जागरण हिन्दुस्तान नईदुनिया नवभारत टाइम्स

लॉकडाउन में घर से निकले बिना ऐसे ले सकते हैं लोन

कोरोनावायरस की वजह से हुए लॉकडाउन के बीच काफी लोग ऐसे हैं जिन्हें पर्सनल लोन या किसी अन्य तरीके से लोन लेने की आवश्यकता है। लेकिन इस समय जबकि कोविड-19 का संक्रमण का खतरा चारो तरफ फैला है, वैसे में घर से निकलना भी सुरक्षित नहीं है। ऐसे में हम आपको बता रहे हैं कुछ तरीके, जिससे आप घर बैठे भी निधि का जुगाड़ कर सकते हैं।..
                 

आर्थिक सुस्ती का भयावह आंकड़ा, बुरा दौर बाकी

                 

जल्द खुलेंगे मॉल्स, सरकार कर रही है तैयारी

                 

कोरोना के कारण ग्रोथ का मेन चक्का हुआ जाम

                 

RIL राइट्स इश्यू से निवेशकों की चांदी, आज आखिरी मौका

                 

अब जियो में माइक्रोसॉफ्ट निवेश करेगी $2 अरब

                 

CSR फंड का दान अब PM Cares फंड में भी!

                 

मई में ही दूसरी बार SBI ने घटाया FD पर ब्याज, 0.40% की कटौती

                 

मंदी: हमेशा के लिए खत्म हो जाएगी 10% ग्रोथ!

                 

भारत गैस के ग्राहक वॉट्सऐप से ऐसे करें बुकिंग

                 

चालू वित्त वर्ष में ग्रोथ रेट -6.8% का अनुमान

                 

सब्जियों में इतनी मंदी, मंडी तक लाने का किराया भी ज्यादा

                 

HDFC के शुद्ध लाभ में 22 फीसदी की गिरावट

                 

'रिमोट वर्क’ वाली नौकरी की सर्च 377% बढ़ी

                 

ईद के दिन आपके शहर में किस भाव बिक रहा पेट्रोल और डीजल?

                 

विदेश जाने और आने वालों को लेकर नए नियम

                 

दो महीने में जुकरबर्ग की संपत्ति $30 अरब उछली

                 

'CBI, CVC, CAG से डरे नहीं, लोन बांटे बैंकर'

                 

कोरोना से पस्त इकॉनमी के लिए RBI के बड़े ऐलान, रीपो रेट घटाकर 4% किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 12 मई को देश के नाम संबोधन में इसकी घोषणा की थी। इसके बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लगातार पांच दिन प्रेस कॉन्फ्रेंस कर विस्तार से अर्थव्यवस्था के विभिन्न क्षेत्रों के लिए किए गए उपायों की घोषणा की थी। इसमें सूक्ष्म, लघु एवं मझोले उद्योगों को बिना गारंटी आसान लोन के लिए 3 लाख करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई।..
                 

1 महीने में जियो को मिला पांचवा बड़ा इन्वेस्टमेंट

                 

मुफ्त अनाज के साथ कैश की भी जरूरत : राजन

                 

हवाई सेवा, 40% सीटें कम किराये के लिए रिजर्व्ड

                 

Jio करेगी एक और डील, अब कौन लगाएगा पैसा?

                 

इन 6 कंपनियों में बेअसर है कोरोना की मंदी

मार्च, अप्रैल और अब मई का महीना। देश में कोविड-19 का प्रकोप तेजी से बढ़ता जा रहा है। इस संकट की घड़ी में जहां ज्यादातर कंपनियां अपना फ्यूचर सुरक्षित करते हुए छंटनी और सैलरी कट का सहारा ले रही हैं, आइए ऐसी कंपनियों के बारे में जानते हैं, जो एम्प्लॉयीज का हित देख रही हैं और छंटनी नहीं कर रहीं। इतना ही नहीं ये कंपनियां सैलरी हाइक भी दे रही हैं और नई भर्तियों को भी नहीं टाल रहीं। इस लिस्ट में सबसे ताजा नाम है HCL टेक्नॉलजीज का।..
                 

खुशखबरी: रेलवे स्टेशनों पर खुलेंगे फूड-बुक स्टॉल

                 

बुजुर्गों के लिए खुशखबरी है सरकार का ये फैसला

                 

RIL का राइ्ट्स इश्यू खास, कई चीजें पहली बार

                 

लॉकडाउन 4.0 का तीसरा दिन, पेट्रोल और डीजल के क्या हैं दाम?

                 

कोरोन वॉरियर्स को लुभा रहीं ऑटो कंपनियां

                 

फेसबुक का 'एक रुपया बाजार', कितना सच्चा और कितना झूठा?

                 

55 दिन बाद खुलीं देश में 4.5 करोड़ दुकानें

                 

जरूरी या गैरजरूरी, ऑनलाइन सबकुछ मिलेगा!

                 

भारत कोकिंग में सैलरी की दिक्कत, मांगा सहायता पैकेज

                 

जैक मा ने सॉफ्टबैंक के बोर्ड से इस्तीफा दिया

                 

वोकल फॉर लोकल: कंपनियों ने उठाया स्वदेशी का झंडा

                 

लॉकडाउन 4.0 शुरू, पेट्रोल-डीजल का क्या भाव?

                 

चीन छोड़ भारत आ रही है यह जर्मन कंपनी

                 

'15 दिनों में प्रवासी मजदूरों को दें मुफ्त राशन'

                 

कोल सेक्टर में नहीं चलेगी सरकार की मनमानी

                 

दो बैंकों पर RBI ने लगाया जुर्माना, क्या थी गलती?

                 

छंटनी पर मिला 'मोटा पैसा'? इस पर लगता है टैक्स

हम नहीं चाहते कि इस मुश्किल घड़ी में किसी का जॉब खत्म हो लेकिन अगर ऐसा हो ही जाता है तो कंपनी आपको सेवरेंस पैकेज यानी सेटलमेंट अमाउंट देकर बाय बोलेगी। इस सेवरेंस पैकेज को लेकर आपको कुछ बातें ध्यान में रखनी जरूरी हैं। जब तक आप अगला जॉब जॉइन नहीं करते, खर्च चलाने को इस पैकेज से मदद मिलेगी। लेकिन यह मत भूलिएगा कि यह पैकेज टैक्सेबल होता है। कुछ अहम बातें जान लें ताकि आपको आसानी हो।..
                 

कोरोना संकट कमजोर! वापस लौट रहे प्रवासी मजदूर

                 

गूगल में WFH करने वालों को 75000 एक्स्ट्रा

                 

इसी साल होगा एयर इंडिया, BPCL का डिसइन्वेस्टमेंट!

                 

'इस साल -5 ,अगले साल +9.5% ग्रोथ का अनुमान'