाएगा। इसके बाद 12 जनवरी को वनडे सीरीज का पहला मैच होगा। कोरोना के कारण ऑस्ट्रेलियन प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने स्टेडियम में सिर्फ 25% दर्शकों को आने की मंजूरी दी है।रोहित ने पिछली सीरीज में 3 शतक लगाए थेइस सीरीज में सभी की नजरें रोहित पर ही होंगी, क्योंकि अक्टूबर में उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 3 टेस्ट की सीरीज में एक दोहरा शतक समेत 3 सेंचुरी लगाई थीं। इस सीरीज में रोहित ने पहली बार टेस्ट में ओपनिंग की थी। हालांकि, चोट के कारण वे फरवरी में न्यूजीलैंड के खिलाफ नहीं खेल सके थे।रोहित की काबिलियत को लेकर कोई शक ..
                 

पूर्व ऑफ स्पिनर सईद अजमल ने कहा- पाकिस्तान का इंग्लैंड में जीतना बेहद मुश्किल, बिना दर्शकों के क्रिकेट गूंगी और बहरी

तीन टेस्ट और इतने ही टी-20 मैचों की सीरीज के लिए पाकिस्तान की टीम इंग्लैंड पहुंच चुकी है। पहला टेस्ट 30 जुलाई से लॉर्ड्स पर खेला जाएगा। इस बीच पाकिस्तान के पूर्व ऑफ स्पिनर सईद अजमल ने कहा है कि इंग्लैंड में पाकिस्तान का जीत पाना बेहद मुश्किल होगा। अजमल ने कहा- पाकिस्तान का बॉलिंग अटैक बिल्कुल नया है। जबकि इंग्लैंड के पास अनुभवी खिलाड़ी हैं। यहां के हालात में ढल पाना भी आसान नहीं होता।बॉलिंग यूनिट बिल्कुल नईपाकिस्तान के एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में अजमल ने कहा, “पाकिस्तान की बॉलिंग यूनिट बिल्कुल नई है। जबकि, इंग्लैंड के पास बेहतरीन और अनुभवी बैटिंग लाइनअप है। हम सोच तो कुछ भी सकते हैं लेकिन, इतना जरूर है कि वहां जीतना बेहद मुश्किल काम है। हम पहले भी वहां संघर्ष करते रहे हैं। मैं तो यहां तक कहूंगा कि अगर यह टीम वहां एक मैच भी जीत जाए तो बड़ी कामयाबी होगी।” दर्शकों के बिना क्रिकेट का मजा नहींअजमल खाली स्टेडियम में क्रिकेट के पक्ष में नहीं हैं। एक सवाल के जवाब में अजमल ने कहा, “दर्शकों के बिना क्रिकेट का लुत्फ कैसे आएगा? मुझे लगता है जैसे क्रिकेट गूंगी और बहरी जैसी हो..
                 

स्कूल गेम्स फेडरेशन सिर्फ हाई प्रायोरिटी गेम्स का नेशनल करा सकता है, अंडर-19 खिलाड़ियों को प्राथमिकता

स्कूल गेम्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसजीएफआई) इस साल सिर्फ ओलिंपिक, हाई प्रायोरिटी और प्रायोरिटी गेम्स का नेशनल टूर्नामेंट करवा सकता है। कोरोना के कारण अभी स्कूल बंद हैं और खिलाड़ियों की प्रैक्टिस भी लगभग ना के बराबर है।एसजीएफआई ने कहा कि गेम्स के आयोजन पर अंतिम फैसला केंद्र सरकार से अनुमति मिलने के बाद लिया जाएगा। हाल ही में फेडरेशन को भारत सरकार की ओर से मान्यता मिल गई है। पिछले साल 90 से अधिक गेम्स के नेशनल टूर्नामेंट कराए गए थे। इसमें देश भर के 60 हजार से अधिक खिलाड़ी शामिल हुए थे।एसजीएफआई के महासचिव राजेश मिश्रा ने बताया कि अनलॉक-1 के बाद भी अभी स्कूल बंद हैं। सरकार से अनुमति मिलने के बाद एसजीएफआई टूर्नामेंट करा सकता है। सबसे अधिक नेशनल टूर्नामेंट नवंबर से जनवरी के बीच में होते हैं। कोरोना की स्थिति को देखते हुए देरी से अनुमति मिलती है तो भी महत्वपूर्ण खेलों के नेशनल टूर्नामेंट कराए जा सकते हैं। राज्य अपनी टीम खिलाड़ियों के पिछले साल के प्रदर्शन के आधार पर या फिर ट्रायल के आधार पर बना सकते हैं। क्योंकि समय कम होने के कारण उनके पास टूर्नामेंट को आयोजित करने का समय नहीं होगा।अंडर-19 के खिला..
                 

पीसीबी के ट्विटर पर देश के नाम की स्पेलिंग से ‘एस’ गायब; यूजर्स बोले- इंग्लैंड का तो पता नहीं, लेकिन पाकिस्तान की स्पेलिंग को जरूर ‘किल’ कर दिया

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के आधिकारिक ट्विटर हैंडल को जमकर ट्रोल किया गया। पीसीबी ने इंग्लैंड दौरे पर जाने वाली टीम को बधाई देते समय Pakistan की जगह Pakiatan लिख दिया था। इसमें एस (S) लिखना छूट गया था। इस पर दुनियाभर में ट्विटर पर एक्टिव रहने वाले क्रिकेट फैंस ने गलती को तुरंत देखा और पीसीबी का मजाक उड़ाना शुरू कर दिया।पाकिस्तान की 20 सदस्यीय टीम रविवार को चार्टर्ड प्लेन से इंग्लैंड पहुंची। इस पर पीसीबी ने ट्वीट किया, ‘‘पाकिस्तान की टीम इंग्लैंड के लिए रवाना। सभी खिलाड़ियों को शुभकामनाएं।’’ इसी कैप्शन के पाकिस्तान में गलत स्पेलिंग लिखी हुई थी।यूजर्स ने कहा- स्पेलिंग सही कर लोएक यूजर ने लिखा- पाकिस्तान की स्पेलिंग सही कर लो। दूसरे फैंस ने लिखा- इंग्लैंड का तो पता नहीं, लेकिन पाकिस्तान की स्पेलिंग को आप लोगों ने जरूर ‘किल’ कर दिया है।10 में से 4 खिलाड़ियों की दूसरी रिपोर्ट पॉजिटिवपीसीबी ने इंग्लैंड दौरे के लिए 29 खिलाड़ियों का चयन किया था। इन सभी खिलाड़ियों का 20 और 25 जून को दो बार कोरोना टेस्ट करवाया गया। पहली रिपोर्ट में 10 खिलाड़ी संक्रमित पाए ..
                 

स्टुअर्ट ब्रॉड बिना दर्शकों के मैच खेलने से परेशान, साइकोलॉजिस्ट से कहा- बेहतर प्रदर्शन के लिए खिलाड़ियों को तैयार करें

इंग्लैंड के सीनियर तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड कोरोना के कारण बिना दर्शकों के मैच खेलने को लेकर परेशान हैं। उन्होंने टीम के स्पोर्ट्स साइकोलॉजिस्ट से कहा कि वे इस तरह के मैच के लिए खिलाड़ियों को तैयार करें। इंग्लैंड-वेस्टइंडीज के बीच तीन टेस्ट की सीरीज कोरोना के कारण बगैर दर्शकों के खेली जाएगी। पहला मैच 8 जुलाई को साउथैम्पटन में होगा। इस सीरीज के साथ करीब 3 महीने बाद इंटरनेशनल क्रिकेट की वापसी हो रही है।ब्रॉड ने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि बगैर दर्शकों के मैच थोड़ा अलग होगा। इस तरह के मैच में क्रिकेट से ज्यादा खिलाड़ियों का मेंटल टेस्ट होगा। हालांकि, इसको लेकर मैं ज्यादा जाकरूक हूं। मैं पहले ही स्पोर्ट्स साइकोलॉजिस्ट से बात कर चुका हूं। इसके लिए मैंने जून की शुरुआत से ही तैयारियां शुरू कर दी थीं।’’पहले टेस्ट में रूट की जगह स्टोक्स कप्तानी करेंगेसीरीज के पहले टेस्ट में कप्तान जो रूट नहीं खेलेंगे। उनकी जगह बेन स्टोक्स पहली बार टीम की कप्तानी करेंगे। इस पर ब्रॉड ने कहा कि स्टोक्स के लिए यह कोई मुश्किल काम नहीं होगा। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे इस बात में कोई शक नही..
                 

शोएब ने कहा- 4 साल पहले सुशांत में कॉन्फिडेंट की कमी दिखी, बगैर सबूत के सलमान जैसे किसी भी सेलिब्रिटी पर आरोप लगाना गलत

पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने कहा कि 4 साल पहले सुशांत सिंह राजपूत में कॉन्फिडेंट की बहुत कमी दिखी थी। 2016 में अख्तर मुंबई में सुशांत से मिले थे। तब दोनों के बीच कोई बात नहीं हुई थी। अख्‍तर ने कहा कि सलमान खान जैसे किसी भी बॉलीवुड सेलिब्रिटीज पर बगैर सबूत के आरोप लगाना सही नहीं है। 34 साल के बॉलीवुड एक्टर ने 14 जून को फ्लैट पर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली।अख्तर ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, ‘‘मैं 2016 में उससे (सुशांत) से मुंबई में मिला था। ईमानदारी से कहूं तो, तब मुझे उसमें कॉन्फिडेंट की काफी कमी दिखी। वह सिर झुकाकर मेरे पास से निकल गया था। तब मेरे दोस्त ने मुझे बताया था कि वह एमएस धोनी फिल्म में लीड रोल निभा रहा है।’’‘सुशांत से बात नहीं कर सका, इसका अफसोस’अख्तर ने कहा, ‘‘मुझे लगा कि अब उसकी एक्टिंग देखना चाहिए। वह बहुत ही शर्मीला था। फिल्म हिट साबित हुई और उसमें सुशांत ने भी अच्छा काम किया। लेकिन मुझे अभी भी इस बात का अफसोस है कि मैं उन्हें वहां रोककर जीवन के बारे में बात नहीं कर सका। मैं उसके साथ अपने जीवन के एक्सपीरियं..